गागर में सागर भरना मुहावरे का अर्थ और वाक्य प्रयोग

गागर में सागर भरना मुहावरे का अर्थ और वाक्य प्रयोग (Gaagar mein saagar bharana Muhavara ka arth)

गागर में सागर भरना मुहावरे का अर्थ –थोड़े शब्दों में अधिक बात कहना, थोड़े शब्दों में बड़ी बात बात कहना, संक्षेप में गहरी बात कह देना, थोड़े शब्दों में बड़ी बात कहना, गिनती के या थोड़े से शब्दों में बहुत अधिक भाव या विचार सँजोना या व्यक्त करना, कम शब्दों में अधिक कहना, थोड़े में अधिक करना।

Gaagar mein saagar bharana Muhavara ka arth –thode shabdon mein adhik baat kahana, thode shabdon mein badee baat baat kahana, sankshep mein gaharee baat kah dena, thode shabdon mein badee baat kahana, ginatee ke ya thode se shabdon mein bahut adhik bhaav ya vichaar sanjona ya vyakt karana, kam shabdon mein adhik kahana, thode mein adhik karana.

दिए गए मुहावरे का हिंदी में वाक्य प्रयोग

वाक्य प्रयोग: हमारे देश के प्रधानमंत्री को अच्छे से पता है कि गागर में सागर कैसे भरा जाता है उनके भाषण को सुनकर पूरे देश के लोग उत्साहित हो जाते हैं क्योंकि वह थोड़े शब्दों में ही बहुत बड़ी-बड़ी बातें कह जाते हैं।

वाक्य प्रयोग: कबीर के दोहे को सुनकर ऐसा लगता है कि गागर में सागर भर दिया हो उनके थोड़े से शब्दों में गहरी बात छुपी होती है।

वाक्य प्रयोग: भगवान श्री कृष्ण जी की उपदेशों को सुनकर ऐसा लगता है कि उन्होंने गागर में सागर भर दिया हो उनके शब्द संक्षेप में होते हैं लेकिन उनमें काफी गहरी बातें होती है जो लोगों को उत्साहित करती है आगे बढ़ने की ओर प्रेरित करती है।

वाक्य प्रयोग: हमारे विश्व गुरु स्वामी विवेकानंद जी की बातें ऐसी होती है जो कि थोड़ी शब्दों में होती है लेकिन उनके बातों में गहराई काफी अधिक होती है ऐसा लगता है कि जैसे उन्होंने गागर में सागर भर दिया।

यहां हमने “गागर में सागर भरना” जैसे बहुचर्चित मुहावरे का अर्थ और उसके वाक्य प्रयोग को समझा। गागर में सागर भरना मुहावरे का अर्थ होता है कि संक्षेप में ही काफी गहरी बातें कह देना, थोड़े शब्दों में बड़ी-बड़ी बातों को कह देना, गिने-चुने थोड़े शब्दों में ही ऐसी बातें को कह देना जिसको सुनकर लोगों के अंदर उत्साह जाग जाती हो वह उत्साहित हो जाते हैं। जिसका सबसे अच्छा उदाहरण हम अपने ऋषि मुनि या फिर हमारे विश्व गुरु स्वामी विवेकानंद कबीर जी के द्वारा समझ सकते हैं, उन्होंने जो भी उपदेश हमें दिया है वह शब्दों में कम होते हैं, लेकिन उनके शब्दों में जो गहराई होती है वह लोगों को प्रेरित करती है, आगे बढ़ने की और उत्साहित करती है, अपने जीवन में अपने जीवन में आ रहे सारे समस्याओं के समाधान उन थोड़े से शब्दों में दिया गया है। चुकी यह मुहावरा है और मुहावरा और असामान्य अर्थ प्रकट करता है इसीलिए यहां इस मुहावरे का अर्थ दोहरा लाभ प्राप्त करने से हैं।

मुहावरे परीक्षाओं में मुख्य विषय के रूप में पूछे जाते हैं। एक शब्द के कई मुहावरे हो सकते हैं।यह जरूरी नहीं कि परीक्षा में यहाँ पहले दिये गए मुहावरे ही पूछा जाए। परीक्षा में सभी किसी का भी मुहावरे पूछा जा सकता है।

मुहावरे का अपना एक भाग है प्रत्येक पाठ्यक्रम में, छोटी और बड़ी कक्षाओं में मुहावरे पढ़ाया जाता है, कंठस्थ किया जाता है। प्रतियोगी परीक्षाओं में यह एक मुख्य विषय के रूप में पूछा जाता है और महत्व दिया जाता है।

परीक्षा के दृष्टिकोण से मुहावरे बहुत महत्वपूर्ण होते हैं। सभी प्रतियोगी परीक्षाओं में मुहावरे का अपना-अपना भाग होता है। चाहे वह पेपर हिंदी में हो या अंग्रेजी में यहां तक कि संस्कृत में भी मुहावरे पूछे जाते हैं।

मुहावरे कोई बहुत कठिन विषय नहीं है। यदि इसे ध्यान से समझा जाए तो याद करने की भी आवश्यकता नहीं होती है। इसे समझ समझ कर ही लिखा जा सकता है।

अन्य महत्वपूर्ण मुहावरे और उनका वाक्य प्रयोग

अपने पाँव पर आप कुल्हाड़ी मारनाअक्ल पर पत्थर पड़ना
आपे से बाहर होनाअक्ल चरने जाना
आसमान सिर पर उठानाआड़े हाथों लेना

1000+ हिंदी मुहावरों के अर्थ और वाक्य प्रयोग का विशाल संग्रह 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here