भारत के राष्ट्रपति की सूची (1947 – 2022), कार्यकाल एवं राजनीतिक सफर

भारत के प्रत्येक नागरिक को राष्ट्रपति के नाम की जानकारी होनी चाहिए। भारत के राष्ट्रपति भारत के सर्वोच्च पद को दर्शाते है। अगर आपको भारत के राष्ट्रपति 1947 से 2022 तक कौन-कौन रहे हैं नहीं पता, तो आज के लेख में भारत के राष्ट्रपति की क्रमबद्ध सूची आपके समक्ष प्रस्तुत की गई है, जिसे पढ़ने के बाद आप सभी राष्ट्रपति के बारे में और उनके कार्य प्रतिभा के बारे में जान पाएंगे।

bharat ke rashtrapati ki list in hindi

आपको यह भी जानने की आवश्यकता है कि राष्ट्रपति को भारत के राजनीतिक लोकतंत्र का असली नेता नहीं कहा जाता। भारत में अधिकांश शक्तियां प्रधानमंत्री को दी जाती है, मगर राष्ट्रपति मंत्रिमंडल का मुखिया होता है। भारत में मौजूद सभी सरकारी पदों में सबसे सर्वोच्च पद राष्ट्रपति का होता है। सभी नागरिकों को अपने देश के राष्ट्रपति की जानकारी होनी चाहिए। भारत के राष्ट्रपति की क्रमबद्ध सूची इस लेख में विस्तार पूर्वक की गई है।

भारत के राष्ट्रपति की सूची (1947 – 2022), कार्यकाल एवं राजनीतिक सफर

भारत के राष्ट्रपति

भारत के राष्ट्रपति को भारत का पहला नागरिक बोला जाता है। सबसे पहले इस पद का चुनाव भारत की आजादी के साथ 1947 में किया गया था। भारतीय संविधान के अनुसार राष्ट्रपति भारत का सर्वोच्च सरकारी पद है। मगर सभी ताकतवर सरकार ने इस फैसले पर राष्ट्रपति एक कमांडर के रूप में कार्य करता है।

राष्ट्रपति का चुनाव प्रत्येक 5 वर्ष में एक बार निर्वाचित राजनेताओं द्वारा विधानसभा लोकसभा और राज्यसभा के मंत्रिमंडल में करवाया जाता है जितने भी मंत्री निर्वाचित होकर सभा में उपस्थित होते हैं। उन सभी के बीच राष्ट्रपति के पद के लिए चुनाव किया जाता है।

हमारे संविधान के अनुसार राष्ट्रपति को सर्वोच्च पद माना जाता है, इसके बारे में संविधान के 52 वें अनुच्छेद में लिखा गया है। इसके अलावा संविधान के 53वें अनुच्छेद में राष्ट्रपति की शक्तियों के बारे में लिखा गया है। 

राष्ट्रपति पद का चुनाव प्रत्येक 5 साल में एक बार मंत्री मंडल के द्वारा किया जाता है। इस चुनाव में कोई भी जनता प्रत्यक्ष रूप से भाग नहीं लेती है। राष्ट्रपति का चुनाव लोकसभा विधानसभा और राज्यसभा में मंत्री परिषद के द्वारा किया जाता है। उनमें से जिस मंत्री को सर्वाधिक मत मिलते हैं वह भारत का प्रधानमंत्री बनता है। 

भारत के राष्ट्रपति की क्रमबद्ध सूची 

भारत में 1947 में प्रथम राष्ट्रपति का चुनाव किया गया, जिसके पश्चात यह प्रक्रिया बढ़ते हुए भारत की पहली महिला राष्ट्रपति प्रतिभा पाटिल से होते हुए वर्तमान राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद तक गई। इस पूरी प्रक्रिया में अब तक भारत में कुल 14 राष्ट्रपति हुए हैं, जिनमें भारत के प्रथम राष्ट्रपति के रूप में हम श्री डॉक्टर राजेंद्र प्रसाद को जानते हैं और वर्तमान राष्ट्रपति के रूप में रामनाथ कोविंद को जाना जाता है। 

भारत में मौजूद सभी राष्ट्रपति की सूची में 3 राष्ट्रपति कार्यकारी अध्यक्ष में से एक थे, 5 राष्ट्रपति निर्दलीय थे। अब तक बने सभी राष्ट्रपति में से 7 राष्ट्रपति कांग्रेस पार्टी के थे और एक राष्ट्रपति भारतीय जनता पार्टी के। अगर आप भारत के किसी राष्ट्रपति के बारे में जानना चाहते हैं तो इसके बारे में संक्षिप्त सूची नीचे दी गई है।

डॉ राजेंद्र प्रसाद (1950 – 1962)

डॉ राजेंद्र प्रसाद भारत के प्रथम राष्ट्रपति है। यह भारत के महान स्वतंत्रता सेनानी और स्वाधीनता आंदोलन के प्रमुख नेता थे। यह एकमात्र राष्ट्रपति है, जो लगातार 2 बार के लिए कार्यरत रहे। डॉ राजेंद्र प्रसाद संविधान निर्माता परिषद के अध्यक्ष भी थे। इनके कार्य प्रतिभा को देखते हुए 1962 में उन्हें भारत रत्न से नवाजा गया। 

डॉ राजेंद्र प्रसाद बिहार के पटना शहर से ताल्लुक रखते थे लोग इन्हें प्यार से राजेंद्र बाबू कहकर बुलाया करते थे। राष्ट्रपति बनने से पूर्व मंत्री मंडल में 1946 से 1947 तक कृषि एवं खाद्य मंत्री के रूप में भी यह कार्य कर चुके थे।

डॉक्टर सर्वपल्ली राधा कृष्णा (1962-1967)

डॉक्टर सर्वपल्ली राधाकृष्णन भारत के प्रथम उप राष्ट्रपति थे और द्वितीय राष्ट्रपति थे। यह एक महान लेखक, दार्शनिक और शिक्षक भी थे। प्रत्येक वर्ष इनके जन्मदिन 5 सितंबर को शिक्षक दिवस मनाया जाता है क्योंकि पूरे विश्व में यह स्वयं को शिक्षक मानदेय रहे और शिक्षकों कुछ सम्मान देने के लिए अपने जन्मदिन को समर्पित किया।

सर्वपल्ली राधाकृष्णन के कार्य प्रतिभा को देखते हुए 1954 में इन्हें भारत रत्न से नवाजा गया। इसके अलावा इन्हें विश्व के और भी बड़े बड़े सम्मान मिले थे, जैसे 1931 में नाइटहुड और 1963 में ब्रिटिश रॉयल अवार्ड ऑफ मेरिट।

Dr. जाकिर हुसैन (1967-1969)

अभी भारत के प्रचलित नेता और महान राष्ट्रपति थे। भारत के तीसरे राष्ट्रपति और पहले मुस्लिम राष्ट्रपति के रूप में इन्हें जाना जाता है। भारत के राष्ट्रपति बनने से पूर्व यह बिहार के राज्यपाल और भारत के उपराष्ट्रपति रह चुके थे। यह एक निर्दलीय नेता थे, जिन्हें 1963 में भारत रत्न से नवाजा गया था और इनकी मृत्यु राष्ट्रपति के पद पर रहते हुए हो गई थी।

वी वी गिरी (1969-1974)

वी वी गिरि का पूरा नाम वराहगीरी वेंकट गिरी है। इन्हें हम भारत के तीसरे उपराष्ट्रपति और चौथे राष्ट्रपति के रूप में जानते हैं। जब जाकिर हुसैन की मृत्यु राष्ट्रपति के पद पर हो गई थी तब वीवी गिरी भारत के पहले कार्यवृत्त राष्ट्रपति के रूप में सामने आए थे। 1974 तक राष्ट्रपति रहने के बाद 1975 में इन्हें भारत का सर्वोच्च नागरिक अवार्ड भारत रत्न से सम्मानित भी किया गया था। 

फखरुद्दीन अली अहमद (1974-1977)

यह भारत के पांचवें राष्ट्रपति थे। कांग्रेस दल के एक सर्वोच्च नेता के रूप में इन्हें जाना चाहता था। भारत के यह दूसरे ऐसे राष्ट्रपति बने जिनकी अपने पद पर ही मृत्यु हो गई। यह अपने राष्ट्रपति का कार्यकाल पूरा नहीं कर पाए थे। 1974 में यह राष्ट्रपति बने और 1977 में राष्ट्रपति के पद पर ही इनकी मृत्यु हो गई।

डॉक्टर सजीवन रेड्डी (1977-1982)

1977 में भारत के छठे राष्ट्रपति के रूप में डॉक्टर सजीवन रेड्डी को जानते है। 1958 में इन्हें डॉक्टर की उपाधि सम्मान में दी गई थी। भारत के राष्ट्रपति बनने से पूर्व यह आंध्र प्रदेश के मुख्यमंत्री के रूप में कार्यरत थे। इसके बाद 1977 में फारूक अली अहमद के मृत्यू के बाद इन्हें राष्ट्रपति बनाया गया था। 1977 से पहले या कांग्रेस के नेता थे लेकिन राष्ट्रपति बनने के बाद यह भारतीय जनता पार्टी के नेता बने।

ज्ञानी जेल सिंह (1982-1987)

ज्ञानी जेल सिंह भारत के सातवें राष्ट्रपति थे। यह भारतीय राष्ट्रीय कांग्रेस के प्रचलित नेता थे। राष्ट्रपति बनने से पूर्व व पंजाब के मुख्यमंत्री और केंद्र में भी मंत्री रहे थे। मुख्यमंत्री और केंद्र मंत्री रहने के बाद भारत के सातवें राष्ट्रपति के रूप में कार्यरत रहे।

स्वामी आर वेंकटरमन (1987-1992)

स्वामी आर वेंकटरमण भारतीय राष्ट्रीय कांग्रेस के एक प्रचलित नेता थे, जो लोकसभा के अध्यक्ष रहने के बाद भारत के उप राष्ट्रपति के रूप में 1984 से 1887 तक कार्यरत रहे। इसके बाद 1887 से 1992 तक भारत के आठवें राष्ट्रपति के रूप में कार्य किए। 

डॉ शंकर दयाल शर्मा (1992-1997)

डॉ शंकर दयाल शर्मा भारतीय राष्ट्रीय कांग्रेस के प्रचलित नेता थे। जो मध्य प्रदेश के कैबिनेट मिनिस्टर और 1952 से 1956 तक मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री थे। इसके बाद भारत के आठवें उपराष्ट्रपति और 1992 में भारत के नवे राष्ट्रपति के रूप में कार्यरत रहे।

कोक्कचेरील रमन नारायण (1997-2002)

कोक्कचेरील रमन नारायण भारत के दसवें राष्ट्रपति के रूप में जाने जाते हैं। इसके अलावा इन्हें प्रथम मलयाली राष्ट्रपति और प्रथम दलित राष्ट्रपति के रूप में भी जाना जाता है। यह पहले राष्ट्रपति बने जिन्होंने राज्य की विधान सभा को संबोधित किया।

डॉ एपीजे अब्दुल कलाम (2002-2007)

भारत के ही नहीं विश्व के सबसे प्रचलित नेता और वैज्ञानिक के रूप में डॉ एपीजे अब्दुल कलाम को जाना जाता है। इन्हें भारत का मिसाइल मैन कहा जाता है। यह पहले वैज्ञानिक थे, जिन्होंने राष्ट्रपति पद को संभाला भारत एक एटॉमिक पावर संपन्न देश से इनकी वजह से बन पाया।

इसके अलावा भारत के कुछ सर्वोच्च मिसाइल और बैलेस्टिक मिसाइल का निर्माण करने वाले डॉक्टर एपीजे अब्दुल कलाम ही थे। कलाम भारत के 11 वें राष्ट्रपति थे और पहले राष्ट्रपति थे, जिन्हें पूर्ण मत या सर्वाधिक मतों से राष्ट्रपति का पद मिला था। इनके कार्य प्रतिभा को देखते हुए इन्हें भारत रत्न से भी नवाजा गया है।

प्रतिभा पाटिल (2007-2012)

2007 से 2012 तक भारत के 12वें राष्ट्रपति के रूप में हम प्रतिभा पाटिल को जानते हैं। यह भारत की पहली महिला राष्ट्रपति थी। राष्ट्रपति बनने से पहले यह राजस्थान के राज्यपाल के रूप में कार्यरत थीं।

प्रणब मुखर्जी (2012-2017)

यह भारत के 13वें राष्ट्रपति थे। राष्ट्रपति बनने से पहले केंद्र सरकार के द्वारा वित्त मंत्री के पद पर विराजमान थे। यह एक प्रचलित कांग्रेस नेता थे, जिनकी मृत्यु राष्ट्रपति पद पर ही हो गई थी।

रामनाथ गोविंद (2017-)

भारत के वर्तमान और 14वें राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद बिहार राज्य के राज्यपाल रह चुके हैं। यह दूसरे दलित राष्ट्रपति है। राष्ट्रपति बनने से पहले यह बिहार के पूर्व गवर्नर रह चुके हैं।

FAQ

भारत के प्रथम राष्ट्रपति कौन है?

डॉ राजेंद्र प्रसाद को भारत का प्रथम राष्ट्रपति है।

भारत के प्रथम उपराष्ट्रपति कौन है?

डॉक्टर सर्वपल्ली राधाकृष्णन को भारत का प्रथम उपराष्ट्रपति और भारत का दूसरा राष्ट्रपति है।

भारत के प्रथम दलित राष्ट्रपति कौन है?

कोक्कचेरील रमन नारायण के भारत का प्रथम दलित राष्ट्रपति है।

भारत के प्रथम मुस्लिम राष्ट्रपति कौन हैं?

जाकिर हुसैन भारत के तीसरे राष्ट्रपति और प्रथम मुस्लिम राष्ट्रपति हैं।

भारत की पहली महिला राष्ट्रपति कौन है?

भारत की 12वीं राष्ट्रपति प्रतिभा पाटिल एकमात्र और प्रथम भारतीय महिला राष्ट्रपति हैं। 

निष्कर्ष

हमने अपने आज के इस महत्वपूर्ण लेख में आप सभी लोगों को भारत के राष्ट्रपति की सूची (1947 – 2022), कार्यकाल एवं राजनीतिक सफर से संबंधित विस्तार पूर्वक से जानकारी प्रदान की हुई है और हमें उम्मीद है कि हमारे द्वारा दी गई है जानकारी आप लोगों के लिए काफी ज्यादा हेल्पफुल और यूज़फुल साबित हुई होगी।

अगर आपके लिए हमारी यह जानकारी जरा सी भी उपयोगी साबित हुई हो तो आप इसे अपने दोस्तों के साथ और अपने सभी सोशल मीडिया हैंडल पर शेयर करना ना भूले ताकि आप जैसे ही वाले लोगों को भी इस महत्वपूर्ण जानकारी के बारे में आप के जरिए पता चल सके एवं उन्हें ऐसे ही महत्वपूर्ण लेख पढ़ने के लिए कहीं और बार-बार भटकने की बिल्कुल भी आवश्यकता ना हो। 

अगर आपके मन में हमारे आज के इस लेख से संबंधित कोई भी सवाल या फिर कोई भी सुझाव है तो आप हमें कमेंट बॉक्स में बता सकते हो। हम आपके द्वारा दिए गए प्रतिक्रिया का जवाब शीघ्र से शीघ्र देने का पूरा प्रयास करेंगे और हमारे इस महत्वपूर्ण लेख को अंतिम तक पढ़ने के लिए आपका बहुत-बहुत धन्यवाद एवं आपका कीमती समय शुभ हो। 

यह भी पढ़ें

भारत के उपराष्ट्रपति की सूची

भारत के प्रधानमंत्री की सूची, नाम, कार्यकाल और राजनैतिक दल

भारत की सबसे बड़ी जनजाति कौन सी है?

भारत के पड़ोसी देशों के नाम व उनकी राजधानी

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here