आवाज़ उठाना मुहावरे का अर्थ और वाक्य प्रयोग

आवाज़ उठाना मुहावरे का अर्थ और वाक्य प्रयोग (Aavaaz uthaana Muhavara ka arth)

आवाज़ उठाना मुहावरे का अर्थ – विरोध प्रकट करना, विरोध प्रकट करना होता है, किसी के विरुद्ध बोलना, अपनी बात को रखना हैं।

Aavaaz uthaana muhaavare ka arth – virodh prakat karana, virodh prakat karana hota hai, kisee ke viruddh bolana, apanee baat ko rakhana hain.

दिए गए मुहावरे का हिंदी में वाक्य प्रयोग

वाक्य प्रयोग: आजकल सरकार पेट्रोल और सब्जियों के दाम इतने बढ़ आ रहे हैं तो किसानों ने और आम जनता ने अपनी आवाज उठाई है सरकार के खिलाफ।

वाक्य प्रयोग: जब पेट्रोल का दाम दिन प्रतिदिन बढ़ता जा रहा है तो आम जनता और दूसरे पार्टी के लोग ने सरकार के प्रति सरकार के विरोध में अपनी आवाज उठाई।

वाक्य प्रयोग: जब भी देश में महंगाई बढ़ता है तो उसका सबसे ज्यादा असर आम जनता पर और गरीबों पर पड़ता है ऐसे में जब भी महंगाई बढ़ती है तो सबसे ज्यादा आवाज आम जनता और गरीब लोग ही उठाते हैं।

वाक्य प्रयोग: जब सोहन ने देखा कि मोहन की कोई गलती ना होते हुए भी उसे काफी लोग मार पीट रहे हैं तो सोहन ने मोहन के लिए अपनी आवाज उठाई और उसे दूसरे लोगों से पीटने से भी बचाया।

यहां हमने “आवाज़ उठाना” जैसे बहुचर्चित मुहावरे का अर्थ और उसके वाक्य प्रयोग को समझा।आवाज उठाना मुहावरे का अर्थ होता है कि हम किसी विषय को लेकर किसी बात को लेकर या किसी खास मकसद को लेकर अपना विरोध प्रकट करते हैं तो ऐसी स्थिति में कहा जाता है अपनी आवाज उठाना । चुकी यह मुहावरा है और मुहावरा और असामान्य अर्थ प्रकट करता है इसीलिए यहां इस मुहावरे का अर्थ दोहरा लाभ प्राप्त करने से हैं।

मुहावरे परीक्षाओं में मुख्य विषय के रूप में पूछे जाते हैं। एक शब्द के कई मुहावरे हो सकते हैं।यह जरूरी नहीं कि परीक्षा में यहाँ पहले दिये गए मुहावरे ही पूछा जाए। परीक्षा में सभी किसी का भी मुहावरे पूछा जा सकता है।

मुहावरे का अपना एक भाग है प्रत्येक पाठ्यक्रम में, छोटी और बड़ी कक्षाओं में मुहावरे पढ़ाया जाता है, कंठस्थ किया जाता है। प्रतियोगी परीक्षाओं में यह एक मुख्य विषय के रूप में पूछा जाता है और महत्व दिया जाता है।

परीक्षा के दृष्टिकोण से मुहावरे बहुत महत्वपूर्ण होते हैं। सभी प्रतियोगी परीक्षाओं में मुहावरे का अपना-अपना भाग होता है। चाहे वह पेपर हिंदी में हो या अंग्रेजी में यहां तक कि संस्कृत में भी मुहावरे पूछे जाते हैं।

मुहावरे कोई बहुत कठिन विषय नहीं है। यदि इसे ध्यान से समझा जाए तो याद करने की भी आवश्यकता नहीं होती है। इसे समझ समझ कर ही लिखा जा सकता है।

अन्य महत्वपूर्ण मुहावरे और उनका वाक्य प्रयोग

आड़े हाथों लेनाआँखें चार होना
अपना घर समझनाआसमान सिर पर उठाना
कठपुतली बननाकरारा जवाब देना

1000+ हिंदी मुहावरों के अर्थ और वाक्य प्रयोग का विशाल संग्रह 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here