घी के दीए जलाना मुहावरे का अर्थ और वाक्य प्रयोग

घी के दीए जलाना मुहावरे का अर्थ और वाक्य प्रयोग (Ghee ke deee jalaana Muhavara ka arth)

घी के दीए जलाना मुहावरे का अर्थ – खुशी मनाना, बहुत अधिक खुशी मनाना, अप्रत्याशित लाभ पर प्रसन्नता, अत्यंत प्रसन्न होना।

Ghee ke deee jalaana Muhavara ka arth – khushee manaana, bahut adhik khushee manaana, apratyaashit laabh par prasannata, atyant prasann hona.
दिए गए मुहावरे का हिंदी में वाक्य प्रयोग

वाक्य प्रयोग: सोहन के नौकरी लगने के बाद सोहन की मां ने अपने घर में घी के दिए जलाए।

वाक्य प्रयोग: भगवान राम के 14 साल के वनवास काटने के बाद जब वह अयोध्या में वापस लौटे तो अयोध्या वासियों ने खुशी से अपने घरों में घी के दीपक जलाए थे।

वाक्य प्रयोग: हर साल हिंदू अपने घरों में दीपावली के शुभ अवसर पर ही के दीपक जलाते हैं जिससे कि उसके घरों में सुख समृद्धि लक्ष्मी घर आए।

वाक्य प्रयोग: आज एक गरीब किसान का बेटा बहुत बड़ा अधिकारी बन गया जिसके कारण उस गरीब के घर में घी के दीए जलने लगे।

यहां हमने “घी के दीए जलाना” जैसे बहुचर्चित मुहावरे का अर्थ और उसके वाक्य प्रयोग को समझा। घी के दीए जलाना मुहावरे का अर्थ होता है कि किसी बात की खुशी मनाना, बहुत अधिक खुशी मनाना, अत्यधिक प्रसन्न होना, अत्यंत प्रसन्न होना। इसका सबसे अच्छा उदाहरण भगवान राम के अयोध्या वापस लौटने पर अयोध्या वासियों ने बहुत ही खुशी मनाई बहुत ही खुश हुए और उन्होंने भगवान राम के अयोध्या आने की खुशी में अपने घरों में घी के दीपक जलाएं। चुकी यह मुहावरा है और मुहावरा और असामान्य अर्थ प्रकट करता है इसीलिए यहां इस मुहावरे का अर्थ दोहरा लाभ प्राप्त करने से हैं।

मुहावरे परीक्षाओं में मुख्य विषय के रूप में पूछे जाते हैं। एक शब्द के कई मुहावरे हो सकते हैं।यह जरूरी नहीं कि परीक्षा में यहाँ पहले दिये गए मुहावरे ही पूछा जाए। परीक्षा में सभी किसी का भी मुहावरे पूछा जा सकता है।

मुहावरे का अपना एक भाग है प्रत्येक पाठ्यक्रम में, छोटी और बड़ी कक्षाओं में मुहावरे पढ़ाया जाता है, कंठस्थ किया जाता है। प्रतियोगी परीक्षाओं में यह एक मुख्य विषय के रूप में पूछा जाता है और महत्व दिया जाता है।

परीक्षा के दृष्टिकोण से मुहावरे बहुत महत्वपूर्ण होते हैं। सभी प्रतियोगी परीक्षाओं में मुहावरे का अपना-अपना भाग होता है। चाहे वह पेपर हिंदी में हो या अंग्रेजी में यहां तक कि संस्कृत में भी मुहावरे पूछे जाते हैं।

मुहावरे कोई बहुत कठिन विषय नहीं है। यदि इसे ध्यान से समझा जाए तो याद करने की भी आवश्यकता नहीं होती है। इसे समझ समझ कर ही लिखा जा सकता है।

अन्य महत्वपूर्ण मुहावरे और उनका वाक्य प्रयोग

आपे से बाहर होनाउड़ती चिड़िया के पंख गिनना
बड़ी बात होनाअपना घर समझना
आसमान सिर पर उठानाअक्ल चरने जाना

1000+ हिंदी मुहावरों के अर्थ और वाक्य प्रयोग का विशाल संग्रह 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here