दूरियों पर बेहतरीन शायरी

Dooriyan Shayari in Hindi

Dooriyan Shayari in Hindi
Images :-Dooriyan Shayari in Hindi

दूरियों पर बेहतरीन शायरी |Dooriyan Shayari in Hindi

मुझसे दूरियाँ बनाकर तो देखो,
फिर पता चलेगा कितना नज़दीक हूँ मैं।

” दूरियाँ जब बढ़ी तो,
गलतफहमियां भी बढ़ गयी,
फिर तुमने वो भी सुना,
जो मैंने कहा ही नही “

मेरे दिल को अगर तेरा एहसास नहीं होता,
तू दूर रह कर भी यूं मेरे पास नहीं होता,
इस दिल में तेरी चाहत ऐसे बसा ली है,
एक लम्हा भी तुझ बिन ख़ास नहीं होता।

आलम बेवफाई का कुछ इस कदर बढ़ गया,
फासला तय होता रहा और दूरियां बढ़ती गई।

तू मुझसे दूरियाँ बढ़ाने का शौक पूरा कर,
मेरी भी जिद है तुझे हर दुआ में मागुँगा।

दरियों का ग़म नहीं,
अगर फ़ासले दिल में न हो,
नज़दीकियां बेकार है,
अगर जगह दिल में ना हो।

ये दूरियाँ तो मिटा दूँ
मैं एक पल में मगर,
कभी कदम नहीं चलते
कभी रास्ते नहीं मिलते।

दूरियां बढ़ना लाज़मी था,
प्यार हमारा एकतरफा जो था।

एक सिल-सिले की उम्मीद थी जिनसे,
वही फ़ासले बनाते गये।
हम तो पास आने की कोशिश में थे,
ना जाने क्यूँ वो हमसे दूरियाँ बढ़ाते गये।

तुम कितने दूर हो मुझसे,
मैं कितना पास हूँ तुमसे.
तुम्हें पाना भी नामुमकिन,
तुम्हें खोना भी नामुमकिन।

तुझसे दूर रहकर कुछ यूँ वक़्त गुजारा मैंने,
ना होंठ हिले फिर भी तुझे पल-पल पुकारा मैंने।

दूरियों का एहसास उस वक़्त हुआ,
जब मैं उसके सामने से गुजरी,
और उसे मेरी मौजूदगी का
एहसास तक ना हुआ।

सिर्फ नज़दीकियों से मोहब्बत हुआ नहीं करती,
फैसले जो दिलों में हो तो फिर चहत हुआ नहीं करती,
अगर नाराज़ हो खफा हो तो शिकायत करो हमसे,
खामोश रहने से दिलों की दूरियां मिटा नहीं करती।

वो क़रीब बहुत है,
मगर दूरियों के साथ…
हम दोनों जी तो रहे हैं।
मगर मजबूरियों के साथ !

उसने मुझसे ना जाने क्यों ये दूरी कर ली,
बिछड़ के उसने मोहब्बत ही अधूरी कर दी,
मेरे मुकद्दर में दर्द आया तो क्या हुआ,
खुदा ने उसकी ख्वाहिश तो पूरी कर दी।

ख़्वाबों में भी ख़्वाब बनकर आते हो,
जाना इतनी दूरियां कहा से लाते हो।

Read Also: नफरत शायरी

इस कदर दिल को दुखाना अच्छा नहीं होता,
हर किसी से यूँ दिल को लगाना अच्छा नहीं होता,
कुछ रिश्ते होते हैं ऐसे जिनमे बेहतर है दूरियां,
इतना भी किसी के करीब जाना अच्छा नहीं होता।

बहुत खास है वो शक्स मेरे लिए,
फिर भी वो मेरा दिल दुखाता है,
सब के लिए वक्त है उसके पास,
बस मुझसे ही दूरियां बनाता है।

मीलों की दूरियां पर धड़कनों के क़रीब हैं,
देखिए ना दूर होके भी हम कितने नज़दीक हैं।

बिन बताये उसने न जाने क्यों ये दूरी कर दी,
बिछड़ के उसने मोहब्बत ही अधूरी कर दी,
मेरे मुकद्दर में घूम आये तो क्या हुआ,
खुदा ने उसकी ख्वाइश तो पूरी कर दी।

तेरा मेरा दिल का रिश्ता भी अजीब है,
मीलों की दूरियां है और,
धड़कन कितना करीब है

दूरी ने कर दिया है तुझे और भी करीब,
तेरा ख़याल आ कर न जाये तो क्या करें।

हम बताएंगे भी नहीं जताएंगे भी नहीं,
दूरी बना कर रखेगे मिटाएंगे भी नहीं।

तुझसे दूरी का एहसास सताने लगा,
तेरे साथ गुज़रा हर पल याद आने लगा,
जब भी कोशिश की तुझे भूलने की,
तू और ज्यादा दिल के करीब आने लगा।

*****

थोड़ी दूरियाँ भी ज़रूरी है,
ज़िन्दगी में,
किसी के इतने करीब भी न जाओ,
की वो दूर चला जाये .

मोहब्बत ऐसी थी कि उनको बताई न गयी,
चोट दिल पर थी इसलिए दिखाई न गयी,
चाहते नहीं थे उनसे दूर होना पर,
दूरी इतनी थी कि मिटाई न गयी।

कुछ हमें भी बता देते यूं दूरियां न जताते,
इल्ज़ाम हज़ारों लगाये, ख़ता भी बता जाते।

उनकी गलियों की हवा हर दर्द की दवा बन गयी,
दूरी उनसे मेरी चाहत की सज़ा बन गयी,
कैसे भूलूँ उन्हें एक पल के लिए,
उनकी याद तोह जीने की वजह बन गयी।

Dooriyan Shayari in Hindi

दूर हो रहे है वो धीरे धीरे,
मुझे तडपा रहे है वो धीरे धीरे,
उन्हें तो कुछ पता ही नही,
जान जा रही है मेरी धीरे धीरे .

दूरियों की ना परवाह कीजिये,
दिल जब भी पुकारे बुला लीजिये,
कहीं दूर नहीं हैं हम आपसे,
बस अपनी पलकों को आँखों से मिला लीजिये।

ये दूरियां कहां मायने रखती इश्क में ,
दिल-ए-मुस्कुराहट के लिए
तेरी याद ही काफी है।

दूरियों से फर्क नहीं पड़ता,
बात तो दिल की नजदीकियों की होती है!
दिल के रिश्ते तो किस्मत से बनते हैं,
वर्ना मुलाकात तो जाने कितनों से होती है!

सजा न दे मुझे बेक़सूर हूँ मैं,
थाम ले मुझको ग़मों से चूर हूँ मैं,
तेरी दूरी ने कर दिया है पागल मुझे,
और लोग कहते हैं कि मगरूर हूँ मैं।

तेरी तस्वीरों को ही सीने से लगा लेते हैं,
दूरियों को हम कुछ इस तरह मिटा लेते हैं।

दूर रहकर भी तुम्हारी हर,
खबर रखते है,
हम पास तुम्हे कुछ,
इस कदर रखते है

Read Also: एक लाइन शायरी

ये दूरियां ना होती हमारे दर्मियां,
काश
कभी जो सुन लेते तुम मेरी ये खामोशियां।

एक सिल – सिले की उम्मीद थी जिनसे,
बही फासले बनाते गये,
हम तो पास आने की कोशिश में थे,
ना जाने क्यू वो हमसे दूरियाँ बढ़ाते गये।

दूर ही थे तो अच्छा था,
करीब आकर दूरियां बढ़ा दी हमने।

दूरियां बहुत हैं मगर इतना समझ लो,
पास रह कर ही कोई खास नहीं होता,
तुम इस कदर पास हो मेरे दिल के की,
मुझे दूरियों का एहसास नहीं होता।

कभी तो आ बैठ मेरे पास थोड़ा बतियाते है,
बढ़ रही है जो दूरियां उन दूरियों को मिटाते हैं।

तुझ से दूरी का एहसास सताने लगा,
तेरे साथ गुज़रा हर पल याद आने लगा,
जब भी कोशिश की तुहोभूलने की,
तू और ज्यादा दिल के करीब आने लगा ।

उसकी बेरुखी और मेरी खुदगर्ज़ी,
अक्सर दूरियां ले आती हैं।

******

हम तुमसे दूर कैसे रह पाते,
दिल से तुमको…कैसे भूल पाते,
काश तुम आईने में बसे होते,
हम खुद को देखते तो तुम नज़र आते।

हमारे बीच जो ये दूरियां आयी है,
कही न कही इन फासलों के
पिछे सारे फैसले तुम्हारे ही तो है।।

वक्त नूरको बेनूर कर देता है,
छोटे से जख्म को नासूरकर देता है,
कौन चाहता है अपने से दूर होना,
लेकिन वक्त सबको मजबूरकर देता है !

Dooriyan Shayari in Hindi

दोनों के बीच की दूरिया बता रही है आज,
कि रिश्ता कितने क़रीब का था दोनों का।

दूरियां ही नजदीक लाती हैं,
दूरियां ही एक दूजे की याद दिलाती हैं,
दूर होकर भी कोई करीब है कितना,
दूरियां ही इस बात का एहसास दिलाती हैं !

कुछ अनकहे लफ़्ज़ों को
कुचलकर निकलती हैं,
ये दूरियां भी रोज कातिल
बनकर निकलती हैं।

माना की दूरियां कुछ बढ़ सी गई है लेकिन,
तेरे हिस्से का वक्त आज भी तन्हा ही गुजरता है

रिश्तों में दूरियां कभी इतनी मत बढ़ा लेना,
के दरवाज़ा खुला हो फिर भी खटखटाना पड़े।

दूरियां अच्छी लगने लगी है अब मुझे,
जबरदस्ती के प्यार से अब मन थक चूका है।

वज़ह को मिटा दो दूरियां करो ख़तम,
यहां दिल के रास्ते है खुले,
करीब आ जाओ तुम।

हर आशिक अपने महबूब के साथ होता,
परिंदा बनना अगर इंसान के हाथ होता.

ये कैसी मजबूरी है?,
पास है वो,
फिर भी मीलों सी दूरी है।

सबूतो की ज़रूरत पड़ रही है,
यानी रिश्तों मे दूरी बढ़ रही है

Read Also: लम्हा शायरी

कहने को तो तुम्हें नजरअंदाज कर रहा हूँ,
न चाहते हुए भी तुमसे अब दूर जा रहा हूँ,
दूरियां बनाकर भी क्या कर लिया तुमने,
रहते तो आज भी मेरे दिल में ही हो।

खुद के लिए एक सज़ा चुन ली मैंने..
तेरी खुशियों की खातिर तुझसे दूरियां
चुन ला मैने।

तकलीफ देकर ही सुकून
आता है तो हमे वो भी मंजूर है,
दूर होकर ही पास आना है
तो हमें वो भी मंजूर है।

हमारे दरमियाँ ये दूरियाँ न होती,
और कुछ मेरी मजबूरियां न होती,
रहते न यूँ मेरे हाथ खाली,
गर ज़माने की ये बेड़ियाँ न होती।

******

ये दूरियां ये तन्हाई, ये ग़म-ए-जुदाई,
कैसे जिंदा हो तुम, कैसे जी रहे है हम।

बोहोत खुश नसीब हूँ मै क्यूंकि,
तेरे सबसे ज़्यादा क़रीब हु मै।

दूरियों का भी अपना मजा है,
दर्द और अहमियत की
अच्छी सीख जो दे जाता है।

ना तुम दूर जाना ना हम दूर जायेंगे,
अपने अपने हिस्से की दोस्ती निभाएंगे।
बहुत अच्छा लगेगा जिंदगी का यह सफर,
आप वहां से याद करना हम यहां से मुस्कुराएंगे।

जो रिश्ते दिल से बनाए जाते है,
वो दूर रहने पर भी दिल के
सबसे करीब पाए जाते है।

Dooriyan Shayari in Hindi

ये दूरी हमसे अब और सही नहीं जाती,
बस तेरे पास आने को मेरा जी चाहता है,
तोड़कर सारी दुनिया की रस्मो – रिवाजों को,
तुझे अपना बनाने को जी चाहता है ।

थोड़ा थोड़ा पास आने से
नज़दीकियां बढ़ती हैं,
और थोड़ा थोड़ा दूर जाने से दूरियाँ।

नफरतों के बाज़ार में
कीमत सिर्फ बदले की होती हैं,
उम्मीदों के भाव गिरते हैं,
और दूरियां पनपती हैं ।

फासलो से अगर मुस्कुराहट
लौट आए तुम्हारी,
तो तुम्हे हक है दूरियां बढ़ा लो तुम।

दूरियां खंजर सी चुभ रही हैं,
करीबियत की धार कुछ ज्यादा ही है।

कभी कभी रिश्तों में दूरियां
भी जरूरी होती है,
अक्सर ज्यादा पास रहने से
रिश्ते बोझ लगने लगते है।

दूरियां दिल की होती तो खत्म कर देते,
दूरियां तो दिमाग की थी,कैसे खत्म करते।

Read Also

ख्वाब शायरी

क्यूट शायरी

ब्रोकन हार्ट शायरी

इनका नाम राहुल सिंह तंवर है, इन्होंने स्नातक (रसायन, भौतिक, गणित) की पढ़ाई की है और आगे की भी जारी है। इनकी रूचि नई चीजों के बारे में लिखना और उन्हें आप तक पहुँचाने में अधिक है। इनको 3 वर्ष से भी अधिक SEO का अनुभव होने के साथ ही 3.5 वर्ष का कंटेंट राइटिंग का अनुभव है। इनके द्वारा लिखा गया कंटेंट आपको कैसा लगा, कमेंट बॉक्स में जरूर बताएं। आप इनसे नीचे दिए सोशल मीडिया हैंडल पर जुड़ सकते हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here