अलिफ लैला की सम्पूर्ण कहानियाँ

90 के दशक में टेलीविजन पर अलिफ लैला नाम का एक धारावाहिक काफी ज्यादा प्रचलित था, जिसमें 1000 कहानियों को दिखाया गया था। यह कहानी अरब देशों की कहानी का संग्रह है। इस कहानी को 10वीं शताब्दी में ही अरब लेखक के द्वारा लिखा गया था।

इस कहानी को मूल रूप से अरबी भाषा में लिखा गया है, जिसे बाद में विभिन्न भाषाओं में इसका संस्करण किया गया है। अलिफ लैला का अर्थ एक हजार राते है। 90 के दशक में यह कहानी बच्चों से लेकर बुजुर्ग तक को भी बहुत लोकप्रिय थी। उस जमाने में अलिफ लैला की कहानी बच्चों के मनोरंजन का प्रमुख साधन हुआ करता था। हर एक बच्चों के जबान पर

अलिफ़ लैला, अलिफ़ लैला, अलिफ़ लैला,
हर शब्द में नयी कहानी, दिलचस्प है बयानी,
सदियाँ गुज़र गयी हैं, लेकिन न हो पुरानी,
अलिफ़ लैला, अलिफ़ लैला, अलिफ़ लैला।

की गीत गूंजती थी। यह कहानियां उस जमाने में बच्चों और बुजुर्गों के लिए ना केवल मनोरंजन का साधन हुआ करता था बल्कि इन कहानियों से बौद्धिक विकास और आर्थिक शक्ति भी बढ़ती थी। अलिफ लैला की 1000 कहानियों के संग्रह में से कुछ कहानियां काफी ज्यादा रोचक थी, जो लोगों को मार्गदर्शक भी करती थी।

इस कहानी के अंदर भी कहानी है। अलिफ लैला की कहानी में शहरजाद नाम की एक नव युक्ति के द्वारा पूरे 1000 कहानियों की कथा बताई गई है। यह नवयुवती 1000 कहानी के संग्रह को अपने पति बादशाह शहरयार को सुनाकर उनके हृदय परिवर्तन करने की कोशिश करती है और 1000 कहानियों को वह एक हजार रातों में पूरा कर पाती है। इसी कारण अलिफ लैला का अर्थ एक हजार रात है।

दरअसल बादशाह शहरयार अरब देश का एक ऐसा जालिम बादशाह था, जो अपनी एक मलिका की बेवफाई से दुखी होकर उसे सभी औरतों से नफरत होने लगा था। इसीलिए उसने अपनी मलिका की सभी दासियों का कत्ल करके प्रतिज्ञा लिया था कि वह हर दिन एक स्त्री के साथ शादी करके अगले दिन उसे मार डालेगा।

Alif Laila ki Kahaniyan

इस तरह कई नव युवतियों से शादी करके अगले दिन उनका कत्ल कर देता था। इस तरह जालिम बादशाह अपने पूरे राज्य में बदनाम था। बादशाह की वजीर की एक पुत्री शहरजाद ने इसके साथ विवाह किया। शहरजाद काफी बुद्धिमान नवयुवती थी। बादशाह बहुत से किस्से कहानियों को सुनने का शौकीन था। इसीलिए शहरजाद ने अपने शादी के दिन ही अपने बादशाह को विविध प्रकार की कहानी सुनाई।

शहरजाद द्वारा सुनाए गए हर एक कहानी इतना रोचक था कि बादशाह अपनी प्रतिज्ञा को भूल ही गया और वह शहजाद का कत्ल नहीं कर पाया। इस तरह शहरजाद ने बादशाह को एक हजार रातों तक कहानियां सुनाई और धीरे-धीरे बादशाह को शहरजाद से मोहब्बत हो गई।

इस तरीके से अंत में बादशाह बेगम शहरजाद की बुद्धिमता से काफी प्रभावित हुआ, जिसके बाद उसने अपने प्रतिज्ञा को पूरी तरीके से खत्म कर दिया और फिर से उसके मन में नारियों के प्रति सम्मान और प्यार उत्पन्न हो गया। इस तरीके से बादशाह शहरयार और बेगम शाहजहां दोनों खुशी-खुशी रहने लगे।

शहर जहां द्वारा सुनाई गई हर एक कहानी में प्रेम, धोखा, ग़म, बेवपफाई, ईमानदारी, ख़ुशी, सुख-दुख, कर्तव्य, भावनाएं और वास्तविकता का अद्भुत समन्वय मिलता है। यही कारण है कि आज भी इतनी पुरानी कहानी हर एक पाठकों और श्रोताओं को लुभाता है। शहरजाद द्वारा सुनाए गए 1000 कहानियों में से कुछ प्रसिद्ध कहानियां यहां पर नीचे लिखी गई है।

अलिफ लैला की कहानियां

  1. शहरयार और शाहजमाँ की कहानी प्रारम्भ की कहानी (अलिफ़ लैला)
  2. शहरयार और शहरजाद की शादी (अलिफ़ लैला)
  3. तीसरे बूढ़े और उसके खच्चर की कहानी (अलिफ़ लैला)
  4. व्यापारी और दैत्य की कहानी (अलिफ़ लैला)
  5. किस्सा मछुवारे का (अलिफ़ लैला)
  6. बूढ़े और उसकी हिरनी की कहानी (अलिफ़ लैला)
  7. शहजादा अहमद और परीबानू की कहानी (अलिफ़ लैला)
  8. ईर्ष्यालु बहनों की कहानी (अलिफ़ लैला)
  9. दूसरे बूढ़े और उसके दो काले कुत्तोँ की कहानी (अलिफ़ लैला)
  10. दरजी और बादशाह के कुबड़े सेवक के हत्या की कहानी (अलिफ़ लैला)
  11. जुबैदा की कहानी (अलिफ़ लैला)
  12. अमीना की कहानी (अलिफ़ लैला)
  13. स्त्री के हत्या की कहानी (अलिफ़ लैला)
  14. गरीक बादशाह और हकीम दूबाँ की कहानी (अलिफ़ लैला)
  15. तीसरे फ़कीर की कहानी (अलिफ़ लैला)
  16. मृत स्त्री और जवान हत्यारे की कहानी (अलिफ़ लैला)
  17. भद्र पुरुष और उसके तोते की कहानी (अलिफ़ लैला)
  18. सिंदबाज जहाजी की कहानी (अलिफ़ लैला)
  19. सिंदबाद जहाजी की पहली यात्रा (अलिफ़ लैला)
  20. किस्सा वजीर का (अलिफ़ लैला)
  21. दूसरे फ़कीर की कहानी (अलिफ़ लैला)
  22. काले द्वीपों के बादशाह की (अलिफ़ लैला)
  23. तीन राजकुमारों और पाँच सुंदरियों की कहानी (अलिफ़ लैला)
  24. नूरुद्दीन अली और बदरुद्दीन हसन की कहानी (अलिफ़ लैला)
  25. सिंदबाद जहाजी की दूसरी यात्रा (अलिफ़ लैला)
  26. मजदूर की कहानी (अलिफ़ लैला)
  27. यहूदी हकीम द्वारा वर्णित कहानी (अलिफ़ लैला)
  28. काशगर के बादशाह के सामने दरजी की कथा (अलिफ़ लैला)
  29. पहले फ़कीर की कहानी (अलिफ़ लैला)
  30. भले आदमी और ईर्ष्यालु पुरुष की कहानी (अलिफ़ लैला)
  31. लँगड़े आदमी की कहानी (अलिफ़ लैला)
  32. दरजी की जबानी नाई की कहानी (अलिफ़ लैला)
  33. सिंदबाद जहाजी की तीसरी यात्रा (अलिफ़ लैला)
  34. सिंदबाद जहाजी की चौथी यात्रा (अलिफ़ लैला)
  35. ईसाई द्वारा सुनाई गई कहानी (अलिफ़ लैला)
  36. अनाज के व्यापारी की कहानी (अलिफ़ लैला)
  37. सिंदबाद जहाजी की पाँचवीं यात्रा (अलिफ़ लैला)
  38. ईरानी बादशाह बद्र और शमंदाल की शहजादी की कहानी (अलिफ़ लैला)
  39. सिंदबाद जहाजी की छठी यात्रा (अलिफ़ लैला)
  40. अंधे बाबा अब्दुल्ला की कहानी (अलिफ़ लैला)
  41. सीदी नोमान की कहानी (अलिफ़ लैला)
  42. सिंदबाद जहाजी की सातवीं यात्रा (अलिफ़ लैला)
  43. उस आदमी की कहानी जिसके चारों अँगूठे कटे थे (अलिफ़ लैला)
  44. बगदाद के व्यापारी अली ख्वाजा की कहानी (अलिफ़ लैला)
  45. यंत्र के घोड़े की कहानी (अलिफ़ लैला)
  46. शहजादा जैनुस्सनम और जिन्नों के बादशाह की कहानी (अलिफ़ लैला)
  47. शहजादा खुदादाद और दरियाबार की शहजादी की कथा (अलिफ़ लैला)
  48. नाई के कुबड़े भाई की कहानी (अलिफ़ लैला)
  49. ख्वाजा हसन हव्वाल की कहानी (अलिफ़ लैला)
  50. अलीबाबा और चालीस लुटेरों की कहानी (अलिफ़ लैला)
  51. नाई के दूसरे भाई बकबारह की कहानी (अलिफ़ लैला)
  52. सोते-जागते आदमी की कहानी (अलिफ़ लैला)
  53. अलादीन और जादुई चिराग की कथा (अलिफ़ लैला)
  54. नाई के तीसरे भाई अंधे बूबक की कहानी (अलिफ़ लैला)
  55. नाई के चौथे भाई काने अलकूज की कहानी (अलिफ़ लैला)
  56. गनीम और फितना की कहानी (अलिफ़ लैला)
  57. दरियाबार की शहजादी की कहानी (अलिफ़ लैला)
  58. नाई के पाँचवें भाई अलनसचर की कहानी (अलिफ़ लैला)
  59. नाई के छठे भाई कबक की कहानी (अलिफ़ लैला)
  60. अबुल हसन और हारूँ रशीद की प्रेयसी शमसुन्निहर की कहानी (अलिफ़ लैला)
  61. कमरुज्जमाँ और बदौरा की कहानी (अलिफ़ लैला)
  62. नूरुद्दीन और पारस देश की दासी की कहानी (अलिफ़ लैला)
  63. खलीफा हारूँ रशीद और बाबा अब्दुल्ला की कहानी (अलिफ़ लैला)

अन्य मजेदार कहानियों का संग्रह

पंचतंत्र की सम्पूर्ण कहानियों का संग्रह

तेनाली रामा की सभी मजेदार कहानियां

अकबर और बीरबल की सभी मजेदार कहानियाँ

विक्रम बेताल की सभी कहानियां

रामायण की सुप्रसिद्ध कहानियां

इनका नाम राहुल सिंह तंवर है। इनकी रूचि नई चीजों के बारे में लिखना और उन्हें आप तक पहुँचाने में अधिक है। इनको 4 वर्ष से अधिक SEO का अनुभव है और 5 वर्ष से भी अधिक समय से कंटेंट राइटिंग कर रहे है। इनके द्वारा लिखा गया कंटेंट आपको कैसा लगा, कमेंट बॉक्स में जरूर बताएं। आप इनसे नीचे दिए सोशल मीडिया हैंडल पर जरूर जुड़े।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here