गुदड़ी का लाल मुहावरे का अर्थ और वाक्य प्रयोग

गुदड़ी का लाल मुहावरे का अर्थ और वाक्य प्रयोग (Gudadee ka laal Muhavara ka arth)

गुदड़ी का लाल मुहावरे का अर्थ – छिपी हुई अमूल्य वस्तु, साधारण घर में जन्मा असाधारण गुणी या प्रतिभावान बालक, गरीब घर मे जन्मा हुआ गुणवान बालक, गरीब के घर में गुणवान का उत्पत्र होना।

Gudadee ka laal Muhavara ka arth – chhipee huee amooly vastu, saadhaaran ghar mein janma asaadhaaran gunee ya pratibhaavaan baalak, gareeb ghar me janma hua gunavaan baalak, gareeb ke ghar mein gunavaan ka utpatr hona.

दिए गए मुहावरे का हिंदी में वाक्य प्रयोग

वाक्य प्रयोग: हमारे देश के पूर्व राष्ट्रपति अब्दुल कलाम जिन्होंने कई बड़े-बड़े कार्य किए हैं और कई बड़े-बड़े देश की तरक्की के लिए योजनाएं भी बनाए हैं हमारे देश के अब्दुल कलाम गुदड़ी के लाल थे जिन्होंने भले ही गरीब घर में जन्म लिया लेकिन उन्होंने अपने जीवन काल में ऐसे से कार्य किए जिससे कि भारत देश उन पर आज भी गर्व करता है।

वाक्य प्रयोग: प्रेमचंद्र जी ने कई साहित्य और कई कई किताबें लिखी है और उनकी किताबों को और उनके साहित्य को पढ़कर लोग आज भी अपने जीवन में आगे बढ़ने की ओर प्रेरित होते हैं प्रेमचंद्र जी अपने वंश में सचमुच एक गुदड़ी के लाल थे।

वाक्य प्रयोग: हमारे भारत देश के दूसरे प्रधानमंत्री श्री लाल बहादुर शास्त्री जी ने हमारे देश की तरक्की के लिए कई बड़े-बड़े कार्य किए हैं वह हमारे देश के गुदड़ी के लाल थे।

वाक्य प्रयोग: सोहन एक गरीब घर का जन्म हुआ बेटा था लेकिन उसने अपनी मेहनत के दम पर आईएस बन कर दिखा दिया वह अपने परिवार का गुदड़ी का लाल बन गया।

यहां हमने “गुदड़ी का लाल” जैसे बहुचर्चित मुहावरे का अर्थ और उसके वाक्य प्रयोग को समझा।गुदड़ी का लाल मुहावरे का अर्थ होता है कि किसी साधारण घर में जन्म हुआ असाधारण और प्रतिभा से परिपूर्ण बालक, छिपी हुई अमूल्य वस्तु गरीब के घर में गुणवान का उत्पन्न होना। जिसके सबसे अच्छा उदाहरण हमारे देश के पूर्व राष्ट्रपति अब्दुल कलाम की है जो कि भले ही गरीब घर में जन्म लिए लेकिन उनके अंदर असाधारण गुण और प्रतिभा थी, उन्होंने अपने जीवन काल में कई ऐसे कार्य किए जो लोगों को सोचने में भी असंभव लगता था अब्दुल कलाम जी हमारे देश के गुदड़ी के लाल थे। चुकी यह मुहावरा है और मुहावरा और असामान्य अर्थ प्रकट करता है इसीलिए यहां इस मुहावरे का अर्थ दोहरा लाभ प्राप्त करने से हैं।

मुहावरे परीक्षाओं में मुख्य विषय के रूप में पूछे जाते हैं। एक शब्द के कई मुहावरे हो सकते हैं।यह जरूरी नहीं कि परीक्षा में यहाँ पहले दिये गए मुहावरे ही पूछा जाए। परीक्षा में सभी किसी का भी मुहावरे पूछा जा सकता है।

मुहावरे का अपना एक भाग है प्रत्येक पाठ्यक्रम में, छोटी और बड़ी कक्षाओं में मुहावरे पढ़ाया जाता है, कंठस्थ किया जाता है। प्रतियोगी परीक्षाओं में यह एक मुख्य विषय के रूप में पूछा जाता है और महत्व दिया जाता है।

परीक्षा के दृष्टिकोण से मुहावरे बहुत महत्वपूर्ण होते हैं। सभी प्रतियोगी परीक्षाओं में मुहावरे का अपना-अपना भाग होता है। चाहे वह पेपर हिंदी में हो या अंग्रेजी में यहां तक कि संस्कृत में भी मुहावरे पूछे जाते हैं।

मुहावरे कोई बहुत कठिन विषय नहीं है। यदि इसे ध्यान से समझा जाए तो याद करने की भी आवश्यकता नहीं होती है। इसे समझ समझ कर ही लिखा जा सकता है।

अन्य महत्वपूर्ण मुहावरे और उनका वाक्य प्रयोग

आकाश-पाताल एक करनाचार चाँद लगाना
आड़े हाथों लेनाअपना घर समझना
आपे से बाहर होनाआसमान सिर पर उठाना

1000+ हिंदी मुहावरों के अर्थ और वाक्य प्रयोग का विशाल संग्रह 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here