खून का प्यासा होना मुहावरे का अर्थ और वाक्य प्रयोग

खून का प्यासा होना मुहावरे का अर्थ और वाक्य प्रयोग (khoon ka pyaasa hona Muhavara ka arth)

खून का प्यासा होना मुहावरे का अर्थ – जानी दुश्मन होना, जान लेने पर उतारू होना, किसी के पीछे पड़ जाना मारने के लिए , कटर शत्रू होना।

khoon ka pyaasa hona Muhavara ka arth – jaanee dushman hona, jaan lene par utaaroo hona, kisee ke peechhe pad jaana maarane ke lie , katar shatroo hona.

दिए गए मुहावरे का हिंदी में वाक्य प्रयोग

वाक्य प्रयोग: भगवत गीता में श्रीकृष्ण ने कहा है कि कलयुग में हर इंसान एक दूसरे इंसान के प्रति खून का प्यासा हो जाएगा।

वाक्य प्रयोग: आजकल अक्सर घरों में देखेंगे कि भाई भाई के खून के प्यासे हो जाते हैं।

वाक्य प्रयोग: ऐसी कहावत है कि भूखे शेर और खून के प्यासे इंसान से हमेशा सावधान रहना चाहिए क्योंकि दोनों ही भरोसा के पात्र नहीं है कब क्या कर दे इसका कोई अंदाजा नहीं लगा सकता है।

वाक्य प्रयोग: सोहन और मोहन दोनों बचपन के दोस्त है लेकिन उनमें किसी बात को लेकर लड़ाई हो गई और दोनों दोस्त एक दूसरे के खून के प्यासे बन गए।

यहां हमने “खून का प्यासा होना” जैसे बहुचर्चित मुहावरे का अर्थ और उसके वाक्य प्रयोग को समझा। खून का प्यासा होना मुहावरे का अर्थ होता है किसी का जानी दुश्मन बन जाना, जान लेने को उतारू हो जाना, किसी के पीछे जान मारने के लिए पर जाना, कट्टर दुश्मन होना। इसका सबसे अच्छा उदाहरण पाकिस्तान और भारत के बीच देखा जा सकता है पाकिस्तान अक्सर भारत को अपना कट्टर दुश्मन समझता है और हमेशा भारत के ऊपर हमला करते रहता है और भारत को नुकसान पहुंचाते रहता है। चुकी यह मुहावरा है और मुहावरा और असामान्य अर्थ प्रकट करता है इसीलिए यहां इस मुहावरे का अर्थ दोहरा लाभ प्राप्त करने से हैं।

मुहावरे परीक्षाओं में मुख्य विषय के रूप में पूछे जाते हैं। एक शब्द के कई मुहावरे हो सकते हैं।यह जरूरी नहीं कि परीक्षा में यहाँ पहले दिये गए मुहावरे ही पूछा जाए। परीक्षा में सभी किसी का भी मुहावरे पूछा जा सकता है।

मुहावरे का अपना एक भाग है प्रत्येक पाठ्यक्रम में, छोटी और बड़ी कक्षाओं में मुहावरे पढ़ाया जाता है, कंठस्थ किया जाता है। प्रतियोगी परीक्षाओं में यह एक मुख्य विषय के रूप में पूछा जाता है और महत्व दिया जाता है।

परीक्षा के दृष्टिकोण से मुहावरे बहुत महत्वपूर्ण होते हैं। सभी प्रतियोगी परीक्षाओं में मुहावरे का अपना-अपना भाग होता है। चाहे वह पेपर हिंदी में हो या अंग्रेजी में यहां तक कि संस्कृत में भी मुहावरे पूछे जाते हैं।

मुहावरे कोई बहुत कठिन विषय नहीं है। यदि इसे ध्यान से समझा जाए तो याद करने की भी आवश्यकता नहीं होती है। इसे समझ समझ कर ही लिखा जा सकता है।

अन्य महत्वपूर्ण मुहावरे और उनका वाक्य प्रयोग

करारा जवाब देनाआँखों पर परदा पड़ना
आँखें चार होनाअक्ल पर पत्थर पड़ना
आँखें खुल जानाआकाश-पाताल एक करना

1000+ हिंदी मुहावरों के अर्थ और वाक्य प्रयोग का विशाल संग्रह 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here