अक्ल पर पत्थर पड़ना मुहावरे का अर्थ और वाक्य प्रयोग

अक्ल पर पत्थर पड़ना मुहावरे का अर्थ और वाक्य प्रयोग (Akl par patthar padana Muhavara ka Arth Aur Vakya Pryog)

अक्ल पर पत्थर पड़ना मुहावरे का अर्थ – बुद्धि नष्ट होना, बुद्धि भ्रष्ट होना।

Akl par patthar padana muhaavare ka arth – buddhi nasht hona, buddhi bhrasht hona.

अक्ल पर पत्थर पड़ना मुहावरे का हिंदी में वाक्य प्रयोग

वाक्य प्रयोग: व्यक्ति की सोचने की शक्ति खत्म होना बुद्धि का सही तरह से काम ना करना यह सही उपयोग ना कर पाना।

वाक्य प्रयोग: रावण अत्यधिक बुद्धिमान और बलवान था लेकिन फिर भी उन्होंने माता सीता का अपहरण किया अर्थात उसके अक्ल पर पत्थर पड़ गया था।

वाक्य प्रयोग: रामू है तो अत्यधिक पतला दुबला लेकिन वह पहलवान से उलझ गया अर्थात उसके अक्ल पर पत्थर पड़ गया था जिस वजह से उसकी हड्डी पसली एक हो गई।

वाक्य प्रयोग: मोहन ने अपने गुरु से ऐसा दुर्व्यवहार किया कि उसके गुरु ने उसे कक्षा से बाहर कर दिया इसे कहते हैं अक्ल पर पत्थर पड़ना।

यहां हमने “अक्ल पर पत्थर पड़ना”जैसे बहुचर्चित मुहावरे का अर्थ और उसके वाक्य प्रयोग को समझा। अक्ल पर पत्थर पड़ना का अर्थ होता है कि लोगों की बुद्धि भ्रष्ट हो जाना, उसे अपनी बुद्धि का सही प्रयोग ना कर पाना या फिर किसी समस्या के आने पर उस समस्या को सही तरीके से ना समझा पाना। आजकल लोगों के साथ बहुत प्रकार की समस्याएं आती है जिसमें लोग अपनी समस्याओं को आराम से नहीं समझा पाते हैं और वह जल्दबाजी में अपनी बुद्धि का सही उपयोग ना करके उल्टा पुल्टा फैसला कहते हैं। जो कि उसकी बुद्धि को भ्रष्ट कर देता है और फिर वह ऐसा सोचने लगते हैं कि यह काम मुझसे नहीं हो सकता और वह फिर और अपने दिमाग को कमजोर करते रहते हैं। दिमाग का उपयोग सही तरीके से ना करना उसकी अक्ल पर पत्थर पड़ना कहा जाता है।

मुहावरे परीक्षाओं में मुख्य विषय के रूप में पूछे जाते हैं। एक शब्द के कई मुहावरे हो सकते हैं।यह जरूरी नहीं कि परीक्षा में यहाँ पहले दिये गए मुहावरे ही पूछा जाए। परीक्षा में सभी किसी का भी मुहावरे पूछा जा सकता है।

मुहावरे का अपना एक भाग है प्रत्येक पाठ्यक्रम में, छोटी और बड़ी कक्षाओं में मुहावरे पढ़ाया जाता है, कंठस्थ किया जाता है। प्रतियोगी परीक्षाओं में यह एक मुख्य विषय के रूप में पूछा जाता है और महत्व दिया जाता है।

परीक्षा के दृष्टिकोण से मुहावरे बहुत महत्वपूर्ण होते हैं। सभी प्रतियोगी परीक्षाओं में मुहावरे का अपना-अपना भाग होता है। चाहे वह पेपर हिंदी में हो या अंग्रेजी में यहां तक कि संस्कृत में भी मुहावरे पूछे जाते हैं।

मुहावरे कोई बहुत कठिन विषय नहीं है। यदि इसे ध्यान से समझा जाए तो याद करने की भी आवश्यकता नहीं होती है। इसे समझ समझ कर ही लिखा जा सकता है।

अन्य महत्वपूर्ण मुहावरे और उनका वाक्य प्रयोग

आड़े हाथों लेना आँखें चार होना
अपना घर समझना आसमान सिर पर उठाना
कठपुतली बनना करारा जवाब देना

1000+ हिंदी मुहावरों के अर्थ और वाक्य प्रयोग का विशाल संग्रह 

इनका नाम राहुल सिंह तंवर है, इन्होंने स्नातक (रसायन, भौतिक, गणित) की पढ़ाई की है और आगे की भी जारी है। इनकी रूचि नई चीजों के बारे में लिखना और उन्हें आप तक पहुँचाने में अधिक है। इनको 3 वर्ष से भी अधिक SEO का अनुभव होने के साथ ही 3.5 वर्ष का कंटेंट राइटिंग का अनुभव है। इनके द्वारा लिखा गया कंटेंट आपको कैसा लगा, कमेंट बॉक्स में जरूर बताएं। आप इनसे नीचे दिए सोशल मीडिया हैंडल पर जुड़ सकते हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here