गर्ल इम्प्रेस शायरी

Impress Girl Shayari In Hindi

Impress Girl Shayari In Hindi
Impress Girl Shayari In Hindi

Impress Girl Shayari In Hindi |गर्ल इम्प्रेस शायरी

“आँखो की “चमक” पलकों की “शान” हो तुम,
चेहरे की “हसी” लबों की “मुस्कान” हो तुम,
“धड़कता” है दिल बस तुम्हारे “इन्तहां” मे,
फिर कैसे ना कहूँ… मेरी “जान” हो तुम”

जो भी पसंद हो उससे I love you केहना,
कगार वो ग़ुस्से में में आ जाये तोह दरना मट,
राखि निकलना और कहना प्यारी बहना मिलती रेहना।

सच्ची मोहब्बत ज़िन्दगी में सिर्फ एक बार
होती है और जब होती है तो कोई भगवन
या खुदा उसे नाकामयाब नहीं होने देते।

आपकी रहमत में अर्जियां नहीं चलती
दिलों के खेल में खुदगर्ज नहीं चलती
चल ही पड़े हो तो यह जान लीजिए हुजूर
इश्क की राह में मनमर्जियां नहीं चलती

सिंगल रहते बहुत दिन हो गए,
अब गर्लफ्रेंड चाहिए ज़िंदा या मुर्दा.

“जादू “सीख” रहा हु,
एक “शहजादी”
को कब्जे में करना है”

आज मौसम में अजीब सी बात है,
बेकाबू से हमारे खयालात हैं,
जी चाहता है चुरा लूँ आप को आपसे,
पर मम्मी कहती है चोरी करना पाप है.

खूबसूरती तेरी लोगो को दीवाना बनती हैं,
धुप में मानो ठंडक दे जाती हैं, सलामत
रहे तेरे होंठो पर हंसी,क्युकी ये हंसी ही
तुझको चाँद की तरह खिला जाती हैं.

Read Also :-निगाह शायरी

तुम्हारी हर अदा का आईना आपसे है
हमारी हर मंजिल का रास्ता आपसे है
कभी ना दूर हो ना हमारी जिंदगी से
हमारी हर ख़ुशी का वास्ता आपसे है

कैसे कहे हमें प्यार नहीं है, मगर इकरार नहीं हे,
दिल अक्सर हो जाता हे, आपकी याद में मौन,
अब तो बता दो हम आपके है कौन.

“आज आये है इस जहाँ
में “महोब्बत” ही करले,
क्या पता “कल”
हम किसी और के न हो जाये”

जब तुम आईने के पास जाते हो?
तो आइना कहता है?
ब्यूटीफुल.. ब्यूटीफुल..

****

पूरा हक़ है
तेरा मुझ पे तू सब जताया कर
में ना पुछु मुझे फिर भी सब बताया कर।

दिल के सागर में लहरे उठाया ना करो
ख्वाब बनकर नींद चुराया ना करो
बहुत चोट लगती है मेरे दिल को,
तुम ख्वाबों में आकर यूं तड़पाया ना करो

Impress Girl Shayari In Hindi

सच्चा प्यार वही होता है
जिसके साथ रहने से,
ख़ुशी दोगुनी हो जाए और
गम आधे हो जाए.

“मुस्कुराना तो… हर “लड़की” की अदा है,
मुस्कुराना तो… हर “लड़की” की अदा है,
उसे जो “मोहब्बत” समझे…
वो सबसे बड़ा “गधा” है”

तुम दूर सही मजबूर सही,
पर याद तुम्हारी आती है.
जब साँस वहां पर लेटी हो,
तो बदबू यहां तक आती है.

ओये मेरी जान गुस्सा करेगी तोह भी तेरे
पास हे आऊंगा क्युकी तेरे बिना एक पल भी
रहने की अब आदत नहीं है मुझे।

पल भर की भी तन्हाई नसीब ना हो
कोई भी गम तुम्हारे करीब ना हो,
रब तुम्हारी जिंदगी में इतनी खुशियां दें,
कि तुम से बढ़कर कोई खुशनसीब ना हो

उनकी तारीफ में सारे लफ़्ज़ कम हे,
उनके सामने तो चाँद सितारे भी कम हे.

Read Also :-एहसास शायरी

“दिल की “हसरत” ज़ुबा पे आने लगी,
तूने देखा और “ज़िन्दगी” मुस्कुराने लगी,
ये प्यार की “इन्तहा” थी…
या “दीवानगी” मेरी कि,
हर “सूरत” में सूरत
तेरी “नज़र” आने लगी”

आंसू तेरे निकले और आँखें मेरी हो,
दिल तेरा धड़के और धड़कन मेरी हो,
खुदा करे हमारी दोस्ती इतनी गहरी हो,
की नौकरी तुम करो और सैलरी मेरी हो….

अंदाज-ऐ-प्यार तुम्हारी एक अदा है
दूर हो हमसे तुम्हारी खता है,
दिल में बसी है तस्वीर तुम्हारी,
जिसके नीचे I Love You लिखा है..

रूठने का हक आप रखते हैं
तो मनाने की चाहत हम रखते हैं,
आपके होठों पर मुस्कुराहट यूं ही बनी रहे
यही दुआ रब से हम रोज रोज करते हैं

*****

मेरी जान कितनी क्यूट हो तुम,
रूठ कर भी लगती बेमिसाल हो तुम,
बड़ी गजब है तुम्हारी पर्सनल्टी,
की लगती सबसे धमाल हो तुम.

“आखें खोलू तो… “चेहरा” तुम्हारा हो,
बंद करू तो… “सपना” तुम्हारा हो,
मर भी जाऊ… तो “कोई” गम नहीं,
बस “कफ़न” के बदले,
“आँचल” तुम्हारा हो”

छुप गया बदलि में जाके,
चांद भी शरमा गया.
छुप गया बदलि में जाके,
चांद भी शरमा गया.
और आपको देखा तो,
भूतों को पसीना आ गया.

दीवानगी मे कुछ ऐसा कर जाएंगे।
महोब्बत की सारी हदे पार कर जाएंगे,
वादा है तुमसे दिल बनकर तुम धड़कोगे
और सांस बनकर हम आएँगे।।

Impress Girl Shayari In Hindi

मुस्कान तेरे होठों से कहीं जाएं ना
आंसू तेरी पलकों पे कहीं आए ना
पूरा हो तेरा हर ख्वाब और
जो पूरा ना हो वो ख्वाब कभी आए ना

तेरी आँखों का पहरा,
या है कोई राज़ गहरे,
तेरा चाँद सा चेहरा,,,
या है कोई चाँदनी का बसेरा,
तेरे होंठो का मुस्कुराना,
या हे किसी गुलाब का खिल जाना,
हमारी इन बातों में न आना,
कभी कभी मजाक भी कर लिए करते हे.

“धोखा मिला जब भी “प्यार” में,
ज़िंदगी में “मायूसी” सी छा गयी,
सोचा था… “छोड़ देंगे” इस राह को,
कमबख्त फिर एक “नए-नंबर”
से “मिस कॉल” आ गयी”

जब जब घिरे बादल तेरी याद आयी,
जब झूम के बरसा सावन तेरी याद आयी,
जब-जब में भीगा तेरी याद आयी,
अब रहा नहीं जाता, छतरी लौटा दे भाई

चेहरे पर हंसी छा जाती है
आंखों में सुरूर आ जाता है
जब तुम मुझे अपना कहते हो
अपने आप पर गुरुर आ जाता है.

वो मोहब्बतें जो तुम्हारे दिल में हैं ,
उससे जुबां पर लाओ और बयां कर दो ,
आज बस तुम कहो और कहते ही जाओ ,
हम बस सुनें ऐसे बे – जुबान कर दो .

क्या कहूं क्या खूब लग
रहे हो, हो बड़े ज़ालिम,
पर मासूम लग रहे हो.

“जबसे तुम्हे देखा है,
“दिल” का हाल “बेहाल” है,
रातों को “नींद” नहीं रही,
बदले से हमारे “ख़्याल” है”

Read Also :-इल्जाम शायरी

ना ही ज़रुरत है सितारों की,
ना ही ज़रुरत है फालतू यारों की,
एक दोस्त चाहिए आपके जैसा,
जो वाट लगा दे हज़ारों की.

कान खोल कर सुन
लो जान लड़ेंगे झगड़ेंगे
लेकिन सोयेंगे साथ में ही जान।

मेरी यादो मे तुम हो, या मुझ मे ही तुम हो,
मेरे खयालो मे तुम हो, या मेरा खयाल ही तुम हो,
दिल मेरा धडक के पूछे, बार बार एक ही बात,
मेरी जान मे तुम हो, या मेरी जान ही तुम हो ।

उसकी सादगी के
बारे में क्या कहु यारो,,
उसकी आँखों में
लगा काजल बवाल मचा देता हे.

*****

“तुझे “पलकों” पर बिठाने को जी करता है,
तेरी “बाहों” से लिपट जाने को “दिल” करता है,
ख़ूबसूरती की “इन्तहा” हैं तू,
तुझे अपनी “ज़िन्दगी” बनाने को जी करता हैं”

तुमसे मिल कर हो गया ज़िन्दगी से प्यार,
अब हमें छोड़ कर मत जाना यार,
बिन तेरे हम जी न पाएंगे,
तुम न होगे तो हम उल्लू किसे बनाएंगे

शान से हम तेरे दिल में रहेंगे,
तेरी मोहब्बत पे जान निसार करेंगे,
देख के जलेगी हमे दुनियाँ सारी,
इस कदर बे-पनाह प्यार तुझे करेंगे.

अब तारीफ भी करे, तो कैसे,
और किस हक़ से,
लेकिन सच कहूं तो,
कुछ शख्स ने काबिले
तारीफ़ होते हे जेसे आप.

“तू Please मेरे सामने
ऐसे “मुस्कुराया” न कर,
डर लगता है, कहीं मुझे
तुमसे फिर से “प्यार” न हो जाय”

Impress Girl Shayari In Hindi

आज कल तुम मुस्कुराती बहुत हो,
मेरे दिल को भाति बहुत हो,
दिल कहता है ले जाऊं तुम्हें डिनर पे,
पर सुना है तुम ख़ाति बहुत हो!

कोई चाहिए जो कहे तुम कामयाब
हो जाओ रिश्ता में खुद ले कर आउंगी।

तारीफ क्या करू में उस शख्स की,
बस इतना जान लीजिये की,
मेरी मुस्कराहट ही उससे शुरू होती हे.

“उन हसीं पालो को याद कर रहे थे,
आसमान से आपकी “बात” कर रहे थे,
दिल को “सुकून” मिला
जब “हवाओ” ने बताया,
आप भी हमें “याद” कर रहे थे”

गुस्सा करने के बाद
भी Care करना
यही तो होता है सच्चा प्यार।

जरुरी तो नहीं हर बार तारीफ करूँ,
कोन हर बार नए शब्द लेगा,
मेरी आँखे पढ़ना तो सीख लो,
तुमको जवाब मिल जाएगा.

“दिल अब बस तुम्हे ही “चाहता” है,
तेरी “यादो” में… ये “खो” जाता है,
लग गयी है इसमें… “इश्क” की आग ऐसी कि,
तुम्हे “चूमने” को “दिल” चाहता है”

जिसको जैसा समझा असल में वो वैसा था नहीं,
जो करते हे प्यार की तारीफे,
लगता है उन्हें अब तक धोखा मिला नहीं.

Read Also :-लाइफ शायरी

“जब दिल चाहता है
तेरे “पास” आ जाते है,
तू नहीं तो क्या हुआ,
तेरा “एहसास” लिए चले जाते

बेहद ख्याल रखा करो तुम अपना मेरी
आम सी ज़िन्दगी में बहुत ख़ास हो तुम।

आप महफ़िल में आए हे
और उनकी रौनक बढ़ा दी,
हम यूँ ही अभिवादन
और सजावटों पर तवज्जो देते रहे.

“कितना “खूबसूरत” चाँद सा चेहरा है,
उसपे… “शबाब” का रंग गहरा है,
खुदा को “यकीं” न था “वफ़ा” पे,
तभी तो एक “चाँद” पे
हज़ारो “तारों” का पहरा है”

उसके ख्यालों से रंग गयी है
रूह तक मेरी,
अब किसी और का
ख्याल आये तो आये कैसे।

तेरे होंठो पर आकर
मेरी नज़र ठहर जाती हे,
न झुकाया करो पलके,
सेहर ठहर जाती हे.

“हर “नज़र” को एक “नज़र” की तलाश है,
हर चेहरे में… कुछ तो “एह्साह” है,
आपसे “दोस्ती” हम यूं ही “नहीं” कर बैठे,
क्या करें… हमारी “पसंद” ही कुछ… खास है”

तुम बस मुस्कुराया करो मेरी जान
क्युकी तुम्हारी स्माइल में ही तोह मेरी
जान बस्ती है।

***

किस काम की सो तारीफ़े गैरो की,
वो एक नज़र भर ही देख ले, इतना काफी है.

“तुम्हे देखने का
“जुनून” और भी होता है
जब तुम्हारे “मासूम चेहरे”
पर “ज़ुल्फ़ों” का पहरा होता है”

आँखो की चमक पलकों की शान हो तुम,
चेहरे की हसी लबों की मुस्कान हो तुम,
धड़कता है दिल बस तुम्हारे इन्तहां मे,
फिर कैसे ना कहूँ,,मेरी जान हो तुम.

करता रहूँ तेरी तारीफ सदा,
या रब मुझे यह फन अत फ़रमा.

“आज तू मिली है,
मुझे “क़यामत” की रात होगी,
जल जाएगी ये “दुनिया”
जब तू मेरे “साथ” होगी”

आप क्यों नहीं समझते नहीं रहा जाता
आपके बिन अपना ख्याल रखा करो जान।

खयालों में मुझे तुम ही नज़र आये,
के मेरी आँखों में आँसू उभर आये,
गुज़र के नज़रो से जो दिल में उतरे तुम,
लगा,, ज़मीं पे तारे, उतर आए.

Impress Girl Shayari In Hindi

“तुम्हें जीत लू…
ये “जिद्द” है मेरी, और
तुम पर सब कुछ “हार” जाऊँ…
ये भी जिद्द है मेरी”

अपनी मोहब्बत कि खुशबु से नुर कर दे,
जुदा न हो सकु इतना मगरुर कर दे,
मेरे दिल मे बस जाए वफ़ा तेरी ,किसी
और को ना देखु मुझे इतना मजबुर कर दे.

तारीफ जितनी करू उतनी कम है,
इस इश्क़ की,
आशिक़ मर भी जाये तो मेहबूब बेगुनाह रहता हे.

“तेरी आँखें “झुकी” तो “हया” बन गयी,
और जब “उठी तो ”नशा” बन गयी,
हमें “पता” ही नहीं चला,
कब इस “दिल” तुम्हारे लिए,
‘“जगह” बन गई”

बिना तेरे मेरी हर ख़ुशी अधूरी हैं फिर
सोच मेरे लिए तू कितनी ज़रूरी है।

“अंदाज-ऐ-प्यार” तुम्हारी एक अदा है,.
दूर हो हमसे… तुम्हारी “खता” है,
दिल में बसी है… “तस्वीर” तुम्हारी,
जिसके नीचे “ I Love You”’ लिखा है..

तुझे पलकों पर बिठाने को जी करता है,
तेरी बाहों से लिपट जाने को दिल करता है,
ख़ूबसूरती की इन्तहा हैं तू, तुझे अपनी
ज़िन्दगी बनाने को जी करता हैं.

“आज‬ ‪”दरगाह” में‬ ‪
मन्नत‬ का ‪‎”धागा” नहीं‬,
अपना “दिल‬” ‪‎बाँध‬
के ‪आया‬ हू, ‪सिर्फ तेरे लिए‬”

मुझे प्यार करना नहीं आता पर
जितना भी किया है सिर्फ और सिर्फ
तुमसे ही किया है जान।

“मोहब्बत का मतलब… “इंतज़ार” नहीं होता,
हर किसी को देखना… “प्यार” नहीं होता,
यूँ तो मिलता है… रोज “मोहब्बत-ए-पैगाम”,
प्यार “जिंदगी” है… जो “हर-बार” नहीं होता”

तेरे बिना न मान लगता है
न दिल लगता है i miss you.

Read Also :-खता शायरी

“इतना “खूबसूरत” चेहरा है तुम्हारा,
हर दिल “दिवाना” है तुम्हारा,
लोग कहते है… “चाँद” का टुकड़ा हो तुम,
लेकिन हम कहते है… “चाँद” टुकड़ा है तुम्हारा”

पता नहीं कितना प्यार हो गया है तुमसे
नाराज होने पर भी
तुम्हारी बहुत याद आती है।.

“हर किसी के “चेहरे” में वो बात नहीं होती,
थोड़े से “अँधेरे” में… “रात” नहीं होती,
इस जहां में कुछ लोग बहुत “प्यारे” होते है,
क्या करे आज-कल उन्ही से “मुलाकात” नहीं होती है”

रोज एक नयी तकलीफ रोज एक नया गम
ना जाने कब एलान होगा की मर गए हम।

“तरसती “नज़रों” की “प्यास” हो तुम,
“तड़पते दिल” की… “आस” हो तुम,
खत्म होती “ज़िंदगी” की साँस हो तुम,
फिर कैसे ना कहूँ… मेरे लिए कुछ “खास” हो तुम”

****

जान हैं मुझको जिंदगी से प्यार, जान के लिए कर
दू कुरबान यारी अब आपसे हि क्या छुपाना,आप
ही तो है जान हमारी।

“तेरी “खूबसूरत” आँखों में…
“आँसू” अच्छे नहीं लगते,
चाहे जितना भी “रोये” लेकिन…
कभी “सच्चे” नहीं लगते”

कभी कभी तकलीफ
में मुस्कुराना पड़ता है
ताकि हमारे घर वाले
हमारे लिए परेशां न हो जाएँ।

Impress Girl Shayari In Hindi

“मेरी हर “ख़ुशी” हर “बात” तेरी हैं,
सांसों में छुपी ये “हयात” तेरी हैं,
दो “पल” भी नहीं रह सकते… तेरे बिन,
“धड़कनो” की धड़कती हर “आवाज़” तेरी हैं”

तेरी हर अदा मोहब्बत सी लगती है पल भर
की जुदाई सदियों सी लगती है पता नहीं क्यों
जिंदगी में हर पल तेरी जरुरत सी लगती है.

तुम मेरी बाहों का हार बनो,मेरे आँखो की चमक बनो,
तुम इस दिल की धड़कन बनो,मेरे साँसों की महक बनो,
बस हर पल यूही इस दिल की चाहत बनो.

दिल के कोने से एक आवाज़ आती हैं ।
हमें हर पल उनकी याद आती हैं।
दिल पुछता हैं बार -बार हमसे के
जितना हम याद करते हैं उन्हें
क्या उन्हें भी हमारी याद आती हैं।

अगर मोहब्बत हो तो गरीब से हो
तोहफे न सही धोके तो नहीं मिलेंगे।

बस इतना करीब रहो की
बात न भी हो तो दूरी ना लगे।

मुहब्बत को जब लोग खुदा मानते है
प्यार करने वाले को क्यों बुरा मानते हैं
जब जमाना ही पत्थर दिल हैं
फिर पत्थर से लोग क्यों दुआ मांगते है।

किसी से दिल लग जाने को मोहब्बत
नहीं कहते जिसके बिना दिल न लगे
उसे मोहब्बत कहते हैं।

और फिर हुआ यूँ की ख़तम हो गया
वो रिश्ता भी, जिन्हे देख कर लगता था
की उम्र भर साथ निभाएंगे।

थोड़ी दूरियाँ भी ज़रूरी है,ज़िन्दगी में,
किसी के इतने करीब भी न जाओ,
की वो दूर चला जाये.

इज़हार से नहीं इंतेज़्ज़र से पता
चलता है मोहब्बत कितनी गहरी है।

एक अजीब सा सुकून है उस नींद मैं
जो बुरी तरह से रोने के बाद आती है।

Read Also :-मौत शायरी

बचपन वाले खिलोने आवाज़ दे रहे है
पूछ रहे है कैसा लगता है जब लोग
तुम्हारे साथ खेलते है।

तुम ख़ास थे इसलिए लाडे तुमसे पराये
होते तोह मुस्कुरा कर जाने दिया होता।

सब कहते है लड़को की ज़िन्दगी बहुत
अच्छी होती है कभी उसकी लाइफ जी
कर देखो समझ आ जायेगा।

ज़िन्दगी में इतना कुछ बुरा हो चूका
है की अब कुछ बुरा भी हो जाये तो
बुरा नहीं लगता।

चुप कर के सहते रहो
तोह आप अच्छे हो
और अगर बोल पदों
तो आपसे बुरा कोई नहीं।

बस इतना बता दो इंतज़ार करो
या बदल जाऊ तुम्हारी तरह।

*****

हर ज़िद पूरी की है मेरी वो माँ बाप
भी किसी खुदा से काम नहीं है।

वक़्त कितना भी बदल जाए
मेरी मोहब्बत कभी नहीं बदलेगी।

मैं भी कितना पागल हूं, उससे प्यार
करता हूं,जिसको मेरी परवाह ही नहीं।

काश तुम्हारी आग बुझा पाता मैं,
काश तुम्हारे दाग मिटा पाता मैं,
करनी न पड़ती परवाह ज़माने की,
काश इतनी हिम्मत जुटा पाता मैं।

नैनो से नैन मिलाकर, मोहब्बत का इजहार करूँ,
बन कर ओस की बुँदे, जिन्दगी तेरी गुलजार करूँ,
संवर जाएगी तेरी मेरी जिन्दगी, इश्क के सफर में
थाम ले तू हाथ मेरा, मैं तेरे हर वादे पे ऐतबार करूँ.

अपने जज्बातों को मैंने
उस मुकाम पे ला रखा है,
जहां परवाह नहीं मुझे
कि मेरी बात कौन करता हैं।

Impress Girl Shayari In Hindi

हजारों गीत हैं मेरे जहन में,
मगर एक खास तराना ढूंढ रहा हूँ,
जहाँ परवाह हो मेरी किसी को,
वो एक ठिकाना ढूंढ रहा हूँ।

जो दिल से करीब हो उसे रुसवा नही करते,
यूँ अपनी मोहब्बत का तमाशा नही करते,
खामोश रहेंगे तो घुटन और बढ़ेंगी,
अपनो से कोई बात छुपाया नही करते.

नज़रे करम मुझ पर इतना न कर,
की तेरी मोहब्बत के लिए बागी हो जाऊं,
मुझे इतना न पिला इश्क़-ए-जाम की,
मैं इश्क़ के जहर का आदि हो जाऊं।

आप अपनी समझ रखते हैं,
मैं अपना मिजाज रखता हूँ,
आप सही समझें या गलत,
मैं अब परवाह नहीं करता हूँ।

चलो न फिर से एक नए
रिश्ते की शुरुआत
करते है गलती किसी की भी थी चलो अब
साथ में ठीक करते है।

तेरे बिना टूट कर बिखर जायेंगे,
तुम मिल गए तो गुलशन की तरह खिल जायेंगे,
तुम ना मिले तो जीते जी ही मर जायेंगे,
तुम्हें जो पा लिया तो मर कर भी जी जायेंगे।

वो छा गए है कोहरे की
तरह मेरे चारो तरफ
न कोई दूसरा दिखता है
न देखने की चाहत है.

देख के हमें वो सिर झुकाते हैं।
बुला के महफिल में नजर चुराते हैं।
नफरत हैं हमसे तो भी कोई बात नहीं।
पर गैरो से मिल के दिल क्यों जलाते हो।

हर कर्ज मोहब्बत का अदा करेगा कौन,
जब हम नहीं होंगे तो वफ़ा करेगा कौन,
या रब मेरे मेहबूब को रखना तू सलामत,
वर्ना मेरे जीने की दुआ करेगा कौन.

इश्क की चोट का कुछ,
दिल पे असर हो तो सही
दर्द कम हो कि ज्यादा हो,
मगर हो, तो सही।

अगर मेरे हालातों से कुछ
मन में बुरा ख़याल आ जाता है,
तो परवाह ना करना मुझे अपनी
हद में रहना आता है।

Read Also

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here