जम्मू और कश्मीर पर निबंध

Essay on Jammu and Kashmir in Hindi: नमस्कार दोस्तों आज हम आप सभी लोगों के सामने लेकर प्रस्तुत हुए हैं जम्मू कश्मीर पर निबंध, जो कि परीक्षा के दृष्टिकोण से भी काफी ज्यादा महत्वपूर्ण है। जम्मू और कश्मीर हमारे भारत की शान है। जम्मू और कश्मीर भारत की शान होने के साथ-साथ आतंकवाद एवं उग्रवाद का भी एक जीता जागता उदाहरण है। आज हम सभी लोग अपने इस महत्वपूर्ण निबंध के माध्यम से जम्मू कश्मीर पर निबंध जानेंगे, तो चलिए शुरू करते हैं।

Image: Essay on Jammu and Kashmir in Hindi

Read Also: हिंदी के महत्वपूर्ण निबंध

जम्मू और कश्मीर पर निबंध | Essay on Jammu and Kashmir in Hindi

जम्मू कश्मीर पर निबंध (250 शब्द)

जम्मू और कश्मीर भारत का एक अभिन्न अंग है, जो कि भारत के उत्तरी राज्यों में स्थित है। जम्मू और कश्मीर की राजधानी श्रीनगर है। यहां पर सभी वर्ष एवं सभी महीने बर्फ पड़ती रहती है। जम्मू और कश्मीर विश्व की सबसे सुंदर स्थानों में से एक है, यहां पर हिमालय की ऊंची ऊंची चोटिया, ग्लेशियर, नदियां एवं घाटिया, सदाबहार वन, ताजी पहाड़ी हवा इत्यादि मौजूद है, जम्मू और कश्मीर को धरती का स्वर्ग भी कहा जाता है।

जम्मू और कश्मीर संपूर्ण भारत वर्ष की शान है। जम्मू कश्मीर को भारत का सबसे महत्वपूर्ण हिस्सा कहा जाता है। हालांकि जम्मू और कश्मीर भारत का ही एक हिस्सा है, परंतु इसे पाकिस्तान हथियाने के चक्कर में पड़ा है, परंतु हमारी भारतीय सेना सदैव पाकिस्तानी आतंकवादियों को धूल चटा देती है। हमारी भारतीय सेना जम्मू और कश्मीर की रक्षा में अपना पूरा जीवन निकाल देती है और जम्मू और कश्मीर पर होने वाले किसी भी सर्जिकल स्ट्राइक को रोक देती है और उसका डटकर सामना भी करती हैं।

जम्मू और कश्मीर भारत के संविधान के अनुच्छेद 370 तथा संबंधित संवैधानिक मामलों एवं सामान्य नीति विषयक मामलों में आतंकवाद एवं उग्रवाद से जुड़े मामलों से संबंधित है। जम्मू और कश्मीर के लिए प्रधानमंत्री के पैकेट का क्रियान्वयन किया गया है, जिसके अंतर्गत वहां के लोगों को सुरक्षा प्रदान की जाने की गारंटी भी दी जाती है। जम्मू और कश्मीर में लोगों का जीवन सुरक्षित नहीं होता, क्योंकि वहां पर कभी भी किसी भी प्रकार का हमला हो सकता है, इसी लिए भारतीय सैनिक जम्मू कश्मीर में सदैव मौजूद रहकर वहां के लोगों की सुरक्षा करते हैं और वहां के लोगों के साथ साथ वे जम्मू और कश्मीर की भी सुरक्षा करते हैं।

जम्मू कश्मीर पर निबंध (800 शब्द)

प्रस्तावना

जम्मू कश्मीर भारत का एक अभिन्न भाग है, जो कि भारत के उत्तरी भागों में स्थित है। जम्मू कश्मीर संपूर्ण विश्व की सबसे सुंदर स्थलों में से प्रथम स्थान पर है। जम्मू कश्मीर को संपूर्ण विश्व भर में धरती के स्वर्ग (heaven of Earth) के रूप में जाना जाता है। जम्मू कश्मीर के पश्चिमी सीमा पर पाकिस्तान दक्षिणी सीमा पर श्री लंका और उत्तर एवं पूर्वी सीमा पर चीन है। जम्मू और कश्मीर का कुल क्षेत्रफल लगभग 54571 वर्ग मील है। जम्मू कश्मीर की कुल जनसंख्या लगभग 1,01,43,700 है। हमारी कश्मीर में कुल 8 भाषाएं (कश्मीरी पंजाबी लद्दाखी बालती दर्दिक गोजरी पहाड़ी एवं डोंगरी) बोली जाती हैं।

जम्मू कश्मीर की सभ्यता

  • जम्मू कश्मीर में युगो युगो से इस्लाम, हिंदुत्व एवं बौद्ध धर्म के धार्मिक एवं सांस्कृतिक प्रभाव का संगम मौजूद है।
  • जम्मू कश्मीर का प्राचीनतम विस्तृत इतिहास कल्हलण रचित, राज तरंगिणी है।
  • जम्मू कश्मीर में अशोक सम्राट के महान साम्राज्य का एक भाग था। 
  • जम्मू कश्मीर पर चौदहवीं शताब्दी में परसिया से आए सूफी सुल्तान के द्वारा शासन किया गया।
  • भारत के सबसे महान राजा अकबर महान का अधिपत्य जम्मू कश्मीर पर भी था।

संयुक्त राष्ट्र अमेरिका में जम्मू और कश्मीर विवाद का मुद्दा

भारत ने संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद में वर्ष 1948 में 1 जनवरी को जम्मू और कश्मीर का मुद्दा उठाया है। संयुक्त राष्ट्र संघ अमेरिका ने 17 जनवरी 1948 को भारत एवं पाकिस्तान से या गुजारिश की, कि यह हालात को सुधारने का उपाय करें और प्रत्येक भौतिक परिवर्तन की जानकारी दें।

जम्मू कश्मीर को लेकर पाकिस्तान के साथ युद्ध

जैसा कि हम सभी लोग जानते हैं, जम्मू कश्मीर को लेकर भारत एवं पाकिस्तान के मध्य अनेकों विवाद छिड़ चुके हैं। इतना ही नहीं पाकिस्तान अपनी आदतों के कारण लगातार जम्मू और कश्मीर पर हमले करता ही जा रहा है। जम्मू और कश्मीर में 1965 ईस्वी में अगस्त को पाकिस्तानी सशस्त्र सेनाओं के द्वारा हमला कर दिया गया। जम्मू और कश्मीर में तैनात भारत के जांबाज सिपाहियों ने पाकिस्तान की सशस्त्र सेना का जमकर विरोध किया और उन्हें मार गिराया। इसके बाद भारत एवं पाकिस्तान के बीच 10 जनवरी 1966 ईस्वी में ताशकंद समझौता कर दिया गया, जिस पर दोनों देशों के प्रधानमंत्री का हस्ताक्षर भी लिया गया, परंतु इसके बाद ही पाकिस्तान अपनी आदतों से बाज नहीं आ रहा और यह लगातार सर्जिकल स्ट्राइक्स करते ही जा रहे हैं।

भारतीय प्रधानमंत्री के द्वारा जारी किया गया जम्मू और कश्मीर के प्रवासी लोगों के लिए पैकेज

भारत सरकार के द्वारा जम्मू कश्मीर के प्रवासियों की वापसी के लिए विशेष तरह के पैकेज को जारी कर दिया गया है, जिसके तहत वहां की सभी लोगों को लाभ प्रदान किया जा रहा है। भारत सरकार द्वारा शुरू किए गए इस पैकेज के मुख्य संगठक निम्नलिखित हैं।

  1. पूर्ण रूप से या आंशिक रूप से क्षतिग्रस्त घरों की मरम्मत की जाएगी और इन के पुनर्निर्माण के लिए ₹7,50,000 प्रति परिवार की दर से सहायता राशि प्रदान की जाएगी।
  2. वर्ष 1989 के बाद से जम्मू और कश्मीर की अचल संपत्ति का परीक्षण किया जाएगा और आर्थिक तंगी में नियंत्रण किया जाएगा।
  3. भारत सरकार के द्वारा जम्मू कश्मीर के जर्जर घरों के लिए प्रत्येक परिवार को ₹200000 की आर्थिक सहायता प्रदान की जाएगी।

निष्कर्ष

जम्मू और कश्मीर भारत का एक अभिन्न अंग है, जोकि भारत के सभी नागरिकों के लिए सम्मानजनक बात है। जम्मू और कश्मीर को पाकिस्तान हथियाने के लिए अनेकों प्रकार के हमले एवं सर्जिकल स्ट्राइक करते जा रहा है। मारी भारतीय सेना में पाकिस्तान के सभी सर्जिकल स्ट्राइक एवं हमले को नाकाम कर दे रही है और जम्मू कश्मीर को बचाए हुए हैं।

अंतिम शब्द

हम उम्मीद करते हैं, कि आपको हमारे द्वारा लिखा गया यह महत्वपूर्ण लेख “जम्मू और कश्मीर पर निबंध (Essay on Jammu and Kashmir in Hindi)” अवश्य ही पसंद आया होगा, यदि हां! तो कृपया आप हमारे द्वारा लिखे गए इस महत्वपूर्ण लेख को अवश्य शेयर करें, यदि आपके मन में कोई भी सवाल है, तो कमेंट बॉक्स में हमें अवश्य बताएं।

Reed also

इनका नाम राहुल सिंह तंवर है, इन्होंने स्नातक (रसायन, भौतिक, गणित) की पढ़ाई की है और आगे की भी जारी है। इनकी रूचि नई चीजों के बारे में लिखना और उन्हें आप तक पहुँचाने में अधिक है। इनको 3 वर्ष से भी अधिक SEO का अनुभव होने के साथ ही 3.5 वर्ष का कंटेंट राइटिंग का अनुभव है। इनके द्वारा लिखा गया कंटेंट आपको कैसा लगा, कमेंट बॉक्स में जरूर बताएं। आप इनसे नीचे दिए सोशल मीडिया हैंडल पर जुड़ सकते हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here