पीएचडी (PhD) क्या हैं और कैसे करें?

अपने जीवन में सफ़ल होना हर किसी का सपना होता है। हर कोई यही चाहता है कि उसे एक अच्छी और ईमानदारी वाली जॉब मिले। इसके लिए आपको अच्छे से अच्छे कोर्स करने होते हैं। इन्हीं कोर्स में एक कोर्स है पीएचडी कोर्स। आज हम यहां पर पीएचडी क्या है (PhD Kya Hai) इसके बारे में पूरी तरह से बताने जा रहे हैं।

यदि आप कोई भी कोर्स करते हैं तो आपको उसके बारे में पूरी तरह से जानकारी होनी बहुत ही आवश्यक है। ये कोर्स क्या है? इसे करने से क्या फायदा होगा, इसे किस प्रकार किया जाता है और इसकी फीस क्या है? इन सबके बारे में जानकारी होना जरूर है।

phd-kya-hai

आज हम एक पॉपुलर कोर्स के बारे में इस पोस्ट में आपको बताने जा रहे हैं, जिसका नाम है PhD Course. इस पोस्ट में हम आपको PhD Kya hai और PhD Course Details की पूरी जानकारी आसान से शब्दों में बतायेंगे। आपको यहां पर हम PhD ki Jankari की वो सभी जानकारी बतायेंगे जो आपको जाननी जरूरी है और आप जानना चाहते हैं जैसे –

  • पीएचडी क्या है (PhD Information in Hindi)
  • पीएचडी फुल फॉर्म नाम
  • पीएचडी कैसे करें (PhD Kaise Kare)
  • पीएचडी कब कर सकते हैं?
  • पीएचडी के लिए योग्यता
  • पीएचडी कोर्स डिटेल्स (PhD in Hindi)
  • पीएचडी प्रक्रिया (PhD Process)
  • पीएचडी एडमिशन (PhD Admission)
  • पीएचडी कितने ईयर की होती (PhD Kitne Year ki Hoti Hai)
  • पीएचडी की फीस कितनी है (PhD Ki Fees Kitni Hai)
  • पीएचडी के विषय

तो आइये जानते हैं पीएचडी के बारे में नॉलेज इन आसान से स्टेप्स में।

पीएचडी (PhD) क्या हैं और कैसे करें सम्पूर्ण जानकारी – PhD Kya hai

पीएचडी कोर्स क्या है?

पीएचडी की फुल फॉर्म होती है डॉक्टर ऑफ़ फिलोसोफी (Doctor Of Philosophy)। आपने देखा होगा कि बहुत से लोग ऐसे हैं जो कि Medical Doctor नहीं होते हैं फिर भी उनके नाम के आगे डॉक्टर लगा होता है। असली में उन्होंने PhD का कोर्स कर रखा होता है। इस कारण उनके नाम के आगे Dr. लगा होता है।

पीएचडी एक डॉक्टरल डिग्री (Doctoral Degree) है, यह एक उच्च स्तर की डिग्री है। पीएचडी करना आसान काम नहीं है। यदि आपको PhD Course Krna Hai तो आप PhD Admission सीधे तरीके से नहीं ले सकते हैं। आपको सबसे पहले स्कूल और कॉलेज की पढ़ाई पूरी करनी होती है। इतना करने के बाद ही आप पीएचडी के लिए अप्लाई कर सकते हैं।

आप किसी University या College में प्रोफेसर बनना चाहते हैं या फिर आगे रिसर्च करना चाहते हैं तो आपको पीएचडी का कोर्स करना जरूरी होता है। पीएचडी की डिग्री में आपको एक विशेष विषय पर अध्ययन करना होता है। फिर जब आपको उस विषय का पूरा ज्ञान हो जाता है और आप उस विषय में एक्सपर्ट हो जाते हैं तो आपको PhD Degree दी जाती है। फिर आप भी अपने नाम के आगे डॉ. लगा सकते हैं।

पीएचडी की डिग्री करने के लिए आपके पास जिस सब्जेक्ट में आपकी रूची है, उस सब्जेक्ट में मास्टर डिग्री होना जरूरी है। यदि आपके उस सब्जेक्ट में अच्छे मार्क्स होंगे तो आपको ज्यादा फायदा होगा। आपको आसानी के लिए बता दें कि आपका जिस सब्जेक्ट में Interest हो, उस सब्जेक्ट में ही आप 12th और Graduation पूरी करें। इससे आपको आगे Ph D करने में बहुत आसानी होगी। यदि आप सफ़लता पूर्वक अपनी पीएचडी की डिग्री कर लेते हैं तो आपको सार्वजनिक क्षेत्र में कई सारे फायदे मिलने शुरू हो जाएंगे।

अब आपके मन में ये सवाल आ रहा होगा कि पीएचडी कितने साल का कोर्स है (PhD Kitne Saal ki Hai)। आपको बता दें कि PhD ka Course तीन साल का होता है। यह कोर्स एक उच्च स्तर का कोर्स है जो करना आसान काम नहीं है। इस कोर्स को Ph.D या फिर PhD भी कह सकते हैं। इस कोर्स को करने के बाद हम अपने नाम के आगे डॉ. की उपाधी जोड़ सकते हैं।

पीएचडी कितने साल का कोर्स है? (PhD Kitne Saal Ka Hota Hai)

पीएचडी करने के लिए आप सभी लोगों का 3 साल लग सकता है अर्थात हमारे कहने का मतलब यह है कि पीएचडी करने के लिए आपका 3 साल का समय लगेगा।

पीएचडी करते समय यह सुविधा भी दी जाती है कि हम अपने इस 3 साल के कोर्स को 6 साल तक भी खत्म कर सकते हैं। इस कोर्स को करने में हमें हर टॉपिक के विषय में डिटेल में रिसर्च करने को मिलता है, जिससे हमारा जड़ बहुत ही मजबूत हो जाता है और बड़ी ही आसानी से किसी भी टॉपिक को सॉल्व करने के लिए सक्षम हो जाते हैं।

यह भी पढ़े

पीएचडी के लिए योग्यता (PhD ke Liye Qualification in Hindi)

आपके पास पीएचडी के लिए योग्यता होनी चाहिए जो कि निम्न प्रकार से है:

  • आपके पास पीएचडी करने के लिए स्नातक की डिग्री होना जरूरी है।
  • स्नातक की डिग्री होने के साथ-साथ मास्टर डिग्री भी होना बहुत जरूरी है वो भी 55% या 60% अंक के साथ। ये प्रतिशत अलग-अलग विश्वविद्यालय के लिए अलग-अलग हो सकते हैं।
  • पीएचडी प्रवेश के लिए आपको एक प्रवेश परीक्षा पास अच्छे अंको के साथ करना होता है।

पीएचडी के लिए योग्यता के ये सभी स्टेप्स यदि आप क्लियर कर लेते हैं तो आप पीएचडी के योग्य बन जाते हैं।

पीएचडी करने के फायदे (PhD Karne Ke Fayde)

  • पीएचडी करने के बाद आपके नाम आगे डॉक्टर का नाम लग जाता है। इससे आपकी Personality और भी बढ़ जाती है।
  • पीएचडी कोर्स करने के बाद आप अपने क्षेत्र में एक्सपर्ट हो जायेंगे।
  • यदि आपके पास पीएचडी की डिग्री होगी तो आप आसानी से किसी कॉलेज या विश्वविद्यालय में प्रोफेसर पद पर नियुक्त हो सकते हैं और आपके जॉब लगने के संभावना और भी बढ़ जाती हैं।
  • पीएचडी करने के बाद आप अपने क्षेत्र में सही या गलत का निर्णय खुद ले सकते हैं।
  • यदि आप PhD कर लेते हैं तो आप जानकारी का निर्माता (Creator of information) भी कहलायेंगे।
  • पीएचडी करने के बाद आप अपने क्षेत्र के किसी भी पद के लिए आवेदन कर सकते हैं।
  • PhD के बाद आप अपने विषय पर रिसर्च और एनालिसिस कर सकते हैं।

पीएचडी कैसे करें (PhD Kaise Ki Jati Hai)

phd-degree

आपको किसी भी तरह की डिग्री करने के लिए आपको 12th पास होना जरूरी है। इसके लिए आप जब 10th पास कर लेते हैं तो उसके बाद से आपको वहीं सब्जेक्ट को चुनना चाहिए, जिस सब्जेक्ट्स में आप पीएचडी करना चाहते है, आपको अपने इन सब्जेक्टस में 11th और 12th में अच्छे से पढ़ाई करनी है और हो सके जितने अच्छे अंकों के साथ पास होना है। आपके जितने मार्क्स ज्यादा होंगे उतनी ही आपको आगे पीएचडी करने में आसानी होगी और मदद मिलेगी।

जब आप अपनी 12th पूरी कर लेते हैं। फिर आपको जिस सब्जेक्ट में रूची हो उस सब्जेक्ट के लिए प्रवेश परीक्षा दें और इस एंट्रेंस एग्जाम को पूरा करें। फिर इसके बाद अपनी स्नातक पूरी करें। आपको जिनता हो सके अच्छे अंकों के साथ पास होना है। जिनते अंक ज्यादा होंगे आपके लिए पीएचडी के लिए रास्ते उतने ही आसान बनते रहेंगे।

जब आपकी स्नातक पूरी हो जाती है तब फिर आपको पोस्ट ग्रेजुएशन के लिए अप्लाई करना है। आपने जिस सब्जेक्ट में स्नातक की है, यदि आप उस सब्जेक्ट में ही अपनी मास्टर डिग्री करते हैं तो आपके लिए आसानी रहेगी। ध्यान रहे कि आपको अपनी स्नातक और मास्टर डिग्री में कम से कम 60% तक अंक लाने है ताकि आगे एंट्रेंस एग्जाम के लिए कोई समस्या न हो।

पोस्ट ग्रेजुएशन पूरी हो जाती है तो आपको अब UGC Net Test देना होता है और आपको इसे क्लियर करना बहुत ही जरूरी होता है। इस एग्जाम के लिए आप कोचिंग भी ले सकते हैं। ये प्रवेश परीक्षा थोड़ी कठिन होती है। UGC Net Exam पहले नहीं होता था। लेकिन अब पीएचडी करने के लिए इसे क्लियर करना अनिवार्य कर दिया गया है।

आप इस एग्जाम को क्लियर कर देते हैं तो आप पीएचडी के योग्य हो जाते हैं। अब आपको जिस कॉलेज या विश्वविद्यालय में पीएचडी करनी है, उस विश्वविद्यालय का एंट्रेंस एग्जाम क्लियर करके आप पीएचडी में दाखिला ले सकते हैं।

पीएचडी की फीस कितनी है?

पीएचडी की जानकारी जानने के बाद आपके मन में ये सवाल तो जरूर आया होगा कि पीएचडी की फीस कितनी है (PhD Ki Fees Kitni Hai)। हर कॉलेज और विश्वविद्यालय की पीएचडी की फीस अलग-अलग होती है ये तो उस कॉलेज पर ही निर्भर करती है। लेकिन औसतन पीएचडी फीस लगभग 30 से 40 हजार एक साल की हो सकती है। पीएचडी करने में 3 साल का समय लगता है। ये कोर्स समेस्टर में होता है, जिसमें प्रैक्टिकल परीक्षा (Practical Exam) और Theory Exam होते हैं।

पीएचडी में कितने सब्जेक्ट होते हैं?

हम यहां पर कुछ Popular PhD Subjects बता रहे हैं। ज्यादातर लोग इन सब्जेक्टस में पीएचडी करना पसंद करते हैं।

  • Phd in Physics
  • Phd in Engineering
  • Phd in Mathematics
  • Phd in Finance & Economics
  • Phd in Psychology
  • PhD In Management

इनके अलावा आप हिंदी, अंग्रेजी, होम साइंस, एग्रीकल्चर, इतिहास, फाइन आर्टस, सर्जरी, जियोग्राफी, जियोलॉजी, एकाउंटिंग, बायोकेमिस्ट्री, फार्मेसी में भी पीएचडी कर सकते हैं।

आसानी से किया जा सकता है इकोनॉमिक्स सब्जेक्ट से पीएचडी

जी हां, दोस्तों आप सभी लोग बिल्कुल सही सुन रहे हैं। यदि आप भी इकोनॉमिक्स सब्जेक्ट से पीएचडी करना चाहते हैं तो बड़ी आसानी से पीएचडी कर सकते हैं। परंतु पीएचडी करने के लिए आपको काफी तेज दिमाग वाला होना चाहिए। क्योंकि पीएचडी करना कोई आसान काम नहीं है, पीएचडी करने के लिए तेज दिमाग और एकाग्र होना पड़ता है।

इकोनॉमिक्स सब्जेक्ट भी अन्य सब्जेक्ट की तरह ही महत्वपूर्ण होता है। क्योंकि यह कौन सी सब्जेक्ट के माध्यम से ही बैंकों के लिए पढ़ाई की जाती है और यदि आपके अकाउंट में सब्जेक्ट से पीएचडी कर लेते हैं तो बैंकों में नौकरी के चांसेस बढ़ जाते हैं।

इकोनॉमिक्स सब्जेक्ट से पीएचडी करने के फायदे

इकोनॉमिक्स सब्जेक्ट से पीएचडी करने के बहुत से फायदे हैं, जिन के विषय में नीचे निम्नलिखित रुप से बताया गया है। आइए जानते हैं:

  • इकोनॉमिक्स सब्जेक्ट से पीएचडी करके आप सभी लोगों के नौकरी के चांसेस सरकारी क्षेत्रों के साथ-साथ निजी क्षेत्रों में भी काफी बढ़ जाएंगे।
  • इकोनॉमिक्स सब्जेक्ट से पीएचडी करके आप सभी लोग कई फाइनेंसियल कंपनी के लिए अप्लाई कर पाएंगे।
  • इकोनॉमिक्स सब्जेक्ट से पीएचडी कर के आप सभी लोग आईएएस अधिकारी भी बन सकते हैं।
  • बाद में सब्जेक्ट से पीएचडी करके आप सभी लोगों के चांसेस बैंक से नौकरी संबंधित कार्यों और बैंकों में काफी ज्यादा बढ़ जाता है।

इकोनॉमिक्स सब्जेक्ट से पीएचडी करने के बाद यदि आप एक अर्थशास्त्री के बनते हैं तो आपको ₹30000 से लेकर लाखों रुपए तक वेतन दिया जाता है।

हिस्ट्री सब्जेक्ट से पीएचडी करने के फायदे

यदि आप सभी लोग हिस्ट्री सब्जेक्ट से पीएचडी कर लेते हैं तो आपको बहुत से सरकारी और प्राइवेट जॉब्स में सिलेक्शन का चांस बढ़ जाता है और पीएचडी करने के बाद आप सभी लोग अन्य लोगों के मुकाबले काफी जल्दी से सेल सेलेक्ट भी किए जाते हैं।

दोस्तों पीएचडी करने का सिर्फ यही फायदा नहीं है, बल्कि पीएचडी करने के बहुत से फायदे हैं, जिनके विषय में जानकारी नीचे निम्नलिखित बताई गई है।

  • हिस्ट्री सब्जेक्ट से बी ए और एम ए के बाद पीएचडी करने से आप सभी लोगों के प्राइवेट और गवर्नमेंट जॉब दोनों ही क्षेत्रों में सिलेक्शन के चांसेस काफी ज्यादा बढ़ जाते हैं।
  • हिस्ट्री सब्जेक्ट से पीएचडी करने के बाद सूचना प्रसारण, मंत्रालय आर्कियोलॉजिकल सर्वे ऑफ इंडिया इत्यादि सरकारी जॉब मिल सकते हैं।
  • हिस्ट्री सब्जेक्ट से पीएचडी करने के बाद प्राइवेट कंपनी के तरफ से आपको बहुत से जॉब्स के ऑफर मिलेंगे जैसे कि टीचिंग, इंटरनेशनल ऑर्गेनाइजेशन, सोसाइटी, आर्काइव्स, म्यूजियम, पत्रकारिता, लाइब्रेरी, क्यूरेटर इत्यादि।
  • हिस्ट्री सब्जेक्ट से बीए या फिर जमा करने के बाद एचडी करके आप सभी लोग जब भी गवर्नमेंट टीचर के लिए अप्लाई करेंगे तो आप के सेलेक्शन के चांसेस लगभग 20% तक बढ़ जाता है और आप अन्य लोगों के मुकाबले 20% इनक्रीसड चांस समझ सकते हैं।
  • यदि आप हिस्ट्री सब्जेक्ट से पीएचडी करना चाहते हैं तो बेझिझक करें क्योंकि हिस्ट्री सब्जेक्ट में यदि आप सच्ची निष्ठा के साथ महारत हासिल कर लेते हैं तो किसी भी हिस्ट्री से संबंधित सरकारी या प्राइवेट क्षेत्र में आप सभी लोग काफी जल्दी चयनित हो जाएंगे।
  • हिस्ट्री सब्जेक्ट वालों के लिए भी भारत में प्रत्येक वर्ष समय-समय पर कई वैकेंसी निकाली जाती हैं और इसके साथ साथ आप सभी लोग प्राचीन लिपि और प्राचीन सिक्कों में हिस्ट्री सब्जेक्ट में पीएचडी करने के बाद स्पेशलाइजेशन भी करा सकते हैं।
  • आप सभी लोग हिस्ट्री सालों से पीएचडी करने के बाद इतिहासकार अर्थात इतिहास का अध्ययन रिसर्च और लेखा-जोखा रखने वाले भी चयनित किए जा सकते हैं।

पीएचडी की तैयारी कैसे करें (PhD ki Taiyari Kaise Kare)

PhD Kya Hai अब आपको ये तो पता लग ही गया होगा। अब आपको Phd की तैयारी करने के लिए कुछ विशेष बातों को ध्यान में रखना होगा। इससे आपको पीएचडी करने में काफी मदद मिलेगी।

  • आप सभी पहले के पेपर खरीदें और उन पेपर्स का Analysis करें। जिससे आपको पीएचडी पेपर पैटर्न का पता चल जायेगा और पता लग जायेगा कि पीएचडी में किस प्रकार के प्रश्न पूछे जाते हैं?
  • आप उनकी सहायता लें जो पहले पीएचडी कर चुके हैं और हमेशा उनके सम्पर्क में रहे।
  • यदि आपका सब्जेक्ट Current Affairs से संबंधित है तो आपको अखबार की मदद लेनी चाहिए और हमेशा Current Affairs पढ़ना चाहिए।
  • अपने पीएचडी के विषय के बारे में हमेशा जानने की इच्छा रखें।

पीएचडी के बाद क्या करें (Phd Hindi)

यदि आप पीएचडी का कोर्स कर लेते हैं तो आपके भविष्य में कई सारे जॉब और काम करने के रास्ते खुल जाते हैं। आपको कहीं पर भी जॉब मिल सकती हैं।

  • आप शिक्षा के क्षेत्र में अपना भविष्य बना सकते हैं।
  • आप मेडीकल रिसर्च में काम कार सकते हैं।
  • यदि आप रसायन विज्ञान में पीएचडी करते हैं तो आप रासायनिक अनुसंधान केंद्र में काम कर सकते हैं।
  • यदि आप PhD in Nutrition करते हैं तो आपको Scientific Advisor में काम मिल सकता है।
  • इनके अलावा भी आप अपने विषय से सम्बंधित क्षेत्र में काम कर सकते हैं।
पीएचडी फुल फॉर्म क्या है?

पीएचडी फुल फॉर्म डॉक्टर ऑफ फिलॉसफी (Doctor of Philosophy) होता है।

पीएचडी में कौन कौन से सब्जेक्ट होते हैं?

भौतिकी, इंजीनियरिंग, गणित, वित्त और अर्थशास्त्र, मनोविज्ञान, प्रबंधन, हिंदी, अंग्रेजी, होम साइंस, एग्रीकल्चर, इतिहास, फाइन आर्टस, सर्जरी, जियोग्राफी, जियोलॉजी, एकाउंटिंग, बायोकेमिस्ट्री, फार्मेसी आदि सब्जेक्ट्स में आप पीएचडी कर सकते हैं।

पीएचडी को हिंदी में क्या कहते हैं?

पीएचडी को हिंदी में डॉक्टर ऑफ फिलॉसफी कहते हैं।

पीएचडी कितने साल का कोर्स है?

पीएचडी 3 साल का कोर्स है।

पीएचडी की फीस कितनी होती है

हर कॉलेज और विश्वविद्यालय की पीएचडी की फीस अलग-अलग होती है ये तो उस कॉलेज पर ही निर्भर करती है। लेकिन औसतन पीएचडी फीस लगभग 30 से 40 हजार एक साल की हो सकती है।

पीएचडी के लिए क्या योग्यता चाहिए?

पीएचडी करने के लिए आपके पास स्नातक और मास्टर डिग्री (55% या 60% अंक के साथ) होना जरूरी है और इसके बाद पीएचडी प्रवेश के लिए एक प्रवेश परीक्षा अच्छे अंको के साथ पास करना होता है।

ग्रेजुएशन के किस क्लास में परसेंटेज 55% से ऊपर होना चाहिए?

आपके ग्रेजुएशन का परसेंटेज स्नातक और स्नातकोत्तर दोनों में ही 55% से ऊपर होना चाहिए। अन्यथा आपका सिलेक्शन पीएचडी के लिए नहीं हो पाएगा।

एस्ट्रोनॉट बनने के लिए पीएचडी में कौन सा सब्जेक्ट का चयन करें?

एस्ट्रोनॉट बनने के लिए पीएचडी में आप सभी लोगों को एयरोस्पेस इंजीनियरिंग के तहत पीएचडी करनी चाहिए और आपको यही सब्जेक्ट यूज भी करना चाहिए।

क्या बिना यूजीसी नेट क्लियर किए कोई भी पीएचडी के लिए अप्लाई कर सकता है?

जी हां। आप सभी लोग पीएचडी के लिए अप्लाई तो कर सकते हैं। परंतु पीएचडी के लिए स्कूल मिलना बेहद मुश्किल होगा। क्योंकि पीएचडी करने के लिए नेट क्वालिफाइड छात्रों को सबसे पहले चयनित किया जाता है। ऐसे में यदि सीट बची है तो ही आपको सिलेक्ट किया जा सकता है।

क्या बिना नेट क्लियर किए पीएचडी में एडमिशन हो सकता है?

बिना नेट क्लियर किए आप सभी लोग पीएचडी में एडमिशन तो हो सकता है। परंतु एडमिशन होने की गारंटी कोई भी नहीं लेगा। क्योंकि जब नेट क्लियर किए छात्रों का पी एच डी में सिर्फ फुल होने के कारण एडमिशन नहीं हो पाता तो बिना नेट क्लियर किए लोगों का पीएचडी में एडमिशन तो बहुत ही मुश्किल है। यदि आप वाकई में पीएचडी करना चाहते हैं तो नेट क्लियर करना पड़ेगा। अन्यथा जब तक आपका एडमिशन ना हो जाए आप तब तक वेट करें।

क्या बिना फाइनल रिजल्ट के कोई पीएचडी के लिए अप्लाई कर सकता है?

जी नहीं। यदि आप का फाइनल रिजल्ट नहीं है तो आप पीएचडी के लिए अप्लाई नहीं कर पाएंगे। क्योंकि पीएचडी के लिए अप्लाई करते समय आपका फाइनल रिजल्ट आपसे मांगा जाएगा और यदि आपके पास रिजल्ट ही नहीं होगा तो आप पीएचडी के लिए अप्लाई ही नहीं कर पाएंगे।

क्या हम b.a. में 50% से भी कम और m.a. में 60% मार्क के साथ पीएचडी कर सकते हैं?

जी नहीं। यदि आपका b.a. में 50% से कम मार्क है तो आप पीएचडी नहीं कर सकते। पीएचडी करने के लिए आपका b.a. में 55% से अधिक मार्क होने चाहिए।

क्या हिस्ट्री सब्जेक्ट के यूजी और पीजी के साइकोलॉजिस्ट स्टूडेंट पीएचडी कर सकते हैं?

हिस्ट्री सब्जेक्ट से पीएचडी करने के लिए आप सभी लोगों को साइकोलॉजि सब्जेक्ट भी मिल जाएगा आप साइकॉलजी सब्जेक्ट से भी पीएचडी कर सकते हैं।

क्या बीकॉम में 55% और एम काम में 60 प्रतिशत लाने वाले छात्र भी कर सकते हैं पीएचडी?

जी हां आप सभी लोग पीएचडी कर सकते हैं, क्योंकि पीएचडी में प्रतिशतता 55% की होती है और आपकी केवल बीकॉम या एमकॉम की ही प्रतिशतता नहीं बल्कि आपके हाईस्कूल और इंटर के बोर्ड एग्जाम में भी 55% से अधिक मार्क होने चाहिए।

गुजराती लैंग्वेज में पढ़ाई पूरी करने के बाद क्या हिंदी लैंग्वेज में पीएचडी किया जा सकता है?

जी हां बिल्कुल आप सभी लोग किसी भी लैंग्वेज से पीएचडी कर सकते हैं, परंतु पीएचडी करते समय आपको याद रहे कि गुजराती के साथ-साथ आपको हिंदी लैंग्वेज में भी चयनित सब्जेक्ट में ज्ञान होना चाहिए, यदि आप इंट्रेंस एग्जाम में ही डिसक्वालीफाई हो जाएंगे, तो पीएचडी नहीं कर पाएंगे।

क्या यूजी में 63% और पीजी में 65% प्लस मार्क वाले स्टूडेंट मैनेजमेंट सब्जेक्ट से या फिर इकोनॉमी सब्जेक्ट से पीएचडी कर सकते हैं?

आप सभी लोग यदि अपने बोर्ड एग्जाम अर्थात इंटर हाई स्कूल और इसके बाद के अपर लेवल एग्जाम में 55% अंक से अधिक अंक प्राप्त करते हैं, तो आप इकोनामी सब्जेक्ट या फिर मैनेजमेंट सब्जेक्ट में से किसी एक सब्जेक्ट का चयन करके पीएचडी कर सकते हैं।

हम उम्मीद करते हैं कि आपको हमारे द्वारा दी गई यह ‘पीएचडी क्या हैं पूरी जानकारी – PhD Kya hai’ जानकारी पसंद आएगी। PhD Kya Hai इस जानकारी को आगे शेयर जरूर करें। यदि आपका इससे जुड़ा कोई सवाल या सुझाव हो तो हमें कमेंट बॉक्स में जरूर बताएं।

धन्यवाद!

यह भी पढ़े

इनका नाम राहुल सिंह तंवर है। इनकी रूचि नई चीजों के बारे में लिखना और उन्हें आप तक पहुँचाने में अधिक है। इनको 4 वर्ष से अधिक SEO का अनुभव है और 5 वर्ष से भी अधिक समय से कंटेंट राइटिंग कर रहे है। इनके द्वारा लिखा गया कंटेंट आपको कैसा लगा, कमेंट बॉक्स में जरूर बताएं। आप इनसे नीचे दिए सोशल मीडिया हैंडल पर जरूर जुड़े।

30 COMMENTS

    • Pooja जी आपकी प्रतिक्रिया के लिए धन्यवाद!
      हमने आपके सवाल को विस्तार से आर्टिकल में सांझा कर दिया है।

    • Mamta जी आपकी प्रतिक्रिया के लिए धन्यवाद!
      हमने आपके सवाल को विस्तार से आर्टिकल में सांझा कर दिया है।

  1. Economic subject se p.hd kar sakte h ,is subject se p.hd karne se kya fayde mil sakte h please lell me

    • Saloni yadav जी आपकी प्रतिक्रिया के लिए धन्यवाद!
      हमने आपके सवाल को विस्तार से आर्टिकल में सांझा कर दिया है।

  2. Mnto ugc nat kiliyr nhi kiya h kya m phd k liy applay kr skti hu kya or mr fainl m 48/ hi bni h or m a ka rejlt nhi aaya h to m kr skti hu kya

    • Seeta jat जी आपकी प्रतिक्रिया के लिए धन्यवाद!
      हमने आपके सवाल को विस्तार से आर्टिकल में सांझा कर दिया है।

    • Anjali जी आपकी प्रतिक्रिया के लिए धन्यवाद!
      हमने आपके सवाल को विस्तार से आर्टिकल में सांझा कर दिया है।

  3. स्नातक में भी 55% से ज्यादा चाहिए क्या
    या ओनली स्नातकोत्तर में

    • आपकी प्रतिक्रिया के लिए धन्यवाद!
      हमने आपके सवाल को विस्तार से आर्टिकल में सांझा कर दिया है।

    • आपकी प्रतिक्रिया के लिए धन्यवाद!
      हमने आपके सवाल को विस्तार से आर्टिकल में सांझा कर दिया है।

  4. Sir mere toh 63% hai UG me aur .PG chal raha hai abhi toh kosis karungi ki 65% se upar ho PG % mujhe PHD karni hai sir manegement subject se Economic se en dono me kisi ek ko

    • Sangeeta जी, आपकी प्रतिक्रिया के लिए धन्यवाद!
      हमने आपके सवाल को विस्तार से आर्टिकल में सांझा कर दिया है।

  5. Sir mene b.com me 55% or m.com me 60% laye he mene aapni study 2016 me complete ki he Gujarat se abhi meri sadi uttar pradesh me hui he mene aapni study Gujarati language me ki he yha Hindi language me kya me Account subject pr PhD kr sakti hu.

    • Purnima Verma जी, आपकी प्रतिक्रिया के लिए धन्यवाद!
      हमने आपके सवाल को विस्तार से आर्टिकल में सांझा कर दिया है।

  6. Sir, hum history se UG kiya hai
    Aur PG sociology se kar rahi hu.
    Kya main ph. d k liye apply kar sakti hu???

    • Shampa Gorai जी, आपकी प्रतिक्रिया के लिए धन्यवाद!
      हमने आपके सवाल को विस्तार से आर्टिकल में सांझा कर दिया है।

  7. Good Afternoon Sir, Mai MA Pre.(Political Science) ki student hu. Mera favourite subject Public Administration hai. Kya m es Subject se in future PhD kr skti hu. Please reply me.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here