कोल्हू का बैल मुहावरे का अर्थ और वाक्य प्रयोग

कोल्हू का बैल मुहावरे का अर्थ और वाक्य प्रयोग (kolhoo ka bail Muhavara ka arth)

कोल्हू का बैल मुहावरे का अर्थ – बहुत परिश्रम करने वाला, दिन-रात परिश्रम करना, अत्यधिक मेहनत करने वाला , कठिन परिश्रम करने वाला, खूब परिश्रमी।

kolhoo ka bail Muhavara ka arth – bahut parishram karane vaala, din-raat parishram karana, atyadhik mehanat karane vaala , kathin parishram karane vaala, khoob parishramee.

दिए गए मुहावरे का हिंदी में वाक्य प्रयोग

वाक्य प्रयोग: मोहन आज इतना काम कर रहा है जैसे लगता है कि वह कोल्हू का बैल बन गया है।

वाक्य प्रयोग: रमेश अपनी कंपनी में बहुत ही मेहनती कर्मचारी है लोग उसे देखकर ऐसा कहते हैं कि यह इतना काम क्यों करता है इतना पैसा लेकर कहां जाएगा कोल्हू के बैल की तरह काम करता रहता है।

वाक्य प्रयोग: मोहनलाल अपने परिवार के पालन और उसके देखभाल के लिए कोल्हू के बैल की तरह काम करता रहता है।

वाक्य प्रयोग: आजकल हर माता-पिता अपने बच्चों की हर इच्छा की पूर्ति के लिए कोल्हू के बैल की तरह काम करने के लिए तत्पर रहते हैं।

यहां हमने “कोल्हू का बैल” जैसे बहुचर्चित मुहावरे का अर्थ और उसके वाक्य प्रयोग को समझा। कोल्हू के बैल मुहावरे का अर्थ होता है अत्यधिक मेहनत करना, परिश्रम ,दिन-रात परिश्रम करते रहना, कठिन परिश्रम करके आगे बढ़ना। जो भी विद्यार्थी होते हैं वह अपने परीक्षा में सफलता प्राप्त करने के लिए जो व्यक्ति होते हैं। वह अपने परिवार के पालन-पोषण के लिए जो भी व्यक्ति अपने जीवन में सफलता को प्राप्त करना चाहता है। वह अपने जीवन में अत्यधिक परिश्रम करता है बहुत ही परिश्रम करता है दिन रात मेहनत करता है और ऐसे लोगों को देखकर अक्सर लोग कहते हैं कि यह तो कोल्हू का बैल बन गया है दिन-रात मेहनत ही करते रहता है। चुकी यह मुहावरा है और मुहावरा और असामान्य अर्थ प्रकट करता है इसीलिए यहां इस मुहावरे का अर्थ दोहरा लाभ प्राप्त करने से हैं।

मुहावरे परीक्षाओं में मुख्य विषय के रूप में पूछे जाते हैं। एक शब्द के कई मुहावरे हो सकते हैं।यह जरूरी नहीं कि परीक्षा में यहाँ पहले दिये गए मुहावरे ही पूछा जाए। परीक्षा में सभी किसी का भी मुहावरे पूछा जा सकता है।

मुहावरे का अपना एक भाग है प्रत्येक पाठ्यक्रम में, छोटी और बड़ी कक्षाओं में मुहावरे पढ़ाया जाता है, कंठस्थ किया जाता है। प्रतियोगी परीक्षाओं में यह एक मुख्य विषय के रूप में पूछा जाता है और महत्व दिया जाता है।

परीक्षा के दृष्टिकोण से मुहावरे बहुत महत्वपूर्ण होते हैं। सभी प्रतियोगी परीक्षाओं में मुहावरे का अपना-अपना भाग होता है। चाहे वह पेपर हिंदी में हो या अंग्रेजी में यहां तक कि संस्कृत में भी मुहावरे पूछे जाते हैं।

मुहावरे कोई बहुत कठिन विषय नहीं है। यदि इसे ध्यान से समझा जाए तो याद करने की भी आवश्यकता नहीं होती है। इसे समझ समझ कर ही लिखा जा सकता है।

अन्य महत्वपूर्ण मुहावरे और उनका वाक्य प्रयोग

करारा जवाब देनाआँखों पर परदा पड़ना
आँखें चार होनाअक्ल पर पत्थर पड़ना
आँखें खुल जानाआकाश-पाताल एक करना

1000+ हिंदी मुहावरों के अर्थ और वाक्य प्रयोग का विशाल संग्रह 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here