हिंदी दिवस कब और क्यों मनाया जाता है?

Hindi Diwas Kyu Manaya Jata Hai: हर साल हिंदी दिवस का पावन त्योहार पूरे भारतवर्ष में 14 सितंबर को मनाया जाता है। इस साल भी हिंदी दिवस का त्यौहार भारत के अलग-अलग संस्थानों में विभिन्न समारोह के द्वारा आयोजित किया जाएगा।

मगर क्या आपको पता है हिंदी दिवस क्यों मनाया जाता है? आखिर हिंदी दिवस क्या है और इसे मनाने की प्रक्रिया क्या है इसके बारे में विस्तार पूर्वक आज के लेख में चर्चा की गई है।

Hindi Diwas Kyu Manaya Jata Hai
Image: Hindi Diwas Kyu Manaya Jata Hai

भारत की 70% जनसंख्या हिंदी भाषा समझती है और भारत में सबसे अधिक बोले जाने वाली भाषा हिंदी है। 1949 में हिंदी भाषा को मुख्य केंद्र भाषा के रूप में स्थान दिया गया था। इसके बाद 1953 से हिंदी दिवस मनाने की परंपरा शुरू की गई थी।

मगर बहुत सारे लोगों को नहीं मालूम है कि हिंदी दिवस क्यों मनाया जाता है और यह परंपरा किसने कैसे शुरू की थी। हम आज आपको हिंदी दिवस से जुड़ी कुछ रोचक जानकारी बताने जा रहे हैं तो हमारे लेख के साथ अंत तक बनी रहे।

हिंदी दिवस कब और क्यों मनाया जाता है? | Hindi Diwas Kyu Manaya Jata Hai

हिंदी दिवस 2022

हिंदी दिवस हर साल 14 सितंबर को मनाया जाता है। हिंदी दिवस के दिन अलग-अलग संस्थानों में हिंदी दिवस पर भाषण और विभिन्न प्रकार की प्रतियोगिताओं का आयोजन किया जाता है। इसके अलावा हिंदी साहित्यकार को सरकार की तरफ से उनके अतुलनीय कार्य के लिए पुरस्कार दिया जाता है। हिंदी दिवस हर साल मनाने का मकसद भारत में हिंदी के प्रचार प्रसार से है।

मगर हम आपको यह भी बता दे कि 10 जनवरी को विश्व हिंदी सम्मेलन मनाया जाता है। बहुत कम लोगों को पता है कि 1975 में हिंदी भाषा के वैश्विक स्तर पर महत्व को समझते हुए हिंदी को विश्व में प्रचलित करने के लिए 10 जनवरी 1975 को कुछ देशों ने मिलकर हिंदी विश्व सम्मेलन मनाया था।

इस मुख्य दिन को चिन्हित करने के लिए हर साल 10 जनवरी को विश्व हिंदी सम्मेलन के रूप में मनाया जाता है। विश्व हिंदी सम्मेलन का मुख्य मकसद विश्वभर में हिंदी भाषा के प्रचार-प्रसार से जुड़ा है। वर्तमान समय में हिंदी भाषा विश्व की तीसरी सबसे अधिक बोले जाने वाली भाषा है, इससे पहले अंग्रेजी और चीनी भाषा आती है।

हिंदी दिवस क्यों मनाया जाता है?

भारत में हिंदी दिवस का त्यौहार 14 सितंबर को मनाया जाता है। दरअसल 14 सितंबर 1949 को एक विधानसभा सम्मेलन में हिंदी भाषा को केंद्र सरकार के द्वारा भारत की राजभाषा घोषित की गई थी। इसके पीछे कारण था कि हिंदी भाषा भारत में सबसे अधिक बोली जाती है, इस वजह से उसे राजभाषा का मान दिया गया।

इस निर्णय पर हिंदी को हर क्षेत्र में प्रसारित करने के ऊपर सवाल उठे। कुछ लोगों का मानना था कि हिंदी भाषा को राजभाषा मान लिया गया है मगर भारत के हर क्षेत्र में हिंदी भाषा प्रचलित नहीं है। कुछ दिनों तक है इसके ऊपर विवाद चले जिसके बाद 14 सितंबर 1953 को हिंदी दिवस मनाने के रूप में घोषणा की गई, जिसका मकसद भारत में हिंदी भाषा के प्रचार-प्रसार से जुड़ा था।

14 सितंबर 1953 को एक केंद्र सरकार की बैठक में यह घोषित किया गया कि भारत में हिंदी भाषा को प्रचलित करने और एक सम्मान देने के लिए हर साल 14 सितंबर को भारत में हिंदी दिवस के रूप में मनाया जाएगा।

गौरतलब है कि हिंदी दिवस के पावन अवसर पर हिंदी भाषा के महान साहित्यकार व्यवहार राजेंद्र सिंह का जन्म दिवस है। एक तरह से हिंदी दिवस पर अपने महान साहित्यकार पुण्य तिथि भी हिंदी दिवस के अवसर पर मनाता है।

हिंदी दिवस कैसे मनाया जाता है?

हिंदी दिवस का त्यौहार हर साल 14 सितंबर को मनाया जाता है इस दिन अलग-अलग संस्थानों में हिंदी भाषा पर विचार विमर्श किया जाता है। हिंदी दिवस के दिन अलग-अलग साहित्यकारों के द्वारा अलग-अलग समारोह का आयोजन किया जाता है, जिसमें हिंदी दिवस पर भाषण और अलग-अलग हिंदी कृति को प्रस्तुत किया जाता है।

हिंदी दिवस के पावन अवसर पर सरकार के तरफ से भी हिंदी भाषा में कार्य करने वाले साहित्यकार और कवियों को अलग-अलग तरह के पुरस्कार से सम्मानित किया जाता है। हिंदी भाषा को भारत की मातृभाषा के रुप में देखना उसे सम्मान देना और पूरे भारत में ही नहीं विश्व भर में इसका प्रचार प्रसार करना हिंदी दिवस का मुख्य मकसद है। इस वजह से हिंदी दिवस हर साल अलग-अलग तरीके से अलग-अलग साहित्यकारों के द्वारा मनाया जाता है।

FAQ

इस साल हिंदी दिवस कब मनाया जाएगा?

इस साल के हिंदी दिवस का त्यौहार 14 सितंबर 2022 को मनाया जाएगा।

हिंदी दिवस का त्यौहार क्यों मनाया जाता है?

हिंदी दिवस का त्यौहार भारत में हिंदी भाषा के प्रचार-प्रसार और हिंदी भाषा के महत्व को बढ़ाने के लिए मनाया जाता है।

हिंदी दिवस के दिन क्या होता है?

हिंदी दिवस के दिन हिंदी भाषा की अलग-अलग प्रीति विभिन्न संस्थानों द्वारा प्रस्तुत की जाती है, अलग-अलग तरह के हिंदी भाषा से जुड़े समारोह आयोजित करवाए जाते है, इसके अलावा हिंदी दिवस के अवसर पर सरकार हिंदी भाषा में अतुलनीय काम करने वाले साहित्यकारों को विभिन्न प्रकार के पुरस्कार से सम्मानित करती है।

निष्कर्ष

आज इस लेख में हमने आपको हिंदी दिवस कब मनाते हैं और हिंदी दिवस क्यों मनाया जाता है के बारे में विस्तार पूर्वक जानकारी दी है। उम्मीद करते हैं आपको यह लेख पसंद आया होगा, इसे आगे शेयर जरुर करें। यदि आपका कोई सवाल या सुझाव हैं तो कमेंट बॉक्स में जरुर बताएं।

यह भी पढ़े

हिंदी दिवस पर स्टेटस

हिंदी दिवस पर शायरी

हिंदी दिवस पर बधाई सन्देश

इनका नाम राहुल सिंह तंवर है। इनकी रूचि नई चीजों के बारे में लिखना और उन्हें आप तक पहुँचाने में अधिक है। इनको 4 वर्ष से अधिक SEO का अनुभव है और 6 वर्ष से भी अधिक समय से कंटेंट राइटिंग कर रहे है। इनके द्वारा लिखा गया कंटेंट आपको कैसा लगा, कमेंट बॉक्स में जरूर बताएं। आप इनसे नीचे दिए सोशल मीडिया हैंडल पर जरूर जुड़े।