प्रकाश माली (भजन सम्राट) का जीवन परिचय

Prakash Mali Biography in Hindi: नमस्कार दोस्तों, आज हम आप सभी लोगों को अपने इस महत्वपूर्ण लेख के माध्यम से बताने वाले हैं, राजस्थान के एक ऐसे संगीत सम्राट के विषय में, जिन्होंने ना केवल राजस्थान में ही बल्कि पूरे भारत में अपनी एक अलग पहचान बना ली है। इतना ही नहीं इन्होंने हाल ही में हुए नेपाल संगीत प्रोग्राम में हिस्सा लिया और जीत भी हासिल की।

इन्हें बचपन से ही संगीत एवं गायन प्रतिभा का काफी शौक था। इसीलिए उन्होंने बचपन से ही संगीत की दुनिया में अपना कदम रख दिया था। इन्होंने अपनी स्कूली पढ़ाई के साथ साथ संगीत के क्षेत्र में भी जोड़ना उचित समझा। उन्होंने बचपन से युक्त अनेकों मुश्किलों का सामना किया और इन सभी मुश्किलों का सामना करने के बाद ही यह वर्तमान समय में प्रसिद्ध भजन सम्राट कहे जाते हैं।

हमारे इतना कहने के बाद आप लोग तो समझ गए होंगे कि हम किसकी बात कर रहे हैं। जी हां, आप सभी लोगों ने बिल्कुल ही सही समझा हम बात कर रहे हैं, राजस्थान के एक प्रसिद्ध संगीतकार प्रकाश माली के विषय में। प्रकाश माली ने अपने गायन प्रतिभा से ना केवल राजस्थान बल्कि संपूर्ण विश्व भर में अपने आप को एक प्रसिद्ध एवं सम्माननीय व्यक्तियों के लिस्ट में शामिल किया।

इनकी गायन प्रतिभा से लोग इतने ज्यादा प्रभावित हुए हैं कि इन्हें भारत के प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी जी से मिलने का मौका मिला। आज आप सभी लोगों को हमारे द्वारा लिखे गए इस महत्वपूर्ण लेख में संगीत सम्राट विकास माली के विषय में संपूर्ण जानकारियां विस्तार पूर्वक से जानने को मिलेगा।

Image: Prakash Mali Biography in Hindi

आज आप सभी लोगों को इस लेख में जानने को मिलेगा कि संगीत सम्राट प्रकाश माली कौन हैं? प्रकाश माली का जन्म कब हुआ था? प्रकाश माली का पारिवारिक संबंध, प्रकाश माली को प्राप्त शिक्षा, प्रकाश माली का कैरियर, प्रकाश माली का प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से मिलाप इत्यादि। यदि आप प्रकाश माली के विषय में संपूर्ण जानकारी प्राप्त करना चाहते हैं, तो इस लेख के साथ अंत तक अवश्य बने रहें।

प्रकाश माली (भजन सम्राट) का जीवन परिचय | Prakash Mali Biography in Hindi

प्रकाश माली के विषय में संक्षिप्त जानकारी

नामप्रकाश माली
जन्म23 अगस्त 1981
उम्र40 वर्ष
माताज्ञात नहीं
पिताबंसी लाल जी माली
दादाजीकेसाराम माली
भाईगजेंद्र, महेंद्र
वैवाहिक स्थितिविवाहित
पत्नी का नामभावना
बच्चेहर्षित माली और लक्षित माली
पेशाभजन सम्राट

प्रकाश माली कौन है?

प्रकाश माली राजस्थान के एक जाने-माने भजन सम्राट हैं। प्रकाश माली जी ने अपने जीवन में यह प्रसिद्धि हासिल करने के लिए अनेकों प्रकार के संघर्षों का सामना किया और संघर्षों का सामना करने के बाद ही वर्तमान समय में प्रकाश माली इस मुकाम तक पहुंचे हैं। प्रकाश माली जी ने अपनी गायन प्रतिभा के कारण संपूर्ण राजस्थान के साथ-साथ संपूर्ण भारतवर्ष में भी अपने गायन प्रतिभा का झंडा गाढ़ा।

वर्तमान समय में प्रकाश माली जी के भजनों को सुनने के लिए लाखों करोड़ों की संख्या में लोग आते हैं और इनके कैंपों के माध्यम से इनके भजन सुनते हैं और इनका आनंद उठाते हैं। आज के समय में प्रकाश माली जी की आवाज को न केवल राजस्थान बल्कि संपूर्ण विश्व भर में जाना जाता है। इन्होंने अपनी आवाज प्रतिभा के दम पर संपूर्ण विश्व भर में अपनी एक अलग पहचान बना ली है।

प्रकाश माली जी ने अभी हाल ही में हुए एक संगीत प्रोग्राम में हिस्सा लिया जिसे भारत में नहीं बल्कि भारत के पड़ोसी देश नेपाल में आयोजित किया गया था। इन्होंने नेपाल में आयोजित इस प्रोग्राम में हिस्सा लिया और अपनी गायन प्रतिभा के दम पर विजई घोषित हुए। इन्होंने जब नेपाल में जाकर अपने गायन प्रतिभा का उल्लेख करना शुरू किया, तो इनकी आवाज के हजारों दीवाने नेपाल में भी नजर आने लगे हैं।

प्रकाश माली जी ने बचपन से ही संगीत की दुनिया में अपना कदम रख दिया था। इन्होंने अपने बचपन से ही अपनी स्कूली पढ़ाई के साथ साथ संगीत के क्षेत्र में जुड़ गए। ऐसा कहा जाता है कि प्रकाश माली जी का बचपन से ही संगीत के क्षेत्र में विशेष आकर्षण था, इसीलिए उन्होंने अपने करियर में संगीत को ही विशेष स्थान दिया। प्रकाश माली जी ने अपने गायन प्रतिभा से ना केवल देश के नागरिकों को बल्कि देश के प्रधानमंत्री को भी प्रभावित कर दिया।

प्रकाश माली जी ने अपने बचपन से ही संगीत के क्षेत्र में अपना करियर बनाने के लिए अनेकों प्रकार की मुश्किलों का सामना किया। इन सभी मुश्किलों का सामना करने के बाद ही आज वर्तमान समय में प्रकाश माली जी एक प्रसिद्ध कलाकार के रूप में सामने आए हैं।

प्रकाश माली जी के भजन ने आज हमारे भारत के प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी जी को भी अपने गायन प्रतिभा से प्रभावित किया और प्रधानमंत्री जी ने इनके गायन प्रतिभा का प्रशंसा भी किया है और हाल ही में प्रकाश माली जी की एक भजन को बाड़मेर मे रिफाइनरी के उद्घाटन के समय में प्रधानमंत्री जी ने काफी पसंद किया। प्रधानमंत्री जी के द्वारा पसंद किए गए इस गाने का नाम  “चौकीदार चौकीदार हम हैं देश के चौकीदार” था।

प्रकाश माली जी को इनके माता-पिता का विशेष योगदान मिला और उनके दादाजी ने इन्हें गायन प्रतिभा में बढ़ चढ़कर हिस्सा लेने के लिए प्रभावित किया। प्रकाश माली जी के माता पिता ने और इनके दादा जी ने मिलकर सदैव इनका हौसला बढ़ाया। प्रकाश माली जी ने अपनी उपलब्धि का श्रेय सिर्फ और सिर्फ अपने माता-पिता और अपने दादा जी को दिया। इनका कहना है कि यदि इनके माता-पिता और दादा जी नहीं होते, तो शायद यह आज इस उपलब्धि तक नहीं पहुंच पाते हैं।

प्रकाश माली जी का जन्म

आइए हम सभी लोग जानकारी प्राप्त करते हैं संगीत सम्राट प्रकाश माली जी के जन्म के विषय में। प्रकाश माली जी का जन्म 23 अगस्त 1981 ईस्वी में हुआ था। प्रकाश माली जी का जन्म राजस्थान के बालोतरा शहर के पास में स्थित एक गांव शिवकर में हुआ था। हालांकि जन्म के 4 वर्ष बाद ही उन्होंने उस स्थान को त्याग कर बालोतरा शहर में ही रहना पसंद किया और वर्तमान समय में यह लोग इसी शहर में रहते हैं।

प्रकाश माली जी के माता पिता और उनके दादाजी जब बालोतरा शहर में रहने आए थे, तब यहां पर इनका कोई भी घर नहीं था। इन्होंने धीरे-धीरे विकसित तौर पर अपना घर बनवाना शुरू किया। बाद में धीरे-धीरे इनके घर में विकाश होता गया। वर्तमान समय में इनका घर दो मंजिला है और इनके पूरे घर में अच्छे तरीके से डेकोरेशन किया गया है, इतना ही नहीं उनके घर के बाहर हरियाली के लिए झाड़ियां छोटे छोटे पेड़ पौधे इत्यादि लगाए गए हैं।

प्रकाश माली जी का पारिवारिक संबंध

प्रकाश माली जी के जन्म के 4 वर्ष बाद ही इनका पूरा परिवार बालोतरा शहर में ही रहने आ गया था। वर्तमान समय में प्रकाश माली के पिता और दादा जी उनके साथ ही रहते हैं। प्रकाश माली के के पिता का नाम बंसी लाल माली है, परंतु यह क्या करते थे इसके विषय में अब तक किसी को भी कोई जानकारी प्राप्त नहीं है। प्रकाश माली जी के दादाजी का नाम केसाराम माली है और इन्होंने ही प्रकाश माली को गायन के लिए उत्सुक किया।

प्रकाश माली जी के माता का नाम वर्तमान समय में किसी भी व्यक्ति को प्राप्त नहीं है। यदि आप सभी लोग प्रकाश माली की माता के विषय में जानकारी प्राप्त करना चाहते हैं तो तब तक के लिए कृपया आप हमारे इस वेब पेज के नोटिफिकेशन बेल को ऑन कर लीजिए। ताकि जैसे ही इस लेख को अपडेट किया जाए आप तक नोटिफिकेशन सबसे पहले पहुंचे और आप इनके परिवार के विषय में जानकारियां प्राप्त कर सकें।

Reed also

प्रकाश माली जी को प्राप्त शिक्षा

प्रकाश माली जी ने अपनी शिक्षा बालोतरा शहर से ही प्राप्त की और इन्होंने बालोतरा शहर में ही रहकर अपनी गायन प्रतिभा को भी विकसित किया। प्रकाश माली जी ने अपने गायन प्रतिभा पर भी यहीं से विशेष ध्यान दिया और अपने स्कूली समय से ही संध्या भजन के क्षेत्र में विशेष रूचि होने के कारण इन्होंने भजन गाना शुरू कर दिया। ऐसा भी कहा जाता है कि यह स्कूल में प्रार्थना के समय प्रार्थना को बड़े ही मन मुग्ध होकर गाया करते थे और भजन में काफी ज्यादा लीन हो जाते थे।

प्रकाश माली जी का व्यक्तिगत जीवन

आइए अब जानकारी प्राप्त करते हैं, प्रकाश माली जी के व्यक्तिगत जीवन के विषय में। प्रकाश माली जी वर्तमान समय में विवाहित हैं और इन्होंने 1 दिसंबर वर्ष 2002 में विवाह कर लिया। इनकी पत्नी का नाम भावना है। प्रकाश माली जी के दो पुत्र है, जिनके नाम हर्षित माली और लक्षित माली है।

प्रकाश माली जी का कैरियर

जैसा कि हमने आप सभी लोगों को ऊपर बताया कि प्रकाश माली जी का जीवन बड़े ही संघर्षों से भरा हुआ रहा है। प्रकाश माली जी ने अपने करियर की शुरुआत से ही अनेकों प्रकार के संघर्षों का सामना किया। प्रकाश माली जी जब स्कूल में पढ़ाई कर रहे थे, तभी से इनका ध्यान संगीत की तरफ आकर्षित हुआ और इन्होंने अपने स्कूल के समय से ही अपने करियर की शुरुआत कर दी।

इन्होंने संगीत की तरफ विशेष रूचि होने के कारण प्रार्थना के समय ही अपने स्कूल की प्रार्थना को बड़े ही मन मुक्त होकर गाते थे और अपने बचपन में ही अनेकों प्रकार के रात्रि जागरण में हिस्सा लेते थे। प्रकाश माली जी ने अनेकों प्रकार के गाने गाए हैं। अतः इन के गानों की सराहना न केवल भारत के नागरिक बल्कि भारत के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने भी की है।

प्रकाश माली जी ने धीरे-धीरे अपने गायन प्रतिभा को और भी ज्यादा मनमोहक बनाना शुरू किया और इन्होंने वाद्य यंत्रों को बजाना भी सीखा इन्होंने वीणा, पेटी इत्यादि वाद्य यंत्रों को बजाना सीख लिया है। प्रकाश माली जी ने अपने शिक्षा के साथ-साथ गायन में भी राज्य स्तरीय प्रोग्राम में प्रथम स्थान पर आकर लोगों को अपना दीवाना बना लिया और धीरे धीरे प्रकाश माली जी ने अपनी गायन प्रतिभा के कारण संपूर्ण राजस्थान के साथ-साथ संपूर्ण भारतवर्ष में भी अपने गायन प्रतिभा का झंडा गाढ़ा।

प्रकाश माली जी ने अभी हाल ही में हुए एक संगीत प्रोग्राम में हिस्सा लिया जिसे भारत में नहीं बल्कि भारत के पड़ोसी देश नेपाल में आयोजित किया गया था। इन्होंने नेपाल में आयोजित इस प्रोग्राम में हिस्सा लिया और अपनी गायन प्रतिभा के दम पर विजई घोषित हुए। इन्होंने जब नेपाल में जाकर अपने गायन प्रतिभा का उल्लेख करना शुरू किया, तो इनकी आवाज के हजारों दीवाने नेपाल में भी नजर आने लगे हैं।

प्रकाश माली जी ने बचपन से ही संगीत की दुनिया में अपना कदम रख दिया था। इन्होंने अपने बचपन से ही अपनी स्कूली पढ़ाई के साथ साथ संगीत के क्षेत्र में जुड़ गए। ऐसा कहा जाता है, कि प्रकाश माली जी का बचपन से ही संगीत के क्षेत्र में विशेष आकर्षण था, इसीलिए उन्होंने अपने करियर में संगीत को ही विशेष स्थान दिया। प्रकाश माली जी ने अपने गायन प्रतिभा से ना केवल देश के नागरिकों को बल्कि देश के प्रधानमंत्री को भी प्रभावित कर दिया।

प्रकाश माली जी ने अपने बचपन से ही संगीत के क्षेत्र में अपना करियर बनाने के लिए अनेकों प्रकार की मुश्किलों का सामना किया। इन सभी मुश्किलों का सामना करने के बाद ही आज वर्तमान समय में प्रकाश माली जी एक प्रसिद्ध कलाकार के रूप में सामने आए हैं। प्रकाश माली जी के पिताजी ने इन्हें एक बार काफी डांटा भी था इसी कारण इन्होंने अपने गांव से लगभग 100 किलोमीटर दूर तक साइकिल चलाकर अपने दादाजी के पास रहने चले गए और यहीं से उन्होंने संगीत प्रतिभा में प्रसिद्धि हासिल की।

प्रकाश माली जी को इनके माता-पिता का विशेष योगदान मिला और उनके दादाजी ने इन्हें गायन प्रतिभा में बढ़ चढ़कर हिस्सा लेने के लिए प्रभावित किया। प्रकाश माली जी के माता पिता ने और इनके दादा जी ने मिलकर सदैव इनका हौसला बढ़ाया। प्रकाश माली जी ने अपनी उपलब्धि का श्रेय सिर्फ और सिर्फ अपने माता-पिता और अपने दादा जी को दिया। इनका कहना है कि यदि इनके माता-पिता और दादा जी नहीं होते तो शायद यह आज इस उपलब्धि तक नहीं पहुंच पाते हैं।

प्रकाश माली जी ने कुछ समय बाद राजस्थान के प्रसिद्ध गीत प्रस्तुत किए और इन गीतों के माध्यम से इन्होंने विशेष प्रसिद्धि हासिल की। प्रकाश माली जी ने अपने प्रसिद्ध गीत के रूप में जैसल धाड़वी और महाराणा प्रताप के गीत गाएं और देखते ही देखते प्रसिद्ध हो गए। इसके बाद प्रकाश माली जी को अनेकों म्यूजिक कंपनियों से ऑफर आने लगे और इनके द्वारा गाए गए सभी गाने पूरे राजस्थान में प्रसिद्ध होने लगे।

निष्कर्ष

हम आप सभी लोगों से उम्मीद करते हैं कि आप सभी लोगों को हमारे द्वारा लिखा गया यह महत्वपूर्ण लेख “प्रकाश माली (भजन सम्राट) का जीवन परिचय (Prakash Mali Biography in Hindi)” अवश्य ही पसंद आया होगा।

यदि आप सभी लोगों को हमारे द्वारा लिखा गया यह महत्वपूर्ण लेख वाकई में पसंद आया हो तो कृपया आप सभी लोग हमारे द्वारा लिखे गए इस महत्वपूर्ण लेख को अवश्य शेयर करें। यदि आपके मन में इस लेख को लेकर किसी भी प्रकार का कोई सवाल या सुझाव है तो कमेंट बॉक्स में हमें अवश्य बताएं।

Reed also

इनका नाम राहुल सिंह तंवर है, इन्होंने स्नातक (रसायन, भौतिक, गणित) की पढ़ाई की है और आगे की भी जारी है। इनकी रूचि नई चीजों के बारे में लिखना और उन्हें आप तक पहुँचाने में अधिक है। इनको 3 वर्ष से भी अधिक SEO का अनुभव होने के साथ ही 3.5 वर्ष का कंटेंट राइटिंग का अनुभव है। इनके द्वारा लिखा गया कंटेंट आपको कैसा लगा, कमेंट बॉक्स में जरूर बताएं। आप इनसे नीचे दिए सोशल मीडिया हैंडल पर जुड़ सकते हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here