आँख के अंधे नाम नैनसुख मुहावरे का अर्थ और वाक्य प्रयोग

आँख के अंधे नाम नैनसुख मुहावरे का अर्थ और वाक्य प्रयोग (Aankh ke andhe naam nainasukh Muhavara)

आँख के अंधे नाम नैनसुख मुहावरे का अर्थ – नाम बड़ा होना और व्यक्ति का व्यवहार और गुण उसके विपरीत होना, गुण के विपरीत नाम।

Aankh ke andhe naam nainasukh Muhavara ka arth – naam bada hona aur vyakti ka vyavahaar aur gun usake vipareet hona, gun ke vipareet naam.

दिए गए मुहावरे का हिंदी में वाक्य प्रयोग

वाक्य प्रयोग: हमारे यहां एक रामू नाम का डॉक्टर है जो कि बहुत अच्छा चिकित्सक में गिने जाते हैं लेकिन उनका नाम रामू है जो की अक्सर नौकरों का नाम होता है लेकिन वह अपने काम से काफी प्रसिद्ध चिकित्सक है, ऐसे ही कहा जाता है आंख के अंधे नाम नैनसुख।

वाक्य प्रयोग: राधा का नाम तो बहुत ही सुंदर और बहुत ही शांत रहने वाली लड़कियों में से एक है लेकिन राधा बहुत ही झगड़ा करती है और दूसरों से अच्छी भी नहीं लगती इसे ही कहा जाता है कि आंख के अंधे नाम का नैनसुख।

वाक्य प्रयोग: हमारे गांव में एक कोयल नाम की लड़की है जो की बहुत ही बुरी तरह से बात करती है नाम से तो कोयल है जिसकी वाणी काफी मधुर और सुंदर होती है लेकिन नाम सिर्फ कोयल है उसकी वाणी बहुत ही बुरी है इसे ही कहा जाता है आंख के अंधे नाम नैनसुख।

वाक्य प्रयोग: हमारे गांव में एक अभय नाम का लड़का है जो कि बहुत ही डरपोक है जबकि अभय का अर्थ होता है जिसे किसी का भय ना हो लेकिन वह बहुत ही डरपोक है और हर चीज से डरते रहता है ऐसी परिस्थिति में कहा जाता है आंख के अंधे नाम नैनसुख।

यहां हमने “आँख के अंधे नाम नैनसुख ” जैसे बहुचर्चित मुहावरे का अर्थ और उसके वाक्य प्रयोग को समझा। आंख के अंधे नाम नैनसुख मुहावरे का अर्थ है कि नाम बड़ा होना और व्यक्ति का व्यवहार में उनके विपरीत गुण का होना भले ही आपका नाम या किसी व्यक्ति का नाम काफी अच्छा हो या किसी बड़े व्यक्ति से मिलता जुलता हो लेकिन इसका यह मतलब बिल्कुल नहीं होता कि वह जैसे नाम है वैसा उसके अंदर गुण भी होगा वैसा उसका व्यवहार ही होगा अक्सर लोगों का नाम तो बहुत अच्छा होता है लेकिन उसके काम इतने बुरे होते हैं कि ऐसी परिस्थिति आ जाती है जहां आपके मुंह से यह निकलेगा ही की आंख के अंधे नाम का नैनसुख। चुकी यह मुहावरा है और मुहावरा और असामान्य अर्थ प्रकट करता है इसीलिए यहां इस मुहावरे का अर्थ दोहरा लाभ प्राप्त करने से हैं।

मुहावरे परीक्षाओं में मुख्य विषय के रूप में पूछे जाते हैं। एक शब्द के कई मुहावरे हो सकते हैं।यह जरूरी नहीं कि परीक्षा में यहाँ पहले दिये गए मुहावरे ही पूछा जाए। परीक्षा में सभी किसी का भी मुहावरे पूछा जा सकता है।

मुहावरे का अपना एक भाग है प्रत्येक पाठ्यक्रम में, छोटी और बड़ी कक्षाओं में मुहावरे पढ़ाया जाता है, कंठस्थ किया जाता है। प्रतियोगी परीक्षाओं में यह एक मुख्य विषय के रूप में पूछा जाता है और महत्व दिया जाता है।

परीक्षा के दृष्टिकोण से मुहावरे बहुत महत्वपूर्ण होते हैं। सभी प्रतियोगी परीक्षाओं में मुहावरे का अपना-अपना भाग होता है। चाहे वह पेपर हिंदी में हो या अंग्रेजी में यहां तक कि संस्कृत में भी मुहावरे पूछे जाते हैं।

मुहावरे कोई बहुत कठिन विषय नहीं है। यदि इसे ध्यान से समझा जाए तो याद करने की भी आवश्यकता नहीं होती है। इसे समझ समझ कर ही लिखा जा सकता है।

अन्य महत्वपूर्ण मुहावरे और उनका वाक्य प्रयोग

आँख का ताराआकाश-पाताल एक करना
आड़े हाथों लेनाअपने पाँव पर आप कुल्हाड़ी मारना
आपे से बाहर होनाआसमान सिर पर उठाना

1000+ हिंदी मुहावरों के अर्थ और वाक्य प्रयोग का विशाल संग्रह 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here