तेनाली रामा की मजेदार कहानियां

तेनालीराम स्टोरी इन हिंदी (Story of Tenali Rama in Hindi): भारत एक ऐसा देश है, जहां पर कई महान और बुद्धिमान व्यक्तियों ने जन्म लिया है और इनकी बुद्धि का लोहा सबने माना है। इन महान लोगों के चतुराई और व्यक्तित्व से जुड़े कहानी-किस्से हर किसी को रोमांचित करने के साथ ही प्रभावित भी करते है। भारतीय इतिहास में ऐसे कई व्यक्ति हुए है, जिनकी कहानियां आज भी हर कोई पढ़ना पसंद करता है।

ऐसे ही एक व्यक्ति हुए है, जिनका नाम तेनाली रामा है। तेनाली रामा अपनी बुद्धिमानी और चतुराई के लिए काफी लोकप्रिय थे, इनकी चतुराई के किस्से दूर-दूर तक फैले थे। तेनाली रामा विजय नगर के राजा कृष्णदेव के सबसे प्रिय मंत्री थे। राजा कृष्णदेव की हर मुश्किल कुछ ही पलों में हल कर देते थे। राज्य में किसी भी प्रकार की कोई समस्या आ जाने पर तेनाली रामा की ही सलाह सबसे पहले ली जाती थी।

तेनाली रामा की कहानियां (Tenali Raman Stories Hindi) और किस्से जितने उस समय प्रसिद्ध थे, उससे भी अधिक आज के समय में प्रसिद्ध है। हर कोई तेनाली रामा की कहानियां (Tenaliram ki Kahani) पढ़ना चाहता है। यह कहानियां बच्चों के मानसिक विकास को बढ़ाने के लिए सबसे अच्छा तरीका माना गया है। तेनाली रामा से जुड़े ऐसे कई चुटकुले, किस्से और कहानियां है, जो पढ़ने या सुनने पर ना सिर्फ हमारा मनोरंजन करवाते है बल्कि हंसी-हंसी में बहुत बड़ी सीख दे जाते है।

Story of Tenali Rama in Hindi
Image: Story of Tenali Rama in Hindi

हमने यहां पर तेनाली रामा की मजेदार कहानियों का संग्रह (Tenali Raman Stories in Hindi) शेयर किया है, जिसे पढ़ने के बाद आपको यह सीख मिलेगी कि आप किस प्रकार अपनी चतुराई और बौद्धिक कौशल के माध्यम से हर बड़ी से बड़ी उलझन या समस्या को मात्र कुछ ही पलों में दूर कर सकते है। आप इन कहानियों को पढ़ने के साथ ही अपने बच्चों को भी जरूर पढ़ाएं। तो आइये पढ़ते है तेनाली रामा की कहानियां (Tenali Rama ki Kahaniyan)

तेनाली रामा का जीवन परिचय पढ़ने के लिए यहां <क्लिक करें>

तेनाली रामा की कहानियां | Story of Tenali Rama in Hindi

दूध न पीने वाली बिल्ली | तेनालीराम की कहानी

दूध न पीने वाली बिल्ली (तेनालीराम की कहानी)

दक्षिणी भारत में एक शहर जिसका नाम विजयनगर था, जहां एक कुशल राजा राज करता था। जिसका नाम कृष्ण देव राय था। एक बार विजयनगर मैं चूहों की संख्या अत्यधिक बढ़ गई उन चूहों के रहते विजय नगर जैन सभी लोग बहुत परेशान हो गए। सभी चूहे विजय नगर के सभी लोगों पर आफत बन चुके थे। वह सभी चूहे वहां रहने वाले निवासियों का बहुत नुकसान करते वो चूहे लोगों के कपड़े कुतर देते और फसल का नुकसान करते। इसके इसके रहते वहां के सभी लोगों ने राजा के पास जाने का निर्णय लिया। अगले दिन वह सभी लोग राजा के पास पहुंचे और इस समस्या का समाधान करने को कहा।

जादूगर का घमंड | तेनालीराम की कहानी

जादूगर का घमंड (तेनालीराम की कहानी)

एक समय राजा कृष्णदेव राय के महल में एक जादूगर आया। उस जादूगर को अपनी जादू दिखाने की कला पर अत्यधिक घमंड था। जादूगर ने राज सभा में अपनी कला का उपयोग करते हुए कई तरह के जादू दिखाएं। जादूगर के करतब देख कर सभी उनसे प्रसन्न हो गए। राजा कृष्णदेव राय भी उससे बहुत प्रसन्न हुए और उसे उपहार देने लगे तभी जादूगर ने भरी सभा में चुनौती दी कि “क्या इतने बड़े राज्य की राजसभा में कोई भी ऐसा व्यक्ति है जो मुझे किसी भी जादू में हरा सके।”

सुनहरा पौधा

नली का कमाल

शिल्पी की अद्‌भुत मांग

उबासी की सजा

रसगुल्ले की जड़

अपमान का बदला

बाबापुर की रामलीला

झगड़ालू चमेली

राजगुरु की चाल

खूंखार घोड़ा और तेनाली रामा

स्वर्ग की खोज और तेनाली रामा

अपराधी बकरी

रिश्वत का खेल

होली उत्सव और महामूर्ख की उपाधि

लाल मोर और तेनालीराम

मनहूस कौन

पड़ोसी राजा

सोने के आम और तेनालीराम

रंग-बिरंगे नाखून

मृत्युदंड की सजा

बाढ़ और राहत बचाव कार्य

अंगूठी चोर और तेनाली रामा

शिकारी झाड़ियां

मनपसंद मिठाई

कौवों की गिनती

हीरों का सच

तेनालीराम बना जटाधारी सन्यासी

तेनालीराम का न्याय

बेशकीमती फूलदान

मटका और तेनालीराम

नीलकेतु और तेनालीराम की कहानी

अन्य मजेदार कहानी संग्रह

इनका नाम राहुल सिंह तंवर है, इन्होंने स्नातक (रसायन, भौतिक, गणित) की पढ़ाई की है और आगे की भी जारी है। इनकी रूचि नई चीजों के बारे में लिखना और उन्हें आप तक पहुँचाने में अधिक है। इनको 3 वर्ष से भी अधिक SEO का अनुभव होने के साथ ही 3.5 वर्ष का कंटेंट राइटिंग का अनुभव है। इनके द्वारा लिखा गया कंटेंट आपको कैसा लगा, कमेंट बॉक्स में जरूर बताएं। आप इनसे नीचे दिए सोशल मीडिया हैंडल पर जुड़ सकते हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here