श्री कृष्णा पर शायरी

Krishna Shayari in Hindi

Krishna Shayari in Hindi

श्री कृष्णा पर शायरी | Krishna Shayari in Hindi

ए जन्नत अपनी औकात में रहना
हम तेरी जन्नत के मोहताज नही
हम श्री बांकेबिहारी के चरणों में रहते है
वहां तेरी भी कोई औकात नही

प्रभु खोजने से नहीं मिलते…
उसमें “खो – जाने” से मिलते है…!
!! जय श्री कृष्णा !!

जिस पर राधा को मान हैं
जिस पर राधा को गुमान हैं
यह वही कृष्ण हैं जो राधा
के दिल हर जगह विराजमान हैं

श्रीकृष्ण ज़िनका नाम है, गोकुल ज़िनका धाम है !
ऐसे श्रीकृष्ण को मेरा, बारम्बार प्रणाम है !

बाजार के रंगो में रंगने की मुझे जरुरत नही
मेरे कान्हा की याद आते ही
ये चेहरा गुलाबी हो जाता है

वो दिन कभी न आए,
हद से ज्यादा गरूर हो जाये,
बस इतना झुका कर रखना,
“मेरे कन्हैया”
की हर दिल दुआ देने को मजबूर हो जाये.

रख लूँ नजर मे चेहरा तेरा,
दिन रात इसी पे मरती रहूँ..
जब तक ये सांसे चलती रहे,
मे तुझसे मोहब्बत करती रहूँ..
!!…मेरे कान्हा मेरी दुनिया…!!

कृष्णा शायरी इन हिंदी (krishna ji shayari)

सुध-बुध खो रही राधा रानी
इंतजार अब सहा न जाएँ
कोई कह दो सावरे से
वो जल्दी राधा के पास आएँ

कान्हा को राधा ने प्यार का पैगाम लिखा
पूरे खत में सिर्फ कान्हा-कान्हा नाम लिखा

उन्होंने नस देखि हमारी और बीमार लिख दिया…
रोग हमने पूछा तो वृंदावन से प्यार लिख दिया…
कर्जदार रहेगे उम्र भर हम उस वैद के जिसने दवा में…
“श्री राधे कृष्ण” नाम लिख दिया…

सुन्दर से भी अधिक सुंदर है तु,
लोग तो पत्थर पूजते है,
मेरी तो पूजा है तु,
पूछे जो मुझसे कौन है तु ?
हँसकर कहता हुँ,
जिंदगी हुँ मैं और साँस है तु…

राधा के दिल की चाहत है कृष्ण,
राधा की विरासत है कृष्णा,
कितने भी रास रचा ले कृष्णा,
फिर भी दुनिया कहेगी राधेकृष्णा…

मेरे दिल की दीवारों पर श्याम तुम्हारी छवि हो,
मेरे नैनो की पलकों में कान्हा तस्वीर तेरी हो,
बस और न मांगू तुझसे मेरे गिरधर…
तुझे हर पल देखू मेरे कन्हैया ऐसी तकदीर हो….

एक तरफ साँवले कृष्ण,
दूसरी तरफ राधिका गोरी
जैसे एक-दूसरे से मिल गए हों चाँद-चकोरी

तेरे सीने से लग कर तेरी धङकन बन जाऊँ
तेरी साँसो मेँ घुल कर खुशबू बन जाऊँ
हो न फासला कोई हम दोनो के दरम्याँ
मैँ …मैँ न रहुँ साँवरे.. बस तुँ ही तुँ बन जाऊँ

हर पल, हर दिन कहता है कान्हा का मन
तू कर ले पल-पल राधा का सुमिरन

श्री कृष्ण शायरी (kanha shayari)

बड़ा मीठा नशा है कृष्ण की याद का..
वक्त गुजरात गया और हम आदि होते गए.
जय श्री कृष्णा

मंज़िले मुझे छोड़ गयी, रास्ते ने पाल लिया है
जा ज़िंदगी तेरी ज़रूरत
नहीं मुझे ठाकुर ने संभाल लिया है

Krishna Shayari in Hindi

राधे राधे बोल, श्याम भागे चले आएंगे,
एक बार आ गए तो कभी नहीं जायेंगे.

हम भी तेरी मोहनी मूरत दिल में छिपाये बैठे है
तेरी सुन्दर सी छवि आँखों में बसाये बैठे है
इक बार बांसुरी की मधुर तान सुनादे कान्हा
हम भी एक छोटी सी आस जगाये बैठे है

राधा कृष्ण का मिलन तो बस एक बहाना था
दुनिया को प्यार का सही मतलब जो समझाना था

अजीब नशा है, अजीब खुमारी है,
हमे कोई रोग नहीं बस,
जय श्री राधे कृष्णा, राधे कृष्णा बोलने बीमारी है….

रंग बदलती दूनियाँ देखी देखा जग व्यवहार
दिल टूटा तब मन को भाया ठाकुर तेरा दरबार

तुम क्या मिले की साँवरे,
मेरा मुकद्दर सवंर गया,
उजड़े हुए नसीब का गुलशन निखर गया…

फूलो में सज रहे है श्री वृंदावन बिहारी
और साथ सज रही है वृषभानु की दुलारी
टेड़ा सा मुकुट रखा है कैसे सर पर
करुणा बरस रही है करुणा भरी निगाह से
बिन मोल बीक गयी हु जबसे छबि निहारी
फूंलों मे सज रहे है श्री वृंदावन बिहारी

कृष्ण शायरी (krishna shayri)

Krishna Shayari in Hindi

जहाँ बेचैन को चैन मिले वो घर तेरा वृन्दावन है…
जहां आत्मा को परमात्मा मिले वो दर तेरा वृन्दावन है….
मेरी रूह तो प्यासी थी, प्यासी है तेरे लिए सावरिया….
जहां इस रूह को जन्नत मिले वो स्थान ही मेरा श्री वृन्दावन है

सुनो कान्हा तुम
Five Star की तरह दिखते हो
Munch की तरह शरमाते हो
Cadbury की तरह जब तुम मुस्कुराते हो
Kit Kat की कसम
तूम बहुत सुंदर नजर आते हो

जानते हो फिर भी अंजान बनते हों
इस तरह क्यों हमें परेशान करते हों
पुछते हो तुम्हें क्या क्या पंसद है
जबाब खुद हो फिर भी सवाल करते हों

पीर लिखो तो मीरा जैसी
मिलन लिखो कुछ राधा सा
दोनों ही है कुछ पूरे से
दोनों में ही वो कुछ आधा सा
जय श्री कृष्णा

हे बांके बिहारी…
नही रही कोई और हसरत इक तेरे दिदार के सिवा…
गौ़रतलब ये है मेरे नूर-ऐ-हरि….
अब हर तमन्ना ने मुझसे किनारा कर लिया…
राधे राधे जय श्री कृष्णा…

कृष्ण भक्ति शायरी (krishna bhagwan ki shayari)

मेरे दिल को बना कर ” Teddy ”
अपने दिल से लगा लो ना तुम
मेरे श्याम
रख लो महफूज यादो की माफिक
दिल से मुझे अपना लो ना तुम

वृंदावन की हवा,
जरा अपना रुख हमारी तरफ भी मोड दे,
इस वीरान दिल मे राधा नाम की मस्ती छोड दे…
उड़ जाये माया की मिट्टी और दीदार हो सांवरे का,
ऐसी प्रीत हमारी राधा नाम से जोड़ दे…
जय श्री राधे…

कर भरोसा राधे नाम का,
धोखा कभी न खायेगा….
हर मौके पर कृष्णा,
तेरे घर सबसे पहले आयेगा..
*जय श्री राधेकृष्णा…

Read Also: श्री कृष्णा स्टेटस

Krishna Shayari in Hindi

प्रेम से कृष्णा का नाम जपो
दिल की हर इच्छा पूरी होगी
कृष्ण आराधना में इतना लीन हो जाओ
उनकी महिमा, जीवन खुशहाल कर देगी

राधा मुरली-तान सुनावें,
छीनि लियो मुरली कान्हा से,
कान्हा मंद-मंद मुस्कावें,
राधा ने धुन, प्रेम की छेड़ी,
कृष्ण को तान पे,नाच नचावें..
*जय श्री राधेकृष्णा…

“राधा” के सच्चे प्रेम का यह ईनाम हैं
कान्हा से पहले लोग लेते “राधा” का नाम हैं

गज़ब के चोर हो कान्हा,
चोरी भी करते हो,
और दिलो पर राज़ भी….

कृष्ण शायरी हिंदी में (shree krishna shayari)

मधुवन में भले ही कान्हा किसी गोपी से मिले
मन में तो राधा के ही प्रेम के हैं फूल खिले

माखन चुराकर जिसने खाया
बंसी बजाकर जिसने नचाया
ख़ुशी मनाओ उनके जन्म दिन की
जिन्होंने दुनिया को प्रेम का रास्ता दिखाया

राधा की चाहत है कृष्ण
उसके दिल की विरासत है कृष्ण
चाहे कितना भी रास रचा ले कृष्ण
दुनिया तो फिर भी यही कहती है
राधे कृष्ण राधे कृष्ण

प्रेम के दो मीठे बोल बोलकर खरीद लो हमें,
कीमत से सोचोगे तो पूरी दुनिया बेचनी पडेगी.

Krishna Shayari in Hindi

कृष्ण भगवान की शायरी (krishna bhagwan shayari)

किसी की सूरत बदल गई
किसी की नियत बदल गई
जब से तूने पकड़ा मेरा हाथ
“राधे” मेरी तो किस्मत ही बदल गई

भाव बिना बाज़ार मै वस्तु मिले न मोल,
तो भाव बिना “हरी“ कैसे मिले,
जो है अनमोल…!!

राधा कहती है दुनियावालों से
तुम्हारे और मेरे प्यार में बस इतना अंतर है
प्यार में पड़कर तुमने अपना सबकुछ खो दिया
और मैंने खुद को खोकर सबकुछ पा लिया

अभी तो बस इश्क़ हुआ है,
कान्हा से,
मंजिल तो वृंदावन में ही मिलेगी…!

मुरली मनोहर कृष्ण कन्हैया
जमुना के तट पे विराजे हैं
मोर मुकुट पर कानों में कुंडल
कर में मुरलिया साजे हैं

किसी के पास Ego है
किसी के पास Ettitude है…
मेरे पास तो मेरा साँवरा है वो भी बड़ा cute हैं…

जय श्री कृष्णा शायरी हिंदी (kanha shayari in hindi)

यदि प्रेम का मतलब सिर्फ पा लेना होता
तो हर हृदय में राधा-कृष्ण का नाम नही होता

Krishna Shayari in Hindi

एक तेरे ख्वाबो का शोक,
एक तेरी याद की आदत,
तू ही बता साँवरे…
सोकर तेरा दीदार करूँ या जाग कर तुझे याद…

गाय का माखन, यशोधा का दुलार
ब्रह्माण्ड के सितारे कन्हैया का श्रृंगार
सावन की बारिश और भादों की बहार
नन्द के लाला को हमारा बार-बार नमस्कार

राधा की कृपा,
कृष्णा की कृपा,
जिस पे हो जाए,
भगवान को पाए,
मौज उड़ाए…!!
सब सुख पाए…!!

मटकी तोड़े, माखन खाए
फिर भी सबके मन को भाये
राधा के वो प्यारे मोहन,
महिमा उनकी दुनिया गाये

तुम्हारी “चाहत” की,
“हद” हो सकती है मगर,
“दिल” की बात बताता हूॅ,
मै “बेहद” तुम्हे चाहता हूॅ….!!
राधे कृष्णा हरे कृष्णा….!!

krishna shayari hindi

सांवरे तेरी मोहब्बत को,
नया अंजाम देने की तैयारी हैं
कल तक मीरा दीवानी थी,
आज मेरी बारी हैं

माना कि मुझमे मीरा सी..कोई कशिश नही,
गोपी के जैसे रो सकू..वो जज्बात नही,
एकबार मेरे साँवरे इस..दिल की भी सुनो,
मेरे राधा कृष्णा मुरारी

हे मन,
तू अब कोई तप कर ले,
एक पल में सौ-सौ बार कृष्ण नाम का जप कर ले.
जय श्री राधे-कृष्णा…

दे के दर्शन कर दो पूरी
प्रभु मेरे मन की तृष्णा
कब तक तेरी राह निहारूं,
अब तो आओ कृष्णा

कोई प्यार करे तो राधा-कृष्ण की तरह करे
जो एक बार मिले, तो फिर कभी बिछड़े हीं नहीं.
मेरे राधा कृष्णा….!

गोकुल में जो करें निवास
गोपियों संग जो रचाएँ रास
देवकी-यशोदा हैं जिनकी मैया
ऐसे ही हमारे कृष्ण कन्हैया

डूबे ना वो नैया,
चाहे तूफान आए या सुनामी,
जिसकी नांव का मांझी,
खुद है “शीश का दानी”..
जय श्री श्याम….

Krishna Shayari in Hindi

अधुरा हैं मेरा इश्क तेरे नाम के बिना
जैसे अधूरी हैं राधा श्याम के बिना

प्यार दो आत्माओं का मिलन होता है,
ठीक वैसे हीं जैसे…
प्यार में कृष्ण का नाम राधा
और राधा का नाम कृष्ण होता है.

Read Also: राधा कृष्णा लव स्टेटस

Krishna Shayari in Hindi

मत रख अपने दिल में
इतनी नफरते ऐ इंसान,
जिस दिल में नफ़रत हो,
उस दिल में मेरा श्याम नहीं रहता.

क्या नींद क्या ख्वाब,
आँखे बन्द करू तो — तेरा चेहरा…
और आंख खोलू तो — तेरा ख्याल…
मेरे कान्हा..

रूप बड़ा प्यारा है
चेहरा बड़ा निराला है
बड़ी से बड़ी मुसीबत को
कन्हैया ने
पल भर में हल कर डाला है

बड़ी आस ले कर आया,
बरसाने में तुम्हारे कर दो क्षमा,
किशोरी जी अपराध मेरे सारे
सवारू में भी अपना जीवन
श्री राधा नाम जपते जपते…
प्रेम से बोलो श्री राधे.

राधा के हृदय में श्री कृष्ण
राधा की साँसों में श्री कृष्ण
राधा में ही हैं श्री कृष्ण
इसीलिए दुनिया कहती हैं
राधे-कृष्ण राधे-कृष्ण

राधा-राधा जपने से
हो जाएगा तेरा उद्धार
क्योंकि यही वो नाम है
जिससे कृष्ण को प्यार

मेरे प्यारे सांवरिया,
तेरी फूल सी फितरत, मेरा काटेंदार वजूद.
तो क्यों ना मिलकर हम गुलाब हो जाएं..
राधे राधे

वाह रे मेरे साँवरे,
तुँ और तेरा इश्क,
जो तुझे जान ले,
तुँ उसी की जान ले..
राधे राधे

Krishna Shayari in Hindi

प्रेम की भाषा बड़ी आसान होती हैं
राधा-कृष्ण की प्रेम कहानी ये पैगाम देती हैं

जन्माष्टमी के इस अवसर पर,
हम ये कामना करते हैं कि श्री कृष्ण की कृपा आप पर,
और आपके पूरे परिवार पर हमेशा बनी रहे.

माखन चोर नन्द किशोर,
बांधी जिसने प्रीत की डोर,
हरे कृष्ण हरे मुरारी,
पुजती जिन्हें दुनिया सारी,
आओ उनके गुण गाएं सब
मिल के जन्माष्टमी मनाये.

राधा की कृपा, कृष्णा की कृपा, जिस पर हो जाए
भगवान को पाए, मौज उड़ाए, सब सुख पाए

गोकुल में जिसने किया निवास,
उसने गोपियों के संग रचा इतिहास,
देवकी-यशोदा जिनकी मैया,
ऐसे है हमारे कृष्ण कन्हैया

बांके बिहारी का नाम लो सहारा मिलेगा,
ये जीवन न तुमको दुबारा मिलेगा,
डूब रही अगर कश्ती मझधार में,
कृष्णा के नाम से सहारा मिलेगा..

छोड़ा सबका दामन हठयोग में तुम्हारे
मेरी साँसे उखड़ रही वियोग में तुम्हारे
लौट आओ मोहन किस बात पे अड़े हो
मूर्त बनकर बस मंदिर में क्यों खड़े हो

Read Also

इनका नाम राहुल सिंह तंवर है। इनकी रूचि नई चीजों के बारे में लिखना और उन्हें आप तक पहुँचाने में अधिक है। इनको 4 वर्ष से अधिक SEO का अनुभव है और 6 वर्ष से भी अधिक समय से कंटेंट राइटिंग कर रहे है। इनके द्वारा लिखा गया कंटेंट आपको कैसा लगा, कमेंट बॉक्स में जरूर बताएं। आप इनसे नीचे दिए सोशल मीडिया हैंडल पर जरूर जुड़े।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here