दूसरा घर कर लेना मुहावरे का अर्थ और वाक्य प्रयोग

दूसरा घर कर लेना मुहावरे का अर्थ और वाक्य प्रयोग (Doosara ghar kar lena muhavare ka arth)

दूसरा घर कर लेना मुहावरे का अर्थ – कोई बात दिल में बैठ जाना, किसी बात को दिल में बैठा लेना, किसी बात से प्रभावित हो जाना, किसी की बात का बुरा मान लेना।

Doosara ghar kar lena muhavare ka arth – koi baat dil mein baith jana, kisi baat ko dil mein baitha lena, kisi baat se prabhavit ho jana, kisi ki baat ka bura maan lena.

दिए गए मुहावरे का हिंदी में वाक्य प्रयोग

वाक्य प्रयोग: रानी बहुत ही भावुक लड़की है वह दूसरों के छोटे-छोटे बातों को भी अपने दिल में बैठा लेती है अर्थात दूसरा घर कर लेती है।

वाक्य प्रयोग: तुम्हें कभी भी किसी की बातों को चाहे वह अच्छी हो या बुरी दिल से नहीं लगाना चाहिए क्योंकि हमें कभी भी दूसरा घर नहीं कर लेना चाहिए।

वाक्य प्रयोग: गौतम बुध हमेशा ही शांत रहते थे क्योंकि वह किसी के भी बातों को बुरा नहीं मानते थे अर्थात वह दूसरा घर नहीं कर लेते थे।

वाक्य प्रयोग: अगर हम किसी के भी बात से प्रभावित होने लगे तो हम खुद पर भरोसा नहीं कर पाएंगे ऐसी स्थिति में ही कहा जाता है कि दूसरा घर नहीं कर लेना चाहिए।

यहां हमने “दूसरा घर कर लेना” जैसे बहुचर्चित मुहावरे का अर्थ और उसके वाक्य प्रयोग को समझा। दूसरा घर कर लेना मुहावरे का अर्थ होता है कि किसी के भी बात को दिल से लगा कर बैठ जाना या किसी के भी बात से प्रभावित हो जाना। जिसका उदाहरण है कि जो लोग बहुत ही भावुक होते हैं इमोशनल होते हैं पर किसी के भी छोटे से छोटे बातों से प्रभावित हो जाते हैं और उसके बातों को दिल से लगा कर बैठ जाते हैं और दुखी होते रहते हैं इसीलिए कहा जाता है कि दूसरा घर नहीं कर लेना चाहिए अर्थात दूसरे के बातों को कभी भी चाहे वह अच्छी हो या बुरी अपने मन से नहीं लगाना चाहिए। चुकी यह मुहावरा है और मुहावरा और असामान्य अर्थ प्रकट करता है इसीलिए यहां इस मुहावरे का अर्थ दोहरा लाभ प्राप्त करने से हैं।

मुहावरे परीक्षाओं में मुख्य विषय के रूप में पूछे जाते हैं। एक शब्द के कई मुहावरे हो सकते हैं।यह जरूरी नहीं कि परीक्षा में यहाँ पहले दिये गए मुहावरे ही पूछा जाए। परीक्षा में सभी किसी का भी मुहावरे पूछा जा सकता है।

मुहावरे का अपना एक भाग है प्रत्येक पाठ्यक्रम में, छोटी और बड़ी कक्षाओं में मुहावरे पढ़ाया जाता है, कंठस्थ किया जाता है। प्रतियोगी परीक्षाओं में यह एक मुख्य विषय के रूप में पूछा जाता है और महत्व दिया जाता है।

परीक्षा के दृष्टिकोण से मुहावरे बहुत महत्वपूर्ण होते हैं। सभी प्रतियोगी परीक्षाओं में मुहावरे का अपना-अपना भाग होता है। चाहे वह पेपर हिंदी में हो या अंग्रेजी में यहां तक कि संस्कृत में भी मुहावरे पूछे जाते हैं।

मुहावरे कोई बहुत कठिन विषय नहीं है। यदि इसे ध्यान से समझा जाए तो याद करने की भी आवश्यकता नहीं होती है। इसे समझ समझ कर ही लिखा जा सकता है।

अन्य महत्वपूर्ण मुहावरे और उनका वाक्य प्रयोग

आकाश-पाताल एक करनाचार चाँद लगाना
आड़े हाथों लेनाअपना घर समझना
आपे से बाहर होनाआसमान सिर पर उठाना

1000+ हिंदी मुहावरों के अर्थ और वाक्य प्रयोग का विशाल संग्रह 

इनका नाम राहुल सिंह तंवर है। इनकी रूचि नई चीजों के बारे में लिखना और उन्हें आप तक पहुँचाने में अधिक है। इनको 4 वर्ष से अधिक SEO का अनुभव है और 5 वर्ष से भी अधिक समय से कंटेंट राइटिंग कर रहे है। इनके द्वारा लिखा गया कंटेंट आपको कैसा लगा, कमेंट बॉक्स में जरूर बताएं। आप इनसे नीचे दिए सोशल मीडिया हैंडल पर जरूर जुड़े।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here