शरद ऋतु पर निबंध

Sharad Ritu Par Nibandh: भारत की ऋतुओं में शरद ऋतु का भी विशेष महत्व होता है। हम यहां पर शरद ऋतु पर निबंध शेयर कर रहे है। यह निबन्ध सही विद्यार्थियों के लिए लाभदायक होगा।

Sharad Ritu Par Nibandh
Image: Sharad Ritu Par Nibandh

Read Also: हिंदी के महत्वपूर्ण निबंध

शरद ऋतु पर निबंध | Sharad Ritu Par Nibandh

शरद ऋतू पर निबंध (250 शब्द)

प्रस्तावना

साल का सबसे ठंडा मौसम शरद ऋतु के महीनों में होता हैं जो दिसम्बर माह में शुरू होता है। यह मौसम दिसम्बर से शुरू होकर मार्च माह तक चलता है। इस मौसम में देश के लगभग सभी हिस्सों में ठंड होती हैं। शरद ऋतु के समय में तापमान काफी ठंडा होता है। इस मौसम से हमारे आसपास का तापमान काफी कम हो जाता हैं। ठंडी के इस मौसम में उत्तरी भारत के पहाड़ बर्फ से ढक जाते हैं जो काफी सुन्दर लगते हैं।

शरद ऋतू का समय 

साल के इस सबसे ठंडे मौसम का समय दिसम्बर माह में शुरू होता है जो कि मार्च महीने तक होता है। देश के कुछ हिस्सों में खासकर उत्तरी भारत में यह समय से पहले यानी दिसम्बर से पहले और मार्च के बाद तक चलता है।

शरद ऋतू का महत्त्व

शरद ऋतु का महत्व काफी ज्यादा होता हैं। इस मौसम में किसान अपने खेतों में नई फसलों की बुवाई करते हैं। पूरे भारतवर्ष में यह सबसे महत्वपूर्ण मौसम है जो कि मकर संक्रांति के समय के साथ शुरू होता है जो बसंत विषुवत पर समाप्त होता हैं। हालाँकि यह शरत ऋतू का मौसम पेड़ पोधो के लिए थोडा बुरा साबित होता हैं, इस मौसम में पेड़ के पत्ते टूट कर जमीन पर गिर जाते हैं।

निष्कर्ष

दिसम्बर माह से शुरू होने वाले इस मौसम में इस समय ठंडी-ठंडी हवा चलती है और इसके साथ फूलों पर भँवरे और जमीन पर चींटियाँ होती है जो काफी सुंदर होती हैं।

शरद ऋतू पर निबंध (600 शब्द)

प्रस्तावना

साल में 4 ऋतु होती हैं उनमें से सबसे ठंडी ऋतु शरद ऋतु होती हैं। यह ऋतु हेमंत ऋतु के बाद आती हैं। इस ऋतु का समय दिसम्बर माह माना जाता है। इस ऋतु में लोग गर्म कपड़े पहनना पसंद करते हैं। इस ऋतू में गर्म चीज़े खाना लोगो की आदत सी बन जाती हैं।

इस मौसम और ऋतू में पकोड़े के साथ चाय पीना काफी सामान्य माना जाता हैं। शरद ऋतु की शुरुआत से ठंड में निरंतर गिरावट देखी जाती हैं। इस शरद ऋतु में सबसे महत्वपूर्ण त्यौहार दीवाली का होता है, जिसे हम चमक का त्योहार करते हैं।

शरद ऋतू में दिनचर्या

इस मौसम में देश के सभी हिस्सों में अलग-अलग स्थानों पर, जलवायु और तापमान में भी बदलाव देखने को मिलता है जो कि काफी सुखद अहसास देती है। इस मौसम में सभी लोग गर्म कपड़े पहनते हैं और गर्म खाना खाते हैं। इस ऋतु में लोग सुबह देर से उठने का प्रयास करते हैं और शाम को देरी से सोते हैं।

लोग इस ऋतु में मौसम का आनंद लेने कुल्लू और मनाली जैसे स्थानों पर जाते हैं और वहां के मौसम का और वहां की हसीन वादियों का आनंद लेते है।

सर्दियों के दौरान प्राकृतिक दृश्य

शरद ऋतु के इस मौसम में पहाड़ी क्षेत्र बहुत ही सुन्दर दिखने लगते हैं, पहाड़ो पर जमी बर्फ भी काफी सुन्दर और मनमोहक होती हैं और यह प्राकृतिक दृश्य की तरह बहुत ही सुन्दर दिखाई देते है। इस मौसम में सुबह जब सूर्य उदय होता है तो उस समय का वातावरण काफी सुहावना होता है। सर्दियों में सुबह का मौसम शुद्ध होता है और सर्दियों के मौसम में सुबह के समय लोग धूप में घूमना भी पसंद करते हैं।

हरी सब्जियां, फूल व फल

सर्दी के मौसम का अपना एक विशेष महत्त्व हैं। इस ऋतु के शुभारंभ में ही गेहूं जैसी फसलों को बोया जाता है। शरद ऋतु में सब्जियां बहुत ही ज्यादा होती है, इस ऋतु में सब्जियों की भरमार पैदावार होती हैं।

शरद ऋतु के मौसम में कई स्वास्थ्यवर्धक सब्जियां जैसे मेथी, गाजर, मटर, बैंगन, गोभी, धनिया, मूली इतियादी जैसी कई हरी सब्जियों इस ऋतु में आसानी से प्राप्त होती हैं। शरद ऋतु के अलग अलग रंग के फूलो की पैदावार भी होती हैं और वातावरण भी काफी खुशबूदार होता है।

शरद ऋतु में आने वाले त्योहार

शरद ऋतु जिस तरह से ठंड के लिए प्रसिद्ध है उसी तरह से यह हमारी संस्कृति के लिए भी प्रसिद्ध है, इस ऋतु में कई त्योहार आते हैं जिसे हम कागी धुम धाम से मनाते हैं। इन त्योहारों मेंदशहरा, नवरात्रि और दीपावली इत्यादि प्रसिद्ध हैं। 

शरद ऋतू की विशेषता

अगर हम सर्दी के मौसम की तुलना अन्य मौसम से करें तो इसमें काफी बदलाव हमें देखने को मिलते हैं। इस मौसम में राते लम्बी और दिन छोटे होते हैं। रात में भयंकर ठंड और दिन में हल्की-हल्की ठंडी होती हैं। इस मौसम में उत्तर भारत के कई हिस्सों में बर्फ गिरना आम बात हैं, वही इस मौसम में तेजी ठंडी हवाएं भी चलती हैं।

शरद ऋतु में सुबह के समय घना कोहरा और दिन में हल्की हल्की धुंध गिरना भी इस मौसम की मुख्य विशेषता हैं। शरद ऋतु का तापमान भी काफी निचले स्तर तक आ जाता है, वही भारत के कई हिस्सों में तो यह तापमान माइनस तक चला जाता है।

निष्कर्ष

शरद ऋतु की शुरुआत नवम्बर के महीने से मानी जाती हैं। इस मौसम में प्रकृति अपनी भी सुंदरता दिखाती हैं जो कि मुख्य रूप में उत्तर भारत के हिस्सों में देखने को मिलती है। साल के सबसे ठंडा दिन इसी ऋतु में होता है।

अंतिम शब्द

हम उम्मीद करते हैं कि हमारे द्वारा शेयर की गई यह जानकारी “शरद ऋतु पर निबंध (Sharad Ritu Par Nibandh)” आपको पसंद आई होगी, इसे आगे शेयर जरूर करें। आपको यह जानकारी कैसी लगी, हमें कमेंट बॉक्स में जरूर बताएं।

Read Also

इनका नाम राहुल सिंह तंवर है, इन्होंने स्नातक (रसायन, भौतिक, गणित) की पढ़ाई की है और आगे की भी जारी है। इनकी रूचि नई चीजों के बारे में लिखना और उन्हें आप तक पहुँचाने में अधिक है। इनको 3 वर्ष से भी अधिक SEO का अनुभव होने के साथ ही 3.5 वर्ष का कंटेंट राइटिंग का अनुभव है। इनके द्वारा लिखा गया कंटेंट आपको कैसा लगा, कमेंट बॉक्स में जरूर बताएं। आप इनसे नीचे दिए सोशल मीडिया हैंडल पर जुड़ सकते हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here