कुत्ते पर निबंध

Kutte Par Nibandh: कहते हैं कुत्ता काफी वफादार और समझदार जानवर होता हैं। हमारे देश में कुत्ते को सुबह रोटी देने से दिन की शुरुआत होती हैं, ऐसी मान्यता हैं। जो लोग जानवर प्रेमी होते हैं, वो ज्यादातर कुत्ते ही पालते हैं।

Kutte Par Nibandh
Kutte Par Nibandh

हम यहां पर अलग-अलग शब्द सीमा में कुत्ते पर निबंध (kutte pr nibandh) शेयर कर रहे हैं। यह निबन्ध सभी कक्षाओं के विद्यार्थियों के लिए मददगार साबित होंगे।

Read Also: हिंदी के महत्वपूर्ण निबंध

कुत्ते पर निबंध | Kutte par nibandh

कुत्ते पर निबंध (250 शब्द) 

पालतू जानवरों में कुत्ते को सबसे ऊपर रखा जाता है। कुत्ता प्राचीन समय से ही हमारे साथ हैं और मानव के विकास के साथ बढ़ता गया और पलता गया। ऐसे तो पालतू जानवर कई होते हैं पर ज्यादातर लोग कुत्ते को मुख्य पालतू जानवर के रूप में जानते हैं। कुत्ते के बारे में कहा जाता हैं कि यह इतना वफादार होता हैं कि यह अपने मालिक के लिए जान भी दे सकता हैं।

कुत्ते को वफादार जानवरों में से एक माना जाता हैं। कुत्ते को वैसे तो कई नश्ले होती हैं परन्तु कुत्ते को पालने वाली प्रजाति बहुत सामान्य होती हैं। कुत्ते आसानी से चीजों को फाड़ और चीर सकता हैं। कुत्ते के 4 टाँगे होती हैं, यह जानवर दिखने में लोमड़ी के सामान होता हैं पर यह लोमड़ी से एकदम अलग होता हैं।

कुत्ते की याददास्त इतनी तेज होती हैं कि बातों को काफी दिनों तक याद रख सकता हैं। एक कुत्ता भागने में भी काफी तेज होता हैं। कुत्ते के बारे में कहा जाता हैं कि यह अपने आप में एक अनोखा जानवर होता हैं, जिसके हर कोई जानवर प्रेमी अपने पास रखने की चाहत रखता हैं।

कुत्ते तो आजकल देश सेवा भी करते हैं। हमारे देश की आर्मी और पुलिस सेवा में भी कुत्ते एक फौजी की तरह काम करते हैं और देश के दुश्मनों से लड़ते हैं। कई कुत्ते ऐसे भी जो देश की खातिर शहीद हो गये। कुत्ते को आज के समय में काफी पसंद किया जाता हैं।

कुत्ते पर निबंध (800 शब्द) 

प्रस्तावना

कुत्ता एक पालतू जानवर होता हैं। कुत्ता आज आपको हर घर में पालतू जानवर के रूप में देखा जा सकता है। कुत्ते किए कई प्रजाति हैं। कुत्ते के 2 आँख, नाक और 2 कान होते हैं। कुत्ते के हाथ के नाखून इतने नुखिले होते हैं कि वो किसी को भी आसानी से फाड़ सकता हैं। प्राचीन समय से ही कुत्ते हमारे साथ से रहा हैं। कुत्ते ने इतिहास के कई किस्से देखे हैं। 

आज की तारीख में कुत्ता एक सच्चा दोस्त होता हैं, एक बार अगर यह जानवर किसी से दोस्ती कर लेता हैं तो उसके साथ हमेशा उसके एक साथी की तरह रहता है। कुत्ते की एक बात काफी ख़ास हैं कि यह काफी तेज से भाग सकता हैं। अन्य जानवरों से ताकतवर और तेजी से भागने वाले जानवरों की सूची में शामिल हैं। कुत्ते को सबसे समझदार जानवर माना जाता हैं। कुत्ते अपनों में और गैरो में फर्क अच्छी तरह से समझता हैं। यही कारण हैं कि वो काफी तेजी से भोंकता हैं। 

सबसे समझदार जानवर

कुत्ते को सबसे समझदार जानवर माना जाता हैं। ऐसा कहते हैं कि कुत्ता अपनों में और गैरो में फर्क काफी आसानी से समझ लेता हैं। यही कारण हैं कि किसी पालतू कुत्ते के सामने के अगर कोई अनजान व्यक्ति आ जाए तो वो उस पर काफी तेजी से भोंकता हैं।

कुते को सबसे ज्यादा वफादार माना जाता हैं। कुत्ते को घर में रखना एक तरह से अच्छा माना जाता हैं। कुत्ता काफी तेजी से दोड़ने वाले जानवरों की सूची में शामिल हैं। कुत्ते को सबसे चालाक जानवर माना जाता हैं। कुत्ते को अपनों के प्रति वफादार माना जाता हैं। 

अपने मालिक के प्रति वफादार

कुत्ता केवल एक जानवर मात्र नहीं हैं। कुत्ते को अपने मालिक के प्रति काफी वफादार माना जाता हैं। कुत्ता अगर एक बार किसी के प्रति वफ़ा करने लग जाता हैं तो वो मरते दम तक उसी के प्रति वफादार होता हैं। कुत्ते की वफ़ादारी जितना तो कोई इन्सान भी वफादार नहीं होता हैं। अगर यह एक बार किसी से दोस्ती कर ले तो फिर उसके साथ दगा नहीं करता हैं, जैसे इन्सान करता हैं। 

कुत्ते का दिमाग भी काफी तेज होता हैं। कुते याददास्त भी काफी तेज होती है। कुत्ते को बातो को याद रखने के लिए भी जाना जाता हैं ऐसा कहा जाता हैं कि अगर कुत्ता किसी चीज़ को एक बार याद कर ले तो वो उसे भूलता नहीं हैं। कुत्ते को भूलने की आदत भी नहीं होती हैं। एक बार किसी को देख लेता हैं तो कुत्ता उसे भी नहीं भूलता हैं।

कुत्ते की सरंचना

अपने मालिक के प्रति वफादार रहने वाले कुत्ते की सरंचना भी एक सामान्य जानवर की तरह ही होती हैं। कुत्ते की सरंचना देखे तो कुत्ता चार पांवो वाला जानवर होता हैं, जिसके आगे के दो पांवो में नाख़ून होते हैं जो कि काफी तेज होते हैं। कुते के कान भी काफी तेज होते हैं, यह आसानी से लोगों की आहात सुन सकता हैं। कुत्ते की नाक भी काफी तेज होती हैं, ऐसा कहा जाता हैं कि कुत्ता करीब 200 मीटर या इससे ज्यादा दूर तक की खुशबू को सुंह लेता हैं। 

कुत्ते को पालतू कहना गलत नहीं होगा। कुत्ता और इसके अलावा गाय दोनों ही काफी वफादार होते हैं। कुत्ते को वफादारी का प्रतिक भी कहा जाता हैं। कुत्ता काफी समझदार और काफी चालाक भी होता हैं। कुत्ते को सामान्य जानवर कहना गलत होगा क्योंकि कुत्ते जैसा कोई समजदार और कुत्ते जैसा कोई वफादार नहीं होता हैं। 

निष्कर्ष

कुत्ते जैसे जानवर को केवल एक सामान्य जानवर कहना गलत नहीं होगा। कुत्ता जितना चालाक होता हैं उतना ही तो समझदार और तेज होता हैं। कुत्ते की सूंघने की ताक़त काफी ज्यादा होती हैं और कुत्ते अपने आप में काफी अनोख होते हैं। एक कुत्ता अगर अपने मालिक के प्रति वफादार हो सकते हैं तो वो गैरो के प्रति खतरनाक भी हो सकते हैं। 

अंतिम शब्द 

हमने यहां पर “कुत्ते पर निबंध (Kutte par nibandh)” शेयर किया है। उम्मीद करते हैं कि आपको यह निबंध पसंद आया होगा, इसे आगे शेयर जरूर करें। आपको यह निबन्ध कैसा लगा, हमें कमेंट बॉक्स में जरूर बताएं।

Also Read

इनका नाम राहुल सिंह तंवर है, इन्होंने स्नातक (रसायन, भौतिक, गणित) की पढ़ाई की है और आगे की भी जारी है। इनकी रूचि नई चीजों के बारे में लिखना और उन्हें आप तक पहुँचाने में अधिक है। इनको 3 वर्ष से भी अधिक SEO का अनुभव होने के साथ ही 3.5 वर्ष का कंटेंट राइटिंग का अनुभव है। इनके द्वारा लिखा गया कंटेंट आपको कैसा लगा, कमेंट बॉक्स में जरूर बताएं। आप इनसे नीचे दिए सोशल मीडिया हैंडल पर जुड़ सकते हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here