अन्धों में काना राजा मुहावरे का अर्थ और वाक्य प्रयोग

अन्धों में काना राजा मुहावरे का अर्थ और वाक्य प्रयोग (Apna Ullu Sidha Karna Muhavara ka Arth Aur Vakya Pryog)

अन्धों में काना राजा मुहावरे का अर्थ – मूर्खों के बीच कम ज्ञानवाले को भी श्रेष्ठ ज्ञानवान् माना जाता है, मूर्खों में कुछ पढ़ा लिखा व्यक्ति, अज्ञानियों में अल्प ज्ञान वाला व्यक्ति सम्मान के पात्र होता है।

andhon mein kaana raaja muhaavare ka arth – moorkhon ke beech kam gyaanavaale ko bhee shreshth gyaanavaan maana jaata hai, moorkhon mein kuchh padha likha vyakti, agyaaniyon mein alp gyaan vaala vyakti sammaan ke paatr hota hai.

अन्धों में काना राजा मुहावरे का हिंदी में वाक्य प्रयोग

वाक्य प्रयोग: कक्षा 8 में जहां ज्यादा बच्चे फेल हो गए वहीं 50% का अंक प्राप्त कर राधा ने प्रथम स्थान प्राप्त किया इसे कहते हैं अंधों में काना राजा बन्ना बन गया जाना।

वाक्य प्रयोग: एक इंटरव्यू में जहां अधिकतर लोग केवल हिंदी में ही जवाब दे रहे थे वहां रमेश ने इंग्लिश में जवाब देकर नौकरी प्राप्त कर ली इसे कहते हैं अंधों में काना राजा बनना।

वाक्य प्रयोग: मोहन छोटे बच्चों के साथ हुए प्रतियोगिता में जीत कर अपने को अपने को अंधों में अंधों में काना राजा सिद्ध कर दिया।

वाक्य प्रयोग: सीता को कला का कुछ भी ज्ञान प्राप्त था लेकिन जहां पर प्रतियोगिता में गई थी वहां किसी को भी कला का ज्ञान प्राप्त नहीं था और वह वहां पर प्रतियोगिता जीतकर खुद को अंधों में काना राजा सिद्ध कर दी।

यहां हमने “अन्धों में काना राजा” जैसे बहुचर्चित मुहावरे का अर्थ और उसके वाक्य प्रयोग को समझा।अंधों में काना राजा का अर्थ होता है कि मूर्खों के बीच कुछ पढ़ा लिखा, व्यक्ति या मूर्खों के बीच में अल्प ज्ञान वाला व्यक्ति ही सम्मान के पात्र होता है। क्योंकि जो वह ज्ञान देता है वह दूसरे लोग आराम से मान लेते हैं उसके सवालों का कोई जवाब नहीं दे पाता है।

मुहावरे परीक्षाओं में मुख्य विषय के रूप में पूछे जाते हैं। एक शब्द के कई मुहावरे हो सकते हैं।यह जरूरी नहीं कि परीक्षा में यहाँ पहले दिये गए मुहावरे ही पूछा जाए। परीक्षा में सभी किसी का भी मुहावरे पूछा जा सकता है।

मुहावरे का अपना एक भाग है प्रत्येक पाठ्यक्रम में, छोटी और बड़ी कक्षाओं में मुहावरे पढ़ाया जाता है, कंठस्थ किया जाता है। प्रतियोगी परीक्षाओं में यह एक मुख्य विषय के रूप में पूछा जाता है और महत्व दिया जाता है।

परीक्षा के दृष्टिकोण से मुहावरे बहुत महत्वपूर्ण होते हैं। सभी प्रतियोगी परीक्षाओं में मुहावरे का अपना-अपना भाग होता है। चाहे वह पेपर हिंदी में हो या अंग्रेजी में यहां तक कि संस्कृत में भी मुहावरे पूछे जाते हैं।

मुहावरे कोई बहुत कठिन विषय नहीं है। यदि इसे ध्यान से समझा जाए तो याद करने की भी आवश्यकता नहीं होती है। इसे समझ समझ कर ही लिखा जा सकता है।

अन्य महत्वपूर्ण मुहावरे और उनका वाक्य प्रयोग

भाँप लेनाकूप मंडूक होना
आस्तीन का सांप होनाआम के आम गुठलियों के दाम
सौ सुनार की एक लोहार कीअपना उल्लू सीधा करना

1000+ हिंदी मुहावरों के अर्थ और वाक्य प्रयोग का विशाल संग्रह 

इनका नाम राहुल सिंह तंवर है, इन्होंने स्नातक (रसायन, भौतिक, गणित) की पढ़ाई की है और आगे की भी जारी है। इनकी रूचि नई चीजों के बारे में लिखना और उन्हें आप तक पहुँचाने में अधिक है। इनको 3 वर्ष से भी अधिक SEO का अनुभव होने के साथ ही 3.5 वर्ष का कंटेंट राइटिंग का अनुभव है। इनके द्वारा लिखा गया कंटेंट आपको कैसा लगा, कमेंट बॉक्स में जरूर बताएं। आप इनसे नीचे दिए सोशल मीडिया हैंडल पर जुड़ सकते हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here