विशेषण (परिभाषा, भेद और उदाहरण)

Visheshan Kise Kahate Hain: नमस्कार दोस्तों, आज हमने यहां पर विशेषण की परिभाषा, उदाहरण और विशेषण के कितने भेद हैं (Visheshan ke Bhed) के बारे में विस्तार से बताया है। हर कक्षा की परीक्षा में पूछा जाने वाले यह एक विशेष महत्वपूर्ण सवाल है। यहां पर हम विशेषण (Adjectives in Hindi) को निम्न स्टेप्स में जानेंगे।

  • विशेषण किसे कहते हैं (Visheshan Definition in Hindi)
  • विशेषण के प्रकार (Visheshan ke Prakar)
  • विशेषण के उदाहरण
Visheshan
Visheshan Kise Kahate Hain

विशेषण किसे कहते हैं?

वह शब्द जो संज्ञा या सर्वनाम शब्दों की विशेषता का बोध कराते हैं और यह शब्द संज्ञा के साथ जुड़कर संज्ञा की विशेषता बताने का कार्य करते हैं, उन शब्दों को विशेषण कहा जाता है। विशेषण शब्द जिसकी विशेषता बताता है, उनको विशेष्य कहा जाता है।

उदाहरण: गोरा, काला, लम्बा, छोटा, कायर, निडर, बड़ा, पतला, हल्का, भरी, वीर, बुरा, खट्टा, मीठा, कंजूस आदि।

  • सोनू बहुत संस्कारी लड़की है।

यहां पर सोनू एक नाम है जो कि संज्ञा है और संस्कारी शब्द सोनू की विशेषता बता रहा है इसलिए संस्कारी शब्द विशेषण शब्द है।

  • सुरेश का रंग बहुत गोरा है।

यहां पर सुरेश एक नाम है जो कि संज्ञा है और गोरा शब्द सुरेश की विशेषता बताने का कार्य कार्य कर रहा है, इसलिए गोरा शब्द विशेषण शब्द होगा।

  • अनिल बहुत अच्छा लड़का है।

यहां पर अनिल एक नाम है जो कि संज्ञा है और अच्छा शब्द अनिल की विशेषता बताने का कार्य कार्य कर रहा है, इसलिए अच्छा शब्द विशेषण शब्द होगा।

विशेषण के भेद

Visheshan Kise Kahate Hain

विशेषण के मुख्य रूप से 8 भेद होते हैं, जो निम्न है:

  • परिमाणवाचक विशेषण
  • संख्यावाचक विशेषण
  • गुणवाचक विशेषण
  • सार्वनामिक विशेषण
  • संबंधवाचक विशेषण
  • व्यक्तिवाचक विशेषण
  • प्रश्नवाचक विशेषण
  • तुलना बोधक विशेषण

परिमाणवाचक विशेषण

जिन शब्दों के माध्यम से किसी भी वस्तु का नाप तोल या मात्रा का बोध निश्चित किया और निश्चित रूप से कराया जाए, उन्हें परिणाम वाचक विशेषण की श्रेणी में रखा गया है।

  • मुझे दो फल दीजिए।
  • बाल्टी भर कर पानी ले आओ।

ऊपर दिए गये वाक्यों में दो फल और बाल्टी भरकर शब्दों से मात्रा का बोध हो रहा है, इसलिए यह शब्द परिणाम वाचक विशेषण के तहत आते है।

परिमाणवाचक विशेषण के बारे विस्तार से पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें परिमाणवाचक विशेषण

संख्यावाचक विशेषण

ऐसे शब्द जो विशेषण के रूप में किसी भी संज्ञा और सर्वनाम का बोध करवाते हैं, उन शब्दों को संख्यावाचक विशेषण के अंतर्गत रखा गया है। उदाहरण: चार, पांच, दौ गुना, पांच गुना आदि।

  • दो कुत्ते झगड़ रहे हैं।
  • चार लड़कियां झगड़ रही है।

इस वाक्य में दो और चार शब्द का प्रयोग किया गया है, जिनसे संख्या का ज्ञान करवाया गया है। इसलिए इस उदाहरण को संख्यावाचक विशेषण के तहत रखा गया है।

संख्यावाचक विशेषण के बारे विस्तार से पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें संख्यावाचक विशेषण

गुणवाचक विशेषण

वह शब्द जिनसे किसी संज्ञा या सर्वनाम के गुण, गंध, आकार-प्रकार, दोष, रंग-रूप आदि का बोध होता हो, उन शब्दों को गुणवाचक विशेषण कहा जाता है।

  • मोहन एक ईमानदार लड़का है।
  • भोजन में बदबू आ रही है।

ऊपर दिए गये वाक्यों में ईमानदार और बदबू शब्दों का प्रयोग गुण का ज्ञान करवाने के लिए किया गया है, इसलिए यह गुणवाचक विशेषण के उदाहरण है।

गुणवाचक विशेषण के बारे विस्तार से पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें गुणवाचक विशेषण

सार्वनामिक विशेषण

ऐसे सर्वनाम शब्द जो संज्ञा से पहले प्रयोग होकर उस संज्ञा शब्द की विशेषता बतलाते है। उन शब्दों को सार्वनामिक विशेषण कहते हैं।

इस प्रकार के शब्द जो कि सर्वनाम के लिए विशेषण के रूप में काम करते हैं। उदाहरण: मेरी गाड़ी, मेरी कार, मेरा घर, वह बाइक, वह आदमी, वह लड़की, वह व्यक्ति, वह जानवर, किसी का घर इत्यादि।

  • उस गाड़ी को वहां छोड़ दो।
  • मेरा आदमी घर पहुंच गया है।

इस वाक्य में उस और मेरा शब्द का प्रयोग सर्वनाम से पहले संज्ञा के रूप में किया गया है। इसलिए इस शब्द को सार्वनामिक विशेषण के अंतर्गत रखा गया है। क्योंकि यह शब्द संज्ञा से पहले प्रयुक्त होकर विशेषण की तरह ही विशेषता बता रहा है।

सार्वनामिक विशेषण के बारे विस्तार से पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें सार्वनामिक विशेषण

संबंधवाचक विशेषण

ऐसे विशेषण शब्द जिनके उपयोग किसी भी वस्तु या व्यक्ति एक दूसरे के संबंध को बताने के लिए किया जाता है, या ऐसे विशेषण शब्द जिनका प्रयोग किसी दो के बीच में संबंध बताने के लिए किया जाता है। उन शब्दों को संबंधवाचक विशेषण कहते हैं।

  • पेट के अंदरूनी हिस्से में चोट लगी है।
  • घर के अंदरूनी हिस्से में एक व्यक्ति खड़ा है।

ऊपर दिए गए इस वाक्यों में अंदरूनी शब्द का प्रयोग किया गया है। जो कि पेट और चोटघर और आदमी के बीच संबंध बता रहा है, इसलिए इस वाक्य को संबंध वाचक विशेषण का उदाहरण माना जाता है।

संबंधवाचक विशेषण के बारे विस्तार से पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें संबंधवाचक विशेषण

व्यक्तिवाचक विशेषण

वह शब्द जो व्यक्तिवाचक संज्ञा के द्वारा बनते है और विशेषण शब्दों का निर्माण करते हैं, उन्हें व्यक्तिवाचक विशेषण कहा जाता है।

  • मुझे गुजराती खाना अधिक पसंद है।

ऊपर उदाहरण में गुजराती शब्द का प्रयोग किया गया है। यह गुजराती शब्द असल में व्यक्तिवाचक संज्ञा गुजरात से बना शब्द है और विशेषण की रचना करता है। इसलिए गुजराती शब्द को व्यक्तिवाचक विशेषण के अंतर्गत रखा गया है और इस गुजराती शब्द का प्रयोग खाने की विशेषता की विशेषता बताने लिए किया गया है।

  • मुझे इलाहाबादी चटनी बहुत पसंद है।

इस वाक्य में इलाहाबादी शब्द का प्रयोग किया गया है जो कि व्यक्तिवाचक संज्ञा इलाहाबाद से बना हुआ है। इस शब्द के जरिए इलाहाबाद की चटनी की विशेषता बताई जा रही है। इसलिए इस शब्द को व्यक्तिवाचक विशेषण के अंतर्गत रखा गया है।

व्यक्तिवाचक विशेषण के बारे विस्तार से पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें व्यक्तिवाचक विशेषण

प्रश्नवाचक विशेषण

ऐसे शब्द जिनसे संज्ञा और सर्वनाम की पहचान की जाती है, उन्हें प्रश्नवाचक विशेषण कहा जाता है। जैसे: कौन, क्या आदि।

इस प्रकार के विशेषण शब्दों का प्रयोग करने से संज्ञा एवं सर्वनाम के बारे में जानकारी प्राप्त होती है। उदाहरण के तौर पर वह कौन है, रमेश क्या कर रहा है इत्यादि।

  • यह परमाणु बम क्या होता है।

इस वाक्य में क्या शब्द का प्रयोग करके संख्या के बारे में अधिक जानकारी लेने का प्रयास किया जा रहा है। इसलिए इस उदाहरण को प्रश्न वाचक विशेषण के अंतर्गत रखा जाएगा।

  • मैं ऑफिस गया फिर कौन आया था।

ऊपर दिए गए इस वाक्य में स्पष्ट दिखाई दे रहा होगा कि कौन शब्द का प्रयोग किया जा रहा है। इस शब्द का प्रयोग करके संज्ञा की जानकारी लेने का प्रयास हो रहा है। इसलिए इस वाक्य को प्रश्न वाचक विशेषण के अंतर्गत रखा जाएगा।

प्रश्नवाचक विशेषण के बारे विस्तार से पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें प्रश्नवाचक विशेषण

तुलना बोधक विशेषण

ऐसे शब्द जिनके माध्यम से दो वस्तुओं के बीच में तुलना बताई जाती है और इन शब्दों के माध्यम से दो वस्तुओं के बीच गुण एवं दोष इत्यादि की तुलना होती है। साथ ही साथ दोनों वस्तुओं के बीच संज्ञा व सर्वनाम की विशेषता बताने वाले शब्द तुलना बोधक विशेषण कहलाते हैं। जैसे:

  • पूजा नैना से खूबसूरत है।

यहां पर दोनों महिलाओं की परस्पर तुलना की गई है।

तुलना बोधक विशेषण के बारे विस्तार से पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें तुलना बोधक विशेषण

हम उम्मीद करते हैं कि आप अब “विशेषण की परिभाषा एवं उदाहरण (Visheshan Kise Kahate Hain)” को अच्छी तरह से समझ गये होंगे। यदि आपको इससे जुड़ा कोई सवाल है तो कमेंट बॉक्स में जरूर बताएं। इस जानकारी को आगे शेयर जरूर करें।

यह भी पढ़े

इनका नाम राहुल सिंह तंवर है, इन्होंने स्नातक (रसायन, भौतिक, गणित) की पढ़ाई की है और आगे की भी जारी है। इनकी रूचि नई चीजों के बारे में लिखना और उन्हें आप तक पहुँचाने में अधिक है। इनको 3 वर्ष से भी अधिक SEO का अनुभव होने के साथ ही 3.5 वर्ष का कंटेंट राइटिंग का अनुभव है। इनके द्वारा लिखा गया कंटेंट आपको कैसा लगा, कमेंट बॉक्स में जरूर बताएं। आप इनसे नीचे दिए सोशल मीडिया हैंडल पर जुड़ सकते हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here