एलएलबी (LLB) क्या है? कैसे करे पूरी जानकारी

LLB Kaise Kare: हर किसी व्यक्ति का एक सपना जरूर होता है। कि वह बड़ा हो कर कुछ न कुछ बनना चाहता है। तो ज्यादातर लोग अपने जीवन में एक अच्छी गवर्नमेंट जॉब लेना चाहते हैं, वैसे वर्तमान समय में आपको कई अलग-अलग प्रकार की गवर्नमेंट जॉब देखने को मिल जाती है। लेकिन उनमें सिलेक्ट होना बहुत कठिन होता है। जब भी आप किसी भी जॉब के लिए एग्जाम देते हैं, तो उस जॉब के बारे में आपको विस्तार से जानकारी होना बहुत ही जरूरी है।

आज के इस आर्टिकल में हम आपको एलएलबी के बारे में विस्तार से जानकारी देंगे। एक बहुत ही अच्छी जॉब है और इस जॉब को हासिल करने के लिए कई स्टूडेंट दिन रात मेहनत करते हैं, आज का हमारा यह आर्टिकल जिस में आपको LLB Kaise Kare व एलएलबी से जुड़ी संपूर्ण जानकारी देखने को मिलेगी। इसलिए आज के इस आर्टिकल को तक जरूर पढ़ें।

LLB Kaise Kare
LLB Kaise Kare

एलएलबी क्या है ?

एलएलबी एक प्रकार 1 डिग्री होती है, और उस डिग्री को कोई भी टाइम नहीं रहता है। तो उसके बाद वह वकील बन सकता है। साधारण भाषा में कहा जाए, तो एलएलबी की डिग्री वकील बनने के लिए काम आती है। इसके अलावा इस डिग्री को हासिल करने वाला स्टूडेंट सरकार के किसी भी कानूनी विभाग में जॉब प्राप्त कर सकता है।

LLB को विस्तार से बैचलर ऑफ लॉ कहा जाता है, और यह एक प्रकार की अंडर ग्रैजुएट डिग्री है। यह कानून नियमों और विनियमों का एक समूह है। जिसके अंदर कोई भी समाज या देश चलता है। बैचलर ऑफ लॉ में एक अंडर ग्रैजुएट डिग्री है। कानून में पाठ्यक्रम या कार्यक्रम के लिए सम्मानित किया जाता है।

एलएलबी की डिग्री किसी भी छात्रों को वकील बनने या कानूनी विभाग में काम करने के लिए योग्य बनाती हैं। बैचलर ऑफ लो एक 3 साल का कोर्स होता है। इसमें छह अलग-अलग पद शामिल है। एलएलबी कोर्स 6 सेक्टर में बटी गई है।

बैचलर ऑफ लो डिग्री इंडक्शन सामग्री के सेमिनार ट्यूटोरियल वर्क मूट कोर्ट और प्रैक्टिकल ट्रेनिंग प्रोग्राम शामिल है। भारत में कई संस्थानों द्वारा बैचलर ऑफ लो डिस्टेंस एजुकेशन कोर्सेज भी प्रदान करवाए जाते हैं। भारत में कानूनी शिक्षा सर्वोच्च निकाय बार काउंसलिंग ऑफ इंडिया है। यह काउंसलिंग भारत के कानूनी शिक्षा की प्रणाली की निगरानी और नियमन करता है। भारत में कई अलग-अलग लॉ कॉलेज उपलब्ध हैं। जो उन छात्रों को एलएलबी कोर्स करने के लिए मौका देती है जिसे भविष्य में वकालत करना हो,

LLB Full Form In Hindi

वैसे तो एलएलबी के बारे में आपको थोड़ी बहुत जानकारी जरूर होगी, लेकिन आपने से ज्यादा तो लोगों को एलएलबी की फुल फॉर्म पता नहीं होती हैं। हम आपको जानकारी के लिए बता दें, कि एलएलबी की फुल फॉर्म बैचलर ऑफ लॉ होता है।

एलएलबी LLB कोर्स कितने प्रकार का होता है

LLB Kaise Kare: बैचलर ऑफ लॉ का कोर्स 5 साल का होता है, और दूसरा 3 साल का होता है। अगर आप ट्वेल्थ पास होने के बाद सीधा Low की पढ़ाई करना चाहते हैं। तो इसके लिए आपको लॉ कॉलेज में पढ़ना होगा और अगर आप लोग का 3 साल वाला कोर्स करना चाहते हैं। तो उसके लिए आपको पहले ग्रेजुएशन करना होगा ग्रेजुएशन करने के बाद ही आप बैचलर ऑफ लॉ के 3 साल वाले कोर्स को कर सकते हैं। विद्यार्थी को एलएलबी करने के लिए क्या-क्या योग्यताओं की आवश्यकता होती है उसके बारे में नीचे दिया गया है।

LLB कोर्स करने के लिए योगयता (Eligibility)

अगर आप भी अपनी पढ़ाई एलएलबी के चक्कर में जाना चाहते हैं, तो आपके पास कम से कम यह योग्यता तो होनी चाहिए, जो कि निम्नलिखित हैं। अगर आपके पास यह योग्यता है। तो आप बैचलर ऑफ लॉ की पढ़ाई कर सकते हैं।

  1. बैचलर ऑफ लो की पढ़ाई करने के लिए आपके पास 12th पास का सर्टिफिकेट होना अनिवार्य है। अगर आप गलत के बाद एलएलबी की पढ़ाई करना चाहते हैं, तो आपको एलएलबी का 5 साल का कोर्स चुनना होगा।
  2. एलएलबी की पढ़ाई करने के लिए ट्वेल्थ में कम से कम 50% मार्क्स होना अनिवार्य है।
  3. अगर आप बैचलर ऑफ लॉ का 3 साल का कोर्स लेना चाहते हैं, तो उसके लिए आपके पास एक ग्रेजुएट का डिग्री भी होना बहुत जरूरी है।
  4. अगर आप बैचलर डिग्री के बाद एलएलबी करना चाहते हैं। तो आपका बैचलर डिग्री में भी 50% मार्क होना बहुत जरूरी है।

LLB के लिए कौन-कौन सी योग्यता होनी चाहिए उसके बारे में तो हमने जान लिया है लेकिन अब हम जान लेते हैं कि LLB लेने के लिए क्या-क्या फायदे है।

LLB कोर्स के फायदे

  • एलएलबी का कोर्स करने के बाद आप एक कानून अच्छे जानकार हो जाते हैं, और उस क्षेत्र में एक्सपर्ट बन जाते हैं।
  • बैचलर ऑफ लॉ का कोर्स करने के बाद आप ग्रेजुएट इस कहलाते हैं।
  • यह एक प्रकार की वकालत गुरुचरण डिग्री है, और इस डिग्री को करने के बाद आप वकील बन सकते हैं।
  • एलएलबी का कोर्स करने के बाद आप किसी भी प्रकार का केस लड़ सकते हैं।

LLB के सब्जेक्ट

बैचलर ऑफ लॉ के कोर्स में आप बहुत सारे सब्जेक्ट पढ़ सकते हैं। वह सब डिपेंड करता है, आप कौन सा ब्रांच सिलेक्ट किया हैं। लेकिन आपको कुछ कॉमर्स सब्जेक्ट को पढ़ना अनिवार्य होता है, जो कि हर किसी ब्रांच में अनिवार्य होता हैं। एलएलबी का कोर्स करने के लिए यह निम्नलिखित सब्जेक्ट को पढ़ना पड़ता।

  1. लीगल मेथड्स
  2. कॉन्ट्रैक्ट्स
  3. जुरीसप्रूडेंस
  4. कोड ऑफ़ सिविल प्रोसीजर
  5. लिटिगेशन एडवोकेसी
  6. पोलिटिकल साइंस
  7. एलएलबी के कोर्स
  8. कारपोरेशन लॉ
  9. सिविल लॉ
  10. क्रिमिनल लॉ
  11. इंटरनेशनल लॉ
  12. लेबर लॉ
  13. पेटेंट लॉ
  14. टैक्स लॉ

LLB करने के बाद कौन सी जॉब मिलती है

LLB Kaise Kare: बैचलर ऑफ लॉ का कोर्स करने के बाद आप सरकारी और प्राइवेट दोनों क्षेत्रों में रोजगार ले सकते हैं, बैचलर ऑफ लॉ का कोर्स करने के बाद अधिकांश हुआ कि एक प्रोफेशन के रूप में वकील और अभ्यास का कानून बनना पसंद करते हैं। बैचलर ऑफ लो का कोर्स करने के बाद आप सरकारी चैप्टर में भी वकील की नौकरी प्राप्त कर सकते हैं।

उन्हें विभिन्न न्यायालयों के न्यायाधीशों के रूप में, अटॉर्नी और सॉलिसिटर जनरल के रूप में, लोक अभियोजक के रूप में और रक्षा, कर और श्रम विभागों में भी नियुक्त किया जा सकता है। और आप लोगो का भी प्रॉब्लम के लिए वकालत कर सकते इसमें भी नौकरी का अवसर पा सकते है वैसे तो LLB करने के बाद आपके पास बहुत सारा ऑप्शन होता है कुछ भी करने के लिए लेकिन में आपको कुछ बेहतरीन जॉब के बारे में बता देता हूँ जो बहुत जायदा ही अच्छा हैं।

  • एम्प्लॉयमेंट एरिया
  • बैंक्स
  • बिज़नेस हाउसेस
  • एजुकेशनल इंस्टीटूट्स
  • लीगल कॉन्स्टांइस
  • न्यूज़ चैनल्स
  • नेव्स्पपेर्स
  • जुडिशरी
  • प्राइवेट प्रैक्टिस
  • सेल्स टैक्स एंड एक्साइज डिपार्टमेंट्स
  • जॉब टाइप
  • अटॉर्नी जनरल
  • डिस्ट्रिक्ट एंड सेशंस जज
  • लॉ रिपोर्टर्स
  • लीगल एडवाइजर
  • मजिस्ट्रेट
  • मुंसिफस (सुब – मजिस्ट्रेट)
  • नोटरी
  • कमिश्नर
  • पब्लिक प्रासीक्यूटर
  • सॉलिसिटर्स
  • टीचर्स
  • ट्रस्टीज

LLB Kaise Kare

  1. एलएलबी की डिग्री करने के लिए 12वीं पास करने होते हैं। 12वीं की पढ़ाई कंप्लीट होने के बाद आप एलएलबी का कोर्स कर सकते हैं। आप 12वीं की पढ़ाई आप किसी भी सब्जेक्ट में कर सकते हैं। चाहे साइंस कॉमर्स या किसी भी सब्जेक्ट में आप बाहर भी कर सकते हैं, लेकिन अगर आप एक वकील बनना चाहते हैं, तो उसके लिए आपको 12वीं में आर्ट सब्जेक्ट का चयन करना चाहिए|
  2. एलएलबी कॉलेज प्राप्त करने के लिए पहले एंट्रेंस एग्जाम देना होता है, और एंट्रेंस एग्जाम में पास होने के बाद आपको एलएलबी की कॉलेज मिलती है, और उस एंट्रेंस एग्जाम को कॉमन लॉ एडमिशन टेस्ट भी कहा जाता हैं।
  3. यह एग्जाम देने के बाद आपको एलएलबी की कॉलेज मिल जाती है, और उसके बाद आपको पूरे 5 साल तक एलएलबी का कोर्स करना पड़ता हैं। जब आपके एलएलबी कोर्स के पास साल कंप्लीट हो जाते हैं, और आप एलएलबी के बॉस को कंप्लीट कर देते हैं। तो उसके बाद आपके पास एलएलबी की 1 डिग्री मिल जाती है, और उस डिग्री के माध्यम से आप किसी भी सरकारी या प्राइवेट क्षेत्र में वकालत का काम कर सकते हैं।
  4. बैचलर ऑफ लौकी डिग्री करते समय आपको यह ध्यान में रखना होता है, कि जब भी आप बैचलर और लोग के लिए कोई एग्जाम दे, तो उस एग्जाम में आपके अच्छे मार्क्स होने चाहिए एलएलबी की डिग्री मिलने के बाद आपको रोजगार आपके मार्क्स के अनुसार ही दिया जाता हैं।

LLB कोर्स के सम्बन्धित कुछ सवाल

एलएलबी क्या है?

LLB एक प्रकार का कोर्स है यह कोर्स वकालत से संबधित है।

एलएलबी के लिए जरुरी न्यूनतम योग्यता क्या है?

LLB के लिए विधार्थी के पास न्यूनतम 12वीं पास की अंकतालिका जरुरी है।

LLB की फुल फॉर्म क्या होती है?

LLB की फुल फॉर्म बैचलर ऑफ लॉ होती है।

एलएलबी का कोर्स कितने साल का होता है?

LLB के 2 कोर्स होते है एक 5 का होता है और दूसरा 3 साल का होता है ।

LLB की पढ़ाई करने के लिए 12th में कम से कम 50% मार्क्स होना अनिवार्य है?

एलएलबी की पढ़ाई करने के लिए 12th में कम से कम 50% मार्क्स होना अनिवार्य है।

Conclusion

LLB क्या है, और LLB Kaise Kre उसके बारे में आज हमने आपको इस आर्टिकल में विस्तार से जानकारी दी है, आज किस आर्टिकल में आपको एलएलबी स जुड़ी संपूर्ण जानकारी बताई गई इसलिए हम उम्मीद करते हैं, कि आपको आज का यह आर्टिकल अवश्य पसंद आया होगा, और आज के इस आर्टिकल से आपको अवश्य कुछ सीखने को भी मिला होगा। अगर आपको आज के LLB Kaise Kre इस आर्टिकल से संबंधित कोई भी सवाल या समस्या है, तो आप हमें नीचे कमेंट करके जरूर बताएं।

यह भी पढ़े:

इनका नाम राहुल सिंह तंवर है, इन्होंने स्नातक (रसायन, भौतिक, गणित) की पढ़ाई की है और आगे की भी जारी है। इनकी रूचि नई चीजों के बारे में लिखना और उन्हें आप तक पहुँचाने में अधिक है। इनको 3 वर्ष से भी अधिक SEO का अनुभव होने के साथ ही 3.5 वर्ष का कंटेंट राइटिंग का अनुभव है। इनके द्वारा लिखा गया कंटेंट आपको कैसा लगा, कमेंट बॉक्स में जरूर बताएं। आप इनसे नीचे दिए सोशल मीडिया हैंडल पर जुड़ सकते हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here