अपने शायरी

Apne Shayari in Hindi

Apne Shayari in Hindi
Images :- Apne Shayari in Hindi

अपने शायरी | Apne Shayari in Hindi

कुछ खूबसूरत से पल किस्सा बन जाते हैं,
जाने कब जिंदगी का हिस्सा बन जाते हैं,
कुछ लोग अपने होकर भी अपने नहीं होते, और
कुछ बेगाने होकर भी जीवन का हिस्सा बन जाते है।

कुछ गैर ऐसे मिले,
जो मुझे अपना बना गए,
कुछ अपने ऐसे निकले,
जो गैर का मतलब बता गए।

वक़्त नूर को बेनूर कर देता है,
छोटे से जख्म को नासूर कर देता है,
कौन चाहता है अपनों से दूर रहना,
पर वक़्त सबको मजबूर कर देता है।

पिघले नीलम सा बहता हुआ ये समां..
नीली नील सी खामोशियाँ…
ना कही है ज़मीं ना कहीं आसमां..
सरसराती हुई टहनियां, पत्तियां..
कह रही है है के बस एक तुम हो यहाँ
सिर्फ मैं हूँ, मेरी सांसे है और मेरी धड़कने
ऐसी गहराईयां, ऐसी तन्हाईयाँ…
और मैं…सिर्फ मैं
अपने होने पर मुझको यकीन आ गया…

ख्वाब अक्सर पूरे होते हैं,
बस सपनों में जान होनी चाहिए,
अपने अक्सर खास होते हैं,
उनसे ही तो पहचान होनी चाहिए।

छोटी सी है जिंदगी हँस के जियो,
भुला के सारे गम दिल से जियो,
उदासी में क्या रखा है मुस्कुरा के जियो,
अपने लिए न सही अपनों के लिए जियो।

किसी को दिल दीवाना पसंद है,
किसी को दिल का नजराना पसंद है,
औरों की तो मुझे ख़बर नही लेकिन,
मुझे तो अपनो का मुस्कुराना पसंद है।

Read Also: दीदार पर शायरी

तो आईये दोस्तों, पढ़ते है
कुछ Apne Shayari पर कुछ अल्फ़ाज़
वो जो मेरे अपने होने का दावा करते है
मुझे पता है कि वो दिखावा करते है
पीठ पीछे तो मेरी करते है बुराई
और मुंह के आगे मेरी वाह वाह करते है

वही लोग अपने
और अनमोल होते है,
जो लोग रूठ कर भी
आपको मना लेते है।

तकलीफें तो हज़ारों हैं इस ज़माने में,
बस कोई अपना नज़र
अंदाज़ करे तो बर्दाश्त नहीं होता।

वो जो मुझे उनका अपना बताते है
वो मेरी तस्वीर को दीवार पर
टंगी देखना चाहते है

अपनों की दुनिया में
बस एक अपने की कमी है,
मैं औरों की दुनिया हो सकता हूं,
पर मेरी दुनिया बस तू है।

****

आखिर क्यों बनाया मुझे ए बनाने वाले,
बहुत दर्द देते हैं ये जमाने वाले,
मैंने आग के उजाले में कुछ चेहरे देखे,
मेरे अपने ही थे मेरे घर को जलाने वाले।

मशहूर होना पर मगरुर न होना,
कामयाबी से नशे मे चूर न होना,
मिल जाए सारी कायनात आपको अगर,
इसके लिए कभी अपनो से दूर मत होना।

Apne Shayari in Hindi

एक अजीब सी दौड़ है ये ज़िन्दगी,
जीत जाओ तो कई अपने पीछे छूट जाते हैं,
और हार जाओ तो अपने ही पीछे छोड़ जाते हैं।

अपनापन छलके जिसकी बातो में,
सिर्फ कुछ ही लोग ऐसे होते है लाखो में

अल्फाज सिर्फ़ कानों तक पहुंचते हैं,
अपनों की खामोशी
अक़्सर रूह तक पहुंचती है।

अपने अहम् को
थोड़ा-सा झुका के चलिये,
सब अपने लगेंगे
ज़रा-सा मुस्कुरा के चलिये।

सो जा ऐ दिल कि अब
धुन्ध बहुत है तेरे शहर में,
अपने दिखते नहीं
और जो दिखते हैं वो अपने नहीं।

इस ज़िन्दगी के सफर में
कुछ बेगाने अपने बन गये,
जो रिश्तों में थे अपने
वो अब बेगाने बन गये।

Read Also: इल्जाम शायरी

अपनों के साथ वक़्त का पता नहीं चलता,
पर अपनों का पता चलता है वक़्त के साथ,
वक़्त नहीं बदलता अपनों के साथ, पर
अपने ज़रूर बदल जाते हैं वक़्त के साथ।

मोहब्बत करके जब दिल टूट जाता है,
पल भर में ही अपनापन छूट जाता है

लोग अपने ढूंढने निकले है,
अपनो को पीछे छोडकर।

पल पल के रिश्ते का वादा है आपसे
अपनापन कुछ इतना ज़्यादा है आपसे
ना सोचना कि भूल गए हम आपको
ज़िन्दगी भर चाहेंगे ये वादा है आपसे

****

फिसल रहीं है सारी
खुशियाँ पलकों से भिगकर,
हर अपना बिछड़ रहा है
मुझसे एक एक कर।

वक़्त नूर को बे-नूर कर देता है,
छोटे से जख्म को नासूर कर देता है,
कौन चाहता है अपनों से दूर रहना,
पर वक़्त सबको मजबूर कर देता है।

दर्द हमेशा अपने ही देते है,
वरना गैरो को क्या पता कि,
तकलीफ किस बात से होती है।

Apne Shayari in Hindi

ज़िन्दगी में अपनापन
तो हर कोई दिखाता है
पर अपना कौन है
ये वक्त बताता है

जोश में हों कर होश खोना नहीं,
अपने है अपनों को धोखा देना नहीं।

ठहरती नहीं ज़िन्दगी
कभी किसी के बिना,
पर ये गुजरती भी
नही अपनों के बिना।

होने वाले ख़ुद ही अपने हो जाते हैं,
किसी को कहकर अपना बनाया नहीं जाता।

जरा सी बात पर बरसों के याराने गए,
मगर इतना तो हुआ कि कुछ लोग पहचाने गए।

अपने ही अपनों से करते है
अपनेपन की अभिलाषा
पर अपनों ने ही बदल रखी है अ
पनेपन की परिभाषा

खामोश रहने से रिश्ते
हमेशा उदास हो जाते है,
कभी अपनी सुनाओं तो
कभी अपनों कि भी सुनो।

Read Also: एक लाइन शायरी

साँसों का टूट जाना तो
बहुत छोटी सी बात है दोस्तो,
जब अपने याद करना
छोड़ दें मौत तो उसे कहते हैं।

मुझे गुमान था
कि चाहा बहुत सबने मुझे,
मैं अज़ीज़ सबको था
मगर ज़रूरत के लिए।

गैर थे कौन, अपने थे कौन,
हम ये समझ न पाए,
हमने देखा जिधर भी,
चेहरे बदले से नजर आए।

ज़िन्दगी देने वाले मरता छोड़ गए
अपनापन जताने वाले तनहा छोड़ गए
जब पड़ी ज़रूरत हमें अपने हमसफ़र की
वो जो साथ चलने वाले थे सब रास्ता मोड़ गए

*****

रिमझिम तो है मगर सावन गायब है,
बच्चे तो है मगर बचपन गायब है
क्या हो गयी है तस्वीर ज़माने की यारो
अपने तो है मगर अपनापन गायब है

अपनों पर शक का
कोई इलाज नहीं,
और गैरों पर अपने हक़
का कोई हिसाब नहीं।

लकड़ी के मकानों में चिरागों को न रखिये,
अपने भी यहाँ आग बुझाने नहीं आते।

दुसरो को रुला कर मज़ा लेने वालो
सबर रखो एक दिन
ज़िनदगी तुम्हारे मज़े लेगी

Apne Shayari in Hindi

न जाने कोनसा जमाना आया है,
जहा अपने भी बेगाने लगते है।

हर इंसान उस शख्स की
बातें चुप चाप सुन लेता है
जिसे वो खोने से सबसे ज़्यादा डरता है

एहसास हो तो अजनबी भी
अपने बन जाते है पर,
जब एहसास ना हो तो
अपने भी पराये हो जाते है।

कुछ लोग तो इसलिये अपने बने हैं अभी,
कि मेरी बर्बादी का दीदार नजदीक से हो।

धोकेबाज़ लोगों की एक निशानी ये भी है
वो जब भी आपको गिराना चाहेंगे
तो वो आपको धक्का नहीं सहारा देंगे

कमाल के हैं वो लोग
जो मुझे अपना बताते हैं,
दुआएं भी देते हैं और
झूठी कसमें भी खाते हैं।

जब इंसान को अपने अंदर झांकना आ जाये
तो वो दुसरो के एहसास को
समझने के काबिल हो जाता है
शीशे और रिश्ते दोनों नाज़ुक होते है
मगर इनमे एक फर्क ज़रूर होता है
शेष गलती से टूटता है और रिश्ता ग़लतफहमी से

जंग अपनों से नहीं
बुरे हालातों से है,
क्यूंकि जब हालात अच्छे थे
तब वो भी वफादार थे।

ऐ मेरे दिल मत कर इतनी मोहब्बत तू किसी से,
इश्क़ में मिला दर्द तू सह नहीं पायेगा,
एक दिन टूट कर बिखर जायेगा अपनों के हाथों से,
किसने तोड़ा ये भी किसी से कह नहीं पायेगा।

Read Also: क्यूट शायरी

सुना था दर्द का एहसास
अपनों को ही होता है
पर जब दर्द ही अपने दे
तो एहसास कौन करे

हाँ मेरा भी कोई अपना है,
चलो झूठा ही सही
ये भी मेरा एक सपना है।

गैरों से मुहब्बत होने लगी है आजकल मुझे,
जैसे जैसे अपनों को आजमाता जा रहा हूँ।

काश ये लोग समझ जाए कि रिश्ते
एक दूसरे का ख्याल
रखने के लिए बनाये जाते है
ना कि इस्तेमाल करने के लिए

लिखना एक आदत है
इसे आदत ही रहने दो,
दिल की ही बात है
इसे अपनों से कहने दो।

****

ये कह कर मेरे
दुश्मन मुझे छोड़ गए,
कि तेरे अपने ही काफी हैं
तुझे रुलाने के लिए।

पहले लड़ना और मनाना
रोज़ का काम होता था..
अब तो पहली तकरार ही
रिश्ते ख़त्म कर देती है

बहुत बोझ था
अपनो की ख़्वाहिशों का,
मेरे ख़्वाब कहाँ
खुला आसमान देख पाते।

ज़िन्दगी में यह हुनर
भी आजमाना चाहिए,
अपनों से अगर हो
जंग तो हार जाना चाहिए।

रिश्ते ख़राब होने की
एक वजह ये भी है
लोग टूटना पसंद करते है
लेकिन झुकना नहीं

Apne Shayari in Hindi

चुभ जाती हैं बातें कभी,
कभी लहजे मार जाते हैं साहब,
गैरों से ज्यादा हम
यहां अपनों से हार जाते हैं।

रिश्ते का ना होना
इतनी तकलीफ नहीं देता
जितना रिश्ते के होते हुए
एहसास का मर जाना देता है

सब अपने छूट गये,
सारे रिश्ते टूट गये।

गैरों से क्या गिला करना
जब अपने ही अपने न रहे।

कल अपनों से धोखा खाया
तो गैरों में चला आया,
हाय तोबा मेरी किस्मत
आज वो अपना बनने को आया।

एसे ही नहीं बन जाते
गेरो से इतने गहरे रिश्ते,
कुछ ख़ालीपन तो
अपनों ने ही दिया होगा।

सब रंग हम्हारे अपने है
जैसे सुनहरे सपनें हैं,
पर उनको ही रास नहीं आता
जो कहते मेरे अपने हैं।

कभी जो अपना कहते थे,
आज दूर से ही किनारा करते है।

कुछ अपने बेवक़्त हमें छोड़कर
हमसे दूर चले जाते हैं,
रहा नहीं जाता उनसे भी
अक़्सर सपनों में मिलने आते है।

कुछ यूँ भी मौत के मंज़र देखें है,
अपनों के हाथ में
ही जब खंजर देखें है।

आजकल अपने भी कह रहे हैं
कि ख़ुदग़र्ज़ इंसान हूं मैं,
उनको कौन समझाए आजकल
खुद में ही परेशान हूं मैं।

बिन बुलाए क्यों आ जाती है
मेरी जिंदगी में जुदाई,
मेरे अपनों के ही बीच
कर देती है मुझे पराई।

है मेरी जंग अपनों से,
नतीजा एक ही होगा,
जो हारूँ तो भी मैं हारूँ,
जो जीतूँ तो भी मैं हारूँ।

जिंदगी से हर कदम
पर लड़ तो जाता हूं मैं,
पर अपनों से हर
बार हार जाता हूं।

Read Also

इनका नाम राहुल सिंह तंवर है, इन्होंने स्नातक (रसायन, भौतिक, गणित) की पढ़ाई की है और आगे की भी जारी है। इनकी रूचि नई चीजों के बारे में लिखना और उन्हें आप तक पहुँचाने में अधिक है। इनको 3 वर्ष से भी अधिक SEO का अनुभव होने के साथ ही 3.5 वर्ष का कंटेंट राइटिंग का अनुभव है। इनके द्वारा लिखा गया कंटेंट आपको कैसा लगा, कमेंट बॉक्स में जरूर बताएं। आप इनसे नीचे दिए सोशल मीडिया हैंडल पर जुड़ सकते हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here