E-Mitra क्या है, कैसे खोले अपना E-Mitra और कैसे होगी इससे कमाई

eMitra Rajasthan | emitra.rajasthan.gov.in Portal ऑनलाइन पंजीकरण | eMitra Portal Rajasthan Registration, login | ई मित्र राजस्थान

कैसे खोले अपना E-Mitra (Kaise Khole Apna E-Mitra): नमस्कार मित्रों, आज बात करने वाले है ई-मित्र (E-Mitra) के बारे में। आज हम आपको बताएंगे कि E-Mitra क्या है, इसका सफल रजिस्ट्रेशन कैसे करें (E-Mitra Registration) और इसका लाइसेंस कैसे लें (How to Get E-Mitra Licence)। आज हम आपको इस आर्टिकल के माध्यम से इन सभी सवालों के जवाब देने जा रहे हैं, तो इसे अंत तक जरुर पढ़ें।

इ-मित्र क्या होता हैं? अगर इस सवाल का संक्षिप्त में उत्तर दें तो यह राजस्थान सरकार द्वारा ऐसी सुविधा हैं जिसमें नागरिकों को घर बैठे सरकार से जुड़ी विभिन्न सेवाओं का लाभ ले सकें। जैसे आप इ-मित्र के माध्यम से बिजली, पानी व मोबाइल का बिल जमा करवाने से लेकर विभिन्न प्रकार के प्रमाण पत्र जैसे जन्म-मृत्यु, मूल निवास, विभिन्न परीक्षाओं की फीस ऑनलाइन जमा करवाना, रेवेन्यु कोर्ट मैनेजमेंट, विवाह प्रमाण पत्र और रोजगार आवेदन जैसी सुविधा का लाभ आप घर बैठे ले सकते हैं।

वर्तमान में बढती आबादी और समय की कमी के कारण E-Mitra सेवा केन्द्रों की जरूरत पहले से कहीं अधिक हो गयी हैं। अगर देखा जाये तो इसमें बहुत ही अच्छा भविष्य और संभावनाएं हैं। आज हर गली नुक्कड़ व छोटे-छोटे गांवों में भी E-Mitra आसानी से मिल जाते है।

यदि आप भी E-Mitra पर काम करने की सोच रहे हैं या अपना खुद का E-Mitra खोलना चाहते हैं तो आप आसानी से खुद का E-Mitra खोल सकते हैं। लेकिन आपके अनुभव के अभाव में आपको इस काम की शुरुआत में समस्या आ सकती है। आज का यह आर्टिकल इसी जानकारी को लेकर लिखा है। इस आर्टिकल की सहायता से आप बहुत ही आसानी से और कम समय में ही अपना खुद का E-Mitra खोल पायेंगे।

Kaise Khole Apna E-Mitra

अगर आप अधिक जनसंख्या वाले गांव या शहर में अपना E-Mitra खोलते है तो आपके लिए यह एक अच्छा बिजनेस साबित हो सकता है। अगर आपके मन में यह सवाल हैं कि ई-मित्र से कितनी कमाई होती हैं? तो इसका उत्तर हैं अगर आप किसी अच्छे लोकेशन व अधिक आबादी वाले क्षेत्र में E-Mitra शुरू करते हैं तो हर महीने में 30,000 से 50,000 तक की कमाई कर सकते हैं। यह सही आंकडें नहीं हैं फिर भी आपको एक प्रकार से अंदाजा लग जायेगा।

कैसे खोले अपना E-Mitra (Kaise Khole Apna E-Mitra):

क्या होता है E-Mitra

E-Mitra का प्राथमिक उद्देश्य सभी विभागों से एक ही छत के नीचे जनता को एक कुशल और पारदर्शी और सुविधाजनक तरीके से एकिकृत नागरिक सेवाएं प्रदान करना है। नागरिक E-Mitra से कई सेवाओं का फायदा उठा सकते हैं। लोगों को घर के करीब ही कई सरकारी सेवाएं उपलब्ध कराने के लिये राजस्थान सरकार ने E-Mitra की सुविधा शुरू की।

राजस्थान सरकार ने 2004 में E-Mitra योजना की शुरुआत थी। शुरुआत में यह योजना बहुत सुस्त थी और लोगों को इस योजना के बारे कम पता था। लेकिन धीरे-धीरे इस योजना ने गति पकड़ ली और यह योजना आज एक सफल योजनाओं में एक बन गई है।

Read Also: आधार कार्ड की जानकारी ऑनलाइन अपडेट कैसे करें।

पहले लोगों को कई अलग-अलग कामों के लिए अलग-अलग विभागों के दफ्तर में जाना पड़ता था। इस मामले में कई सारा समय भी ख़राब होता था और कई सारी परेशानियों का भी सामना करना पड़ता था। लेकिन अब राजस्थान सरकार ने इन सेवाओं को हर घर के पास ही E-Mitra के रूप में ला रख दी है।

सरकार ने इसे एक से छोटे रूप से शुरू किया था। लेकिन बढ़ते समय में इसकी जरूरत और भी बढती गई और E-Mitra उपयोग हर दिन बढ़ने लगा। फिर राजस्थान सरकार द्वारा E-Mitra को सफल योजना का दर्जा दिया गया। आज समय में राजस्थान के गांव व शहरों में कुल E-Mitra की संख्या लगभग 40,000 से पार है।

ई मित्र के माध्यम से राजस्थान सरकार का उद्देश्य

राजस्थान सरकार की ई-मित्र योजना सभी सरकारी विभागों से जुड़ी सेवाओं को एक ही छत के नीचे राज्य के नागरिकों के लिए उपलब्ध करवाना इसका मुख्य उद्देश्य हैं। इस ऑनलाइन पोर्टल से नागरिक बेहतरीन, पारदर्शी व सुविधाजनक तरीके से सरकार की विभिन्न सेवाओं का लाभ ले सकते हैं।

राजस्थान सरकार की इस सुविधा ने लोगों का काम बहुत ही आसान बना दिया हैं। इससे पहले नागरिकों को प्रत्येक काम के लिए अलग-अलग विभागों के चक्कर काटने पड़ते थे, जिसमें समय व उर्जा दोनों ही नष्ट होते थे। लेकिन अब सरकार की इस ई-मित्र योजना के चलते सभी सरकारी कार्य आसानी से कम समय में बेहतरीन तरीके से पूरे किये जा सकते हैं। राजस्थान सरकार की यह योजना सबसे सफलतम योजनाओं में से एक हैं।

Read Also: आधार कार्ड से ऑनलाइन लोन कैसे लें।

E-Mitra से होने वाले काम

E-Mitra योजना से इस प्रकार के सरकारी काम होते है जैसे-

जन सुनवाई और प्रशिक्षण की सुविधा: राजस्थान के लगभग 30000 से भी अधिक ई-मित्र वीसी सुविधा से जुड़े हुए हैं, जहां जन सुनवाई और प्रशिक्षण की सुविधाएं दी जा रही हैं।

  • वोटर कार्ड
  • पेन कार्ड
  • भामाशाह कार्ड
  • आधार कार्ड
  • RTO संबंधित
  • जाति प्रमाण-पत्र
  • राशन कार्ड
  • बिजली बिल
  • ड्राईवर लाइसेंस
  • आय प्रमाण पत्र
  • जाति प्रमाण पत्र
  • पानी का बिल
  • गैस बिल भुगतान
  • मूल निवास प्रमाण-पत्र
  • जन्म-मृत्यु प्रमाण-पत्र
  • विवाह प्रमाण-पत्र
  • रोजगार के आवेदन
  • फर्टिलाइजर बेचने के लिए लाइसेंस हेतु आवेदन
  • सेल परमिशन के लिए आवेदन

आदि जैसे और भी कई काम E-Mitra में होते हैं।

ई मित्र योजना की विशेषताएं

  • eMitra Portal सुविधा राज्य के नागरिकों के लिए हमेशा साल के 365 खुली रहती हैं, इसमें सरकारी अवकाश नहीं होता हैं आप कभी भी इसका फायदा उठा सकते हैं।
  • यह सुविधा केवल राजस्थान के निवासियों के लिए ही उपलब्ध हैं, अगर आप इसका फायदा लेना चाहते हैं तो राजस्थान का नागरिक होना आवश्यक हैं।
  • राजस्थान सरकार की लगभग हर सुविधा यहाँ उपलब्ध हैं, जिसका फायदा आप ले सकते हैं।

E-Mitra से कितनी कमाई होती है?

कितनी कमाई होती है E-Mitra से, यह तो इस बात पर निर्भर करता है कि आपका E-Mitra कहां पर लगा है और वहां की जनसंख्या कितनी है। लेकिन आप E-Mitra से सरकारी योजनाओं और भर्ती के फॉर्म भर कर अच्छी कमाई कर सकते हैं। एक E-Mitra संचालक हर माह लगभग 25,000 से 60,000 रूपये तक की कमाई आराम से कर लेता है। इसके अलावा आप लाइट और पानी के बिल भरकर भी पैसे कमा सकते हैं। सरकार एक बिल के 2 से 3 रूपये तक देती है।

ई-मित्र केंद्र पर दी जाने वाली प्रत्येक सरकारी सुविधा का सरकार द्वारा एक शुल्क निर्धारित किया हुआ हैं, जो नागरिक ई-मित्र संचालक को अदा करते हैं। यही संचालक का मुख्य आमदनी का जरिया होता है। इसके साथ अगर आप फोटो कॉपी, लेमिनेशन और अन्य जरुरी सुविधाएं देते हैं तो कमाई में और अधिक इजाफा होने की संभावना है।

E-Mitra के लिए जरूरी दस्तावेज और कैसे लें

E-Mitra खोलने की शुरुआत करने के लिए आपके यह कागजात होने जरूरी है

  • आधार कार्ड
  • भामाशाह कार्ड
  • शिक्षा स्तरीय दस्तावेज़ में 10वीं, 12वीं की मार्कशीट या स्नातक डिग्री
  • पुलिस सत्यापन जो आपको अपने किसी दूसरे नजदीकी E-Mitra से करवाना पड़ेगा।
  • 2 स्टाम्प
  • अपने मोबाइल नम्बर और E-Mail ID

आपको ये सभी दस्तावेज लेकर नजदीकी LSP के पास जाकर जमा करवा दें। यह LSP आपको E-Mitra प्रोवाइड करेगा।

LSP क्या है

यह निजी कम्पनियां होती हैं जो आपको E-Mitra और अन्य सेवाएं आपको प्रोवाइड करवाती है।

E-Mitra के लिए कुल खर्चा व जरुरी चीजें

E-Mitra लिए आपको ज्यादा पैसो को बरबाद करने की जरूरत नहीं है। इसके लिए आप जरूरत के हिसाब से खर्च कर सकते हैं। इसमें मुख्य खर्चा यह हो सकते हैं।

  • कंप्यूटर, प्रिंटर और स्कैनर
  • कंप्यूटर डेस्क टेबल
  • बायोमैट्रिक फिंगरप्रिंट स्कैनर
  • एक इंटरनेट कनेक्शन
  • बाइंडिंग मशीन
  • लेमीनेशन मशीन

इसका खर्चा लगभग 35,000 से 45,000 तक आ सकता है।

ई-मित्र खोलने के लिए योग्यता

  • ई-मित्र संचालक राजस्थान का स्थाई निवासी होना चाहिए।
  • इस योजना के लाभार्थी भी राजस्थान के नागरिक ही होंगे।
  • ई-मित्र लाईसेंस प्राप्त करने के लिए आवेदक की उम्र 18 वर्ष से अधिक होनी चाहिए।
  • कंप्यूटर व इंटरनेट की बेसिक जानकारी आवश्यक हैं।
  • ई-मित्र संचालक कम से कम 10वीं पास होना चाहिए।
  • अगर आपको हिंदी व इंग्लिश टाइपिंग आती हैं तो यह बेहतर होगा।

eMitra सेवा के लिए जरुरी दस्तावेज

  • 10वीं की अंकतालिका
  • आधार कार्ड
  • पैन कार्ड
  • भामाशाह कार्ड
  • बैंक पासबुक
  • चरित्र प्रमाण पत्र अथवा पुलिस वेरिफिकेशन
  • 100-100 रूपये के दो स्टाम्प पेपर
  • पासपोर्ट साइज फोटो व एक मोबाइल नंबर

बैंकिंग सेवाएं भी दे रहा है E-Mitra

  • राज्य में 15000 से अधिक E-Mitra कियोस्क बैंकिंग सेवाएं भी दे रहे हैं।
  • यहां लोग आसानी से अपने भामाशाह खाते में जमा राशि निकाल सकते हैं।
  • ग्रामीण क्षेत्र में 2500 E-Mitra पे-पॉइंट बनाये चुके हैं।

Read Aslo: इंटरनेट से जमीन की जानकारी कैसे प्राप्त करें।

eMitra Portal पर ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन और लॉगिन

  • अगर आप ई-मित्र सेवा लेने के इच्छुक हैं तो आपको इसके लिए रजिस्ट्रेशन करवाना होगा, आपको ई-मित्र की अधिकारिक वेबसाइट पर जाकर उसके होमपेज पर लॉग इन का ऑप्शन सेलेक्ट करना होगा।
e mitra ke liye kya kare
  • लॉग इन का ऑप्शन सेलेक्ट करने के बाद SSO Rajasthan की वेबसाइट पर पहुँच जायेंगे। यहाँ आपको रजिस्ट्रेशन का ऑप्शन दिखाई देगा, जिसको सेलेक्ट करने के बाद आपके सामने आगे का एक पेज खुल जायेगा।
  • इस पेज के ओपन होने के बाद आपके पास उपलब्ध डॉक्यूमेंट जैसे भामाशाह कार्ड, पहचान पत्र, पैन कार्ड, बैंक पासबुक ईमेल आईडी आदि डालकर आप रजिस्ट्रेशन कर सकते हैं।
  • एसएसओ आईडी बनाते समय आपको अपना ही आईडी और यूजर नेम इस्तेमाल करें जिसके द्वारा आप बाद में लॉग इन कर पाएंगे।
  • आगे के फॉर्म में आपको पूछी गयी जानकारी भरनी होगी, जिसके बाद सफलतापूर्वक रजिस्ट्रेशन कर पाएंगे।
  • एक बार रजिस्ट्रेशन प्रक्रिया पूरी होने के बाद आपको फिर से होमपेज पर जाकर लॉग इन करना होगा।

इ मित्र ऑनलाइन पोर्टल पर स्टेटस कैसे देखे ?

  • ई-मित्र स्टेटस देखने के लिए आपको इसकी अधिकारिक वेबसाइट पर जाना होगा, जिसके बाद आपको होमपेज पर Online verification section track transaction का ऑप्शन दिखाई देगा।
  • यहाँ पर आपको Transaction ID अथवा Receipt Number डालना होगा, जिसके बाद आप स्टेटस की स्थिति देख पाएंगे।

निष्कर्ष

हमनें इस लेख में आपको ई-मित्र से कमाई, Kaise Khole Apna E-Mitra, emitra registration fees in hindi, emitra kaise khole, emitra ka kaam kaise sikhe आदि सवालों के जवाब देने का प्रयास किया हैं। आप इस जानकारी “कैसे खोले अपना E-Mitra (Kaise Khole Apna E-Mitra)” से सम्बंधित यदि कोई आपको प्रश्न है तो कमेंट बॉक्स में जरूर बताएं अथवा आप ई-मित्र Helpline Number- 01412221424, 01412221425 और Toll Free Number- 181 पर कॉल करके जानकारी प्राप्त कर सकते हैं।

4 COMMENTS

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here