कटे पर नमक छिड़कना मुहावरे का अर्थ और वाक्य प्रयोग

कटे पर नमक छिड़कना मुहावरे का अर्थ और वाक्य प्रयोग (kate par namak chhidakana Muhavara ka arth)

कटे पर नमक छिड़कना मुहावरे का अर्थ – दुःखी को और दुःखी करना, दुखी व्यक्ति का दुःख और बढ़ाना, दुःखी या परेशान को और परेशान करना।

kate par namak chhidakana Muhavara ka arth – duhkhee ko aur duhkhee karana, dukhee vyakti ka duhkh aur badhaana, duhkhee ya pareshaan ko aur pareshaan karana.

दिए गए मुहावरे का हिंदी में वाक्य प्रयोग

वाक्य प्रयोग: सोहनलाल के घर में एक तो पहले से ही चोरी हो गई और पुलिस ने ऐसे से सवाल पूछ दिए कि मानो उसके कटे पर नमक छिड़का जा रहा हूं हो।

वाक्य प्रयोग: सोहनलाल का पहले से ही नौकरी छूटने पर बुरा हाल था और उसके घर वाले उससे अजीबो-गरीब सवाल पूछ- पूछ कर उसके कटे पर नमक छिड़क रहे थे।

वाक्य प्रयोग: सोहनलाल को और कोई काम नहीं है जब देखो वह दूसरों के जले पर नमक छिड़कने रहता है।

वाक्य प्रयोग: हमारे बड़े बुजुर्ग में यह समझाते हैं कि हमें कभी भी किसी के कटे पर नमक नहीं छिड़कना चाहिए कभी भी किसी के बुरे वक्त में उसे और भी उल्टा-पुल्टा नहीं सुनाना चाहिए।

यहां हमने “कटे पर नमक छिड़कना” जैसे बहुचर्चित मुहावरे का अर्थ और उसके वाक्य प्रयोग को समझा। कटे पर नमक छिड़कना मुहावरे का अर्थ होता है कि जब कोई व्यक्ति दुखी हो और उसे दुखी वाली बात कही जाए अर्थात जब पहले से ही परेशान हो और उसे परेशान किया जाए। अक्सर जो आपके आस पड़ोस के लोग होते हैं, वह आपके दुखों पर नमक छिड़कने के लिए ही आते आपको दिलासा देने के लिए वह कभी नहीं आएंगे। वह केवल आपके कटे पर नमक छिड़कने के लिए आएंगे एक तो आप पहले से ही दुखी होते हैं दूसरा वह इस तरह के सवाल पूछते हैं जिससे कि आप के कटे पर नमक ही छिड़क रहे हो। चुकी यह मुहावरा है और मुहावरा और असामान्य अर्थ प्रकट करता है इसीलिए यहां इस मुहावरे का अर्थ दोहरा लाभ प्राप्त करने से हैं।

मुहावरे परीक्षाओं में मुख्य विषय के रूप में पूछे जाते हैं। एक शब्द के कई मुहावरे हो सकते हैं।यह जरूरी नहीं कि परीक्षा में यहाँ पहले दिये गए मुहावरे ही पूछा जाए। परीक्षा में सभी किसी का भी मुहावरे पूछा जा सकता है।

मुहावरे का अपना एक भाग है प्रत्येक पाठ्यक्रम में, छोटी और बड़ी कक्षाओं में मुहावरे पढ़ाया जाता है, कंठस्थ किया जाता है। प्रतियोगी परीक्षाओं में यह एक मुख्य विषय के रूप में पूछा जाता है और महत्व दिया जाता है।

परीक्षा के दृष्टिकोण से मुहावरे बहुत महत्वपूर्ण होते हैं। सभी प्रतियोगी परीक्षाओं में मुहावरे का अपना-अपना भाग होता है। चाहे वह पेपर हिंदी में हो या अंग्रेजी में यहां तक कि संस्कृत में भी मुहावरे पूछे जाते हैं।

मुहावरे कोई बहुत कठिन विषय नहीं है। यदि इसे ध्यान से समझा जाए तो याद करने की भी आवश्यकता नहीं होती है। इसे समझ समझ कर ही लिखा जा सकता है।

अन्य महत्वपूर्ण मुहावरे और उनका वाक्य प्रयोग

आपे से बाहर होनाउड़ती चिड़िया के पंख गिनना
बड़ी बात होनाअपना घर समझना
आसमान सिर पर उठानाअक्ल चरने जाना

1000+ हिंदी मुहावरों के अर्थ और वाक्य प्रयोग का विशाल संग्रह 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here