इंटरनेट क्रांति पर निबंध

Internet kranti Essay in Hindi : इंटरनेट की क्रांति विश्व भर में एक साथ आई है। इन्टरनेट की क्रांति की वजह से लाखों लोग इंटरनेट के आदी हो चुके हैं। इंटरनेट के बिना वर्तमान में लोगों का रहना मुश्किल हो रहा है। आज का हमारा आर्टिकल जिसमें हम इंटरनेट क्रांति पर निबंध के बारे में जानकारी आपके सामने पेश करने वाले हैं। इस निबंध में इंटरनेट की क्रांति के संदर्भित सभी माहिति को आपके साथ शेअर किया गया है। यह निबंध सभी कक्षाओं के विद्यार्थियों के लिए मददगार है। 

Internet-Kranti-Essay-in-Hindi-

Read Also: हिंदी के महत्वपूर्ण निबंध

इंटरनेट क्रांति पर निबंध | Internet Kranti Essay in Hindi

इंटरनेट क्रांति पर निबंध (250 शब्द)

1993 और 1995 के बीच, वर्ल्ड वाइड वेब, एक उपयोगकर्ता के अनुकूल सूचना-साझाकरण नेटवर्क प्रणाली, चुपचाप अस्तित्व में आई और फैलने लगी। अपने पहले पंद्रह वर्षों में, वेब ने यू.एस. संचार, व्यवसायों और राजनीति को नया रूप दिया, दुनिया भर में आर्थिक विकास को बढ़ावा दिया और एक अरब से अधिक लोगों के दैनिक जीवन में एक केंद्रीय विशेषता बन गई।

इंटरनेट का युग 1960 के दशक में शुरू हुआ, जब यूरोप में कंप्यूटर विशेषज्ञों ने सूचना के छोटे पैकेटों में डेटा को तोड़कर एक मुख्य कंप्यूटर से दूरस्थ टर्मिनल तक सूचनाओं का आदान-प्रदान करना शुरू किया, जिसे प्राप्त करने के अंत में फिर से इकट्ठा किया जा सकता था। सिस्टम को पैकेट-स्विचिंग कहा जाता था।

1983 तक, अनुसंधान वैज्ञानिकों ने प्रारंभिक इंटरनेट बनाने के लिए ARPANET के उपयोग को बढ़ाया, कुछ विश्वविद्यालयों और प्रयोगशालाओं की आंतरिक प्रणालियों को जोड़ने वाला एक बड़ा नेटवर्क। उपयोगकर्ता इलेक्ट्रॉनिक मेल और डेटा का आदान-प्रदान करने, अन्य स्थानों पर कंप्यूटर तक पहुंचने और समाचार समूहों के माध्यम से संवाद करने में सक्षम थे। 

वेब में सुधारों ने इसे उपयोग करने के लिए और अधिक सरल बना दिया है। 1993 में, मोज़ेक, एक ब्राउज़र जो ग्राफिक्स, परिचित आइकन और पॉइंट-एंड-क्लिक विधियों को अनुकूलित करता है, उपलब्ध हो गया। मोज़ेक तुरंत पकड़ में आ गया—एक वर्ष के भीतर दो मिलियन उपयोगकर्ताओं ने इसे डाउनलोड किया। 

वेब 2.0 कंपनियां आमतौर पर मानक व्यापार पैटर्न का पालन नहीं करती हैं। अधिकांश तुरंत लाभ नहीं कमाते हैं। आम तौर पर, एक नई वेब कंपनी के कुछ पेश करने के बाद उभरने के बाद, बड़ी वेब कंपनियों में से एक इसे खरीदती है-कभी-कभी बहुत सारे पैसे के लिए। 2004-2006 में, Google ने YouTube को $1.65 बिलियन में खरीदा; ईबे ने $2.6 बिलियन में स्काइप खरीदा, जो इंटरनेट के माध्यम से मुफ्त फोन कॉल प्रदान करता है; और न्यूज कार्पोरेशन। 

इंटरनेट क्रांति पर निबंध (800 शब्द)

प्रस्तावना

इंटरनेट जिसका नाम आज से कुछ साल पूर्व किसी ने सुना भी नहीं था। आजकल बच्चों की जुबान पर भी यह नाम हैं। बदलते समय के साथ हमें बहुत सारे बदलाव देखने को मिले हैं। वर्तमान में सबसे बड़ा बदलाव तेजी से हो रहा हैं वह इंटरनेट हैं। इंटरनेट से बहुत प्रकार के बदलाव देखने को मिले हैं।

इंटरनेट एक क्रांति के रूप में

यह हमारे जीवन में एक क्रांति की तरह आया हैं। जिस तरह से किसी देश के कुछ लोग किसी समस्या से निपटने के लिए क्रांति प्रारंभ करते हैं और अन्य लोग धीरे-धीरे उसे जुड़ते जाते हैं और क्रांति प्रारंभ हो जाती हैं। उसी तरह इंटरनेट भी है क्रांति की तरह है जिसे शुरुआत में कुछ लोगों ने ही उपयोग किया और अब यह संपूर्ण देशों की जनता में लोकप्रिय हो गया हैं।

इंटरनेट का विकास

जब से देश में इंटरनेट का विकास हो गया हैं तो उसके बाद से हर कोई व्यक्ति मोबाइल का उपयोग करने लगा हैं। इसके द्वारा एक दूसरे को व्हाट्सएप, इंस्टाग्राम, साधारण मैसेज कई प्रकार के ऐप्स के द्वारा एक दूसरे से लोग मैसेज पर बातें करने लगे हैं। वर्तमान में जियो, रिलायंस तथा अन्य सभी कंपनियों ने अपने पैक बहुत ही ज्यादा सस्ते कर दिए हैं जिससे कि हर व्यक्ति इसका उपयोग करने लगा हैं।

कंपनियों द्वारा इंटरनेट क्रांति

कंपनी कम दाम पर ग्राहक को इंटरनेट डाटा तथा कॉलिंग सुविधा उपलब्ध करवाती हैं। वर्तमान में इंटरनेट की लोकप्रियता बहुत ज्यादा बढ़ गई हैं। इंटरनेट का प्रयोग वर्तमान नगरो से लेकर गांव- गांव ढाणी -ढाणी में होने लगा हैं।
इंटरनेट के फायदे- वर्तमान में आदमी घर पर बैठकर भी इंटरनेट का प्रयोग बहुत ही ज्यादा आसानी से करने लगा हैं। वह घर बैठे बहुत सारे सामान इंटरनेट पर आर्डर करके अपने घर पर ही बैठे हुए पाने लगा हैं। जैसे पाठ्य सामग्री, फल, सब्जी तथा अन्य खाद्य सामग्री, कपड़े, जूते और विभिन्न प्रकार के ग्रह सामग्री वह घर बैठे आर्डर करके आसानी से प्राप्त कर सकता हैं जिसे कि ऑनलाइन शॉपिंग के नाम से जाना जाता हैं।

वर्तमान में इंटरनेट का उपयोग

इसके द्वारा आम आदमी रेलवे ,हवाई जहाज ,बस, मूवीज़ ,होटल आदि के टिकट घर बैठे बुक करवा सकता हैं। इंटरनेट के द्वारा हम किसी भी विषय के बारे में आसानी से घर बैठे जानकारी प्राप्त कर सकते हैं। वर्तमान में हम इंटरनेट के द्वारा मोबाइल तथा कंप्यूटर में गेम खेल सकते हैं। गाने सुन सकते हैं। फिल्में देख सकते हैं। हर किसी व्यक्ति के बारे में जानकारी प्राप्त कर सकते हैं।

इंटरनेट के दुरुपयोग

इस से हमें कई सुविधाएं लाभ भी प्राप्त हुए हैं तो वहीं इसके के बहुत सारे दुष्परिणाम भी हैं। इंटरनेट के उपयोग के द्वारा बच्चे बहुत ज्यादा समय फोन कंप्यूटर में गेम खेलने में लगाते हैं और वह अन्य आउटडोर गेम्स नहीं खेलते हैं। जिसके कारण उनका संपूर्ण विकास नहीं होता हैं। इंटरनेट के उपयोग से अनजान व्यक्तियों के संबंध में भी आ जाते हैं उन्हे हम हमारी संपूर्ण जानकारी दे देते हैं।

इंटरनेट से अपराधों को कैसे मिला बढ़ावा

इससे बहुत सारे अपराधो को बढ़ावा मिला हैं जैसे ऑनलाइन चोरी। बहुत सारे अपराधी इंटरनेट का प्रयोग करके के विभिन्न प्रकार के गैर कानूनी कार्य करने लगे हैं। बच्चे इसका उपयोग ज्यादा करते हैं और अपने आप को समय से पहले बड़ा समझने लग जाता हैं। इंटरनेट पर गलत वस्तु को देखते है जिनका उनके दिमाग पर बहुत बुरा असर हो सकता हैं।

वर्तमान में इंटरनेट का प्रयोग बहुत ही ज्यादा बढ़ रहा हैं। इंटरनेट हमारे लिए बहुत ही ज्यादा उपयोगी हैं। इससे हम बहुत सारे कार्य बहुत ही आसानी से कर सकते हैं। किसी भी विषयवस्तु के बारे में जानकारी आसानी से प्राप्त कर सकते हैं।

यदि हम इंटरनेट का प्रयोग सूझबूझ और समझदारी करे तो ये हमारे लिए लाभकारी हैं और यदि हम इसका दुरुपयोग करना चाहे तो वह भी बहुत ही ज्यादा आसानी से कर सकते हैं। यह हम पर निर्भर करता है कि हम इस का कैसे उपयोग करते हैं।

जैसे कि कहा जाता है, कि हर चीज जिसका फायदा होता है। तो उसका उल्टा नुकसान भी होता है। उसी तरह से इंटरनेट की फायदे बहुत सारे हैं। लेकिन इंटरनेट के माध्यम से दिन प्रतिदिन कई प्रकार के अपराध बढ़ते हुए देखने को मिल रहे हैं इंटरनेट के माध्यम से बढ़ रहे अपराध जो लोगों के लिए घातक सिद्ध हो रहे हैं।

निष्कर्ष

वर्तमान समय में इंटरनेट इंसान की हॉबी बन चुका है। इंटरनेट के बिना मनुष्य का रहना मुश्किल हो चुका है। मनुष्य को यदि इंटरनेट और मोबाइल की सुविधा दे दी जाए, तो वह अकेला कई दिनों तक एक रूम में भी रह सकता है। लेकिन इंटरनेट के बिना 1 मिनट भी इंसान अपना गुजारा नहीं चला सकता है। इंटरनेट की लत लोगों को लग चुकी है।

अंतिम शब्द

आज का हमारा आर्टिकल जिसमें हमने इंटरनेट क्रांति पर निबंध ( Internet kranti Essay in Hindi) के बारे में संपूर्ण जानकारी आप तक पहुंचाई है। मुझे पूरी उम्मीद है, कि हमारे द्वारा दी गई, यह जानकारी आपको पसंद आई होगी। इस आर्टिकल से जुड़ा यदि किसी व्यक्ति के दिमाग में कोई सवाल है। तो वह हमें कमेंट में पूछ सकता है।

Read Also

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here