सोशल मीडिया के दुष्प्रभाव और इससे कैसे बचें?

Disadvantages of Social Media: आज के समय में हर व्यक्ति के पास अच्छे से अच्छा स्मार्टफोन है। इस दौर में लोग स्मार्टफोन का प्रयोग ज्यादातर सोशल मीडिया के लिए करने लगे हैं। इसके अधिक प्रयोग से लोगों को कई परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है।

Social-media-side-effects
disadvantages of social media

इन्टरनेट के इस युग में हम सोशल मीडिया को अनदेखा नहीं कर सकते। इसके हमारे जीवन में कई सारे फायदे भी हैं। लेकिन कई लोगों को इसकी लत लगने लगी है और ये उनका एक नशा (effect of social media) बन गया है। सोशल मीडिया का आवश्यकता से अधिक उपयोग करना हमारे लिए परेशानी भरा हो सकता है।

सोशल मीडिया के दुष्प्रभाव हमें कई प्रकार से देखने को मिल रहे हैं। आज के समय में ऑनलाइन बदमाशी और ऑनलाइन दुष्प्रभाव के मामले बढ़ते जा रहे हैं। कई शोधों से ये सामने आया है कि हम आवश्यकता से अधिक अपना समय ऑनलाइन दुनिया निकालेंगे तो इसका प्रभाव हमारे दिमाग पर पड़ सकता है और मानसिक स्थिति में गिरावट आ सकती है।

सोशल मीडिया के दुष्प्रभाव और इससे कैसे बचें – Get rid of Social Media Addiction

सोशल मीडिया के दुष्प्रभाव (Disadvantages of Social Media in Hindi)

ट्रोल्स में बदलना

कई मनोवैज्ञानिक मानते हैं कि जब हम इन्टरनेट पर ऑनलाइन आते हैं तो हम एक अलग दुनिया में प्रेवश कर जाते हैं और अपनी असली जिन्दगी पीछे छोड़कर उसे भूल जाते हैं। इससे लोग ट्रोल्स में बदल जाते हैं। फिर वो व्यक्ति किसी से नहीं डरते।

disadvantages-of-social-media

आमतौर पर वह व्यक्ति कोई बुरा काम करने से भी नहीं डरते। जिन लोगों का आत्मसमान कम होता है वे लोग Instagram, Facebook, WhatsApp, Twitter और YouTube का गलत तरीके से उपयोग करने लग जाते हैं। सोशल मीडिया से लोगों में आत्मसमान और आत्मविश्वास की काफी कमी आई है।

डिप्रेशन और अकेलेपन का शिकार होना

कई लोग ऐसे होते हैं जो सोशल मीडिया पर अपनी फोटो पोस्ट करते हैं और उस पर अपने मन चाहे Likes और Comments नहीं आते तो वह काफी परेशान हो जाते हैं। उनके स्वभाव में चिड़चिड़ापन आ जाता है और वे अंदर ही अंदर पूरी तरह से टूट जाते हैं। पेन्सिल्वेनिया युनिवर्सिटी के एक शोध से ये सामने आया है कि सोशल मीडिया के ज्यादा प्रयोग से डिप्रेशन और अकेलेपन के गुण ज्यादा देखे गये है।

आज के युवाओं को इसका चिन्तन करना चाहिए और अपना पूरा समय सोशल मीडिया पर नहीं गुजरना चाहिए। इसे कम करने के लिए उन्हें जरूर कुछ महत्वपूर्ण कदम उठाने चाहिए।

“आप अपने सोशल मीडिया के समय को यदि अपने रिश्तेदारों या फिर आस-पास लोगों के साथ गुजारते हैं तो आपको इसका बहुत फायदा मिल सकता है। यदि आप सोने पहले सोशल मीडिया का प्रयोग करते हैं तो आपको नींद आने में काफी परेशानी होगी। पूरी रात आपको अच्छी नींद नहीं आएगी और बार-बार आपकी नींद खुल जाएगी। इसलिए आपको इसका उपयोग जहां पर फायदा हो वहां ही करना चाहिए। अपने स्वास्थ्य को नुकसान पहुंचे, उसका विशेष ध्यान रखना चाहिए।”

Read Also: सोशल मीडिया क्या है? इसके प्रकार, फायदे और नुकसान

सोशल मीडिया से कैसे बचें?

विराम लें

यदि आप अपना अधिक समय सोशल मीडिया पर गुजारते हैं तो आपको इससे विराम लेना चाहिए। आपको शुरूआत में काफी परेशानी और बेचैनी होगी। लेकिन जब आप इसे दूर रहना शुरू होंगे तो आपको इसका फायदा जरूर होगा।

आप लोगों से मिले, उनसे बातें करें, कहीं पार्क या फिर दूसरी जगहों पर घूमने जाएं। वहां पर अलग-अलग लोगों से मिलें, इससे आपको बहुत ही अच्छा लगेगा और आपकी धीरे-धीरे सोशल मीडिया की आदत छूट जाएगी।

समय निश्चित करें

कई लोग ऐसे होते हैं जिन्हें सोशल मीडिया पर एक्टिव रहना जरूरी होता है। वे सोशल मीडिया के अलर्ट और अपडेट को देखने के लिए दिन में समय तय कर लें। जब भी आप सोशल मीडिया का प्रयोग करें तो आप जल्दबाजी नहीं करें और कोशिश करें कि कम से कम समय ही इसका प्रयोग करें।

effect-of-social-media

इससे आपको ख़ुशी मिलेगी। आप किसी भी प्रकार के सोशल मीडिया के अपडेट की चिंता नहीं करें।

खुद को याद दिलाएं

हमेशा आप खुद को ये याद दिलाते रहे कि आप सोशल मीडिया पर जो भी देखते हैं, वह असली जिन्दगी में नहीं होता। यहां पर आप वो ही देखते हैं जो आपको लोग दिखाते हैं। यदि आप अपनी कोई फोटो सोशल मीडिया पर पोस्ट करते हैं तो उसको बहुत ही साधारण तरीके से पोस्ट करनी चाहिए।

असली जिन्दगी जिये

कई लोग ऐसे होते हैं जो सोशल मीडिया पर कम लाइक और कमेंट आने की वजह से काफी परेशान हो जाते हैं। आपको इसकी चिंता करने की बजाय इससे दूरी बनानी चाहिए।

effect-of-social-media

आपको इससे दूरी बनाकर लोगों से मिलना चाहिए, उनसे बातें करनी चाहिए, मदद करनी चाहिए और अच्छे लोगों के सम्पर्क में रहना चाहिए। सभी लोगों के बारे में अच्छा सोचना चाहिए और खुद को सोशल मीडिया पर बेहतर देखाने की बजाय असल जिन्दगी में बेहतर बनाना चाहिए।

हम उम्मीद करते हैं कि हमारे द्वारा शेयर की गई यह जानकारी “सोशल मीडिया का दुष्प्रभाव (Social Media ke Dushprabhav)” पसंद आई होगी, इसे आगे शेयर जरूर करें। आपको यह जानकारी कैसी लगी, हमें कमेंट बॉक्स में जरूर बताएं।

Read Also

इनका नाम राहुल सिंह तंवर है, इन्होंने स्नातक (रसायन, भौतिक, गणित) की पढ़ाई की है और आगे की भी जारी है। इनकी रूचि नई चीजों के बारे में लिखना और उन्हें आप तक पहुँचाने में अधिक है। इनको 3 वर्ष से भी अधिक SEO का अनुभव होने के साथ ही 3.5 वर्ष का कंटेंट राइटिंग का अनुभव है। इनके द्वारा लिखा गया कंटेंट आपको कैसा लगा, कमेंट बॉक्स में जरूर बताएं। आप इनसे नीचे दिए सोशल मीडिया हैंडल पर जुड़ सकते हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here