चरणों की धूल मुहावरे का अर्थ और वाक्य प्रयोग

चरणों की धूल मुहावरे का अर्थ और वाक्य प्रयोग (Charanon kee dhool muhaavare ka arth)

चरणों की धूल मुहावरे का अर्थ – निची जाति के लोग/ तुच्छ लोग।

Charanon kee dhool muhaavare ka arth – nichee jaati ke log/ tuchchh log.

दिए गए मुहावरे का हिंदी में वाक्य प्रयोग

वाक्य प्रयोग: इस पृथ्वी पर जितने भी जीव हैं वह सभी भगवान के चरणों की धूल है।

वाक्य प्रयोग: जब कुछ लोग कुछ धन संपत्ति अर्जित कर लेते हैं तब दूसरे लोगों को अपने चरणों की धूल समझने लगते हैं।

वाक्य प्रयोग: अक्सर ऐसा देखा जाता है जो कि उच्च कोटि के लोग होते हैं वह निम्न कोटि के लोगों को अपने चरणों की धूल के समान समझते हैं।

वाक्य प्रयोग: हमें हर व्यक्ति को सामान रूप से देखना चाहिए ना कि उसे अपने चरणों की धूल समझना चाहिए।

यहां हमने “चरणों की धूल” जैसे बहुचर्चित मुहावरे का अर्थ और उसके वाक्य प्रयोग को समझा। चरणों की धूल मुहावरे का अर्थ होता है कि किसी को तुच्छ व्यक्ति समझना। जिसका सबसे अच्छा उदाहरण है कि जिस देश में अमीर और गरीबी के बीच बहुत बड़ा भेज होता है वहां अक्सर अमीर लोग गरीब लोगों को अपने चरणों की धूल के समान समझते हैं। चुकी यह मुहावरा है और मुहावरा और असामान्य अर्थ प्रकट करता है इसीलिए यहां इस मुहावरे का अर्थ दोहरा लाभ प्राप्त करने से हैं।

मुहावरे परीक्षाओं में मुख्य विषय के रूप में पूछे जाते हैं। एक शब्द के कई मुहावरे हो सकते हैं।यह जरूरी नहीं कि परीक्षा में यहाँ पहले दिये गए मुहावरे ही पूछा जाए। परीक्षा में सभी किसी का भी मुहावरे पूछा जा सकता है।

मुहावरे का अपना एक भाग है प्रत्येक पाठ्यक्रम में, छोटी और बड़ी कक्षाओं में मुहावरे पढ़ाया जाता है, कंठस्थ किया जाता है। प्रतियोगी परीक्षाओं में यह एक मुख्य विषय के रूप में पूछा जाता है और महत्व दिया जाता है।

परीक्षा के दृष्टिकोण से मुहावरे बहुत महत्वपूर्ण होते हैं। सभी प्रतियोगी परीक्षाओं में मुहावरे का अपना-अपना भाग होता है। चाहे वह पेपर हिंदी में हो या अंग्रेजी में यहां तक कि संस्कृत में भी मुहावरे पूछे जाते हैं।

मुहावरे कोई बहुत कठिन विषय नहीं है। यदि इसे ध्यान से समझा जाए तो याद करने की भी आवश्यकता नहीं होती है। इसे समझ समझ कर ही लिखा जा सकता है।

अन्य महत्वपूर्ण मुहावरे और उनका वाक्य प्रयोग

आकाश-पाताल एक करनाचार चाँद लगाना
आड़े हाथों लेनाअपना घर समझना
आपे से बाहर होनाआसमान सिर पर उठाना

1000+ हिंदी मुहावरों के अर्थ और वाक्य प्रयोग का विशाल संग्रह 

इनका नाम राहुल सिंह तंवर है। इनकी रूचि नई चीजों के बारे में लिखना और उन्हें आप तक पहुँचाने में अधिक है। इनको 4 वर्ष से अधिक SEO का अनुभव है और 5 वर्ष से भी अधिक समय से कंटेंट राइटिंग कर रहे है। इनके द्वारा लिखा गया कंटेंट आपको कैसा लगा, कमेंट बॉक्स में जरूर बताएं। आप इनसे नीचे दिए सोशल मीडिया हैंडल पर जरूर जुड़े।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here