सयुंक्त वाक्य (परिभाषा एवं उदाहरण)

Sanyukt Vakya: हिंदी व्याकरण में तीन प्रकार के वाक्य होते है,सरल वाक्य, मिश्र वाकय और संयुक्त वाक्य। आज हम इस आर्टिकल में आपको सयुंक्त वाक्य (Sanyukt vakya in hindi) के बारे में बताने जा रहे है।

हिंदी भाषा पढ़ने वाले कक्षा 5, 6, 7, 8, 9, 10, 11, 12 के विद्यार्थियों को परीक्षा में सयुंक्त वाक्य की परिभाषा (sanyukt vakya ki paribhasha), सयुंक्त वाक्य क्या होता है (sanyukt vakya kya hota hai) और सयुंक्त वाक्य के उदाहरण (sanyukt vakya ke udaharan) पूछे जाते है। इस आर्टिकल की मदद से आप सरल वाक्य को आसानी से समझ सकते हो ।

Sanyukt Vakya
Sanyukt Vakya

वाक्य के बारे में गहराई से पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें वाक्य (परिभाषा, भेद और उदाहरण)

सयुंक्त वाक्य किसे कहते है? (Sanyukt Vakya Kise Kahate Hain)

सयुंक्त वाक्य की परिभाषा: ऐसे वाक्य जिनमें दो या दो से अधिक उपवाक्य शामिल हो एवं सभी उपवाक्य प्रधान हो, उन वाक्य को संयुक्त वाक्य कहा जाता है।

संयुक्त वाक्य जिसमें दो या दो से अधिक सरल वाक्य या मिश्र वाक्य शामिल होते हैं। यह वाक्य एक दूसरे पर आश्रित नहीं होते हैं मतलब इसमें किसी भी उपवाक्य को हटा देने से अन्य वाक्यों के अर्थ पर प्रभाव नहीं पड़ता है एवं संयोजक अव्यय इन वाक्यों को मिलाता है।

जैसे:

गीता टीवी देख रही है लेकिन मोहन सो रहा है।

उपरोक्त वाक्य में आप देख सकते हैं यहां पर 2 वाक्य है, जो संयोजक ‘लेकिन’ से जुड़े हुए हैं और यहां पर दोनों ही वाक्य स्वतंत्र साधारण वाक्य है। प्रत्येक वाक्य में खुद का क्रिया और कर्ता है, जिससे उपरोक्त वाक्य में किसी भी एक वाक्य को हटा देने पर भी अन्य वाक्यों पर कोई प्रभाव नहीं पड़ेगा।

संयोजक अभियोग के रूप में बहुत सारे शब्द जैसे: और, एवं, फिर, या, अथवा, परंतु, इसलिए, तथा, तो, नहीं तो, भी, किंतु इत्यादि शब्दों का प्रयोग होता है। इन शब्दों के माध्यम से संयुक्त वाक्य का निर्माण होता है।

इन समानाधिकरण संबंधबोधक अव्ययो का अलग-अलग तरह से बोध कराने के लिए प्रयोग होता है। जैसे परिणाम बोधक के लिए “इसलिए” का प्रयोग होता होता है। वहीँ “किंतु परंतु” का प्रयोग विरोध दर्शक की तरह होता हैं। “या” एक विभाजक का कार्य होता है एवं “और” एक संयोजक की तरह प्रयोग होता है।

संयुक्त वाक्य के 5 उदाहरण दीजिए

यहाँ पर हमें संयुक्त वाक्य के उदाहरण (sanyukt vakya examples) देकर आपको विस्तार से समझाया है।

  • राधा बीमार थी, इसलिए स्कूल नहीं आई।

जिस प्रकार से ऊपर उदाहरण में स्पष्ट रूप से दर्शाया गया है कि यहां पर एक वाक्य में दो सरल वाक्य है और इन दोनों सरल वाक्य को इसलिए संयोजक अव्यय के माध्यम से जोड़ा गया है। अतः यह उदाहरण संयुक्त वाक्य के अंतर्गत रखा जाएगा।

  • मैं स्कूल आया और वह घर चला गया।

प्रयुक्त उदाहरण में स्पष्ट रूप से देख सकते हैं कि दो स्वतंत्र सरल वाक्य एक ही वाक्य के अंदर नजर आ रहे हैं और इन दोनों सरल वाक्य को और संयोजक अव्यय के माध्यम से जोड़ा गया है। अतः यह उदाहरण संयुक्त वाक्य का मुख्य उदाहरण माना जाएगा।

  • राम ने परीक्षा में बहुत मेहनत की किंतु सफल नहीं हो पाया।

ऊपर उदाहरण में आप देख सकते हैं कि दो स्वतंत्र सरल वाक्य का प्रयोग एक ही वाक्य के अंतर्गत हुआ है और इन दोनों सरल वाक्य को किंतु संयोजक अव्यय के माध्यम से जोड़ा गया है। अतः यह संयुक्त वाक्य का उदाहरण माना जाएगा।

  • राधा को चोट लगी और वह रोने लगी।

उदाहरण के रूप में ऊपर दर्शाए गए इस वाक्य में स्पष्ट रुप से दिखाई दे रहा है कि यहां पर दो सरल स्वतंत्र वाक्य को और संयोजक अव्यय के माध्यम से जोड़ा गया है। अतः यह उदाहरण संयुक्त वाक्य के अंतर्गत रखा जाएगा।

  • पूनम किताब पढ़ी परंतु उसे समझ नहीं आई।

ऊपर उदाहरण में स्पष्ट रुप से देख सकते हैं कि दो सरल वाक्यों का प्रयोग हुआ है और इन वाक्यों को परंतु संयोजक अव्यय के माध्यम से जोड़ा गया है। अतः यह उदाहरण संयुक्त वाक्य के अंतर्गत रखा जाएगा।

संयुक्त वाक्य के 20 उदाहरण

  • वह सुबह मेरे घर आया और शाम को वापस लौट गया।
  • रात खत्म हुई और उजाला होने लगा।
  • राम ने बहुत मेहनत की लेकिन परीक्षा में सफल नहीं हुआ।
  • वह बहुत तेज दौड़ा फिर भी बस को नहीं पकड़ पाया।
  • राधा ने मेहनत की और सफल हो गई।
  • छुटियाँ समाप्त हुई और हम घर आ गए।
  • सूरज निकला और चारों ओर उजाला छा गया।
  • मैंने उसे देखा और वो रो पड़ा।
  • वो बीमार था, इसलिए विद्यालय नहीं जा सका।
  • मैं स्टेशन पर झटपट पंहुचा फिर भी बस छूट गई।
  • वह हम सभी लोगों के साथ आना चाहती थी लेकिन उसकी परीक्षा नजदीक है।
  • वह घर से तो जल्दी निकली लेकिन दफ्तर देर से पहुंची।
  • मेरी ट्रेन छूट गई थी इसीलिए मैं कोलकाता नहीं जा सका।
  • वह आई तो घर में रोशनी आ गई।
  • मैं इतना पढ़ा फिर भी परीक्षा में सफल नहीं हो सका।
  • तुम्हारे पिताजी आए हैं और तुम्हारे लिए उपहार लेकर आए हैं।
  • तुम्हारी माताजी मंदिर गई है और तुम्हारे पिताजी दफ्तर गए हैं।
  • तुम बाजार से सब्जियां ले आओ अथवा घर पर रहकर इंतजार करो।
  • तुम्हें फिर यहां पर देखकर मैं खुश हूं।
  • तुम बार-बार जाती हो फिर वापस आ जाती हो।

वाक्य रूपांतरण

सरल वाक्य से संयुक्त वाक्य के उदाहरण

  • सयुंक्त वाक्य: रोहित सुबह अपने घर गया और शाम को वापस लौट आया।
  • सरल वाक्य: रोहित सुबह गांव जाकर शाम को वापस लौट आया।
  • सयुंक्त वाक्य: रात खत्म हुई और रोशनी फैलने लगी।
  • सरल वाक्य: रात खत्म होते ही रोशनी फैलने लगी।
  • सयुंक्त वाक्य: राधिका ने बहुत कठिन परिश्रम किया फिर भी सफल नहीं हो सकी।
  • सरल वाक्य: राधिका बहुत परिश्रम करने के बाद भी सफल नहीं हो सकी।
  • सयुंक्त वाक्य: मैं कल बारिश में भीग गया और जुखाम हो गया।
  • सरल वाक्य: कल बारिश में भिंगने से मुझे जुखाम हो गया।

FAQ

संयुक्त वाक्य को कैसे पहचाने?

किसी संयुक्त वाक्य में स्वतंत्र साधारण वाक्य या प्रधान उपवाक्य तथा वाक्य में उपस्थित परिणामबोधक, विरोध दर्शक, विभाजक या संयोजक जैसे शब्दों से की जा सकती हैं।

संयुक्त वाक्य का एक उदाहरण बताएं?

मैंने तुम्हें देखा और अचरज में पड़ गई।

“तुम आए फिर भी वह खुश नहीं हैं” इस वाक्य में कौन सा संयोजक अव्यय का प्रयोग किया गया है?

उपरोक्त वाक्य में “फिर भी” संयोजक अव्यय का प्रयोग किया गया हैं।

हमने क्या सीखा?

हमने यहां पर सयुंक्त वाक्य किसे कहते हैं, सयुंक्त वाक्य की परिभाषा (Sanyukt Vakya) आदि के बारे में विस्तार से पढ़ा है। उम्मीद करते हैं कि आपको यह अच्छे से समझ आ गये होंगे, इन्हें आगे शेयर जरूर करें। यदि आपका इससे जुड़ा कोई सवाल है तो कमेंट बॉक्स में जरूर बताएं।

वाक्य के अन्य भेद

इनका नाम राहुल सिंह तंवर है। इनकी रूचि नई चीजों के बारे में लिखना और उन्हें आप तक पहुँचाने में अधिक है। इनको 4 वर्ष से अधिक SEO का अनुभव है और 6 वर्ष से भी अधिक समय से कंटेंट राइटिंग कर रहे है। इनके द्वारा लिखा गया कंटेंट आपको कैसा लगा, कमेंट बॉक्स में जरूर बताएं। आप इनसे नीचे दिए सोशल मीडिया हैंडल पर जरूर जुड़े।