कठपुतली बनना मुहावरे का अर्थ और वाक्य प्रयोग

कठपुतली बनना मुहावरे का अर्थ और वाक्य प्रयोग (Kathaputali Banana Muhavare ka Arth Aur Vakya Pryog)

कठपुतली बनना मुहावरे का अर्थ: किसी को अपने इशारों पर चलना।

Kathaputali Banana Muhavare ka Arth: kisi ko apane isharon par chalana.

कठपुतली बनना मुहावरे का हिंदी में वाक्य प्रयोग

वाक्य प्रयोग: श्याम तो शादी के बाद घर के सभी सदस्यों को छोड़कर अपनी पत्नी के हाथों का कठपुतली बन गया है।

वाक्य प्रयोग: लोगों को हमेशा किसी के हाथो की कठपुतली बनकर नहीं रहना चाहिए।

वाक्य प्रयोग: अमन तो अजीत के हाथो की मानो कठपुतली बन गया है वह जैसा कहेगा तुम वैसा ही करोगे।

“कठपुतली बनना” इस मुहावरे का प्रयोग तब किया जाता है जब कोई व्यक्ति किसी और की ना सुनकर किसी एक के ही कहने पर चलने लगते हैं अर्थात उनका ही कहना मानने लग जाता है। वैसे मनुष्य को किसी के हाथ की कटपुटली बनकर नही रहना चाहिए।

अन्य महत्वपूर्ण मुहावरे और उनका वाक्य प्रयोग

उड़ती चिड़िया के पंख गिननाभाँप लेना
आस्तीन का सांप होनाकूप मंडूक होना
अपना उल्लू सीधा करनाकान भरना

1000+ हिंदी मुहावरों के अर्थ और वाक्य प्रयोग का विशाल संग्रह 

इनका नाम राहुल सिंह तंवर है। इनकी रूचि नई चीजों के बारे में लिखना और उन्हें आप तक पहुँचाने में अधिक है। इनको 4 वर्ष से अधिक SEO का अनुभव है और 5 वर्ष से भी अधिक समय से कंटेंट राइटिंग कर रहे है। इनके द्वारा लिखा गया कंटेंट आपको कैसा लगा, कमेंट बॉक्स में जरूर बताएं। आप इनसे नीचे दिए सोशल मीडिया हैंडल पर जरूर जुड़े।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here