घाट-घाट का पानी पीना मुहावरे का अर्थ और वाक्य प्रयोग

घाट-घाट का पानी पीना मुहावरे का अर्थ और वाक्य प्रयोग (Ghaat-ghaat ka paanee peena Muhavara ka arth)

घाट-घाट का पानी पीना मुहावरे का अर्थ – बहुत अनुभवी होना, हर प्रकार का अनुभव होना, तरह-तरह के अनुभव प्राप्त करना, अनुभवी होना।

Ghaat-ghaat ka paanee peena Muhavara ka arth – bahut anubhavee hona, har prakaar ka anubhav hona, tarah-tarah ke anubhav praapt karana, anubhavee hona.

दिए गए मुहावरे का हिंदी में वाक्य प्रयोग

वाक्य प्रयोग: मोहनलाल ने इन्वेस्टमेंट कंपनी में काफी दिनों से काम किया है इसीलिए उन्हें मनी को इन्वेस्ट करने का अच्छा खासा नॉलेज है इसीलिए सभी लोग मोहनलाल से ही मनी को इन्वेस्ट करने की एडवाइस लेते हैं क्योंकि मोहनलाल ने घाट घाट का पानी पी लिया है।

वाक्य प्रयोग: सोहनलाल ने अपने जीवन काल में काफी जगह गए हैं जहां उन्होंने काफी सारी नॉलेज को प्राप्त किया है फिर भी वह अपने जीवन में कुछ खास कामयाबी को प्राप्त नहीं की। सोहनलाल को घाट घाट का पानी का स्वाद पता है फिर भी उन्होंने अपने नॉलेज का कोई खास इस्तेमाल नहीं किए।

वाक्य प्रयोग: सीता अपने हर कार्य को काफी सोच समझ कर करती है क्योंकि सीता ने घाट घाट का पानी पिया है इसीलिए उसे पता है कि कौन सा कार्य उसे लाभ दे सकता है और कौन सा कार्य से हानि पहुंचा सकता है।

वाक्य प्रयोग: रमेश ने काफी कम समय में आईएएस का एग्जाम निकाल लिया क्योंकि रमेश ने घाट घाट का पानी भी रखा था इसलिए उसे पता था कि किस तरह की तैयारी करके आईएएस का एग्जाम निकाला जा सकता है।

यहां हमने “घाट-घाट का पानी पीना” जैसे बहुचर्चित मुहावरे का अर्थ और उसके वाक्य प्रयोग को समझा। घाट घाट का पानी पीना मुहावरे का अर्थ होता है कि किसी विषय को लेकर या किसी कार्य को लेकर विशेष जानकारी को प्राप्त करना, अनुभव प्राप्त करना, तरह-तरह की ज्ञान को प्राप्त करना। हर व्यक्ति अपने जीवन में ज्ञान को प्राप्त करने की कोशिश करता है, उसके लिए प्रयास करते रहता है और अपने संपूर्ण जीवन में तरह-तरह के अनुभवों को ग्रहण भी करता है। इसलिए हर व्यक्ति घाट घाट का पानी पी रखा होता है। चुकी यह मुहावरा है और मुहावरा और असामान्य अर्थ प्रकट करता है इसीलिए यहां इस मुहावरे का अर्थ दोहरा लाभ प्राप्त करने से हैं।

मुहावरे परीक्षाओं में मुख्य विषय के रूप में पूछे जाते हैं। एक शब्द के कई मुहावरे हो सकते हैं।यह जरूरी नहीं कि परीक्षा में यहाँ पहले दिये गए मुहावरे ही पूछा जाए। परीक्षा में सभी किसी का भी मुहावरे पूछा जा सकता है।

मुहावरे का अपना एक भाग है प्रत्येक पाठ्यक्रम में, छोटी और बड़ी कक्षाओं में मुहावरे पढ़ाया जाता है, कंठस्थ किया जाता है। प्रतियोगी परीक्षाओं में यह एक मुख्य विषय के रूप में पूछा जाता है और महत्व दिया जाता है।

परीक्षा के दृष्टिकोण से मुहावरे बहुत महत्वपूर्ण होते हैं। सभी प्रतियोगी परीक्षाओं में मुहावरे का अपना-अपना भाग होता है। चाहे वह पेपर हिंदी में हो या अंग्रेजी में यहां तक कि संस्कृत में भी मुहावरे पूछे जाते हैं।

मुहावरे कोई बहुत कठिन विषय नहीं है। यदि इसे ध्यान से समझा जाए तो याद करने की भी आवश्यकता नहीं होती है। इसे समझ समझ कर ही लिखा जा सकता है।

अन्य महत्वपूर्ण मुहावरे और उनका वाक्य प्रयोग

आकाश-पाताल एक करनाचार चाँद लगाना
आड़े हाथों लेनाअपना घर समझना
आपे से बाहर होनाआसमान सिर पर उठाना

1000+ हिंदी मुहावरों के अर्थ और वाक्य प्रयोग का विशाल संग्रह 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here