अपनी गली में कुत्ता भी शेर मुहावरे का अर्थ और वाक्य प्रयोग

अपनी गली में कुत्ता भी शेर मुहावरे का अर्थ और वाक्य प्रयोग (Apanee galee mein kutta bhee sher Muhavara ka arth)

अपनी गली में कुत्ता भी शेर मुहावरे का अर्थ – व्यक्ति का अपने घर में ही ज़ोर होता है, सुरक्षित स्थान पर रहकर कमजोर भी अपने आप को बलवान समझता है, अपने घर या गली मोहल्ले में बहादुरी दिखाना, अपने घर में निर्बल भी सबल दिखायी पड़ता है।

Apanee galee mein kutta bhee sher Muhavara ka arth – vyakti ka apane ghar mein hee zor hota hai ,surakshit sthaan par rahakar kamajor bhee apane aap ko balavaan samajhata hai, apane ghar ya galee mohalle mein bahaaduree dikhaana,apane ghar mein nirbal bhee sabal dikhaayee padata hai.

दिए गए मुहावरे का हिंदी में वाक्य प्रयोग

वाक्य प्रयोग: सोहेल केवल अपने मोहल्ले में ही बहादुरी दिखाता है और दूसरी जगह में वह कमजोर बनकर रहता है इसे ही कहा जाता है कि अपने मोहल्ले में तो या अपने गली में तो कुत्ता भी शेर होता है।

वाक्य प्रयोग: सीता अपने विद्यालय की कक्षा में प्रथम आई और जब उसे दूसरे विद्यालय से परीक्षा ली गई तो वह वहां सबसे अंतिम आई इसे ही कहा जाता है कि अपनी गली में तो कुत्ता भी शेर होता है।

वाक्य प्रयोग: सोहन अपने विद्यालय के क्रिकेट टीम के साथ तो बहुत अच्छा खेलता है लेकिन जब उसे अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट की तरफ से खेलने का मौका मिला तो वह वहां पर अच्छा से खेल नहीं पाया इसे ही कहा जाता है कि अपनी गली में तो कुत्ता भी शेर होता है वह अपने विद्यालय के साथ तो बहुत अच्छे से खेल पाता था लेकिन जब उसे अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट टीम के साथ खेलने का मौका मिला तो वहां पर अच्छा नहीं खेल पाया।

वाक्य प्रयोग: सीता चित्रकारी में बहुत ही अच्छी चित्रकारा है लेकिन जब उसे अंतरराष्ट्रीय स्तर पर चित्रकारी प्रदर्शन करने में बुलाया गया तो वहां पर वह अच्छे से चित्रकारी नहीं कर पाई ऐसी परिस्थिति में ही कहा गया है कि अपनी गली में तो कुत्ता भी शेर होता है।

यहां हमने “अपनी गली में कुत्ता भी शेर” जैसे बहुचर्चित मुहावरे का अर्थ और उसके वाक्य प्रयोग को समझा। अपनी गली में कुत्ता भी शेर होता है मुहावरे का अर्थ है कि व्यक्ति केवल अपने घर में ही जोड़ दिखाता है, जब सुरक्षित स्थान पर रहता है तब वह अपने आप को बलवान समझता है लेकिन जब वह किसी दूसरी जगह में जाता है। जहां वे असुरक्षित होता है वहां पर मैं अपनी बहादुरी दिखाना भूल जाता है और एक कमजोर व्यक्ति की तरह रहता है जबकि व्यक्ति को हमेशा एक समान रहना चाहिए चाहे वह सुरक्षित स्थान पर हो चाहे वह दूसरे स्थान पर हो उसे हमेशा अपने आप पर विश्वास रखना चाहिए । चुकी यह मुहावरा है और मुहावरा और असामान्य अर्थ प्रकट करता है इसीलिए यहां इस मुहावरे का अर्थ दोहरा लाभ प्राप्त करने से हैं।

मुहावरे परीक्षाओं में मुख्य विषय के रूप में पूछे जाते हैं। एक शब्द के कई मुहावरे हो सकते हैं।यह जरूरी नहीं कि परीक्षा में यहाँ पहले दिये गए मुहावरे ही पूछा जाए। परीक्षा में सभी किसी का भी मुहावरे पूछा जा सकता है।

मुहावरे का अपना एक भाग है प्रत्येक पाठ्यक्रम में, छोटी और बड़ी कक्षाओं में मुहावरे पढ़ाया जाता है, कंठस्थ किया जाता है। प्रतियोगी परीक्षाओं में यह एक मुख्य विषय के रूप में पूछा जाता है और महत्व दिया जाता है।

परीक्षा के दृष्टिकोण से मुहावरे बहुत महत्वपूर्ण होते हैं। सभी प्रतियोगी परीक्षाओं में मुहावरे का अपना-अपना भाग होता है। चाहे वह पेपर हिंदी में हो या अंग्रेजी में यहां तक कि संस्कृत में भी मुहावरे पूछे जाते हैं।

मुहावरे कोई बहुत कठिन विषय नहीं है। यदि इसे ध्यान से समझा जाए तो याद करने की भी आवश्यकता नहीं होती है। इसे समझ समझ कर ही लिखा जा सकता है।

अन्य महत्वपूर्ण मुहावरे और उनका वाक्य प्रयोग

चाँद पर थूकना चार चाँद लगाना
अक्ल चरने जाना अपने पाँव पर आप कुल्हाड़ी मारना
आपे से बाहर होनाआसमान सिर पर उठाना

1000+ हिंदी मुहावरों के अर्थ और वाक्य प्रयोग का विशाल संग्रह 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here