कुन सिर पर बाँधना मुहावरे का अर्थ और वाक्य प्रयोग

कुन सिर पर बाँधना मुहावरे का अर्थ और वाक्य प्रयोग ( kun sir per bandhana muhavara ka arth)

कुन सिर पर बाँधना मुहावरे का अर्थ –मरने को तैयार होना, खतरे या जान की परवाह न करना।

kun sir per bandhana muhavara ka arth – marane ko taiyaar hona, khatare ya jaan kee paravaah na karana.

दिए गए मुहावरे का हिंदी में वाक्य प्रयोग

वाक्य प्रयोग: स्वतंत्रता आंदोलन में हमारे देश के सारे नवयुवक अपने सर पर कुन सिर पर बांधकर कूद पड़े थे ।

वाक्य प्रयोग: हमारे भारत देश को आजादी दिलवाने के लिए हमारी वीर भगत सिंह ने योद्धा ने कुन सिर पर बांधकर हमें आजादी की लडाई लड़ते-लड़ते शहीद हो गए।

वाक्य प्रयोग: हमारे देश की रक्षा के लिए भारतीय सैनिक सीमा पर कुन सिर पर बांधे खड़े रहते हैं, तैयार रहते हैं, वह अपनी जान की परवाह किए बगैर हर वक्त तैयार रहते हैं युद्ध के लिए।

वाक्य प्रयोग: सोहन एक घने जंगल में जाकर फस गया और वहां से निकलने के लिए उसे खतरनाक पहाड़ी को भी पार करना होगा इसलिए उसने कुन सिर पर बांध लिया और बिना किसी चीज की परवाह किए बगैर उस जंगल को पार कर गया।

यहां हमने “कुन सिर पर बाँधना” जैसे बहुचर्चित मुहावरे का अर्थ और उसके वाक्य प्रयोग को समझा। कुन सिर पर बांधना मुहावरे का अर्थ होता है कि मरने के लिए तैयार हो जाना, अपने जान और खतरे की परवाह किए बगैर तैयार रहना। इसका सबसे अच्छा उदाहरण हमारे भारतीय सैनिक हैं जो कि अपने भारत देश की रक्षा के लिए हमेशा तत्पर रहते हैं, हमेशा तैयार रहते हैं, वह अपनी जान की परवाह किए बगैर हमेशा अपने खून सिर पर बांधने रहते हैं अर्थात हमेशा लड़ने के लिए वह तैयार रहते हैं, अपने देश की रक्षा के लिए उन सिर पर बांधे तैयार रहने वाले में हमारे भारत देश के सैनिक सबसे आगे हैं। चुकी यह मुहावरा है और मुहावरा और असामान्य अर्थ प्रकट करता है इसीलिए यहां इस मुहावरे का अर्थ दोहरा लाभ प्राप्त करने से हैं।

मुहावरे परीक्षाओं में मुख्य विषय के रूप में पूछे जाते हैं। एक शब्द के कई मुहावरे हो सकते हैं।यह जरूरी नहीं कि परीक्षा में यहाँ पहले दिये गए मुहावरे ही पूछा जाए। परीक्षा में सभी किसी का भी मुहावरे पूछा जा सकता है।

मुहावरे का अपना एक भाग है प्रत्येक पाठ्यक्रम में, छोटी और बड़ी कक्षाओं में मुहावरे पढ़ाया जाता है, कंठस्थ किया जाता है। प्रतियोगी परीक्षाओं में यह एक मुख्य विषय के रूप में पूछा जाता है और महत्व दिया जाता है।

परीक्षा के दृष्टिकोण से मुहावरे बहुत महत्वपूर्ण होते हैं। सभी प्रतियोगी परीक्षाओं में मुहावरे का अपना-अपना भाग होता है। चाहे वह पेपर हिंदी में हो या अंग्रेजी में यहां तक कि संस्कृत में भी मुहावरे पूछे जाते हैं।

मुहावरे कोई बहुत कठिन विषय नहीं है। यदि इसे ध्यान से समझा जाए तो याद करने की भी आवश्यकता नहीं होती है। इसे समझ समझ कर ही लिखा जा सकता है।

अन्य महत्वपूर्ण मुहावरे और उनका वाक्य प्रयोग

करारा जवाब देना चार चाँद लगाना
अपना घर समझना अपने पाँव पर आप कुल्हाड़ी मारना
आपे से बाहर होनाआसमान सिर पर उठाना

1000+ हिंदी मुहावरों के अर्थ और वाक्य प्रयोग का विशाल संग्रह 

इनका नाम राहुल सिंह तंवर है, इन्होंने स्नातक (रसायन, भौतिक, गणित) की पढ़ाई की है और आगे की भी जारी है। इनकी रूचि नई चीजों के बारे में लिखना और उन्हें आप तक पहुँचाने में अधिक है। इनको 3 वर्ष से भी अधिक SEO का अनुभव होने के साथ ही 3.5 वर्ष का कंटेंट राइटिंग का अनुभव है। इनके द्वारा लिखा गया कंटेंट आपको कैसा लगा, कमेंट बॉक्स में जरूर बताएं। आप इनसे नीचे दिए सोशल मीडिया हैंडल पर जुड़ सकते हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here