ईमान बेचना मुहावरे का अर्थ और वाक्य प्रयोग

ईमान बेचना मुहावरे का अर्थ और वाक्य प्रयोग (Eemaan bechana Muhavara ka arth)

ईमान बेचना मुहावरे का अर्थ – विश्वास समाप्त करना ,अपने कर्त्तव्य से हट जाना, बेईमानी करना।

Eemaan bechana Muhavara ka arth – vishvaas samaapt karana ,apane karttavy se hat jaana, beeemaanee karana.

दिए गए मुहावरे का हिंदी में वाक्य प्रयोग

वाक्य प्रयोग: सोहनलाल ने अपने नौकर पर अपने घर की सारी जिम्मेदारी दे दी लेकिन सोहनलाल के नौकर ने अपना ईमान बेच दिया उसने अपने मालिक के घर को झूठे दस्तावेज़ दिखा कर अपना बना लिया।

वाक्य प्रयोग: मीरा पूर्ण विश्वास करते हुए सीता को अपना नोट दिया था लेकिन मीरा ने विश्वासघात किया और मीरा के सीता के नोट्स को अपना बना कर उसे सबमिट कर दिया कॉलेज में सबमिट कर दिया मीरा के साथ सीता ने ऐसी परिस्थिति में ही कहा जाता है कि अपना ईमान बेचना।

वाक्य प्रयोग: अक्सर लोग तरक्की पाने के लिए और कम परिश्रम में सफलता पाने के लिए ईमान बेचते रहते हैं लेकिन ईमान बेचने से कुछ नहीं होगा, अगर सच में सफलता प्राप्त करना है तो अपने ईमानदारी के साथ और मेहनत के साथ किसी कार्य को करें और उसमें 1 दिन सफलता जरुर मिलेगी।

यहां हमने “ईमान बेचना” जैसे बहुचर्चित मुहावरे का अर्थ और उसके वाक्य प्रयोग को समझा। ईमान बेचना मुहावरे का अर्थ होता है कि विश्वास समाप्त करना, बेईमानी करना, जब कोई व्यक्ति किसी पर पूर्ण विश्वास करता है और दूसरा व्यक्ति उस विश्वास को तोड़ देता है तो वैसी परिस्थिति में यह कहावत यह मुहावरे का उपयोग किया जाता है कि उस व्यक्ति ने अपना ईमान बेच दिया उस व्यक्ति ने अपने कर्तव्य से बेईमानी की और उसने उसके साथ विश्वासघात किया। चुकी यह मुहावरा है और मुहावरा और असामान्य अर्थ प्रकट करता है इसीलिए यहां इस मुहावरे का अर्थ दोहरा लाभ प्राप्त करने से हैं।

मुहावरे परीक्षाओं में मुख्य विषय के रूप में पूछे जाते हैं। एक शब्द के कई मुहावरे हो सकते हैं।यह जरूरी नहीं कि परीक्षा में यहाँ पहले दिये गए मुहावरे ही पूछा जाए। परीक्षा में सभी किसी का भी मुहावरे पूछा जा सकता है।

मुहावरे का अपना एक भाग है प्रत्येक पाठ्यक्रम में, छोटी और बड़ी कक्षाओं में मुहावरे पढ़ाया जाता है, कंठस्थ किया जाता है। प्रतियोगी परीक्षाओं में यह एक मुख्य विषय के रूप में पूछा जाता है और महत्व दिया जाता है।

परीक्षा के दृष्टिकोण से मुहावरे बहुत महत्वपूर्ण होते हैं। सभी प्रतियोगी परीक्षाओं में मुहावरे का अपना-अपना भाग होता है। चाहे वह पेपर हिंदी में हो या अंग्रेजी में यहां तक कि संस्कृत में भी मुहावरे पूछे जाते हैं।

मुहावरे कोई बहुत कठिन विषय नहीं है। यदि इसे ध्यान से समझा जाए तो याद करने की भी आवश्यकता नहीं होती है। इसे समझ समझ कर ही लिखा जा सकता है।

अन्य महत्वपूर्ण मुहावरे और उनका वाक्य प्रयोग

करारा जवाब देना चार चाँद लगाना
अपना घर समझना अपने पाँव पर आप कुल्हाड़ी मारना
आपे से बाहर होनाआसमान सिर पर उठाना

1000+ हिंदी मुहावरों के अर्थ और वाक्य प्रयोग का विशाल संग्रह 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here