अल्केमिस्ट बुक समरी

Alchemist Book Summary in Hindi: किताब पढ़ना एक अच्छी आदत है। हम हमेशा इस बात में खोये से रहते हैं कि शुरुआत किस किताब से करें। यह मजेदार किताब है, जिसमें जादुई कहानियों के साथ-साथ एक्साइटमेंट और ज्ञान भी दिया गया है।

आज के इस लेख में Alchemist Book summary in Hindi के बारे में जानकारी दी जाएगी, जिसे पढ़ने के बाद आप इस बात को समझ पाएंगे कि अल्केमिस्ट कितनी अच्छी किताब है। ऐसा भी हो सकता है कि नीचे बताए गए सार को पढ़ने के बाद आपको ऐसा लगे कि अब आप पढ़ चुके है। मगर उसके बाद भी हम कहेंगे कि आपको किताब जरूर पढ़नी चाहिए।

Alchemist-Book-Summary-In-Hindi
Image : Alchemist Book Summary In Hindi

Alchemist Book summary in Hindi के जरिए हम आपको इस किताब में होने वाली सभी घटनाओं के विस्तार पूर्वक जानकारी देंगे और इसकी क्या सीख है समझाएंगे।

अल्केमिस्ट बुक समरी | Alchemist Book Summary in Hindi

Alchemist Book क्या है?

अलकेमिस्ट दुनिया के कुछ महान प्रसिद्ध किताबों में से एक है। इसे एक पोर्तगाली लेखक Paulo Coelho ने पोर्टेगस भाषा में लिखा है। बाद में इस किताब की प्रचलिता की वजह से इसे अंग्रेजी स्पेनिश और हिंदी भाषा में ट्रांसलेट किया गया।

इस किताब में लेखक ने जिंदगी के फिलॉसफी को समझाने का प्रयास किया है और इसके लिए उन्होंने जादू भरी बातों का इस्तमाल किया है। इस किताब का नाम अलकेमिस्ट है। अलकेमिस्ट का मतलब होता है रसायन के द्वारा खोज करने वाला व्यक्ति।

इस किताब में एक अलकेमिस्ट या रसायन के द्वारा विभिन्न प्रकार की खोज करने वाला व्यक्ति है, जिसे हम विज्ञानिक कह सकते हैं। वह एक बच्चे की मदद करता है ताकि वह खजाना खोज सकें, आगे की कहानी नीचे दी गई है।

Alchemist Book summary in Hindi

सेंटियागो नाम का एक बच्चा स्पेन में रहता था। उस बच्चे के पास कुछ जादुई शक्तियां थी। वह जो भी सपना देखता था, वह सच हो जाता था। मगर उसे इस बात का अहसास नहीं था। यह बच्चा काफी गरीब था। एक गडरिया था, जो भेड़ चरा कर और उन्हें बेच कर पैसे कमाता था। इसका घर एक जमाने के प्रचलित था, जो अब खंडहर हो चुका था। वहां मौजूद एक बड़े से Sycrome के वृक्ष के नीचे रहता था।

एक दिन यह बच्चा भेड़ चराने के बाद वापस अपने घर जाकर सो रहा था। तभी उसे एक सपना आता है कि इजिप्ट के पिरामिड के नीचे खूब सारा खजाना छुपा हुआ है। इसे इस बात पर यकीन नहीं हुआ लेकिन लगातार दो बार इसे यह सपना आया। अपने सपनों का रहस्य पता करने के लिए अपने शहर के प्रसिद्ध Gypsy महिला के पास गया, जो सपने का रहस्य बताती थी।

उस महिला ने सेंटियागो नाम के इस बच्चे से कहा कि इसका सपना बिल्कुल सच है और उसे खजाने की तलाश में जरूर जाना चाहिए। उसकी बात से प्रेरित होकर सेंटियागो ने अपने सभी भेड़ भेज दिए और उससे आए पैसों के सहारे वह एक नाव में बैठकर इजिप्ट की यात्रा पर निकल पड़ा।

(आपको बता दें Spain से Egypt की दूरी कोई खास नहीं है। दोनों बगल के देश है, इसके बारे में आप नक्शा देखकर समझ सकते हैं।)

जब सेंटियागो ने निश्चय किया कि वह इस सफर में आगे बढ़ेगा तो उसके रास्ते में Melchizedek नाम का एक बूढ़ा मिला। सेंटियागो इस बुड्ढे से बात नहीं करना चाहता था। मगर उसकी ज्ञान भरी बातों से प्रभावित होकर उसने जीवन के बारे में और अन्य सवाल पूछे।

उस बुड्ढे व्यक्ति ने सेंटियागो को दो मुख्य बातें बताई। पहला हमें अपने जीवन में पर्सनल एजेंट चुनना चाहिए अर्थात एक ऐसा मकसद चुनना चाहिए, जिसे पूरा करने के बाद हम यह कह सकें कि हमने जन्म किस काम के लिए लिया था। जब हम इस तरह का पर्सनल एजेंट चुनते हैं और अपने जीवन को एक मकसद देते हैं तो पूरी कायनात हमें उस मकसद को पाने में मदद करती है।

यह भी पढ़े: द मैजिक बुक समरी

दूसरी बात में उस बुड्ढे ने बताया कि अगर तुम खजाना ढूंढने जा रहे हो तो तुम्हारे रास्ते में कई परेशानियां आएंगी और ऐसा समय आएगा, जब तुम आगे का रास्ता नहीं ढूंढ पाओगे। उस वक्त के लिए उसने सेंटियागो को दो पत्थर दिए और कहा कि जिस चीज को तुम दिल से चाहते हो, उसको ध्यान में रखकर अगर इस पत्थर को हवा में उठा लोगे तो यह पत्थर तुम्हें सही रास्ते तक ले कर जाएगा।

उसने कहा कि याद रखना तुम इस पत्थर का एक बार इस्तेमाल कर सकते हो और केवल उसी चीज के बारे में पता कर सकते हो जैसे तुम दिल से चाहते हो।

उसके बाद सेंटियागो ने एक जहाज किया और बैठकर इजिप्ट की यात्रा पर निकल पड़ा। जब वह जहाज से उतरा तो वह एक अनजान शहर में था, जिसके बारे में वह कुछ नहीं जानता था। एक बार में चुपचाप बैठ कर वह आगे कि रास्ता के बारे में सोच रहा था तभी उस शहर का एक व्यक्ति उसके पास आया और उसने कहा कि इस अंजान शहर से वह उसे निकाल सकता है और उसके मंजिल तक पहुंचा सकता है।

सेंटियागो ने उसके साथ एक सौदा किया कि अगर वह इसे खजाने तक पहुंचाने में मदद करें और इस शहर का एक गाइड बन जाए तो बदले में उसे वह खूब सारा पैसा देगा। उस व्यक्ति ने गाइड बनकर सेंटियागो को शहर में इधर उधर घुमाया और उसका सारा पैसा ले लिया और एक बाजार में कहीं गायब हो गया।

अपने सपने की तलाश में घूम रहा है। यह लड़का बिना पैसों के रोड़ पर भूखे प्यासे खड़ा था और उसे गुस्सा आ रहा था। साथ में खराब भी लग रहा था। तभी उसने अपने जेब से वह तो पत्थर निकालें और सोचा कि उस चोर के बारे में पता लगाया जाए।

तभी उसे उस बुड्ढे आदमी की बात याद आई है कि वह केवल उस चीज के बारे में पूछ सकता है, जिससे उसका दिल सच में चाहता है। इस वक्त वह भले अपने खोए हुए पैसों के बारे में पता करना चाहता था। मगर इसका दिल असली में खजाना तक पहुंचना चाहता था।

जिस वजह से सेंटियागो ने उस पत्थर का इस्तेमाल नहीं किया और खाने की तलाश में उस शहर में घूमने लगा। तभी उसे इस शहर में एक क्रिस्टल का व्यापारी मिला, जिसने सेंटियागो को खाना खिलाया और बदले में अपनी दुकान पर काम करने के लिए रख लिया।

जब उस क्रिस्टल के व्यापारी ने सिंधिया को को खाना खिलाया और अपने दुकान पर काम करवाया, उस वक्त तो उसे काफी अच्छा मुनाफा हुआ। उसे ऐसा लगा कि जैसे सेंटियागो कोई देवता हो जो इसके मुनाफे के लिए आया है। इस वजह से उसने सेंटियागो के समक्ष प्रस्ताव रखा कि अगर वह चाहे तो वह इसकी दुकान में हमेशा के लिए काम कर सकता है।

इस वक्त सेंटियागो को इस अंजान शहर से बाहर निकलने के लिए पैसे की आवश्यकता थी। मगर वह हमेशा के लिए इस दुकान पर काम करना नहीं चाहता था। फिर भी उसने सौदे के लिए मान गया और वह काम करने लगा क्रिस्टल की दुकान में उससे मिलने वाले पैसे काफी कम थे।

वह इस जगह से निकलने के लिए पर्याप्त धन जमा करना चाहता था। मगर उसे काफी समय लगता, इसलिए उसने एक युक्ति सूचना उसने क्रिस्टल लड़के बने हुए बर्तन में चाय और विभिन्न प्रकार के तरल पदार्थ को बेचना शुरू किया।

क्रिस्टल के बर्तन में चाय काफी सुंदर दिखती थी, जिस वजह से इनका दुकान का तेजी से चलने लगा और दुकान का मालिक इससे काफी खुश हुआ। उसने सेंटियागो की कमाई को बढ़ा दिया और देखते ही देखते 11 महीने में सेंटियागो ने पर्याप्त धन जमा कर लिया।

जब सेंटियागो पैसे जमा करके आगे बढ़ने का ख्याल कर रहा था तब उसके मन में एक ख्याल आया कि अगर उसके साथ फिर से वैसा ही कुछ हुआ जैसे उस व्यक्ति ने धोखा देकर किया था तो वह फिर से गरीब हो जाएगा। इस बात से घबराकर वह अपने शहर वापस लौटने के बारे में सोच रहा था।

मगर उसने सोचा कि जिस प्रकार उसके सभी पैसे खत्म हो गए थे तो उसने शून्य से अपने सफर को शुरू किया और एक गड़ेरिया बनने जितना पैसा कमा ही लिया तो अगर फिर से ऐसा कुछ हुआ तो वह फिर से गड़ेरिया बन जाएगा। मगर इस जाने का यह मकसद उसे जीवन में दोबारा नहीं मिलेगा। इस वजह से उसने अपना सफर जारी रखने का फैसला किया।

फिर अपने मालिक से इजाजत लेकर वह इजिप्ट की यात्रा पर आगे बढ़ा। जब इस सफर पर्व आगे चल रहा था तो उसे एक कारवां मिला, जो इजिप्ट में बने एक प्रसिद्ध oasis के लिए जा रहा था। (आपको बता दें कि रेगिस्तान के बीच में एक हरा भरा होता है, जिसे oasis कहते है।)

इजिप्ट के लिए जाने वाले इस कारवां में उसे एक अंग्रेज दोस्त मिला, जिसका नाम Al Fayoum था। इन दोनों व्यक्तियों में काफी अच्छी दोस्ती हो गई। दोनों अपने जीवन के सुख-दुख के बारे में बात करते हुए इसे फ्री सफर की ओर जा रहे थे। Al Fayoum इजिप्ट जाकर वहां बैठे एक अलकेमिस्ट से सोना बनाने की कला सीखना चाहता था।

जब यह दोनों व्यक्ति ओएसिस पहुंचे तो पता चला कि रेगिस्तान के कुछ कबीलों के बीच भयंकर मारकाट होने वाली है, जिस वजह से सेंटियागो को भी इस रेगिस्तान में रुकना पड़ा। इजिप्ट के उस रेगिस्तान में सेंटियागो को काले बाल वाली एक खूबसूरत लड़की मिली, जिसका नाम फातिमा था।

वह लड़की से मिलने के लिए अक्सर बाजार में किसी ना किसी बहाने से पहुंच ही जाता था। धीरे-धीरे दोनों के बीच अच्छी दोस्ती हो गई। मगर एक दिन सेंटियागो को ख्वाब आया कि आज मारकाट चढ़ने वाली है और सबसे पहला आक्रमण और oasis पर होगा।

उसने यह बात ओएसिस के राजा को बताइ मगर ओएसिस पर आक्रमण करना रेगिस्तान के उसूलों के खिलाफ था। इस वजह से राजा ने उसकी बात पर भरोसा नहीं किया। मगर सेंटियागो ने जिद करके अपनी बात मनवाई और राजा ने शर्त रखी कि अगर सेंटियागो की बात झूठ निकली तो उसका सर काट दिया जाएगा।

यह भी पढ़े: एटीट्यूड इज़ एवरीथिंग बुक समरी

रात में बिल्कुल ऐसा ही हुआ ओएसिस पर आक्रमण हुआ और पहले से तैनात सैनिकों ने रेगिस्तान के ओएसिस को बचा लिया। सब सेंटियागो से काफी प्रभावित हुए और जब यह बात रेगिस्तान में बैठे अलकेमिस्ट को पता चली कि एक जादुई लड़का आया है तो वह दौड़कर सेंटियागो से मिलने आया। उसने इस बच्चे की यात्रा का कारण पूछा और कहा कि वह उसे उस खजाने तक ले जा सकता है।

उस अल्केमिस्ट के साथ खजाने तक का सफर शुरू करते वक्त उसे फातिमा मिलने आई और उसने कहा कि वह सेंटियागो का इंतजार करती रहेगी। सेंटियागो ने भी उससे वादा किया कि खजाना मिलने के बाद वह उससे मिलने जरूर आएगा।

खजाने तक ले जाते वक्त अलकेमिस्ट और सेंटियागो पर हमले हुए। कुछ गुंडों ने इन पर आक्रमण किया और उन्हें मार देने की धमकी दी मगर। अलकेमिस्ट ने अपनी रसायन विद्या से एक तूफान बना कर दिखाया, जिससे सभी डाकू डर गए और भाग गए।

रास्ते में अलकेमिस्ट ने सेंटियागो को सोना बनाने की कला सिखाई और कुछ सोना दिया और कहा है कि अब आगे का सफर उसे अकेले ही तय करना होगा। उसने कारण नहीं बताया मगर जब सेंटियागो उन पैसों के सहारे आगे बढ़ा तो उसे एक चमकता हुआ बड़ा सा पिरामिड दिखाई दिया उसे लगा कि उसकी जिंदगी का मकसद पूरा हो गया।

जब वह इजिप्ट के पिरामिड के पास पहुंचा तो उसने उस जगह पर कदम रखा जहां उसने सपना देखा था और वहां खोदना शुरू किया। खोदते हुए उसके पास कुछ चुराए और उसका सारा धन और पैसा लूट लिया और उसका जान लेने का प्रयास किया। मगर Santiago ने कहा कि उसके जीवन का एक ही मकसद है कि वह में गड़ा हुआ खजाना निकाल सके तो वह लोग इसके सारे धन को लेकर चले जाएं और उसे यहीं छोड़ दें।

सभी चोर हंसने लगे चोर के सरदार ने कहा कि ऐसा ही सपना मुझे भी कई साल पहले आया था कि स्पेन में एक खंडहर चर्च है, जहां पर साइकिल ओम नाम का एक वृक्ष है, जिसके नीचे खूब सारा खजाना गड़ा हुआ है। लेकिन मुझे पता चला है कि वह एक गरीब गड़ेरिय का घर है, इस वजह से मैं इस तरह के चक्कर में नहीं पड़ता।

सेंटियागो ने उस चोर की बात सुनी तो उसे काफी झटका लगा उसकी बात पर गौर करने पर सेंटियागो को पता चला कि यह चोर इसके घर की ही बात कर रहा था। क्योंकि इस स्पेन में एक प्रचलित चर्च और साइक्लोन का पेड़ केवल इसी के घर में है।

बहुत देर वहां खुदाई करने के बाद चोर की बातें उसके दिमाग में घूमने लगी। वह दौड़ता हुआ अपने घर आया और उस साइक्लोन के वृक्ष के नीचे खुदाई शुरू की। कुछ देर के बाद उसकी खुशी का ठिकाना ना रहा, उसने पाया कि खजाना कहीं और नहीं इसके घर में गड़ा हुआ था।

अपने सपने पर गौर करने से उसे क्या पता चला कि असल में सपना उसे खजाने के बारे में नहीं बताना चाहता था। सपना उसे यह बताना चाहता था कि खजाना उसके घर में है। उसके बाद सेंटियागो फातिमा के पास वापस गया जिससे ओएसिस में उसने वापस लौटने का वादा किया था।

सीख

इस कहानी ने हमें सिखाया कि अगर हम किसी चीज को दिल से चाहो तो पूरी कायनात हमें उस तक पहुंचाने में मदद करती है।

FAQ

Alchemist नाम की किताब किसने लिखी है?

Alchemist किताब Paulo Coelho ने लिखी है।

अलकेमिस्ट नाम की किताब हमें क्या सिखाती है?

अलकेमिस्ट हमें सीख देता है कि अगर हम किसी चीज को शिद्दत से चाहते है तो पूरी कायनात हमें उससे मिलाने में मदद करती है।

अलकेमिस्ट किताब में किसकी कहानी है?

इस किताब में एक गडरिया की कहानी दी गई है, जो खजाना की खोज में निकलता है और कई मुश्किलों के बाद अपने खजाने तक पहुंच पाता है।

निष्कर्ष

अल्केमिस्ट बुक समरी (Alchemist Book summary in Hindi) के बारे में हमने अपने आज के इस महत्वपूर्ण लेख में विस्तृत जानकारी प्रदान की हुई है। हमें उम्मीद है कि आज कि यह बुक समरी आपके लिए काफी ज्यादा यूज़फुल रही होगी और आपको आज के इस बुक समरी से कुछ न कुछ अवश्य महत्वपूर्ण ज्ञान के बारे में पता चला होगा।

अगर आपको आज की हमारी यह बुक समरी अच्छी लगी हो और आपने आज के इस बुक समरी से कुछ महत्वपूर्ण सीखा है तब ऐसे में आपको हमारा या लेख अपने दोस्तों के साथ और अपने अन्य सोशल मीडिया हैंडल पर शेयर करना चाहिए ताकि आप जैसे ही अन्य लोगों को भी इस महत्वपूर्ण बुक समरी के बारे में पता चल सके।

इसके अलावा अगर आपके मन में आज के इस बुक समरी से संबंधित कोई भी सवाल या फिर आप कोई भी ऐसे ही किसी अन्य बुक समरी की डिमांड हमसे करना चाहते हैं तो वेबसाइट पर कांटेक्ट डिटेल के माध्यम से आप हमें ऑनडिमांड टॉपिक की रिक्वेस्ट भी दे सकते है। हम आपके प्रतिक्रिया का जवाब शीघ्र से शीघ्र देने का पूरा प्रयास करेंगे।

यह भी पढ़े

जीवन बदलने वाली 20 सर्वश्रेष्ठ प्रेरक किताबें

रिच डैड पुअर डैड बुक समरी

10 सबसे अच्छी हिंदी किताबें

लर्न टू अर्न बुक समरी

इनका नाम राहुल सिंह तंवर है। इनकी रूचि नई चीजों के बारे में लिखना और उन्हें आप तक पहुँचाने में अधिक है। इनको 4 वर्ष से अधिक SEO का अनुभव है और 5 वर्ष से भी अधिक समय से कंटेंट राइटिंग कर रहे है। इनके द्वारा लिखा गया कंटेंट आपको कैसा लगा, कमेंट बॉक्स में जरूर बताएं। आप इनसे नीचे दिए सोशल मीडिया हैंडल पर जरूर जुड़े।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here