पीएचडी (PhD) क्या हैं और कैसे करें सम्पूर्ण जानकारी – PhD Kya hai

अपने जीवन में सफ़ल होना हर किसी का सपना होता है। हर कोई यही चाहता है कि उसे एक अच्छी और ईमानदारी वाली जॉब मिले। इसके लिए आपको अच्छे से अच्छे कोर्स करने होते हैं। इन्हीं कोर्स में एक कोर्स है पीएचडी कोर्स। आज हम यहां पर पीएचडी क्या है (PhD Kya Hai) इसके बारे में पूरी तरह से बताने जा रहे हैं।

यदि आप कोई भी कोर्स करते हैं तो आपको उसके बारे में पूरी तरह से जानकारी होनी बहुत ही आवश्यक है। ये कोर्स क्या है? इसे करने से क्या फायदा होगा, इसे किस प्रकार किया जाता है और इसकी फीस क्या है? इन सबके बारे में जानकारी होना जरूर है।

phd-kya-hai

Read Also: अंग्रेजी सीखने के बेहतरीन एप्स

आज हम एक पॉपुलर कोर्स के बारे में इस पोस्ट में आपको बताने जा रहे हैं जिसका नाम है PhD Course. इस पोस्ट में हम आपको PhD Kya hai और PhD Course Details की पूरी जानकारी आसान से शब्दों में बतायेंगे। आपको यहां पर हम PhD ki Jankari की वो सभी जानकारी बतायेंगे जो आपको जाननी जरूरी है और आप जानना चाहते हैं जैसे –

  • पीएचडी क्या है (PhD Information in Hindi)
  • पीएचडी फुल फॉर्म नाम (PhD Degree Full Form)
  • पीएचडी कैसे करें (PhD Kaise Kare)
  • पीएचडी के लिए योग्यता (Eligibility for PhD Degree)
  • पीएचडी कोर्स डिटेल्स (PhD in Hindi)
  • पीएचडी प्रक्रिया (PhD Process)
  • पीएचडी एडमिशन (PhD Admission)
  • पीएचडी कितने ईयर की होती (PhD Kitne Year ki Hoti Hai)
  • पीएचडी की फीस कितनी है (PhD Ki Fees Kitni Hai)
  • पीएचडी के विषय (PhD Subjects)

तो आइये जानते हैं पीएचडी के बारे में नॉलेज इन आसान से स्टेप्स में।

पीएचडी (PhD) क्या हैं और कैसे करें सम्पूर्ण जानकारी – PhD Kya hai

पीएचडी कोर्स क्या है – Meaning of PhD in Hindi

pdf-kya-hai-kaise-kren

Full Form of PhD in English होता है डॉक्टर ऑफ़ फिलोसोफी (Doctor Of Philosophy)। आपने देखा होगा कि बहुत से लोग ऐसे हैं जो कि Medical Doctor नहीं होते हैं फिर भी उनके नाम के आगे डॉक्टर लगा होता है। असली में उन्होंने Ph D का कोर्स कर रखा होता है। इस कारण उनके नाम के आगे Dr. लगा होता है।

पीएचडी एक डॉक्टरल डिग्री (Doctoral Degree) है, यह एक उच्च स्तर की डिग्री है। पीएचडी करना आसान काम नहीं है। यदि आपको PhD Course Krna Hai तो आप PhD Admission सीधे तरीके से नहीं ले सकते हैं। आपको सबसे पहले स्कूल और कॉलेज की पढ़ाई पूरी करनी होती है। इतना करने के बाद ही आप PhD Apply कर सकते हैं।

आप किसी University या College में प्रोफेसर बनना चाहते हैं या फिर आगे रिसर्च करना चाहते हैं तो आपको पीएचडी का कोर्स करना जरूरी होता है। पीएचडी की डिग्री में आपको एक विशेष विषय पर अध्ययन करना होता है। फिर जब आपको उस विषय का पूरा ज्ञान हो जाता है और आप उस विषय में एक्सपर्ट हो जाते हैं तो आपको P hD Degree दी जाती है। फिर आप भी अपने नाम के आगे डॉ. लगा सकते हैं।

पीएचडी की डिग्री करने के लिए आपके पास जिस सब्जेक्ट में आपकी रूची है, उस सब्जेक्ट में मास्टर डिग्री होना जरूरी है। यदि आपके उस सब्जेक्ट में अच्छे मार्क्स होंगे तो आपको ज्यादा फायदा होगा। आपको आसानी के लिए बता दें कि आपका जिस सब्जेक्ट में Interest हो, उस सब्जेक्ट में ही आप 12th और Graduation पूरी करें। इससे आपको आगे Ph D करने में बहुत आसानी होगी। यदि आप सफ़लता पूर्वक अपनी पीएचडी की डिग्री कर लेते हैं तो आपको सार्वजनिक क्षेत्र में कई सारे फायदे मिलने शुरू हो जाएंगे।

अब आपके मन में ये सवाल आ रहा होगा कि पीएचडी कितने साल का कोर्स है (PhD Kitne Saal ki Hai)। आपको बता दें कि PhD ka Course तीन साल का होता है। यह कोर्स एक उच्च स्तर का कोर्स है जो करना आसान काम नहीं है। इस कोर्स को Ph.D या फिर PhD भी कह सकते हैं। इस कोर्स को करने के बाद हम अपने नाम के आगे डॉ. की उपाधी जोड़ सकते हैं।

Read Also: B.Ed Course कैसे करें? क्या है इसकी योग्यताएं

पीएचडी के लिए योग्यता – PhD ke Liye Qualification in Hindi

आपके पास PhD ke Liye Yogyta होनी चाहिए जो कि निम्न प्रकार से है:

  • आपके पास पीएचडी करने के लिए स्नातक (Graduate) की डिग्री होना जरूरी है।
  • स्नातक की डिग्री होने के साथ-साथ मास्टर डिग्री भी होना बहुत जरूरी है वो भी 55% या 60% अंक के साथ। ये प्रतिशत अलग-अलग विश्वविद्यालय के लिए अलग-अलग हो सकते हैं।
  • PhD Admission के लिए आपको एक Entrance Test Pass अच्छे अंको के साथ करना होता है।

PhD in Hindi Eligibility के ये सभी स्टेप्स यदि आप क्लियर कर लेते हैं तो आप पीएचडी के योग्य बन जाते हैं।

पीएचडी करने के क्या फायदे हैं – Benefits of PhD

  • Doctor Of Philosophy करने के बाद आपके नाम आगे डॉक्टर का नाम लग जाता है। इससे आपकी Personality और भी बढ़ जाती है।
  • पीएचडी कोर्स करने के बाद आप अपने क्षेत्र में एक्सपर्ट हो जायेंगे।
  • यदि आपके पास पीएचडी की डिग्री होगी तो आप आसानी से किसी कॉलेज या विश्वविद्यालय में प्रोफेसर पद पर नियुक्त हो सकते हैं और आपके जॉब लगने के Chances और भी बढ़ जाते हैं।
  • पीएचडी करने के बाद आप अपने क्षेत्र में सही या गलत का निर्णय खुद ले सकते हैं।
  • यदि आप Ph D कर लेते हैं तो आप Creator of information भी कहलायेंगे।
  • पीएचडी करने के बाद आप अपने क्षेत्र के किसी भी पद के लिए आवेदन कर सकते हैं।
  • PhD के बाद आप अपने विषय पर रिसर्च और एनालिसिस कर सकते हैं।

Read Also: कैसे बढ़ाएं अपनी एकाग्रता की शक्ति और दिमाग का पॉवर

पीएचडी कैसे करें – PhD Kaise Ki Jati Hai

phd-degree

आपको किसी भी तरह की डिग्री करने के लिए आपको 12th पास होना जरूरी है। इसके लिए आप जब 10th पास कर लेते हैं तो उसके बाद से आपको वहीं सब्जेक्ट को चुनना चाहिए, जिस सब्जेक्ट्स में आप Phd ka Course Krna Chahte Hai. आपको अपने इन सब्जेक्टस में 11th और 12th में अच्छे से पढ़ाई करनी है और हो सके जितने अच्छे अंकों के साथ पास होना है। आपके जितने मार्क्स ज्यादा होंगे उतनी ही आपको आगे पीएचडी करने में आसानी होगी और मदद मिलेगी।

जब आप अपनी 12th पूरी कर लेते हैं। फिर आपको जिस सब्जेक्ट में रूची हो उस सब्जेक्ट के लिए Entrance Exam दें और इस एंट्रेंस एग्जाम को पूरा करें। फिर इसके बाद अपनी स्नातक पूरी करें। आपको जिनता हो सके अच्छे अंकों के साथ पास होना है। जिनते अंक ज्यादा होंगे आपके लिए पीएचडी के लिए रास्ते उतने ही आसान बनते रहेंगे।

जब आपकी Graduation Complete हो जाती है तब फिर आपको Post Graduation ke Liye Apply करना है। आपने जिस सब्जेक्ट में स्नातक (Bechelor Degree) की है, यदि आप उस सब्जेक्ट में ही अपनी मास्टर डिग्री करते हैं तो आपके लिए आसानी रहेगी। ध्यान रहे कि आपको अपनी स्नातक और मास्टर डिग्री में कम से कम 60% तक अंक लाने है ताकि आगे एंट्रेंस एग्जाम के लिए कोई समस्या न हो।

Post Graduation पूरी हो जाती है तो आपको अब UGC Net Test देना होता है और आपको इसे क्लियर करना बहुत ही जरूरी होता है। इस एग्जाम के लिए आप कोचिंग भी ले सकते हैं। ये Entrance Test थोड़ा कठिन होता है। UGC Net Exam पहले नहीं होता था। लेकिन अब पीएचडी करने के लिए इसे क्लियर करना अनिवार्य कर दिया गया है।

आप इस एग्जाम को क्लियर कर देते हैं तो आप पीएचडी के योग्य हो जाते हैं। अब आपको जिस कॉलेज या विश्वविद्यालय में PhD Karni Hai उस विश्वविद्यालय का एंट्रेंस एग्जाम क्लियर करके आप पीएचडी में दाखिला ले सकते हैं।

Read Also: SSC क्या है? SSC की पूरी जानकारी

पीएचडी के लिए फीस – PhD Fees

पीएचडी की जानकारी जानने के बाद आपके मन में ये सवाल तो जरूर आया होगा कि पीएचडी की फीस कितनी है (PhD Ki Fees Kitni Hai)। हर कॉलेज और विश्वविद्यालय की पीएचडी की फीस अलग-अलग होती है ये तो उस कॉलेज पर ही निर्भर करती है। लेकिन औसतन पीएचडी फीस लगभग 30 से 40 हजार एक साल की हो सकती है। पीएचडी करने में 3 साल का समय लगता है। ये कोर्स समेस्टर में होता है, जिसमें Practical Exam और Theory Exam होते हैं।

पीएचडी के विषय (PhD Subjects)

हम यहां पर कुछ Popular PhD Subjects बता रहे हैं। ज्यादातर लोग इन सब्जेक्टस में पीएचडी करना पसंद करते हैं।

  • Phd in Physics
  • Phd in Engineering
  • Phd in Mathematics
  • Phd in Finance & Economics
  • Phd in Psychology
  • PhD In Management

पीएचडी की तैयारी कैसे करें – PhD ki Taiyari Kaise Kare

PhD Kya Hai अब आपको ये तो पता लग ही गया होगा। अब आपको Phd की तैयारी करने के लिए कुछ विशेष बातों को ध्यान में रखना होगा। इससे आपको पीएचडी करने में काफी मदद मिलेगी।

  • आप सभी पहले के पेपर खरीदें और उन पेपर्स का Analysis करें। जिससे आपको PhD Paper Pattern का पता चल जायेगा और पता लग जायेगा कि पीएचडी में किस प्रकार के प्रशन पूछे जाते हैं?
  • आप उनकी सहायता लें जो पहले पीएचडी कर चुके हैं और हमेशा उनके सम्पर्क में रहे।
  • यदि आपका सब्जेक्ट Current Affairs से संबंधित है तो आपको Newspaper की मदद लेनी चाहिए और हमेशा Current Affairs पढ़ना चाहिए।
  • अपने पीएचडी के विषय के बारे में हमेशा जानने की इच्छा रखें।

Read Also: कैसे करें अपना Exam Preparation आसान?

पीएचडी के बाद क्या करें – Phd Hindi

यदि आप पीएचडी का कोर्स कर लेते हैं तो आपके भविष्य में कई सारे जॉब और काम करने के रास्ते खुल जाते हैं। आपको कहीं पर भी जॉब मिल सकती हैं।

  • आप शिक्षा के क्षेत्र में अपना भविष्य बना सकते हैं।
  • आप मेडीकल रिसर्च में काम कार सकते हैं।
  • यदि आप PhD in Chemistry करते हैं तो आप Chemical Research Center में काम कर सकते हैं।
  • यदि आप PhD in Nutrition करते हैं तो आपको Scientific Advisor में काम मिल सकता है।
  • इनके अलावा भी आप अपने विषय से सम्बंधित क्षेत्र में काम कर सकते हैं।

Read Also: SDM क्या होता है और कैसे बने SDM Officer

हम उम्मीद करते हैं कि आपको हमारे द्वारा दी गई यह ‘पीएचडी क्या हैं पूरी जानकारी – PhD Kya hai’ जानकारी पसंद आएगी। PhD Kya Hai इस जानकारी को आगे शेयर जरूर करें। यदि आपका इससे जुड़ा कोई सवाल या सुझाव हो तो हमें कमेंट बॉक्स में जरूर बताएं।

धन्यवाद!

Read Also

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here