तोते पर निबंध

Essay on Parrot in Hindi: तोता सभी लोगों को पसंद होता है। तोता एक पालतू पक्षी है। परीक्षा में विद्यार्थियों को ज्यादातर मेरा प्रिय पक्षी तोता निबंध या Paragraph on Parrot in Hindi पूछा जाता है। यहां पर हमने तोते पर निबंध शेयर किया है। यह हिंदी निबंध 1, 2, 3, 4, 5, 6, 7, 8, 9, 10, 11, 12 और उच्च शिक्षा के विद्यार्थियों के लिए मददगार साबित होगा। इस निबंध में तोते के बारे में पूरी जानकारी (Parrot Information in Hindi) शेयर करते हुए अलग-अलग शब्द सीमा में निबन्ध शेयर किये है, जो विद्यार्थियों के लिए उपयोगी साबित होंगे।

Essay on Parrot in Hindi
Essay on Parrot in Hindi

इस आर्टिकल में हमने तोते के बारे में जानकारी ( About Parrot in Hindi) आपको बेहद सरल भाषा में प्रदान की है, जो आपको Tota Par Nibandh या Parrot Essay in Hindi लिखने में काफी मददगार साबित होगी। तो चलिए जानते है Tote Par Nibandh के बारे में।

तोते पर निबंध | Essay on Parrot in Hindi

तोते पर पांच वाक्य – 1 | Few Lines on Parrot in Hindi

  1. तोता एक हरे रंग का बहुत सुन्दर पक्षी है।
  2. तोते पालतू पक्षी हैं, कई लोग इसे अपने घरों में रखना पसंद करते है।
  3. उसके पंख हरे रंग का होता है और इसकी घुमावदार लाल चोंच होती है।
  4. नर तोते की गर्दन पर काली अंगूठी होती है।
  5. तोता अनाज, फल, सब्जी और उबले चावल खाता है।

तोते पर पांच वाक्य – 2 | Few Lines on Parrot in Hindi

  1. तोता एक चतुर पक्षी है, जो लोगों की नक़ल उतारने में माहिर होता है
  2. यह लगभग दुनिया के सभी गर्म देशों में पाया जाता है,लेकिन ज्यादातर तोता ऑस्ट्रेलिया में पाए जाते है
  3. उनकी मुख्य विशेषताओं में से एक यह है कि वे शोर और ध्वनियों को याद कर सकते हैं
  4. तोते 400 से अधिक प्रजातियों की श्रेणी से संबंधित हैं
  5. तोता 15 से 80 साल तक जीवित रह सकता है।

तोते पर पांच वाक्य -3 | Few Lines on Parrot in Hindi

  1. तोता एक मध्यम आकार का पक्षी है।
  2. भारत में तोते आमतौर पर हरे रंग के होते हैं, लेकिन अन्य देशों में तोते अन्य अलग-अलग रंगों जैसे सफेद, नीले, आसमानी, पीले, लाल आदि में भी पाए जाते हैं।
  3. तोता आमतौर पर झुंड में रहना पसंद करता है और जब वह खाने की तलाश में जाता है, तो अपने 10 से 15 तोतों के झुण्ड के साथ चला जाता है।
  4. तोते की आंखें काली और चमकदार होती हैं और उनकी आंखों के चारों ओर भूरे रंग का छल्ला होता है।
  5. एक मादा तोता साल में 10 से 15 अंडे देती है।

तोते पर निबन्ध (150 शब्द)

तोता एक शाकाहारी पक्षी है और यह अपने खाने में सब्जियां और फल ज्यादा खाना पसंद करते हैं। तोते झुण्ड में रहना ज्यादा पसंद करते हैं, इसी कारण जब भी तोते अपने भोजन की तलाश करने जाते हैं तो झुण्ड में जाते हैं। तोता अपने भोजन की तलाश में 1000 किलोमीटर से ज्यादा की उड़ान भर सकता है।

तोता पक्षी समझदार और बुद्धिमान बहुत होता है। यदि तोते को इंसानों के बीच में एक महीने के लिए रख दिया जाए तो यह इंसानों की नकल करने लगता है और इंसानों की तरह कुछ कुछ शब्द बोलने भी लगता है। तोता कोई भी भाषा आसानी से सिख लेता है और इसकी आवाज एक किलोमीटर तक सुनी जा सकती है। तोते को भारत में ज्यादातर लोग पिंजरे में बंद करके घर में रखते हैं और इसको राम राम जैसे शब्द सिखाये जाते हैं। यह शब्द तोता घर में आये मेहमानों के स्वागत के लिए प्रयोग करता है।

तोते पर निबन्ध (200 शब्द)

इसके घोंसले को हिंदी में “कोटर” कहा जाता है। इसे तोता पेड़ के तने को गोल आकार में काटकर बनाता है। तोते की विश्व में कई प्रजातियां खोजी जा चुकी हैं। इसकी संख्या 350 से भी अधिक है। तोता गांव, शहर, खतों और जंगलो में हर जगह पर पाया जाता है।

तोते में नर और मादा का अंतर करना बहुत ही मुश्किल होता है। यदि तोते में नर और मादा का अन्तर करना हो तो इसका ब्लड टेस्ट करके ही पता लगाया जा सकता है। तोता अधिक नीम, जामुन और अमरूद के पेड़ पर रहता है।
तोता मुख रूप से ऑस्टेलिया और न्यूजीलैंड में पाया जाता है। इन देशों में यह सतरंगी रंग का होता है। इसकी सुन्दरता के कारण इसको यहां से पकड़कर दूसरे देशों में भेजा जाता है। तोते का वैज्ञानिक नाम “Psittaciformes” है और इसको इंगलिश में “Parrot” कहते है।

एक तोते का वजन 500 ग्राम से लेकर 1 किलो तक हो सकता है। पर कुछ तोते ऐसे भी होते हैं, जिनका वजन बिल्लियों के वजन के बराबर होता है। एक तोता मादा चाहे किसी भी रंग की हो वो अंडे सफ़ेद रंग के ही देती है। एक साल में एक मादा तोता 10 से 15 अंडे देती है। अंडे देने के 28 दिन बाद बच्चों का जन्म हो जाता है।

तोते पर निबन्ध (250 शब्द)

तोता दिखने में बहुत ही सुंदर पक्षी होता है, जिसके कारण इसे बहुत से लोग अपने घर पालना पसंद करते हैं और इसे प्यार से मिट्ठू कहा जाता है। तोता न ही ज्यादा बड़ा होता है और न ही ज्यादा छोटा होता है, यह मध्यम आकार का पक्षी होता है। यह पक्षी ज्यादा गर्म प्रदेशों में पाया जाता है। तोते का रंग कई प्रकार का होता है, जिनमें सतरंगी, सफ़ेद, नीला और पीला मुख्य है। लेकिन भारत में हरे रंग के तोते ज्यादा पाए जाते हैं।

तोते की लम्बाई सामान्यतया 10 से 12 इंच होती है और इसके गले के चारों ओर एक काले रंग की रिंग होती है, जिसे हिंदी में तोते की कंठी कहा जाता है। इसका सर इसके शरीर के मुकाबले छोटा होता है और इसकी आँखों का रंग काला और ऑंखें चमकीली होती है। इसके साथ ही तोते की आँखों के चारों और भूरे रंग की रिंग होती है, जो तोते की खूबसूरती को और भी बढ़ा देती है।

Essay on Parrot
Essay on Parrot

तोते के पंजे बहुत ही छोटे होते हैं जो बहुत ही नुकीले भी होते हैं, जिसके कारण तोता अपने भोजन को आसानी से अपने पंजो में पकड़ कर आसानी से खा सकता है। इसके पंखों की साइज़ भी छोटी ही होती है, इसके बावजूद भी तोते आसानी से उड़ान भर सकते हैं। इसकी चोंच का उपरी भाग मुड़ा हुआ होता है जो कि दूसरे पक्षियों में नहीं होता। इसकी चोंच का रंग लाल होता है।

तोते पर निबन्ध (600 शब्द)

प्रस्तावना

धरती पर कई प्रकार के जीव-जन्तु रहते है जिनमें सभी की अलग-अलग विशेषताएं होती है। इन्हीं विशेषताओं के कारण इनकी पहचान भी की जाती है, इन्हीं में तोता भी एक प्रकार का पक्षी है। तोता दिखने में सुंदर और मनमोहक होता है इसी के कारण ही तोता बाकि के पक्षिओं से भिन्न होता है। तोता विश्व के लगभग सभी देशों में पाया जाता है और सभी जगह पर अलग-अलग रंगों में पाया जाता है। इन रंगों में अधिकतर हरा होता है। हरे रंग के अलावा लाल, सतरंगी, पीला, नीला आदि में भी पाया जाता है।

यह समझदार और बुद्धिमान पक्षियों में से एक है। यदि तोता लोगों के सम्पर्क में अधिक रहता है तो वह उनकी नकल करना सीख जाता है। इसके साथ ही बोला भी सीख लेता है। तोते को प्रशिक्षण देकर कई भाषाएँ सिखाई भी जा सकती है।

तोता की शारीरिक संरचना

तोता अपनी चोंच के कारण सभी पक्षियों से भिन्न होता है, इसकी चोंच अद्वितीय होती है। भारत में तोते हरे रंग के अधिक पाए जाते हैं। तोते की चोंच का रंग लाल होता है और पूरा शरीर हरे रंग का होता है। इसकी आंखे काले रंग की चमकदार होती है। इसकी आँखों के चारों ओर भूरे रंग की वलय होती है जो तोते को सबसे अलग बनाती है। तोते की चोंच का उपरी भाग मुड़ा हुआ होता है। तोते के गले भी एक वलय होती है, जिसका रंग काला होता है, जिसे तोते की कंठी कहा जाता है।

तोते का पंजा बहुत मजबूत और छोटा होता है। तोते की आवाज कर्कश भरी होती है जो हमें 1 किलोमीटर की दूरी से भी सुनाई दे जाती है। तोता वजन में एक किलो तक हो सकता है और इसकी लम्बाई 12 इंच तक हो सकती है। इसके छोटे-छोटे पंख होते हैं जिसकी मदद से तोता एक दिन में 1000 किलोमीटर तक उड़ सकता है। एक तोता 10 से 15 वर्ष तक जीवित रहता है।

तोता की प्रजाति

पृथ्वी पर तोते की प्रजाति सबसे अधिक पाई जाती है। पृथ्वी पर तोते की प्रजाति लगभग 350 से भी अधिक खोजी जा चुकी है। इनमें से blue and gold macaw, sun conure, cilac-crowned amazon, eclectus, scarlet macaw आदि मुख्य है। Pygmy Parrot प्रजाति का तोता सबसे छोटा तोता है, जिसकी लम्बाई हमारी एक ऊँगली के समान होती है।

तोते की कुछ प्रजातियाँ ऐसी है, जिनका वजन बिल्ली के वजन के जितना होता है जिसके कारण वे उड़ नहीं पाते। इन्हीं वजनदार तोतो में Kakapo प्रजाति के तोते भी आते है।

तोता का भोजन

शाकाहारी पक्षियों में से एक तोता भी है। यह अपने भोजन में फूल, पते, बीज, सब्जी और दाना आदि लेता है। तोता फलों में आम और अमरुद सबसे अधिक पसंद करता है। तोता अपना भोजन झुण्ड में खोजने के लिए निकलते हैं।

तोता का निवास स्थान

यह एक ऐसा पक्षी है, जिसे लोग अपने घरों में पालना पसंद करते हैं। लोग अपने घरों में तोते को पिंजरे में बंद करके रखते हैं। जंगलों में तोता अपना घर पेड़ों के तनों में छेद बनाकर बनाता है, जिसे हम कोटर कहते हैं तोता नीम, जामुन, अमरूद आदि के पेड़ो पर रहना अधिक पसंद करता है।

तोता गर्म स्थानों में रहना अधिक पसंद करता है। तोता दुनिया के हर देश में पाया जाता है। लेकिन सबसे अधिक ऑस्ट्रेलिया और न्यूजीलैंड में पाया जाता है। तोते को ऑस्ट्रेलिया और न्यूजीलैंड देशों से अन्य देशों में निर्यात भी किया जाता है।

तोता की विशेषता

नर और मादा तोते में अंतर आसानी से नहीं किया जा सकता, इनके बीच अंतर करने के लिए इनका ब्लड टेस्ट किया जाता है। इसके बाद ही पता लगाया जा सकता है कि तोता नर है या मादा। एक मादा तोता 25 से 29 दिनों में अंडे देती है। तोता एक साल में 10 से 15 तक अंडे देती है।

उपसंहार

तोता एक सुंदर और मनमोहक पक्षी है, जो दुनिया के हर कोने में पाया जाता है। तोता एक ऐसा पक्षी है जिसे हम बोलना भी सीखा सकते है।

तोते के बारे में रोचक तथ्य

  1. तोता ही एक मात्र ऐसा पक्षी है जो भोजन को अपने पैरों में पकड़कर खाता है।
  2. तोते भी इंसानों की जैसे मोटापे के शिकार होते हैं।
  3. तोते का जीवनकाल 15 साल से 20 साल तक होता है।
  4. भारत में तोते को घर में पालना गैरकानूनी है।
  5. जितनी स्पीड में टाइगर दौड़ सकता है, उतनी ही स्पीड में तोता उड़ सकता है।
  6. तोते अपने बच्चों के नाम देते है और वो नाम जीवन भर के लिए होते हैं।
  7. तोते की चोंच लगातार बढ़ती रहती है।
  8. दुनिया का सबसे बड़ा तोता Macaw लगभग 10cm लम्बा है।
  9. दुनिया का सबसे छोटा तोता Pygmy है जिसका आकार हमारी उंगली के जितना है।
  10. नर और मादा तोते दिखने में एक जैसे ही होते हैं।
  11. Kakapo नामक तोते का वजन इतना ज्यादा है कि वो ठीक से उड़ नही पाता है इसलिये इसका शिकार जंगली जानवर आसानी से कर लेते है। यह प्राजाति विलुप्ति के कगार पर है।

मैं उम्मीद करता हूं कि आपको यह “तोता पर निबंध हिंदी में (Essay on Parrot in Hindi)” जानकारी पसंद आई होगी। इस निबंध को आगे शेयर जरूर करें और आपको यह निबंध कैसा लगा, हमें कमेंट बॉक्स में जरूर बताएं।

Read Also

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here