स्वामी विवेकानंद के सर्वश्रेष्ठ और प्रेरणादायक सुविचार

स्वामी विवेकानंद के सर्वश्रेष्ठ और प्रेरणादायक सुविचार (Swami Vivekananda Quotes in Hindi)-12 जनवरी 1863 को कोलकता (Kolkata) में जन्मे प्रेरणा के अपार स्रोत स्वामी विवेकानन्द (Swami Vivekananda) की कही बात हर युवा में नई ऊर्जा भर देती है। कम आयु में ही स्वामी जी ने भारत और हिंदूत्व की छाप पूरे विश्व में छोड़ दी थी। आज मैं स्वामी जी के कुछ सुविचार शेयर करने जा रहा हूँ, मैं उम्मीद करता हूँ कि यह आपको पसंद आयेंगे।

Swami Vivekananda Quotes in Hindi

स्वामी विवेकानंद के सर्वश्रेष्ठ और प्रेरणादायक सुविचार (Swami Vivekananda Quotes in Hindi):

  1. उठो, जागो और तब तक नहीं रूको, जब तक लक्ष्य ना प्राप्त हो जाये।
  2. खुद को कमजोर समझना सबसे बड़ा पाप हैं।
  3. जो दूसरो से घृणा (Hatred) करते हैं, वो खुद को दूषित करते है।
  4. एक शब्द में, यह आदर्श है कि तुम परमात्मा हो
  5. ब्रह्माण्ड की सारी शक्तियां पहले से हमारी हैं। वो हम ही हैं, जो अपनी आँखों पर हाथ रख लेते हैं और फिर रोते हैं कि कितना अन्धकार है।
  6. कभी ना मत कहो, कभी न कहो की  ‘मैं नहीं कर सकता’, क्योंकि आप अनंत हैं। सभी शक्ति आप के भीतर है। आप कुछ भी कर सकते हैं।
  7. तुम्हें कोई पढ़ा नहीं सकता, कोई आध्यात्मिक नहीं बना सकता। तुमको सब कुछ खुद अंदर से सीखना है। आत्मा से अच्छा कोई शिक्षक नही है।
  8. डर और अधूरी इच्छाएँ आपके दुखों का कारण है।
  9. सत्य को हजार तरीकों से बताया जा सकता है, फिर भी हर एक सत्य ही होगा
  10. उस व्यक्ति ने अमरत्व प्राप्त कर लिया है, जो किसी सांसारिक वस्तु से व्याकुल नहीं होता।

इसे भी पढ़ें: गाँधी जी के द्वारा कहे गए अनमोल वचन।

स्वामी विवेकानंद के सर्वश्रेष्ठ और प्रेरणादायक सुविचार (Swami Vivekananda Quotes in Hindi):

  1. कभी भी बड़ी योजना का हिसाब मत लगाओ, धीरे धीर शुरू करें, अपनी ज़मीन बनाये और धीरे धीरे उसे बढ़ाएं।
  2. विश्व एक विशाल व्यायामशाला है। जहाँ हम खुद को मजबूत बनाने के लिए आते हैं।
  3. मजबूती में जीवन है और कमजोरी में हार।
  4. भगवान की एक परम प्रिय के रूप में पूजा की जानी चाहिए। इस या अगले जीवन की सभी चीजों से बढ़कर
  5. जब तक आप खुद पे विश्वास नहीं करते, तब तक आप भागवान पे विश्वास नहीं कर सकते।
  6. इच्छा, अज्ञानता और असमानता-यह बंधन की त्रिमूर्ति है।
  7. दिल और दिमाग के टकराव में दिल की सुनो।
  8. भला हम भगवान को खोजने कहाँ जा सकते हैं। अगर उसे अपने हृदय और हर एक जीवित प्राणी में नहीं देख सकते
  9. ब्रह्मांड का असीम पुस्तकालय आपके मन में है।
  10. शक्ति जीवन है, निर्बलता मृत्यु है। विस्तार जीवन है, संकुचन मृत्यु है। प्रेम जीवन है, द्वेष मृत्यु है।

इसे भी पढ़ें: चाणक्य के जिन्दगी जीने का तरीका बदल देने वाले प्रेरणादायी सुविचार।

स्वामी विवेकानंद के सर्वश्रेष्ठ और प्रेरणादायक सुविचार (Swami Vivekananda Quotes in Hindi):

Swami Vivekananda Quotes in Hindi

  1. आपका जितना बड़ा संघर्ष होगा, उतनी बड़ी आपकी जीत भी होगी।
  2. किसी दिन, जब आपके सामने कोई समस्या ना आये,आप सुनिश्चित हो सकते हैं कि आप गलत मार्ग पर चल रहे हैं
  3. उठो और तब तक नही रुको जब तक कामयाब न हो जाओ।
  4. पहले हर अच्छी बात का मजाक होता है, फिर विरोध होता है और अंत में उसे स्वीकारा जाता है।
  5. खुद को कमजोर समझना सबसे बड़ा पाप है
  6. धन्य हैं वो लोग, जिनके शरीर दूसरों की सेवा करने में नष्ट हो जाते हैं
  7. एक समय में एक काम करो, और ऐसा करते समय अपनी पूरी आत्मा उसमे डाल दो और बाकी सब कुछ भूल जाओ।
  8. मन की शक्ति सूरज की किरणों की तरह होती है, जब वे केंद्रित होती हैं तो वे चमक उठती हैं।
  9. किसी चीज से डरो मत। तुम अद्भुत काम करोगे। यह निर्भयता ही है, जो क्षण भर में परम आनंद लाती है।
  10. उठो मेरे शेरो और ये भ्रम मिटा दो कि तुम निर्बल हो।

इसे भी पढ़ें: ओशो के चुनिन्दा अनमोल विचारों का संग्रह।

स्वामी विवेकानंद के सर्वश्रेष्ठ और प्रेरणादायक सुविचार (Swami Vivekananda Best Quotes in Hindi):

  1. “जब तक जीना, तब तक सीखना” – अनुभव ही जगत में सर्वश्रेष्ठ शिक्षक है।
  2. चिंतन करो, चिंता नहीं, नए विचारों को जन्म दो।
  3. कुछ मत पूछो, बदले में कुछ मत मांगो। जो देना है वो दो, वो तुम तक वापस आएगा, पर उसके बारे में अभी मत सोचो।
  4. जब लोग तुम्हे गाली दें, तो तुम उन्हें आशीर्वाद दो। सोचो, तुम्हारे झूठे दंभ को बाहर निकालकर वो तुम्हारी कितनी मदद कर रहे हैं।
  5. जब आप व्यस्त होते हैं तो सब कुछ आसान लगता है, लेकिन आलसी होने पर कुछ भी आसान नहीं लगता।
  6. हम जो बोते हैं वो काटते हैं। हम स्वयं अपने भाग्य के निर्माता हैं।
  7. आप किसी की निंदा न करें, अगर हो सके तो किसी की सेवा करे।
  8. मानव सेवा ही ईश्वर की सेवा है
  9. जो कुछ भी तुमको कमजोर बनाता है – शारीरिक, बौद्धिक या मानसिक उसे जहर की तरह त्याग दो।
  10. बाहरी स्वरूप हमारे अंदरुनी स्वरूप का बड़ा रूप है।

इसे भी पढ़ें: संदीप माहेश्वरी के प्रेरक और प्रेरणादायी विचार।

“स्वामी विवेकानंद के सर्वश्रेष्ठ और प्रेरणादायक सुविचार (Swami Vivekananda Quotes in Hindi)” पसंद आये तो इसे अपने दोस्तों और परिवार के साथ शेयर जरूर करें।

2 COMMENTS

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here