ओजोन दिवस क्यों मनाया जाता हैं? (कारण और महत्व)

World Ozone Day Kyu Manaya Jata Hai: पूरे विश्व में बढता हुआ प्रदूषण एक का चिंता का विषय बन गया है। दिन प्रतिदिन गाड़ियों की संख्या बढ़ती जा रही है और डीजल पेट्रोल पर चलने वाली गाड़ियों से निकलने वाले गैस से पूरी पृथ्वी पर प्रदूषण की मात्रा काफी ज्यादा बढ़ गई है।

इन सब चीजों के चलते ओजोन परत काफी कमजोर हो रहा है, जो हमें कई तरह की हानिकारक रोगों से बचाता है। इसलिए हम ओजोन दिवस मना रहे हैं ताकि लोगों को जागरूक कर सके और उन्हें ओजोन के बारे में सही जानकारी दे सके। अगर आप भी जानना चाहते हैं की ओजोन दिवस क्यों मनाया जाता हैं? तो आप इस वक्त बिल्कुल सही जगह पर है।

World Ozone Day Kyu Manaya Jata Hai
Image: World Ozone Day Kyu Manaya Jata Hai

आज हम आपको अपने इस लेख के माध्यम से वर्ल्ड ओजोन डे क्यों मनाते हैं? के बारे में पूरी जानकारी देने का प्रयास करेंगे। हम इसके साथ-साथ आपको यह भी बताएंगे कि ओजोन परत क्या होता है? और हमें अपने ओजोन परत को सुरक्षित रखने के लिए क्या-क्या करना चाहिए? आप इन सब चीजों के बारे में जानकारी प्राप्त करने के लिए हमारे इस लेख के साथ अंत तक बनी रहे।

ओजोन दिवस दिवस क्यों मनाया जाता हैं? (कारण और महत्व) | World Ozone Day Kyu Manaya Jata Hai

ओजोन परत क्या है?

अगर आप ओजोन दिवस क्यों मनाया जाता हैं? के बारे में जानकारी कट्ठा करना चाहते हैं तो, इससे पहले आपको यह जानना होगा कि ओजोन परत क्या होता है? तभी आपको ओजोन डे या फिर ओजोन के बारे में और जानने की इच्छा जागृत होगी।

ओजोन परत एक तरह का गैस है, जो सूर्य की पराबैंगनी किरणों को पृथ्वी पर आने से रोकता है। अगर ओजोन परत ना होता तो सूर्य की पराबैंगनी किरणें जो कि मनुष्य के लिए बहुत हानिकारक होती है वह पृथ्वी पर सीधा पड़ती, जिससे मनुष्य के साथ-साथ सभी जीवों को कई तरह के रोग हो जाते और कोई भी जीव पृथ्वी पर जीवित नहीं रह सकता।

आजकल बढ़ते प्रदूषण के कारण ओजोन परत में एक छेद हो गया है, जो छेद दिन प्रतिदिन बढ़ता चला जा रहा है। अगर ऐसे ही चलता रहा तो ओजोन परत नष्ट हो जाएगा और सूर्य की पराबैंगनी किरणें पृथ्वी पर आने लगेंगी जिससे सारे जीव खत्म हो जाएंगे। इसलिए हमें ओजोन परत को सुरक्षित रखने के लिए प्रदूषण कम करना होगा और अपने पर्यावरण की रक्षा स्वयं करनी होगी।

ओजोन दिवस कब मनाते हैं?

ओजोन को सुरक्षित रखने के लिए और ओजोन परत के बारे में सभी लोगों को जागृत करने के लिए पूरी दुनिया में 16 सितंबर को ओजोन दिवस मनाया जाता है। ताकि सभी लोगों को यह पता चल सके कि हमारे द्वारा फैलाए गए प्रदूषण की वजह से ओजोन परत में छेद हो गया है और वह छेद दिन प्रतिदिन बढ़ता जा रहा है जिससे हमें नुकसान हो रहा है। यह दिवस लगातार कई सालों से मनाया जा रहा है और इस दिवस को सिर्फ भारत में ही नहीं बल्कि पूरी दुनिया में मनाया जाता है।

ओजोन दिवस क्यों मनाया जाता हैं?

आज भी हमारे देश भारत में या फिर हम कह सकते हैं कि आज भी दुनिया में कई ऐसे लोग हैं जिन्हें ओजोन परत के बारे में जानकारी नहीं है। वह लोग यह भी नहीं जानते हैं कि ओजोन परत है, जो पराबैंगनी किरणों से हमें बचाता है। ओजोन दिवस उन्हीं लोगों के लिए खासकर मनाया जाता है। ओजोन दिवस को मनाने के पीछे सबसे बड़ा कारण यही है कि जो लोग ओजोन परत के बारे में ठीक से नहीं जान रहे हैं, उन लोगों को ओजोन परत के बारे में बढ़िया से जानकारी दी जाए और उनको जागरूक किया जाए।

ताकि उन्हें पता चले कि ओजोन परत हमारे द्वारा फैलाए गए प्रदूषण के कारण ही खतरे में है। ओजोन दिवस के दिन हमारे देश भारत के सहित पूरी दुनिया में ओजोन के बारे में बताया जाता है। टीवी पर ऐड दिखाकर, पेपर में न्यूज़ के माध्यम से, और भी कई तरह के विज्ञापनों के माध्यम से ओजोन परत के बारे में सभी लोगों को बताया जाता है और उन्हें यह समझाने का प्रयास किया जाता है कि वह कम से कम प्रदूषण फैलाने का प्रयास करें।

इसके साथ-साथ लोगों को यह भी बताया जाता है कि जितना ज्यादा हो सके लोग पेड़ पौधे लगाएं क्योंकि पेड़ पौधों की कमी से ही प्रदूषण की मात्रा में बढ़ोतरी हो रही है। अगर पेड़ पौधे ज्यादा लगाए जाते हैं तो हम प्रदूषण पर काबू पा सकते हैं।

ओजोन परत का क्या महत्व है

इतना सब कुछ पढ़ने के बाद आपके जेहन में यह प्रश्न उठ सकता है कि ओजोन परत का क्या महत्व है? कि हम ओजोन परत को बचाएं और क्यों? ओजोन परत को बचाने के लिए हमें इतनी बातें बताई जा रही हैं तो आइए हम आपको नीचे वाले पैराग्राफ में ओजोन परत के महत्व के बारे में बताते हैं ताकि आपको यह समझ आ सके कि क्यों ओजोन परत हमारे लिए या फिर सभी जीवो के लिए महत्वपूर्ण है और हमें इसे बचाना क्यों जरूरी है।

ओजोन परत सूर्य की पराबैंगनी किरणों के 99% भाग को सोख लेता है और सिर्फ 1% भाग को ही पृथ्वी पर आने देता है। अगर ओजोन परत नहीं रहेगा तो पराबैगनी किरणों का 100% भाग पृथ्वी पर आएगा और कोई भी प्राणी जीवित नहीं बचेंगे। इसलिए हमें ओजोन परत को बचाना बेहद जरूरी है क्योंकि अगर हम ओजोन परत को नहीं बचाएंगे तो हम भी पृथ्वी पर जीवित नहीं रह पाएंगे।

FAQ

ओजोन दिवस कब मनाया जाता है?

ओजोन दिवस हर साल 16 सितंबर को मनाया जाता है?

ओजोन दिवस मनाने के पीछे क्या कारण है?

ओजोन दिवस मनाने के पीछे यही कारण है कि सभी लोगों को इसके बारे में बताया जाए और उनको जागरूक किया जाए ताकि वह लोग प्रदूषण कम से कम फैलाएं।

ओजोन दिवस कहां-कहां मनाया जाता है?

ओजोन परत पूरी पृथ्वी को पराबैगनी किरणों से बचाता है इसलिए पूरी दुनिया में ओजोन दिवस को मनाया जाता है।

निष्कर्ष

आज हमने आपको इस लेख के माध्यम से ओजोन दिवस दिवस क्यों मनाया जाता हैं? (कारण और महत्व) ( World Ozone Day Kyu Manaya Jata Hai) के बारे में पूरी जानकारी प्राप्त कराई। इसके साथ-साथ हमने आपको यह भी बताया कि ओजोन परत का हमारे जीवन में क्या महत्व है और ओजोन परत को हमें क्यों बचाना चाहिए?

अगर यह लेख आपको पसंद आया और ओजोन परत के बारे में सारी जानकारी समझ में आ गई तो, आप इसे अपने दोस्तों के साथ साथ अपने सोशल मीडिया पर शेयर जरूर करें। ताकि आपसे जुड़े सभी व्यक्तियों को ओजोन परत के बारे में जानकारी हो जाए और वह भी ओजोन परत की रक्षा करने में हमारी मदद करें।

यह भी पढ़ें:

हिंदी दिवस कब और क्यों मनाया जाता है?

फ्रेंडशिप डे कब और क्यों मनाया जाता है?

रथ यात्रा क्यों मनाई जाती हैं? इतिहास और प्रचलित कथा

होली क्यों मनाई जाती है? इतिहास और महत्व