ख्याल शायरी

Khayal Shayari in Hindi

Khayal Shayari in Hindi
Images :- Khayal Shayari in Hindi

ख्याल शायरी |Khayal Shayari in Hindi

तुमको देखा तो ये खयाल आया
जिंदगी धूप, तुम घना साया

तेरे बगैर जीने का ख्याल एक क़यामत है,
और तेरा दीदार भी क़यामत से कम नहीं.

सब कुछ मिला सुकून की दौलत नहीं मिली,
एक तुझको भूल जाने की मौहलत नहीं मिली,
करने को बहुत काम थे अपने लिए मगर,
हमको तेरे ख्याल से कभी फुर्सत नहीं मिली।

आया ही था ख्याल कि
आंखें छलक पड़ी,
मेरे अश्क आपके यादों के
कितने करीब है.

दूरी ने कर दिया है तुझे और भी करीब ,
तेरा ख्याल आ कर न जाये तो क्या करूँ।

तेरे ख़्याल में जब बे-ख़्याल होती हूँ,
ज़रा सी देर को ही सही बेमिसाल होती हूँ.

​खयालों में ​उसके मैंने बिता दी ज़िंदगी सारी,
​​इबादत कर नहीं पाया खुदा नाराज़ मत होना​।

तेरे ख़्याल में जब बेख़्याल होती हूँ,
ज़रा सी देर को ही सही, बेमिसाल होती हूँ।

मेरे ख्याल से अब हम,
तेरे ख्याल में भी नहीं रहे.

उसके बगैर भी तो अदम कट गई हयात,
उसका खयाल उससे जियादा जमील था।

ख्याल आते ही उनका
ख़ुशनुमा हो जाती है,
फ़िज़ा हर लम्हा उनकी उन्हीं यादों का
ओढे़ लिबास रहता है.

दूर रहने वाले तुझसे यही बस यही कहूँगा कि,
जब भी मेरा ख्याल आये तुम अपना ख्याल रखना।

उस ख़्याल पर ही मुझे प्यार आ जाता है,
ज़िक्र जिसमें तेरा इक बार आ जाता है.

तेरे ख्याल में जब बे-ख्याल होता हूँ,
ज़रा सी देर को सही बे-मिसाल होता हूँ।

दिल जो अजब शहर था ख्यालों का,
लूटा हुआ है हुस्न वालों का.

कुछ दर्द कुछ नमी कुछ बातें जुदाई की,
गुजर गया ख्यालों से तेरी याद का मौसम.

जाने क्यों आती है याद तुम्हारी,
चुरा ले जाती है आँखों से नींद हमारी.
अब यही ख्याल रहता है सुबह शाम,
कब होगी तुमसे मुलाकात हमारी.

जब भी किसी को चाहने का सवाल आया,
दिल में बस तेरा ही ख्याल आया.

मिलके भी जो ना मिले,
जिन्दगी का वो ख्याल हो तुम,
ना सुलझेगा जो कभी,
ऐसा पेचीदा कोई सवाल हो तुम.

रोज आता है मेरे दिल को तसल्ली देने,
ख्याल-ए-यार को मेरा ख्याल कितना है।

तेरा ज़िक्र तेरी फिक्र तेरा एहसास तेरा ख्याल,
तू खुदा नहीं फिर हर जगह मौज़ूद क्यूँ है.

जीने की तमन्ना हो ,
तुम मेरी ज़रूरत हो,
मेरे ख़्याल से ,
तुम बड़ी खुबसूरत हो.

सब कुछ मिला सुकून कि दौलत नहीं मिली,
एक तुझको भूल जाने की मोहलत नहीं मिली,
करने को बहुत काम थे अपने लिए मगर,
हमको तेरे ख्याल से कभी फुरसत नहीं मिली।

जब भी तुम्हें मेरा ख्याल आये,
तो बस तुम अपना ख्याल रखना.

ख्यालों में रात को
तेरी तस्वीर बना बैठा,
इतनी अच्छी लगी की
सीने से लगा बैठा.

छू गया जब कभी ख्याल तेरा,
दिल मेरा देर तक धड़कता रहा,
कल तेरा जिक्र छिड़ गया घर में,
और घर देर तलक महकता रहा।

एक तेरा ही तो ख्याल है मेरे पास,
वरना कौन अकेले में मुस्कुराता है.

तेरी आशिकी इस कदर चढ़ीँ मुझ पर,
अब तो खुद का भी ख्याल नही रहता.

छोड़ दिया है हमने लोगों के ख्याल में जीना,
हम लोगो से नही बिहारी जी से इश्क़ करते हैं.

Read Also: खफा शायरी

किसी को देखकर जीने की
आदत अच्छी तो नहीं,
मगर सुकून के लिए
ये ख्याल बुरा तो नहीं.

काश उनको कभी
फुर्सत में ये ख्याल आए,
कि कोई याद करता है, उन्हें
जिन्दगी समझ कर.

सो गई हैं शहर की सारी गलियां,
अब उसकी ख्यालों में
जागने की बारी मेरी है.

रखते नही ख्याल भी अपना तेरे लिए,
हम बेख्याल से लोग है कुछ तो ख्याल कर.

मैं तबाह हूँ तेरे प्यार में
तुझे दूसरों का ख्याल है,
कुछ तो मेरे मसले पर गौर कर
मेरी जिन्दगी का सवाल है.

****

बेखयाली में भी तेरा ख्याल आये,
क्यों जुदाई दे गया तू ये सवाल आये,
थोड़ा सा मै खफा हो गया अपने आप से,
थोड़ा सा तुझ पे भी बेवजह ही मलाल आये.

एक ख्याल ही तो हूँ मैं ,
याद रह जाऊँ तो याद रखना,
वरना सौ बहाने मिलेंगे
भूल जाना मुझे.

रात को सोते हुए एक बेवज़ह सा ख़्याल आया,
सुबह न जाग पाऊँ तो क्या उसे ख़बर मिलेगी कभी.

Khayal Shayari in Hindi

क्यू जीने नहीं देता है
तेरा ख्याल सर्द रातो मे,
ना जाने कितनी उलझने है
इश्क भरी आँखो मे.

आपके ख्यालों में रहना आदत है मेरी,
कोई कहता इश्क़ है कोई कहता इबादत है.

जब तेरे ख्याल से मुलाकात हो जाती है,
तूझे याद करते करते रात हो जाती है,
रूकता नहीं है सिलसिला इरादों का मेरे,
जब ख्वाबों से रूबरू बात़ हो जाती है.

कदर कर लो उनकी जो तुम से
बिना मतलब की चाहत करते है
दुनिया में ख्याल रखने वाले कम
और तकलीफ देने वाले ज्यादा होते है.

पीते-पीते जब भी आया तेरी आंखों का खयाल,
मैंने अपने हाथ से तोड़े हैं पैमाने बहुत.

एक दिन यादों में सिमटे,
ख़्याल मेरा तुझे भी आएगा,
हो सकता है मुझे खो देने का मलाल,
उस दिन तुझे भी रुलाएगा.

ऐसा नहीं कि शख्स अच्छा नहीं था वो,
जैसा मेरे ख्याल में था बस वैसा नहीं था.

जब कोई ख्याल दिल से टकराता है,
दिल न चाह कर भी, खामोश रह जाता है.
कोई सब कुछ कहकर, प्यार जताता है,
कोई कुछ न कहकर भी, सब बोल जाता है.

जीने की तमन्ना हो तुम मेरी ज़रूरत हो,
मेरे ख़्याल से तुम बड़ी खुबसूरत हो.

सोए हुए थे सुकून से
अचानक तड़प उठे,
यूँ आकर तेरे ख्याल ने
अच्छा नहीं किया.

मेरा ख्याल तुझको भला आये भी तो क्यों ?
में तो तेरे ख्याल से आगे की चीज हूँ.

मैं पूरे दिन भर ना जाने
कितने चेहरो से रूबरू होता हूँ,
पर पता नहीं रात को ख्याल
सिर्फ तुमहारा ही क्युँ आता हैं.

ख्याल-ए-इश्क़ बस
आपका ही आता है,
ना जाने आपसे हमारा,
कौन से जन्म का नाता है?

अगर बात ख्याल की करे तो,
बस इतना कहेगे,
तुम से जुड़ा हो तो हसीन
और तुम्हारा हो तो बेहतरीन.

रूठने मनाने के सिलसिलों में रखना ख्याल,
कहीं मोहब्बत दम न तोड दे.

वो शख्स रहता है हर वक्त
मेरे खयालों में इस तरह,
कि अब किसी और के ख्वाब
देखने की जरुरत नहीं मुझे.

अभी अभी भूले भी ना थे तुम्हें,
ख़याल बन के फ़िर, तुम आ गए,
साँसों की सरजमीं पर
बरसात ला गए,
एक झपकी में तेरे
सौ ख़्वाब आ गए.

शायद उम्र भर की जुदाई
का ख्याल आया था उसे,
वो मुझे पास अपने बैठा के रोई.

Read Also: दूरियों पर बेहतरीन शायरी

दिल्लगी हद से न गुज़रे,
ये ख्याल रखियेगा,
जान पे बन आती है मोहब्बत में ,
ये ख्याल रखियेगा.

तुम्हारी याद मेरे ख्याल से ब्याही हुई है,
खुदा करे ये जोड़ी हमेशा सलामत रहे.

वो कब का भूल चुका होगा
हमारी वफ़ा का किस्सा,
बिछड़ के किसी को
किसी का ख्याल कब रहता है.

तुम सनम वो ख्याल हो जिसे मैं
हर सुबह देखना पसंद करता हूँ.

अपने महबूब को
गजल के रूप में सवारूँ कैसे?
वो मेरे ख्यालों से
बढ़ कर खूबसूरत है.

सुबह ख़ूबसूरत है या तुम्हारा ख़याल,
जो भी है ख़ुदा क़सम बस है लाजवाब.

तुम्हारे पैरो में दर्द नहीं होता क्या ?
सारा दिन मेरे ख्यालों में घूमती रहती हो ?

तुम्हें सोच कर एक ख़्याल आया,
तुम ख्यालो मे कितने अच्छे लगते हो.

नए रिश्ते न बने तो मलाल न करना,
पुराने टुट ना जाए इतना बस ख्याल रखना.

ज़माने भर के दिलों में ख़याल मौत का है,
कोई बताए कि क्या हाल-चाल मौत का है,
मैं जी रहा था तो इस ज़ीस्त से गिला था मुझे,
जो मर गया हूँ तो मुझको मलाल मौत का है.

मुझे इश्क़ नहीं आता,
मुझे ख्याल रखना आता है.

इसमें कोई शक नही तुम ख्यालों में हो,
पर तेरा मेरा मिलना अब भी सवालों में है.

क्या कहूँ, मेरा जो हाल है,
रात दिन, तुम्हारा ही खयाल है.

उसका ख्याल तो छोड़ दे लेकिन
बस एक छोटी सी उलझन है,
सुना है दिल से धड़कन की,
जुदाई पर मौत होती है.

******

दिल बहल तो जायेगा इस ख़याल से,
हाल मिल गया तुम्हारा अपने हाल से,
रात ये क़रार की बेक़रार है,
तुम्हारा इन्तज़ार है.

अब भी चले आते हैं ख्यालों में वो,
रोज़ लगती है हाज़िरी उस ग़ैर हाज़िर की.

काश कभी यूं हो ,
न हसरतें न जुनू हो,
तेरा ख्याल हो और तू हो,
दिल में बस सुकूँ हो.

तस्वीर में ख्याल होना तो लाज़मी सा है,
मगर एक तस्वीर है, जो ख्यालों में बनी है.

अकेले रहने की ख़ुद ही सज़ा क़ुबूल की है
ये हम ने इश्क़ किया है या कोई भूल की है,
ख़याल आया है अब रास्ता बदल लेंगे
अभी तलक तो बहुत ज़िंदगी फ़ुज़ूल की है.

बेरुख़ी भी इतनी की ख़ुद का ही ख़्याल नही,
वो हाल पूछते रहे इधर कोई ज़बाब नही.

अब तो इन आँखों से भी
जलन होती है मुझे,
खुली हो तो ख्याल तेरे
बंद हो तो ख़्वाब तेरे.

कभी यहाँ वहाँ भटक के रह गया,
कभी ख़याल से मिला ख़याल है

Khayal Shayari in Hindi

लिख दूं वो अल्फ़ाज़ हो तुम
सोच लूं वो ख्याल हो तुम,

तुम सोचो और ख़्याल पूरा हम करेंगे
मोहब्बत में दो रंग और ज्यादा भरेंगे,
तुझे अपनी जिंदगी माना है ऐ सनम
आखरी सांस तक मोहब्बत बेपनाह करेंगे.

तेरा ख्याल, तेरा ही चेहरा, तेरी ही सदा है,
इश्क कुछ और नही बस तेरी ही अदा है.

जिसे याद कर लेने से
होंठों को हँसी छू जाये,
एक ऐसा ही खूबसूरत
मेरे दिल का खयाल हो तुम.

किसी ने पूछा हमसे कहाँ से लाते हो ये शायरी,
मैं मुस्करा के बोला उसके ख्यालो मे डूब कर.

मेरी ज़िन्दगी का सबसे
ख़ूबसूरत ख़्याल हो तुम,
इश्क़ और इबादत दोनो में
बेमिसाल हो तुम.

ख्वाब, ख्याल, मोहब्बत,
हक़ीक़त, गम और तन्हाई
ज़रा सी उम्र मेरी,
किस-किस के साथ गुज़र गयी.

तरह-तरह से भुलाया मगर ये हाल हुआ,
हर एक खयाल से पैदा तेरा खयाल हुआ.

मेरी मोहब्बत सच्ची है
तुम मुझे हर हाल में मिल जाओ
लगे हों लाख पहरे तो क्या
तुम मुझे ख्याल में मिल जाओ.

तुझको लेकर मेरा ख्याल नहीं बदलेगा,
साल बदलेगा मगर दिल
का हाल नहीं बदलेगा.

अभी तो दिल कर रहा है
कि बस सो जाऊं,
तेरे ख्यालों के घने जंगल में
खो जाऊँ.

Read Also: चाहत शायरी

तेरे साथ गुजरा लम्हा जब भी याद आएगा,
इस जनम के बाद भी तेरा ख्याल लाएगा,
अगर बक्शी बार -बार ज़िन्दगी खुदा ने,
तुझसे दोस्ती करना ये दिल हर बार चाहेगा.

जीने की वजह हो आप,
प्यार के खयाल हो आप.

सुबह ख़ूबसूरत है,
या तुम्हारा ख़याल,
जो भी है ख़ुदा क़सम,
बस है लाजवाब.

तेरा ख्याल तेरा ध्यान बन के आयेंगे
तेरी ज़मी पे आसमान बन के आयेंगे,
बड़ी मुश्किल से हमें लोग समझ पाएं हैं
अगली बार कुछ आसान बन के आयेंगे

सुनो हर सुबह ख्याल बन के,
चले आते हो,
आपको और कोई कांम
नहीं हैं क्या?

*****

मायूस ना हो उसको तेरा ख्याल है,
सब कुछ पता है उसको तेरा जो हाल है,
तुझको गले लगाएगा मेरा यार संवारा,
मुझको यकीन है आएगा मेरा यार संवारा.

आशिकी मेरी यूँ बिखर जाये,
आप ही आप फिर नज़र आये,
प्यार करती हूँ आपको जितना,
आपको भी मेरा ख्याल आये.

आशिकी हैं तुझे से ऐसी की
मेरे हर ख्याल बस तू है,
मोहब्बत बयान करने लिए तो
बस यही काफी हैं.
की मेरी सूबह तेरे नाम से शुरू और
तेरे नाम से खतम होती हैं.

किसके ख्याल से रोशन है
ये दुनिया मेरी,
तुमको सोचूँ तो
मोहब्बत की महक आती है.

Khayal Shayari in Hindi

मेरे ख़्याल-ए-इश्क़ में
बस इतना ही सुकूँ हैं,
कि, वो सिर्फ़ मेरी है,
औऱ मैं सिर्फ़ उसका.

इश्क का ख्याल
और ख्याल में है इश्क,
मत पूछ
किस हाल में है इश्क?

तेरे ख्याल से ही एक रौनक
आ जाती है दिल में,
तुम रूबर आओगे तो
जाने क्या आलम होगा?

सवाल का जवाब
सवाल में ही मिला मुझे,
वो शख्स मेरा ख्याल था
ख्याल में ही मिला मुझे.

मत कर तु मुझसे मोहब्बत
हक़ है तुझको,
फिर भी उम्र भर तेरा
खयाल दिल से ना जाने दूंगा.

कितना अजीब है,
अन्दाज तेरी मोहब्बत का.
रुला के कहते हाे
अपना ख्याल रखना.

बैठे थे अपनी मस्ती में
के अचानक तड़प उठे,
आकर तेरे ख़्याल ने,
अच्छा नहीं किया.

यादें अपनी साथ ले जाओ
मुझ को क्यो तड़पाती हैं,
मेरे ख्याल मेरे नस नस मे
इस तरह कब्जा जमाती हैं.

ख्वाब ख्याल, मोहब्बत, हक़ीक़त,
गम और तन्हाई,
ज़रा सी उम्र मेरी
किस-किस के साथ गुज़र गयी.

अब ना आना मेरे ख्यालो में तुम
तुमको अब मैं भुलाने जा रहा हूँ.

शाम होती है
परिन्दे घर को आते हैं,
और हम तो दिवानें हैं
तेरे ख्यालों में खो जाते हैं.

एक शाम और ढली तेरे ख्याल लिए
अब हसरतों का कारवाँ रातभर चलेगा.

सो गई हैं शहर की सारी गलिया… अब
उसकी ख्यालों में जागने की बारी मेरी है

Read Also

आरज़ू शायरी

इश्क़ शायरी

जुदाई शायरी

इनका नाम राहुल सिंह तंवर है, इन्होंने स्नातक (रसायन, भौतिक, गणित) की पढ़ाई की है और आगे की भी जारी है। इनकी रूचि नई चीजों के बारे में लिखना और उन्हें आप तक पहुँचाने में अधिक है। इनको 3 वर्ष से भी अधिक SEO का अनुभव होने के साथ ही 3.5 वर्ष का कंटेंट राइटिंग का अनुभव है। इनके द्वारा लिखा गया कंटेंट आपको कैसा लगा, कमेंट बॉक्स में जरूर बताएं। आप इनसे नीचे दिए सोशल मीडिया हैंडल पर जुड़ सकते हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here