विश्व सुंदरी मानुषी छिल्लर का जीवन परिचय

Manushi Chhillar Biography: चीन का शानदार सान्या शहर जो मानुषी छिल्लर के जीवन में एक बड़ा बदलाव लेकर आया। मानुषी बहुत ही कम उम्र वाली लड़की हैं, जिन्होंने अपनी सुंदरता और अपनी खूबसूरती के बल पर ‘विश्व सुंदरी’ (Miss World 2017) का ख़िताब वर्ष 2017 में अपने नाम किया था।

इनकी खूबसूरती का लोहा पूरा विश्व मानने के लिए मजबूर हो गया था। भारत के एक छोटे से राज्य से ‘विश्व सुंदरी’ Miss – World बनने वाली पहली ऐसी लड़की है, जिन्होंने अभिनेत्री Priyanka Chopra के बाद छठवीं बार मिस वर्ल्ड का खिताब अपने नाम करने में सफल रही थी।

Manushi Chhillar की योग्यताओं और सुंदरता को देखते हुए विश्व सुंदरी का दर्जा प्राप्त हुआ है। आइए जानते हैं, Manushi Chhillar Kaun Hai? उनकी शादी Marriage और उनके विश्व सुंदरी बनने तक के सफर के बारे में। बस आप हमारे इस “मानुषी छिल्लर का जीवन परिचय” लेखक को अंत तक अवश्य पढ़ें।

मानुषी छिल्लर की जीवनी – Manushi Chhillar Biography

मानुषी छिल्लर का जीवन परिचय – Manushi Chhillar Biography in Hindi

जन्म14 मई 1997
पिता का नामडॉ मित्रा (साइंटिस्ट)
माता का नामडॉ नीलम (असिस्टेंट प्रोफेसर )
पहचानमॉडल
लम्बाई    175 सेंटी मीटर
बालों का रंगब्राउन
आंखो का रंगब्राउन
Manushi Chillar Age23 वर्ष
पसंदीदा अभिनेता बॉलीवुडआमिर खान, रणवीर सिंह
पसंदीदा नेतानरेंद्र मोदी
शरीर आकार (लगभग)34-26-34
वजन (लगभग)55 kg
Manushi Chhillar InstagramClick Here
खिताबफेमिना मिस इंडिया 2017
मिस वर्ल्ड 2017
ब्युटी पेगेयंट
अन्य कलानृत्य
manushi-chhillar-biography

भारत एवं हरियाणा राज्य का नाम रोशन करने वाली मानुषी छिल्लर का जन्म हरियाणा में 14 मई सन 1997 में एक जाट परिवार में हुआ। यह एक ऐसी महिला हैं जिन्होंने मात्र 20 वर्ष की आयु में भारत में सबसे ज्यादा बार मिस वर्ल्ड का खिताब अपने नाम करने वाली और वेनेजुएला की बराबरी करने वाली लड़की बन चुकी है।

भारत के जिस राज्य में इन्होंने जन्म लिया था, वह राज अपने लिंगानुपात का विचार रखने वाला राज्य है। इन्होंने अपने राज्य एवं भारतवर्ष का नाम ऊंचा करके ऐसे निंदनीय विचार रखने वाले लोगों को एक करारा जवाब भी दिया है।

मानुषी छिल्लर ने अपने नाम विश्व सुंदरी का खिताब 18 नवंबर 2017 को किया था। चीन देश के सान्या शहर में हो रहे इस मिस वर्ल्ड के कंपटीशन में कुल 118 देशों ने हिस्सा लिया था और कंपटीशन के अंतिम चरण में सिर्फ 5 देशों की महिलाएं ही हिस्सा लेने के लिए बची थी, जिसमें से एक मानुषी छिल्लर भी मौजूद थीं। उन्हीं अंतिम 5 महिलाओं में से एक मानुषी छिल्लर ने विश्व सुंदरी की किताब को अपने नाम हासिल किया। हरियाणा राज्य और भारतवर्ष के लिए यह बहुत ही गौरवान्वित बात थी।

मानुषी छिल्लर की प्रारंभिक शिक्षा – Manushi Chhillar Career

Manushi Chillar Education: मानुषी छिल्लर का लगभग संपूर्ण परिवार (Manushi Chhillar Family) चिकित्सक के क्षेत्र में अपना संबंध रखता है। मानुषी छिल्लर के पिता डॉक्टर मित्र बसु छिल्लर भारत के एक रक्षा अनुसंधान एवं विकास संगठन में एक वैज्ञानिक की भूमिका में कार्यरत हैं। वहीं पर इनकी मां डॉक्टर नीलम छिल्लर भी ‘इंस्टिट्यूट ऑफ़ ह्यूमन बिहेवियर एंड अलाइड साइंस’ में न्यूरोकेमिस्ट्री विभाग की सह-प्राध्यापक है। मानुषी छिल्लर को एक भाई और एक बहन (Manushi Chillar Sister) है, जिनका नाम देवांगना छिल्लर और दलमित्र छिल्लर।

मानुषी छिल्लर के कुछ शौक और उनकी कुछ पसंद

मानुषी छिल्लर को मॉडलिंग के अतिरिक्त कुचिपुड़ी नृत्य, चित्रकला, गाने और अभिनय में भी काफी रुचि है। इन्होंने कुचिपुड़ी नृत्य की शिक्षा राजा रेड्डी, राधा रेड्डी और कौशल्या रेड्डी के स्वामित्व में सीखा है।

इसे भी पढ़ें:


इनकी रुचि अभिनय में भी थी तो उन्होंने नेशनल स्कूल ऑफ ड्रामा में भी अपना नाम दाखिल करवाया था। मानुषी छिल्लर ने अपनी एमबीबीएस की पढ़ाई को सिर्फ मॉडलिंग की अभिरुचि की वजह से ही छोड़ दी थी।

मानुषी छिल्लर जी का कहना है, कि वह अपनी मां से सबसे ज्यादा प्रेम करती हैं, क्योंकि उनकी मां ने ही उनके हर एक सही गलत कदम उठाने में उनका पूरा सहयोग किया और उनके साथ हर कदम पर डटकर खड़ी रही है।

भारतीय फिल्मी अभिनेताओं में मानुषी छिल्लर को सबसे ज्यादा ऋतिक रोशन पसंद है और इसके अतिरिक्त इन्हें लियोनार्डो और जैकमैन भी काफी अच्छे लगते हैं। भारतीय फिल्मों में इन्हें आमिर खान की फिल्म दंगल बहुत पसंद आती है।

मानुषी छिल्लर Quotes

वर्ष 2017 की भारतीय मिस वर्ल्ड मानुषी छिल्लर का कहना है कि यदि अपने जीवन में आपको सफल होना है, तो सबसे पहले आपको अपने सपनों को देखना होगा और यदि आपने सपने देखना छोड़ दिया तो समझ लीजिए आपने जीना भी छोड़ दिया।

वे कहती हैं, कि इंसान जो सफलता हासिल करना चाहता है, बस उसी के ऊपर ध्यान करके उसके बारे में सोच कर उसे पूरा करने का सपना देखना चाहिए। यदि इंसान सफलताओं के सपने देखेगा तभी वह वास्तविकता की सफलता हासिल कर सकेगा।

मानुषी छिल्लर का कहना है कि जब वे मिस वर्ल्ड का खिताब हासिल करने जा रही थी तभी वहां उनके पिता भी मौजूद थे और उनको देखकर उन्हें एक हिम्मत मिली और अंतिम राउंड में उसी हिम्मत की वजह से उन्होंने यह खिताब जीत लिया। इसीलिए मानुषी छिल्लर अपनी सफलता का पूरा श्रेय अपने माता-पिता को देती हैं।

मानुषी से मिस वर्ल्ड बनने के दौरान पूछा गया प्रशन – Answer which Won Manushi Chhillar

विश्व में किस प्रोफेशन को ज्यादा वेतन दिया जाना चाहिए और क्यों?

मानुषी का जवाब: मानुषी के इस जवाब ने पूरी दुनिया को हैरान कर दिया था। उसका जवाब था कि “मैं अभी अपनी मां के ज्यादा करीब रही हूं। इस कारण सबसे ज्यादा सम्मान मां को ही दिया जाना चाहिए और बात रही वेतन की तो उसे वेतन के रूप में ज्यादा सम्मान और प्यार मिलना चाहिए। मेरे लिए मेरी मां ही प्रेरणा है और रहेगी मां ही अपने बच्चों के लिए त्याग करती है। इस कारण मां को ही अधिक वेतन, प्यार और सम्मान मिलना चाहिए।”

मानुषी छिल्लर द्वारा किए गए कुछ सामाजिक कार्य

शक्ति अभियान में मानुषी छिल्लर ने देश की महिलाओं में मेंसुरेशन के समय सफाई के प्रति जागरूकता के लिए वे भारत के कई छोटे-बड़े शहरों एवं गांवों में भी गई थी और वहां रहकर। सभी महिलाओं को इसके प्रति अपना पूरा सहयोग देते हुए , उनको जागरूक भी किया करती थी।

मानुषी छिल्लर के बारे में रोचक तथ्य – Facts About Manushi Chhillar

  • मानुषी छिल्लर विश्व सुंदरी के साथ-साथ एक प्रशिक्षित शास्त्रीय संगीत की गायिका भी हैं।
  • उनको आउटडोर के खेलो को खेलना बहुत पसंद है जैसे :- स्कूबा डाइविंग , बंजी जंपिंग और साइकलिंग का शौक है।
  • मानुषी छिल्लर पढ़ाई में बचपन से ही बहुत तीव्र थी और उनको इंग्लिश का बहुत ही अच्छा ज्ञान है।
  • मानुषी छिल्लर ने अखिल भारतीय सीबीएसई कक्षा में 12वीं की परीक्षा में सबसे टॉप नंबरों से पास हुई थी।
  • मानुषी छिल्लर को चित्रकला और कविताओं में भी काफी रूचि है।
  • वर्ष 2014 में एक सांस्कृतिक आदान-प्रदान कार्यक्रम में मानुषी छिल्लर को जापान देश भी भेजा गया था।

मानुषी छिल्लर को मिले कुछ पुरस्कार – Awards

उन्होंने अपनी प्रतिभा और अपनी सुंदरता के दम पर अपना नाम और अपने देश का नाम रोशन किया है और इसी के वजह इन्हें कुछ सम्माननीय पुरस्कार से सम्मानित भी किया गया है, जो इस प्रकार के निम्नलिखित।

  1. मानुषी छिल्लर को मिस कैंपस प्रिसेज का खिताब दिया गया।
  2. मिस हरियाणा का किताब।
  3. वर्ष 2017 में मिस वर्ल्ड का खिताब।

निष्कर्ष

मानुषी छिल्लर के विचारों के अनुसार किसी भी मनुष्य को अपने सपनों को देखते हुए अपनी सफलताओं को हासिल करना चाहिए। यदि इंसान सफल होने के लिए सपने नहीं देगा तो वह जीवन में सफल होने के वास्तविकता से रूबरू सकता है।

हमारे द्वारा प्रस्तुत यह बेहतरीन लेख “मानुषी छिल्लर जीवनी – Biography of Manushi Chhillar in Hindi” यदि आपको पसंद आया हो तो इसे आप अपने मित्र जन एवं परिजन के साथ अवश्य साझा करें। हमारा Facebook Page लाइक जरूर करें।

Read Also

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here