Home > Biography > जया किशोरी जी का जीवन परिचय

जया किशोरी जी का जीवन परिचय

Jaya Kishori Biography: कथावाचक तथा भजन गायिका जया किशोरी ने बेहद कम आयु में अपनी मधुरवाणी से करोड़ों लोगों को प्रभावित किया हैं। जया किशोरी जब अपनी सम्मोहक वाणी में नानी बाई रो मायरो गाती हैं तब सुनने वाले श्रोता झुमने को मजबूर हो जाते हैं।

jaya-kishori-biography-hindi
Jaya Kishori Biography

बेहद कम आयु में भगवान के प्रति भक्ति व प्रेम से हजारों लोगों को प्रभावित करने वाली जय किशोरी जी का जीवन किसी प्रेरणा से कम नहीं हैं।

आज हम आपको जया किशोर जी का परिचय (jaya kishori biography in hindi) बताने जा रहे हैं, उम्मीद करते हैं आपको जरुर पसंद आएगी।

यहां पर जया किशोरी कौन है, जया किशोरी का परिवार, जया किशोरी की शिक्षा, जया किशोरी उम्र (jaya kishori age), जया किशोरी पति नाम (jaya kishori husband name) आदि के बारे में विस्तार से जानकारी प्राप्त करेंगे।

जया किशोरी का जीवन परिचय (Jaya Kishori Biography in Hindi)

नामजया शर्मा
उपनामजया किशोरी, आधुनिक युग की मीरा
उपाधिकिशोरी जी
जन्म और जन्मस्थान13 जुलाई 1995, सुजानगढ़ (राजस्थान)
माता का नामसोनिया शर्मा
पिता का नामशिव शंकर शर्मा
भाई-बहनचेतना शर्मा (1 बहन ()
पति का नामअविवाहित
शिक्षाबी.कॉम
स्कूल/कॉलेजमहादेवी बिडला वर्ल्ड एकेडमी, कोलकाता
श्री शिक्षायतन कॉलेज, कोलकाता
जातिगौड़ ब्राह्मण
पेशाआध्यात्मिक वक्ता और संगीत कलाकार
धर्महिन्दू
राष्ट्रीयताभारतीय
निवास स्थानबालाजी गंगा कॉम्प्लेक्स, 105 डी बिधान नगर रोड, उल्टाडांगा बिधान नगर रेलवे स्टेशन के पास, कोलकाता (700067)

जया किशोरी का जन्म और परिवार

जया किशोरी का पूरा नाम जया शर्मा हैं। इनका जन्म 13 जुलाई 1995 को राजस्थान के गाँव सुजानगढ़ में एक गौड़ ब्राह्मण परिवार में हुआ था।

इनके पिता का नाम शिव शंकर शर्मा (राधे श्याम हरितपाल) और माता का नाम सोनिया शर्मा है। इनकी एक बहिन भी जिसका नाम चेतना शर्मा है।

jaya-kishori-family-photo

अपने सभी भाई बहनों से बड़ी जय किशोरी जी का मन बचपन से ही भगवान की भक्ति में लग गया था। शुरू से ही घर में भक्तिमय माहौल होने से इनकी भगवान की कथा और भजनों में रूचि बढ़ गयी।

जया किशोरी की शिक्षा

जया किशोरी ने अपनी स्कूली पढ़ाई कोलकाता के महादेवी बिडला वर्ल्ड एकेडमी और श्री शिक्षायतन कॉलेज, कोलकाता से करने के बाद इन्होनें बी.कॉम की पढाई पूरी की हैं।

जया किशोरी ने मात्र 9 वर्ष की आयु में संस्कृत में लिंगाष्टकम्, शिव-तांडव स्तोत्रम्, रामाष्टकम्, मधुराष्टकम्, श्रीरुद्राष्टकम्, शिवपंचाक्षर स्तोत्रम्, दारिद्रय दहन शिव स्तोत्रम् आदि कई स्तोत्रों को गाकर हजारों श्रोताओं को प्रभावित किया है।

jaya-kishori01

10 साल की आयु में जया किशोरी ने अमोघफलदायी सम्पूर्ण सुन्दरकाण्ड गाकर लाखों लोगों के दिलों में विशेष जगह बना ली थी।

जया किशोर जी के पति का नाम

jaya-kishori02
jaya-kishori

हर कोई जया किशोर जी के पति का नाम और जया किशोर जी की शादी कहां हुई जानना चाहता है। लेकिन जया किशोरी ने अपने एक इंटरव्यू में कहा हैं कि वे कोई साधु या सन्यासिनी नहीं हैं, मात्र एक सामान्य महिला है।

उन्होंने कहा की उनकी अभी शादी नहीं हुई है। इसमें बहुत देर है और वे यह कभी भी नहीं चाहेंगी कि शादी के कारण उनकी कथा प्रभावित हो।

वे कथा छोड़कर शादी नहीं करना चाहेंगी। इनके गुरू पं. श्री गोविन्दरामजी मिश्र ने इनके भगवान श्री कृष्ण के प्रति प्रेम को देखते हुए इनको “किशोरी जी” की उपाधि दी।

जया जी कहती हैं कि उन्हें अधिक समय तक अपने गुरु का सानिध्य नहीं मिल सका।

इनकी कथाओं द्वारा आने वाला चंदा जया किशोरी उदयपुर की एक संस्था नारायण सेवा संस्थान को दान के रूप में दे देती है।

यह संस्था दिव्यांग और अपंग लोगों के लिए अस्पताल चलाती है तथा गरीबों की सेवा करती है। नारायण सेवा संस्थान द्वारा कई गौशालाओं का भी संचालन किया जाता है।

jaya-kishori-biography-hindi
Narayan Sewa Sansthan

जया किशोरी द्वारा जीवन जीने का नजरियाँ

जया किशोरी बेहद सादा जीवन जीने में भरोसा करती है। वे कहती हैं कि वर्तमान में तकनीक के चलते बच्चों का जीवन मोबाइल तथा लैपटॉप तक ही सिमित हो गया है। इससे बच्चों में संस्कारों की कमी साफ़ देखी जा सकती है।

आजकल के युवाओं द्वारा बुजुर्गों तथा माता-पिता का सम्मान न करना, साधु तथा सन्यासियों का अनादर करना, सामाजिक मर्यादाओं को तोड़ना। इस बात का संकेत हैं कि हम कहीं न कहीं अपने संस्कारों को भूलते जा रहे हैं।

jaya-kishori

जया किशोरी इन्हीं सब बातों को अपनी सरल तथा मधुर वाणी और अपने स्वयं के अनुभवों के आधार पर सम्पूर्ण समाज को बताने का प्रयास करती है।

जिस उम्र में लड़कियां घूमना-फिरना तथा श्रृंगार करना पसंद करती है, उस उम्र में जया किशोरी भगवान की भक्ति में लीन है। उनका मानना हैं कि भगवान की भक्ति ही जीवन की सही दिशा है।

jaya-kishori-katha03

जया किशोरी का भगवान खाटूश्यामजी में अथाह विश्वास है। यही कारण हैं कि वे हर साल राजस्थान में अपने पूरे परिवार के साथ खाटूश्यामजी के मंदिर जरूर जाती है।

वे जब भी खाटूश्यामजी के मंदिर राजस्थान जाती हैं तब वह अपने परिवार के साथ पंचायती धर्मशाला में रूकती है। इस दौरान दो-तीन दिन जया किशोरी के सानिध्य में पूरा माहौल भक्तिमय हो जाता है।

वे बचपन में भगवान श्री कृष्ण के लिए क्लासिकल नृत्य करती थी, उनका पालन पोषण ऐसे परिवार में हुआ, जो कृष्ण भक्ति में बहुत ही अधिक भरोसा करता है। आज पूरी दुनिया में जया किशोरी कथा वाचक तथा भजन गायिका के नाम से प्रसिद्ध है।

ब्रह्म कुमारी शिवानी का जीवन परिचय विस्तार से जानने के लिए यहां क्लिक करें।

जया किशोरी को प्राप्त अवार्ड

जया किशोरी को कई तरह के अवार्ड प्राप्त हो चुके है, जिनमें से कुछ निम्न प्रकार से है:

  • जनवरी 2016 में पुणे में आयोजित छठे भारतीय छात्र संसद पुरस्कार समारोह में राष्ट्रीय स्वयं सेवक संघ के प्रमुख श्री मोहन भागवत द्वारा “आदर्श युवा आध्यात्मिक गुरु पुरस्कार” से सम्मानित किया गया।
  • नारायण सेवा संस्थान, उदयपुर द्वारा “समाज रतन पुरस्कार” से पुरस्कृत किया गया है।
  • “संस्कार कलाकार ऑफ द ईयर 2013-2014” संस्कार चैनल, मुंबई द्वारा संस्कार संध्या से सम्मानित किया गया है।
  • ‘युवा आध्यात्मिक आइकन’ के रूप में फेम इंडिया मैगज़ीन द्वारा जवाजा गया है।
  • राष्ट्र में बहुमूल्य योगदान के लिए वूमेन एरा पुरस्कार से सम्मान मिला है।
  • सम्पूर्ण दुनिया में प्रेरक महिलाओं में से एक महिला के रूप में पेंसिल डॉटकॉम से पुरस्कृत किया गया है।
  • फेम इंडिया एशिया पोस्ट सर्वे 2019 यूथ आइकॉन “युवा” सर्वे रिपोर्ट में जया किशोरी 18320 प्रबुद्ध लोगों ने “अध्यातम” की श्रेणी में रखा है।
  • आइकॉनिक गोल्ड अवार्ड्स 2021 द्वारा “आइकॉनिक वुमन मोटिवेशनल स्पीकर ऑफ द ईयर 2021” से सम्मानित किया गया है।
  • लोकमत डिजिटल इन्फ्लुएंसर अवार्ड्स 2021 द्वारा “बेस्ट स्पिरिचुअल इन्फ्लुएंसर” से पुरस्कृत किया गया है।
  • “बेस्ट मोटिवेशनल स्पीकर 2021” का भी सम्मान मिल चुका है।
  • मई 2022 में सबसे प्रेरक महिला (आध्यात्मिक) क्र रूप में ग्लोबल एक्सीलेंस अवार्ड्स (जीईए) मिला है।

जया किशोरी के भजन

  • राधिका गौरि से
  • अच्युतम केस्वाम कृष्ण दामोदरम
  • गाड़ी में बिठा ले रे बाबा
  • सबसे ऊँची प्रेम सगाई
  • हरे कृष्णा हरे कृष्णा हरे रामा हरे रमा
  • लिंगाष्टकम मृत्युंजय जाप
  • आज हरी आये विदुर घर
  • माँ बाप को मत भूलना
  • मेरा आपकी कृपा से सब काम हो रहा है
  • कृष्ण गोविन्द गोविन्द गोपाल नंदलाल
  • जगत के रंग क्या देखू
  • इतनी खात्री करवावे ईगो काई लगे

जया किशोरी अपनी मधुर वाणी से कई भजन को गाती है। इन्ही भजनों में से एक जया किशोरी के द्वारा गया गया एक भजन हम यहां पर संलग्न कर रहे हैं। आप इसे सुने और इसका आनंद ले।

जया किशोरी के भजन आपको यूट्यूब पर आसानी से मिल जायेंगे।

जया किशोरी लाखों में लेती है फीस

जया किशोरी वर्तमान में एक प्रसिद्ध और नामी कथावाचक बन चुकी हैं। यह देश विदेश तक कथा सुनाने के लिए जाती हैं।

जब भी नानी बाई का मायरो और श्रीमद् भागवत कथा होता है, उसके लिए रिपोर्ट के मुताबिक जया किशोरी 9 से 10 लाख रुपए तक का फीस चार्ज करती हैं, जिसमें से आधी फीस आधे बुकिंग के समय ही ले लिया जाता है। बाकी कथा पूरी होने के बाद लिया जाता है।

हालांकि ऐसा नहीं है कि जया किशोरी लाखों रुपए कमाती हैं तो केवल अपने ऊपर खर्च करती हैं। यह अपने कमाई का आधे से भी ज्यादा हिस्सा गरीब और निस्सहाय लोगों की मदद में दान कर देती हैं।

यह कई बड़े संस्थान से जुड़ी हुई है। आर्थिक रूप से कमजोर बच्चों के लिए यह पढ़ाई का खर्चा भी उठाती हैं। यहां तक कि नारायण सेवा संस्थान से यह जुड़ी हुई है, जो गौशाला चलाती हैं।

इस तरीके से जया किशोरी जितनी प्रसिद्ध कथावाचक है, यह दिल से भी उतनी ही अच्छी है और अच्छी समाजसेविका है।

जया किशोरी जी सोशल अकाउंट

Jaya Kishori InstagramClick Here
Jaya Kishori FacebookClick Here
Jaya Kishori YouTubeClick Here
Jaya Kishori TwitterClick Here
Jaya Kishori WebsiteClick Here

जया किशोरी से आप सीधा उनसे सोशल मीडिया पर जुड़ सकते हैं। जया किशोरी के सोशल मीडिया पर हमेशा उनके सुविचार और उनसे जुड़ी जानकारी शेयर की जाती है।

Jaya Kishori YouTube

वहां पर जया किशोरी को चाहने वाले लाखों लोग है। आपको बता दें कि जया किशोरी का ऑफिसियल यूट्यूब चैनल भी है, जिस पर 2 मिलियन से भी ज्यादा सब्सक्राइबर है।

जया किशोरी संबंधित अफवाह

आज के सोशल मीडिया के समय में बड़े शख्सियत के साथ कुछ अफवाह होना आम बात है। हालांकि कुछ लोग अपने फायदे या बिना मतलब के बिना कोई सत्यता के अफवाह फैला कर ऐसे लोगों का नाम खराब करते हैं।

जया किशोरी भी ऐसे अफवाह का सामना कर चुकी है। कुछ महीने पहले जया किशोरी का संबंध धीरेंद्र शास्त्री से बताया जा रहा था। कहा जा रहा था कि दोनों की जल्दी शादी होगी। हालांकि यह अफवाह थी।

इसके बारे में जया किशोरी ने कहा भी कि अचानक से सुबह उठकर जब ऐसी खबर सुनने को आपके बारे में मिले, जो बिल्कुल सत्य ना हो तो बहुत ही बुरा लगता है।

ना केवल जया किशोरी बल्कि धीरेंद्र शास्त्री ने भी इस अफवाह का खंडन करते हुए कहा कि वह जया किशोरी को अपनी बहन मानते हैं।

पंडित धीरेंद्र कृष्ण शास्त्री का जीवन परिचय विस्तार से जानने के लिए यहां क्लिक करें।

जया किशोरी के बारे में कुछ रोचक तथ्य

  • जया किशोरी का असली नाम जया शर्मा है। लेकिन पंडित गोविंदराम मिश्रा इन्हें पहले राधा कहा करते थे और भगवान श्री कृष्ण के प्रति इनके अत्यधिक प्रेम को देखने के बाद उन्होंने ही इन्हें “किशोरी जी” की उपाधि दी थी तब से यह जया किशोरी के नाम से जानी जाती है।
  • जया किशोरी मात्र 7 साल की उम्र से ही सत्संग में भजन करना शुरू कर दिया था। इन्होंने पहली बार बसंत महोत्सव जो कोलकाता में आयोजित हुआ था, उस सत्संग में भजन गाया था।
  • जया किशोरी अपने सात दिनों के कथा श्रीमद् भागवत और तीन दिवसीय कथा नानी बाई रो मायरो प्रवचन के लिए काफी प्रसिद्ध है।
  • मात्र 10 साल की उम्र में जया किशोरी ने पहली बार अकेले ही मंच पर सुंदरकांड का पूरा पाठ सुनाया था।
  • जया किशोरी के कथा वाचक होने का श्रेय इनके दादी और दादा को ही जाता है, जो इनके आध्यात्मिक विकास को प्रभावित करने के लिए इन्हें बचपन से ही भजन कीर्तन सुनाया करते थे।
  • जया किशोरी एक अच्छी कथावाचक है लेकिन इसके साथ ही इन्हें हारमोनियम बजाना और संगीत सुनना बहुत ही अच्छा लगता है।
  • जया किशोरी का अपना खुद का एप्लीकेशन भी है, जिसका नाम जया किशोरी जी ऑफिशियल एप है। इसे 19 सितंबर 2018 को लांच किया गया था।
  • जया किशोरी का नाम गिनीज बुक ऑफ वर्ल्ड रिकॉर्ड में भी दर्ज है। क्योंकि साल 2018 में जया किशोरी की श्रीमद् भागवत कथा में संजय शुक्ला और अंजली शुक्ला का सामूहिक आमंत्रण का आयोजन था। जिसमें घर-घर जाकर महिलाओं को कुल मिलाकर 11000 साड़ी का वितरण किया गया था।

FAQ

जया किशोरी का जन्म कब और कहां हुआ है?

जया किशोरी का जन्म 13 जुलाई 1995 को राजस्थान के गाँव सुजानगढ़ में एक गौड़ ब्राह्मण परिवार में हुआ था।

जया किशोरी की उम्र कितनी है?

जया किशोरी की उम्र 28 वर्ष है।

जया किशोरी कहां की रहने वाली है?

जया किशोरी मूल रूप से कोलकाता की रहने वाली है।

जया किशोर जी की शादी कहां हुई?

जया किशोरी ने अपने एक इंटरव्यू में कहा हैं कि वे कोई साधु या सन्यासिनी नहीं हैं, मात्र एक सामान्य महिला है। उन्होंने कहा की उनकी अभी शादी नहीं हुई है। इसमें बहुत देर है और वे यह कभी भी नहीं चाहेंगी कि शादी के कारण उनकी कथा प्रभावित हो।

निष्कर्ष

इस लेख में जया किशोरी बायोग्राफी (jaya kishori ka jivan parichay) के बारे में विस्तार से बताया है। साथ ही इनके परिवार, पति, शिक्षा, करियर आदि के बारे में भी जाना है।

हम उम्मीद करते हैं कि आपको यह जया किशोर जी का जीवन परिचय के बारे में जानकारी पसंद आई होगी, इसे आगे शेयर जरुर करें। यदि इससे जुड़ा कोई सवाल या सुझाव है तो कमेंट बॉक्स में जरुर बताएं।

यह भी पढ़े

संत कृपाराम महाराज का जीवन परिचय

देवकीनंदन ठाकुर महाराज का जीवन परिचय

नीम करौली बाबा का जीवन परिचय

प्रतापपुरी महाराज का जीवन परिचय

Rahul Singh Tanwar
Rahul Singh Tanwar
राहुल सिंह तंवर पिछले 7 वर्ष से भी अधिक समय से कंटेंट राइटिंग कर रहे हैं। इनको SEO और ब्लॉगिंग का अच्छा अनुभव है। इन्होने एंटरटेनमेंट, जीवनी, शिक्षा, टुटोरिअल, टेक्नोलॉजी, ऑनलाइन अर्निंग, ट्रेवलिंग, निबंध, करेंट अफेयर्स, सामान्य ज्ञान जैसे विविध विषयों पर कई बेहतरीन लेख लिखे हैं। इनके लेख बेहतरीन गुणवत्ता के लिए जाने जाते हैं।

Related Posts

Comments (2)

  1. Hi Jaya kishoris Radhy Radhy Radhy in India ?? karalo dhuniy mhuthi mey laksh na ojal honey paiy kadham milakar chal safalata thiriy kadham chumigi aj nahi tho kal like u

    Reply

Leave a Comment