निश्चयवाचक सर्वनाम (परिभाषा एवं उदाहरण)

निश्च्यवाचक सर्वनाम (Nishchay Vachak Sarvanam): हिंदी व्याकरण में सर्वनाम का काफी महत्व है और जो व्यक्ति प्रतियोगी परीक्षा की तैयारी कर रहा है, उस विद्यार्थी के लिए हिंदी व्याकरण में सर्वनाम को पढ़ना बहुत ही जरूरी है।

Nishchay Vachak Sarvanam

सर्वनाम और संज्ञा से संबंधित कई प्रकार के सामान्य ज्ञान के सवाल प्रतियोगी परीक्षा में पूछे जाते हैं। इसके अलावा सामान्य कक्षा 6 से लेकर सर्वनाम और संख्या के सवाल शुरू हो जाते हैं। आज हम यहां पर निश्चयवाचक सर्वनाम की परिभाषा और निश्चयवाचक सर्वनाम के उदाहरण के बारे में बात करने वाले हैं।

सर्वनाम की परिभाषा, भेद और उदाहरण के बारे में विस्तार से जानने के लिए यहां क्लिक करें सर्वनाम

निश्च्यवाचक सर्वनाम किसे कहते हैं?

निश्च्यवाचक सर्वनाम की परिभाषा: जिन सर्वनाम शब्दों से किसी दर के या समीप वस्तु, व्यक्ति प्राणियों या स्थान, घटना-व्यापार की निश्चितता का जिक्र हो, उन शब्दों को निश्चयवाचक सर्वनाम कहा जाता हैं। जैसे- यह, ये, उस, इस, वे आदि।

इस सर्वनाम के तहत ‘यह’ और ‘वह’ आते हैं। ‘यह‘ पास की वस्तु के लिए आता है। ‘वह‘ दूर की वस्तु के लिए प्रयुक्त होता है। मतलब, जिस सर्वनाम से वक्ता के नजदीक या दूर की किसी वस्तु के निश्र्चय का जिक्र होता है, उन शब्दों को ‘निश्च्यवाचक सर्वनाम’ के अंतर्गत रखा जाता हैं।

आसान शब्दों में कहा जाए तो जो सर्वनाम शब्द किसी भी निश्चित व्यक्ति, वस्तु अथवा घटना की ओर इशारा करे, उसे निश्चयवाचक सर्वनाम के रूप में जाना जाता हैं। उदाहरण के तौर पर यह, वह, ये, वो, वे ओर निश्चित संज्ञा इन पांचों शब्दो के ठीक बाद मे नहीं हो।

नोट: ‘यह’ और ‘वह’ पुरुषवाचक सर्वनाम भी हैं और निश्च्यवाचक सर्वनाम भी।

निश्चयवाचक सर्वनाम के मुख्य उदाहरण

  • आजकल यह ज्यादा बोलती नहीं है।

यह वाक्य जिसमें ‘यह’ शब्द के जरिये पुरुष का बोध किया जा रहा है, इस वजह से ‘यह’ एक निश्चयवाचक सर्वनाम के अंतर्गत आता है।

  • वह एक बार फिर दसवीं कक्षा में प्रथम आया है।

उपर्युक्त वाक्य में हमें एक निश्चित व्यक्ति का बोध होता है, जिसके नाम की जगह ‘वह’ शब्द सर्वनाम की तरह प्रयोग किया जा रहा है।

इस कारण से ‘वह’ एक निश्चयवाचक सर्वनाम का उदाहरण है।

  • वह गाड़ी अच्छी है

दिए गए इस वाक्य में ‘वह’ गाड़ी की निश्चितता के लिए प्रयुक्त किया गया है। इस वजह से ‘वह’ शब्द निश्च्यवाचक सर्वनाम के श्रेणी में आते हैं।

निश्चयवाचक सर्वनाम के अन्य उदाहरण

  • यह मेरी कार है।
  • ये मोहिनी की किताबें हैं।
  • यह मेरा फॉर्म हाउस है।
  • यह वहीं गाय है जो रोजाना 10 लीटर दूध देती हैं।

इस वाक्य में निश्चितता के लिए ‘यह’ शब्द का प्रयोग किया गया है। ‘यह’ शब्द नजदीक की वस्तु को संकेत करने के लिए प्रयोग किया जाता है। जैसे यह कार, भैंस, किताब आदि। अतः यह निकटवर्ती निश्च्यवाचक सर्वनाम के अंतर्गत आता है।

  • वह कौन है जो मेरी गाड़ी चला रहा है?
  • वे वह कौन है जो गाड़ी पर चढ़े हुए हैं?
  • वह तुम्हारी कार है।
  • वे किसकी किताबें हैं?

जैसा कि आपने इस वाक्य में देखा होगा। वह एवं वे शब्द का जिक्र करके दूर की वस्तुओं को संकेत किया जा रहा है। इसके साथ हम यह भी जानते हैं कि जब ऐसा शब्द जो कि किसी दूर की वस्तु की ओर संकेत करने में प्रयोग किया जाता है तो वह शब्द दूरवर्ती निश्चयवाचक सर्वनाम अंतर्गत आते हैं।

  • वह मेरी किताबें हैं।
  • वह तुम्हारी गाड़ी तो नहीं लगती।
  • वे मेरी हौंडा कार की फोटोस हैं।
  • वह तुम्हारी किताब जल चुकी है।
निश्च्यवाचक सर्वनाम के कुछ अन्य उदाहरण
  • यह बहुत कमजोर लड़का है।
  • ये मेरी किताबें है?
  • जो इतनी तेज दौड़ रही है, वह मेरी कार है।
  • देखो यह वही इंसान है जो बहुत बड़ा धोखेबाज है।

हमने यहां पर “निश्च्यवाचक सर्वनाम की परिभाषा और उदाहरण (Nishchay Vachak Sarvanam)” के बारे में विस्तार से जानकारी प्राप्त की है। यदि आपका इससे जुड़ा कोई सवाल है तो आप कमेंट बॉक्स में जरूर पूछे।

यह भी पढ़े

इनका नाम राहुल सिंह तंवर है, इन्होंने स्नातक (रसायन, भौतिक, गणित) की पढ़ाई की है और आगे की भी जारी है। इनकी रूचि नई चीजों के बारे में लिखना और उन्हें आप तक पहुँचाने में अधिक है। इनको 3 वर्ष से भी अधिक SEO का अनुभव होने के साथ ही 3.5 वर्ष का कंटेंट राइटिंग का अनुभव है। इनके द्वारा लिखा गया कंटेंट आपको कैसा लगा, कमेंट बॉक्स में जरूर बताएं। आप इनसे नीचे दिए सोशल मीडिया हैंडल पर जुड़ सकते हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here