महान दार्शनिक सुकरात के अनमोल विचार

Socrates Quotes in Hindi

Socrates Quotes in Hindi
Image: Socrates Quotes in Hindi

महान दार्शनिक सुकरात के अनमोल विचार | Socrates Quotes in Hindi

कल इतिहास है, आने वाला कल एक रहस्य है,
आज भगवान का उपहार है,
इसीलिए हम इसे वर्तमान कहते हैं.

एक ईमानदार आदमी हमेशा एक बच्चा होता है.

मैं बुद्धिजीवी हूँ, क्योंकि मैं एक चीज जानता हूं,
और वह यह है कि मैं कुछ भी नहीं जानता.

हर व्यक्ति की आत्मा अमर होती है,
लेकिन जो व्यक्ति नेक होते हैं
उनकी आत्मा अमर और दिव्य होती है

वह साहसी व्यक्ति है, जो भागता नहीं है,
बल्कि अपने स्थान पर बना रहता है
और शत्रुओं का सामना करता है.

जहाँ तक मेरा सवाल है,
मैं बस इतना जानता हूँ
कि मैं कुछ नहीं जानता.

निस्संदेह शादी करें. यदि आपको एक
अच्छी पत्नि मिलेगी, तो आप खुश रहेंगे;
यदि बुरी मिलेगी,
तो आप एक दार्शनिक बन जाएंगे.

शादी या ब्रह्मचर्य,
आदमी चाहे जो भी रास्ता चुन ले,
उसे बाद में पछताना ही पड़ता है.

दूसरों के लेख द्वारा स्वयं को बेहतर बनाने में अपना समय दें,
ताकि आप आसानी से वह हासिल कर सकें,
जिसके लिए दूसरों ने कड़ी मेहनत की है.

मित्रता करने में धीमे रहिये,
पर जब कर लीजिये तो उसे मजबूती से
निभाइए और उसपर स्थिर रहिये.

मूल्यहीन लोग मात्र खाने और पीने के लिए जीते हैं;
मूल्यवान व्यक्ति मात्र जीवित रहने के लिए खाते-पीते हैं.

मृत्यु संभवतः मानवीय वरदानो में सबसे महान है.

सही अक्ल हम में से हर एक को आती है,
जब हमें अहसास होता है कि हम जीवन को,
खुद को और अपने आसपास की
दुनिया को कितना कम समझते हैं.

चाहे जो हो जाये शादी कीजिये.
अगर अच्छी पत्नी मिली तो
आपकी ज़िन्दगी खुशहाल रहेगी ;
अगर बुरी पत्नी मिलेगी तो
आप दार्शनिक बन जायेंगे.

जहाँ श्रद्धा है वहाँ भय है, लेकिन हर जगह जहाँ भय है,
वहाँ श्रद्धा नहीं है, क्योंकि भय का श्रद्धा
की तुलना में व्यापक विस्तार है.

Socrates Quotes in Hindi

सौंदर्य एक अल्पकालिक अत्याचार है.

सिर्फ जीना नहीं बल्कि सही
तरह से जीना मायने रखता है.

जहाँ सम्मान है वहां डर है,
पर ऐसी हर जगह सम्मान नहीं है
जहाँ डर है, क्योंकि संभवतः
डर सम्मान से ज्यादा व्यापक है.

सभी मनुष्यों की आत्माएं अमर हैं,
लेकिन सदाचारियों की आत्माएं अमर और दिव्य हैं.

इस दुनिया में सम्मान से जीने का सबसे
महान तरीका है कि हम वो बनें जो
हम होने का दिखावा करते हैं.

साधारणतः हमारी प्राथनाएं आशीर्वाद के लिए होनी चाहिए,
क्योंकि भगवान अच्छी तरह जानता है
कि हमारे लिए क्या अच्छा है.

ज़िन्दगी नहीं, बल्कि एक
अच्छी ज़िन्दगी को महत्ता देनी चाहिए.

अक्सर गहरी इच्छाओं से घोर नफरत पैदा होती है.

अधिकतर आपकी गहन इच्छाओं से
ही घोर नफरत पैदा होती है.

सबसे अमीर वह है, जो थोड़े में संतुष्ट है,
क्योंकि संतुष्टि प्रकृति की दौलत है.

झूठे शब्द सिर्फ खुद में बुरे नहीं होते,
बल्कि वो आपकी आत्मा को भी
बुराई से संक्रमित कर देते हैं.

अपनी अज्ञानता के तथ्य के
अलावा मैं कुछ भी नहीं जानता.

सिर्फ जीना मायने नहीं रखता,
सच्चाई से जीना मायने रखता है.

Read Also: मुंशी प्रेमचंद के अनमोल विचार

Socrates Quotes in Hindi

जीवन का अंत ईश्वर के समान होना है,
और ईश्वर का अनुसरण करने वाली
आत्मा उसी के समान होगी.

मैं सभी जीवित लोगों में सबसे बुद्धिमान हूँ,
क्योंकि मैं ये जानता हूँ कि मैं कुछ नहीं जानता हूँ.

व्यस्त जीवन के खालीपन से सावधान रहें.

मूल्यहीन व्यक्ति केवल खाने और पीने के लिए जीते हैं;
मूल्यवान व्यक्ति केवल जीने के लिए खाते और पीते हैं.

एक ईमानदार व्यक्ति सदा एक बच्चा होता है.

जीवन नहीं,
बल्कि अच्छे जीवन को महत्व देना चाहिए.

बिना जांचा गया जीवन जीने के लायक नहीं है.

यहाँ केवल एक अच्छाई,
ज्ञान और एक बुराई, अज्ञानता है.

खुद को तलाशने के लिए अपने लिए सोचें.

दृढ़ बुद्धि विचारों पर चर्चा करते हैं,
औसत बुद्धि घटनाओं पर चर्चा करते हैं,
कम बुद्धि लोगों पर चर्चा करते हैं.

धीरे से दोस्ती में पड़े,
लेकिन जब आप उसमें हों,
तो दृढ़ और स्थिर बने रहें.

जो उसके पास है, वह उससे संतुष्ट नहीं है,
उससे भी नहीं होगा, जो वो पाना चाहता है.

ईर्ष्या आत्मा का कलंक है.

Socrates Quotes in Hindi

मात्र प्रशंषा के द्वारा मित्र ना बनायें,
बल्कि उन्हें अपने प्रेम का प्रत्यक्ष
प्रमाण देकर पाएं.

एक अच्छी साख हासिल करने का तरीका यह है
कि आप जो चाहते हैं वह दिखने की कोशिश करें.

याद रखें कि जो करने में अशोभनीय है,
वह भी बोलने में भी अशोभनीय है.

जो आपके सभी शब्दों और कार्यों की प्रशंसा करते हैं,
उन वफादार लोगों के बारे में नहीं
बल्कि उनके बारे में सोचें,
जो आपके दोषों पर सहृदय
फटकार लगाते हैं.

केवल अत्यंत अज्ञानी या
अत्यंत बुद्धिमान परिवर्तन का विरोध कर सकते हैं

जब बहस खत्म होती है,
तब निंदा हारने वाले का हथियार बन जाती है.

प्रकृति ने हमें दो कान, दो आंखें,
किंतु एक जीभ दी है,
ताकि हम बोलने से ज्यादा सुने और देंखे.

संतोष प्राकृतिक संपदा है,
विलासिता कृत्रिम दरिद्रता है.

हम बेहतर बनने की चाह में
बेहतर नहीं जी सकते.

सबसे सरल और भद्र तरीका
दूसरों को दबाने का नहीं,
बल्कि खुद को सुधारने का है.

गौरव पाने का सबसे आसान तरीका है
कि आप वही बनने का प्रयत्न करें,
जो आप बनना चाहते हैं, जो सोचते हैं.

गलत के साथ टिके रहने की
तुलना में राय को बदलना बेहतर है.

मानव जाति दो प्रकार के लोगों से बनी है:
बुद्धिमान लोग जो जानते हैं कि वे मूर्ख हैं,
और मूर्ख जो सोचते हैं कि वे बुद्धिमान हैं.

झूठे शब्द न सिर्फ़ अपने आप में बुराई हैं,
बल्कि वे आत्मा को भी दूषित कर देते हैं.

उसे ऐसा करने दो,
जो दुनिया को आगे बढ़ाए.
पहले खुद को आगे बढ़ाओ.

Read Also

इनका नाम राहुल सिंह तंवर है, इन्होंने स्नातक (रसायन, भौतिक, गणित) की पढ़ाई की है और आगे की भी जारी है। इनकी रूचि नई चीजों के बारे में लिखना और उन्हें आप तक पहुँचाने में अधिक है। इनको 3 वर्ष से भी अधिक SEO का अनुभव होने के साथ ही 3.5 वर्ष का कंटेंट राइटिंग का अनुभव है। इनके द्वारा लिखा गया कंटेंट आपको कैसा लगा, कमेंट बॉक्स में जरूर बताएं। आप इनसे नीचे दिए सोशल मीडिया हैंडल पर जुड़ सकते हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here