मेरे सपनों का भारत पर निबंध

Mere Sapno ka Bharat Par Nibandh: हमारा देश भारत जो पूरी तरह से संस्कृति और धर्म के नाम पर जाना जाता है। लेकिन भविष्य में हमारे देश की यह संस्कृति भविष्य में धीरे-धीरे खत्म होती जा रही है। क्योंकि भारत देश मैं दिन प्रतिदिन टेक्नोलॉजी और समय का अभाव बढ़ता जा रहा है।

जिसकी वजह से लोग अपने धर्म पर ज्यादा ध्यान नहीं दे पा रहे हैं और नहीं अपने आने वाली पीढ़ी को धर्म के बारे में सिखा रहे हैं। साथ ही साथ संस्कृति की बात करें तो भारत की पुरानी संस्कृति अब दिखाई नहीं दे रही है। भारत देश जिसे संस्कृति, जाति, पंथ, अलग-अलग धर्म और अलग-अलग भाषाओं के रूप में जाना जाता है। लेकिन भविष्य में भारत के अनोखे तथ्य खत्म होने वाले हैं।

मेरे सपनों का भारत (mere sapnon ka bharat) जिसमें आपको जातिवाद शिक्षा अलग-अलग प्रकार की कुर्तियां इत्यादि देखने को नहीं मिलेगी। लोगों को इस प्रकार की पुरानी परंपराओं से पूरी तरह से छुटकारा मिल जाएगा।

Mere sapno ka bharat par nibandh
Image: Mere sapno ka bharat par nibandh

हम यहां पर अलग-अलग शब्द सीमा में मेरे सपनों का भारत पर निबंध हिंदी में (mere sapno ka bharat essay in hindi) शेयर कर रहे हैं। यह निबन्ध सभी कक्षाओं के विद्यार्थियों के लिए मददगार साबित होगा।

Read Also: हिंदी के महत्वपूर्ण निबंध

मेरे सपनों का भारत पर निबंध | Mere Sapno ka Bharat Par Nibandh

मेरे सपनों का भारत पर निबंध 100 शब्द

देश को आजाद हुए काफी साल हो गए हैं। लेकिन अभी भी देश में कई प्रकार की ऐसी समस्याएं हैं, जो दूर नहीं हुई है। भविष्य में यह समस्याएं दूर हो सकती है। मेरे सपनों का भारत जिसमें शिक्षा प्राथमिक रूप से लड़की और लड़के दोनों के लिए अनिवार्य हो जाएगी। इससे देश में जागरूकता बढ़ेगी, भेदभाव कम होगा। हमारे सपनों का भारत जो पूरी तरह से डिजिटल तकनीकों पर चलने वाला है।

यहां पर महिलाओं को शिक्षा के साथ-साथ नौकरी में भी स्वतंत्रता मिलेगी। कहने का मतलब यह है कि नौकरी भी महिलाएं व पुरुष बेइज्जत कर पाएंगे। हमारे सपनों का भारत जिसमें शिक्षा में मुख्य रूप से बढ़ोतरी होगी और वर्तमान की सबसे बड़ी समस्या बढ़ती हुई जनसंख्या पर भी नियंत्रण हो पाएगा। देश में गरीबी और भुखमरी जैसी समस्याएं भी साधारण तौर पर कम हो जाएगी।

Mere Sapno ka Bharat Par Nibandh

मेरे सपनों का भारत पर निबंध 150 शब्द

आज के समय में देश कई प्रकार की समस्याओं से जूझ रहा है। लेकिन भविष्य में व्यक्ति इन सभी समस्याओं से पूरी तरह से मुक्त हो जाएगा। वर्तमान में मुख्य रूप से जो समस्याएं देखने को मिलती है, उसमें शिक्षा महिला जागरूकता इत्यादि है।

इसके अलावा वर्तमान में दहेज प्रथा महिलाओं के साथ होने वाले अत्याचार यह समस्याएं भी पूरी तरह से खत्म नहीं हुई है। हालांकि इन समस्याओं को लेकर समाज के लोग काफी जागरूक तो हुए हैं।

मेरे सपनों के भारत में महिलाएं स्वतंत्र रूप से अपना जीवन जी सके। महिलाओं को सम्मान और स्वतंत्रता मिलेगी। साथ ही साथ महिलाएं पुरुषों के बराबर कंधे से कंधा मिलाकर नौकरी पर जा सकेगी। जब महिलाएं स्वतंत्र होगी तो उन पर होने वाले अत्याचार भी कई हद तक कम हो जाएंगे। या ऐसा कह सकते हैं कि मेरे सपनों के भारत में महिलाओं पर होने वाले अत्याचार भी खत्म होने वाले हैं।

Mere Sapno ka Bharat Par Nibandh

मेरे सपनों का भारत पर निबंध 250 शब्द

हमारा भारत देश एक ऐसा देश जहाँ पर हर धर्म और समुदाय के लोग रहते हैं। हमारे देश में रहने वाले लोग हर धर्म का सम्मान करते हैं और हर धर्म को पसंद करते हैं। सब लोग एक दुसरे के धर्म का सम्मान करते हैं। मेरे सपनों का भारत भी कुछ ऐसा ही होना चाहिए। 

लोग एक दुसरे का सम्मान करे और एक दुसरे के धर्म का सम्मान करे ऐसा ही कुछ मैं मेरे सपनों के भारत के बारे में चाह्ता हूँ । देश में कई समुदाय के लोग रहते हैं। मैं चाहता हूँ की वो सब मिलजुल कर रहे। देश में रहने वाला हर एक नागरिक देश के प्रति समर्पित होना चाहिए। 

मेरे देश में रहने वाला नागरिक चाहे वो किसी भी धर्म, जाति या समुदाय का हो, सब के दिल में राष्ट्रवाद और राष्ट्रभावना होनी चाहिए। देश में रहने वाले सभी नागरिक एक दुसरे का सम्मान करे और देश में साम्प्रदायिकता और धर्मनिरपेक्षता रखें। 

हमारे देश का विकास भी जरुरी हैं। मैं चाहता हूँ की मेरे देश के लोग देश के विकास में सहयोग प्रदान करे और देश को आन्तरिक सुरक्षा के लिए मजबूती प्रदान करे। देश में रहने वाले हरेक नागरिक के मन में देश पेम और देश के प्रति समर्पण की भावना होनी चाहिए। 

वर्तमान समय में देश में लोग जाति और धर्म के नाम पर लड़ते है । उसका फायदा देश के कुछ नेता उठाते है। हम इस बात को मानते हैं की अपना धर्म सबसे पहले आता है, पर उससे पहले हमारा देश हमारे लिए सबसे पहले आता है। देश में सब समान भाव रखे। जय हिन्द। 

मेरे सपनों का भारत पर निबंध 300 शब्द (india of my dreams essay 300 words)

प्रस्तावना

मेरे सपनों का भारत एक ऐसा भारत बनना चाहिए, जो वर्तमान से अधिक गति के साथ विकास और तकनीकी क्षेत्र में आगे बढ़े और जल्द से जल्द मेरे सपनों का भारत विकसित देशों की सूची में शामिल हो सके।

हम दिन प्रतिदिन अपने देश में विभिन्न प्रकार की तकनीकी को बढ़ता हुआ देख रहे हैं। लेकिन भविष्य में यह तकनीकी और अधिक तीव्र गति से बढ़नी चाहिए। तब ही देश विकसित देशों की सूची में शामिल हो पाएगा।

मेरे सपनों का भारत की विशेष बातें

मैं अपने सपनों का भारत पूरी तरह से शिक्षित देखना चाहता हूं। इसका मतलब यह है कि देश का हर नागरिक पूरी तरह से शिक्षित हो। चाहे वह पुरुष हो या महिला विशेष शिक्षा प्राथमिक रूप से मिलनी ही चाहिए। शिक्षा लेना हर भारतीय नागरिक का प्रथम मूल अधिकार होना चाहिए। हमारा देश भारत जिसके सभी नागरिक यदि शिक्षित बन जाएंगे। तब देश की तकनीकी देश का विज्ञान क्षेत्र और देश का उद्योग क्षेत्र भी बढ़ना शुरू हो जाएगा।

व्यक्ति यदि शिक्षित होगा तो वह अपने देश के बारे में सही सोच पाएगा और अपने देश को आगे बढ़ाने तथा राष्ट्र की ताकत के बारे में सोच सकेगा। देश में जब शिक्षा और पुरुष व महिलाओं के प्रति भेदभाव खत्म हो जाएगा तो जनसंख्या नियंत्रण भी आसानी से हो पाएगा।

वर्तमान में देश में जो भ्रष्टाचार व कालाबाजारी चल रही है, वह सभी मेरे सपनों के भारत में खत्म होने वाली है। जो भ्रष्टाचार लोग राजनेता या अन्य किसी शक्ति के नाम पर देश में फैलाए जा रहे हैं। इन सभी का नाश मेरे सपनों के भारत में होने वाला है। मेरे सपनों के भारत में कोई भी व्यक्ति किसी भी व्यक्ति के दबाव में नहीं जियेगा। मेरे सपनों का भारत विश्व का सर्वश्रेष्ठ और समृद्ध देश बनेगा।

सपनों के भारत में कुरीतियां दूर होगी

आज के समय में कई ऐसे शांति भंग करने वाले लोग हैं, जो राजनेताओं या अन्य किसी शक्ति के नाम पर दूसरे लोगों पर दबाव बना रहे हैं। इसके अलावा देश में कई सरकारी कर्मचारी ऐसे भी हैं, जो रिश्वत लेकर काम करते हैं बिना रिश्वत के काम नहीं करते हैं, उन सभी का अंत मेरे सपनों के भारत में देखने को मिलेगा।

देश का कोई भी सरकारी कर्मचारी रिश्वत के नाम पर देश में भ्रष्टाचार फैलाना तो दूर की बात इसके बारे में सोच भी नहीं पाएगा। मेरा देश दिन प्रतिदिन प्रगति कर रहा है। मेरे देश में जो समस्याएं वर्तमान में है। वह सभी समस्याएं मेरे सपनों के भारत में देखने को बिल्कुल नहीं मिलेगी।

वर्तमान में मेरे सपनों के भारत की सैन्य शक्ति भी बढ़नी शुरू हो गई है। भविष्य में देश की सेना की ताकत इतनी बढ़ जाएगी कि अन्य कोई भी देश मेरे देश के साथ युद्ध करने या युद्ध के लिए प्लानिंग बनाने से पहले हजार बार सोचेगा। मेरे देश में अनुशासन शांति और प्रशंसा भविष्य में बनी रहेगी।

जातिवाद और क्षेत्रवाद की भावना पूरी तरह से देश में से खत्म हो जाएगी। सपनों का भारत जो पूरी तरह से अपने आप को आजाद महसूस करेगा और देश में भाईचारे और आजादी का माहौल बना रहेगा।

मेरे सपनों का भारत पर निबंध 500 शब्द

हमारा देश भारत जो पूरी तरह से बहु सांस्कृतिक बहु धार्मिक और बहुभाषी देश है, जहां पर धर्म और जाति के नाम पर कई प्रकार के भेदभाव वर्तमान में देखने को मिल रहे हैं। देश की प्रगति भी वर्तमान में स्थित है।

मेरे सपनों का भारत एक ऐसा भारत बनना चाहिए, जहां हर तरफ विकास की रफ्तार तेजी से बढ़ती हुई दिखे। ताकि देश जल्द से जल्द विकसित देशों की सूची में शामिल हो सके।

मेरे सपनों का भारत कैसे बनेगा जिसके लिए ध्यान देने योग्य जरूरी बातें

जाति और धर्म का भेदभाव

आज के समय में देश में जाति और धर्म के नाम पर भेदभाव बहुत ज्यादा है। हालांकि पिछले जमाने से यह भेदभाव थोड़ा कम हुआ है। लेकिन भविष्य में यह भेदभाव जो जाति और धर्म के नाम पर वर्तमान में चल रहा है, वह पूरी तरह से खत्म होगा और जाति और धर्म के मुद्दों को किनारे रखते हुए लोग साथ मिलकर काम करेंगे तो राष्ट्र की प्रगति का एक महत्वपूर्ण योगदान देश को मिलेगा।

शिक्षा और जागरूकता

हमारा देश आज भी अन्य देशों के मुकाबले शिक्षा के मामले में काफी ज्यादा पिछड़ा हुआ है। यदि आप अपने सपनों का भारत देखना चाहते हैं तो आपको भी शिक्षा के प्रति जागरूकता फैलाने होगी और देश का हर नागरिक शिक्षित बने इसके लिए अपना मु्ख्य योगदान देना होगा।

देश में शिक्षा हासिल करना हर नागरिक का कर्तव्य होना चाहिए। शिक्षित और प्रतिभाशाली व्यक्ति ही राष्ट्र के विकास को आगे बढ़ा पाएंगे। यदि देश में हर व्यक्ति शिक्षित होगा तो देश के विकास को कोई भी नहीं रोक पाएगा।

भ्रष्टाचार

आज के समय में देश में भ्रष्टाचार बहुत अधिक है और यह भ्रष्टाचार दिन प्रतिदिन बढ़ रहा है। भ्रष्टाचार बढ़ने की वजह यह है कि देश में कई ऐसे अपवाद हैं, जो अपने स्वार्थ के लिए देश में भ्रष्टाचार फैला रहे हैं। लेकिन मेरे सपनों का भारत पूरी तरह से भ्रष्टाचार मुक्त होगा।

आज के  समय में सरकार सिर्फ अपने स्वार्थ के बारे में सोचती है। लेकिन मेरे सपनों के भारत जिसमें सरकार ही लोगों की भलाई का एकमात्र एजेंडा के रूप में कार्य करेगी।

लिंग भेदभाव और महिलाओं पर होने वाले अत्याचार

देश में आज भी लिंग भेदभाव को लेकर हजारों लोग दुखी है। देश में यह लिंग भेदभाव की पुरानी कुप्रथा अभी भी खत्म नहीं हुई है। देश में पुरुषों को महिलाओं के मुकाबले अत्यधिक स्वतंत्रता और प्यार मिलता है। लेकिन देश का हर नागरिक चाहे महिला हो या पुरुष सभी को स्वतंत्रता के साथ जीने का अधिकार है।

मेरे सपनों के भारत में महिलाओं को और पुरुषों को बराबर समझा जाएगा। नौकरी के क्षेत्र में भी पुरुष और महिलाएं दोनों कंधे से कंधा मिलाकर काम कर पाएंगे और लिंग भेदभाव पूरी तरह से खत्म हो जाएगा।

विज्ञान, तकनीकी और औद्योगिक विकास

ऐसा कहा जा रहा है कि भारत वर्तमान में विज्ञान की तकनीकी में काफी आगे बढ़ रहा है। लेकिन अन्य देशों के मुकाबले आज भी हमारा देश विज्ञान औद्योगिक और तकनीकी मामले में काफी पीछे हैं। मेरे सपनों का भारत जिसमें विज्ञान औद्योगिक और तकनीकी विकास बढ़ेगा, जिससे देश विकसित देशों की सूची में आएगा।

2047 में मेरे सपनों का भारत निबंध 500 शब्द (2047 mein mere sapnon ka bharat)

प्रस्तावना

एक समय था जब भारत को सोने की चिड़िया के नाम से पुकारा जाता था। परंतु बाद में अंग्रेजों की गुलामी में भारत पूरी तरह से खोखला हो गया। कई सालों की गुलामी के पश्चात 1947 में भारत अंग्रेजों की गुलामी से स्वतंत्र हुआ। लेकिन गुलामी से स्वतंत्र होने के पश्चात भारत के विकास की राह में कई प्रकार की अड़चन भी आई।

हालांकि वर्तमान में भारत की अर्थव्यवस्था और भारत का विकास दिन प्रतिदिन बढ़ता जा रहा है और भविष्य में हम और अधिक उम्मीद अपने देश से कर सकते हैं।

सपनों के भारत में क्या देखने को मिलेगा

जागरूकता

2047 अपने सपनों का भारत की अगर हम बात करें तो हमारा भारत आजादी के 100 साल बाद पूरी तरह से बदलने वाला है। हमारे भारत में टेक्नोलॉजी दिन प्रतिदिन बढ़ती जा रही है और साल 2047 तक भारत पूरी तरह से टेक्नोलॉजी पर आधारित देश बन जाएगा।

वर्तमान में महिलाओं की शिक्षा को लेकर कई प्रकार की जागरूकता देश भर में फैल रही है। ऐसे कह सकते हैं कि महिला शिक्षा के लिए जागरूकता अभियान चलाए जा रहे हैं। 30 से 40 फ़ीसदी लोग आज भी महिला शिक्षा के लिए जागरूक है। लेकिन अपने सपनों के भारत में हर महिला शिक्षित होगी। महिला और पुरुष में होने वाले भेदभाव को पूरी तरह से खत्म कर दिया जाएगा।

जातिवाद

2047 तक देश में जातिवाद जैसी समस्या पूरी तरह से खत्म हो जाएगी। जातिवाद जब भारत आजाद हुआ था तब गई हद तक बहुत ज्यादा था। इसके अलावा कई प्रकार की कुप्रथा है। जैसे दहेज प्रथा सती प्रथा इत्यादि भी चल रही थी लेकिन धीरे-धीरे सती प्रथा पूरी तरह से खत्म हो गई है। दहेज प्रथा भी धीरे-धीरे कम होती जा रही है। अथवा 2047 तक हमारा भारत पूरी तरह से जातिवाद जैसी समस्या से छुटकारा पा लेगा।

शिक्षा

शिक्षा के क्षेत्र में भी पुरुषों और महिलाओं को समान रूप से पढ़ाई करने का अवसर मिलेगा। भेदभाव शिक्षा के प्रति दूर हो जाएगा। वर्तमान में भी 30 से 40 फ़ीसदी लोग शिक्षा को लेकर काफी ज्यादा जागरूक हो चुके हैं। लेकिन 2047 तक भारत में कोई भी अशिक्षित व्यक्ति नहीं रहेगा।

अर्थव्यवस्था

पुरुषों के साथ-साथ महिलाओं को भी काम करने का मौका मिलेगा महिलाओं और पुरुषों में नौकरी को लेकर कोई भी भेदभाव व समानता नहीं रहेगी।

2047 हमारे भारत की अर्थव्यवस्था बहुत ज्यादा मजबूत होने वाली है। हमारा देश दिन प्रतिदिन अर्थव्यवस्था को मजबूत करने के पीछे लगा हुआ है। सपनों का भारत मजबूत अर्थव्यवस्था के साथ विकसित भारत कहलाएगा।

मेरे सपनों का भारत पर निबंध (800 शब्द) 

प्रस्तावना

मेरे सपनों के भारत के बारे में हर समय यही सोचता हूँ की मेरे सपनों का भारत कैसा होना चाहिए। मेरे देश में सभी धर्म और समुदाय के लोग रहते है। हम भारत में रहने वाले सभी लोग किसी न किसी धर्म से संबंधित है। मेरे देश में रहने वाले लोग अगर सब धर्मो का सम्मान करे और सब अपने अपने धर्म के अलावा अन्य धर्मो का भी सम्मान करे और उनके प्रति सम्मान की भावना रखें, यही मेरा सपना है।

मैं सबसे पहले देश के नागरिको में एक दुसरे के प्रति सम्मान और समानता की भाव देखना चाहता हूँ।मेरा देश एक लोकतान्त्रिक देश हैं यानी मेरे देश में रहने वाले सभी नागरिको को राजनीतिक से सम्बंधित समान अधिकार पाप्त है। इस देश में रहने वाले हरेक नागरिक को हर क्षेत्र में समान अधिकार मिले है, फिर चाहे वो खेल का क्षेत्र हो या शिक्षा का, राजनीति का हो या व्यापार का। मैं चाहता हूँ कि आगे भी सबको समान अधिकार प्राप्त हो।

मेरे सपनों का भारत हो विकसित देश 

मेरा एक ही सबसे बड़ा सपना हैं की मेरे सपनों का भारत एक विकसित देश बने। मेरा देश भी अमेरिका और चीन की तरह तरक्की करे और यहाँ हर वो जरुरी सुविधाएं हो, जो एक विकसित देश में होती हैं। वर्तमान में हमारा देश एक विकासशील देश हैं।

हमारा देश काफी तेजी से विकास की और अग्रसर हैं। मेडिकल और शिक्षा सुविधा अब पहले से काफी बेहतर हैं। वर्तमान में शिक्षा और स्वास्थ्य क्षेत्र के लिए ही इस देश को विश्व में सबसे ज्यादा पसंद किया जाता हैं।

घूमने फिरने के लिए भी हमारे देश में काफी कुछ हैं, जिसे देखने के लिए लोग दूर दूर से आते हैं और यहाँ की खूबसूरती का आनंद लेते है। देश में बढ़ते टूरिज्म से ही हमारे देश की आर्थिक स्थिति में काफी सुधार दिखने लगा है।

मेरा सपना हैं कि मेरे सपनों का भारत एक खूबसूरत भारत बने, जिसे देखने के लिए लोग दूर दूर से आये और मेरे देश की पहचान विश्व में एक विशेष रूप में हो। मेरा सपना यही है भारत एक विशिष्ठ भारत हो।

इन क्षेत्रो में विकसित हो मेरा देश 

मेरे सपनों का भारत कुछ इन क्षेत्रो में अपना विकास करेगा तो देश को नयी राह और पहचान मिलेगी। मेरा सपना हैं कि मेरा देश निम्न कुछ क्षेत्रो में विकासशील से विकसित देश बने।

  • शिक्षा: मेरी एक यह उम्मीद हैं की मेरे देश में शिक्षा का विकास अच्छे से और खूब एडवांस तरीके से हो। हम अक्सर देखते हैं देश से छात्र पढाई करने के लिए देश के बाहर जाते हैं और वहां से पढाई करते हैं। पढाई चाहे मेडिकल से हो या व्यवसाय प्रबंधन से सम्बंधित। छात्र पढाई करने के लिए बाहर जाते हैं। मेडिकल जैसी सुविधा के लिए देश में शिक्षा को बढ़ावा दिया जाना चाहिए। इसके साथ तकनिकी शिक्षा में भी मेरा देश सब से आगे और विकसित होना चाहिए।
  • मेडिकल: मेरे सपनों के भारत में मेडिकल शिक्षा भी है, जिसके लिए में चाहता हूँ की देश में इससे जुड़े विकास भी हो। देश में वर्तमान में मेडिकल की सुविधा काफी अच्छी हैं। परन्तु फिर भी में इस बात की उम्मीद करता हूँ कि देश की मेडिकल सुविधा भी सुद्रढ़ हो और यह सुनिच्चित हो कि देश में मेडिकल से जुडी कोई समस्या ना हो।
  • उद्योग: मेरे सपनों के भारत में उद्योग का विकास भी आता हैं। देश में छोटे-बड़े उद्योगों का विकास भी काफी अच्छा हैं परन्तु जरुरत हैं उन्हें एक स्तर पर बढ़ावा देने की। देश में उद्योगों का विकास भी जरुरी हैं।

मेरे सपनों के भारत मैं यह सभी बिन्दुओं के बारे में सोचता हूँ। यह सभी सुविधाएं होगी तब बनेगा मेरे सपनों का महान भारत।

निष्कर्ष

मेरा बचपन से यही सपना रहा है कि मेरे सपनों का भारत एक महान भारत हो और विश्व में मेरे भारत की अलग पहचान हो। मेरे सपनों का भारत जल्द ही महान बने इसके लिए हम प्रार्थना करते हैं।

मेरे सपनों का भारत पर निबंध 1000 शब्द

जब भारत देश आजाद हुआ तब देश काफी पिछड़ा हुआ था। लेकिन वर्तमान में हमारा देश भारत जहां विकास देखने को मिल रहा है। हमारा देश जो संस्कृति धर्म जातिवाद और क्षेत्रवाद के नाम पर मुख्य रूप से जाना जाता है। लेकिन हमारा सपनों का भारत एक ऐसा देश बनेगा, जहां पर जातिवाद और क्षेत्रवाद बिल्कुल खत्म हो जाएंगे। देश में पूरी तरह से शांतिऔर भाईचारे के रूप में स्वतंत्रता के साथ हर नागरिक अपना जीवन यापन करेगा।

मेरे सपनों के भारत को लेकर कुछ महत्वपूर्ण तथ्य

1. महिला सशक्तिकरण

वर्तमान में देश में महिलाओं को पूरी तरह से पिछड़ा हुआ माना जाता है। महिलाओं को कमजोर समझा जाता है। देश में महिलाओं के साथ कई प्रकार के अत्याचार भी हो रहे हैं। दिन प्रतिदिन देश में महिलाओं के साथ अत्याचार और घिनौनी हरकते बढ़ती जा रही है। मेरे सपनों का भारत जहां पर महिला सशक्तिकरण को मुख्य रूप से बढ़ावा दिया जाएगा।

महिला सशक्तिकरण के माध्यम से महिलाओं को हर प्रकार की स्वतंत्रता मिलेगी। महिलाओं पर हो रहे अत्याचार पूरी तरह से खत्म हो जाएंगे। महिलाओं को हर क्षेत्र में पुरुषों के मुकाबले स्वतंत्रता के साथ काम करने की भी अनुमति मिलेगी।

देश की हर महिला शिक्षित होगी, हमारे देश की महिलाओं पर जो अत्याचार वर्तमान में हो रहे हैं। महिलाएं उन सभी अत्याचारों और समस्याओं से मुक्त होकर मेरे सपनों के भारत में अपना जीवन यापन कर पाएगी। मेरे सपनों का भारत महिलाओं की आजादी को लेकर पूरी तरह से महिलाओं के पक्ष में होगा।महिलाएं देश में अपने आप को सुरक्षित महसूस करेगी।

2. शिक्षा और रोजगार के नए अवसर

देश में शिक्षा आज भी कई हद तक कम है। अन्य देशों के मुकाबले हमारा देश भारत शिक्षा के मामले में बहुत ज्यादा पीछे हैं। देश में साक्षरता दर भी काफी कम है। मेरे सपनों का भारत पूरी तरह से साक्षर देश होगा। यहां पर देश का हर नागरिक पूरी तरह से शिक्षित होगा।

देश मैं पुरुष और महिलाएं सभी को शिक्षा का अधिकार होगा जब देश में साक्षरता दर बढ़ेगी। तो देश की विकास की प्रगति भी बढ़ जाएगी। देश में विकास बढ़ने पर रोजगार के नए अवसर लोगों को प्राप्त होंगे। मेरे सपनों का भारत जहां पर कोई भी व्यक्ति बेरोजगार नहीं रहेगा।

लोगों को रोजगार के नए नए अवसर मिलते रहेंगे जब देश में शिक्षा बढ़ेगी तो देश की तकनीकी में भी विकास होगा और देश के विज्ञान और औद्योगिक क्षेत्र में भी मुख्य रूप से विकास होगा। देश में शिक्षा बढ़ने के बाद ही देश विकसित देशों की सूची में आ पाएगा। अन्यथा देश को विकसित देशों की सूची में लाना काफी मुश्किल होगा। मेरे सपनों का भारत जो विकसित देशों की सूची में आने वाला एक सर्वश्रेष्ठ देश बनेगा।

3. जाति भेदभाव और धर्म भेदभाव

आज के समय में हमारा देश जाति और धर्म के नाम पर होने वाले भेदभाव से जूझ रहा है। देश में जाति भेदभाव और धर्म भेदभाव को लेकर कई प्रकार के दंगे भी हो रहे हैं। लोग शिक्षा के अभाव की वजह से जाति और धर्म के नाम पर एक दूसरे लोगों से भेदभाव किए जा रहे हैं लेकिन हर मनुष्य समान है। देश में हर व्यक्ति को समानता के साथ जीने का अधिकार है।

यह बात व्यक्ति तब समझ पाएगा जब व्यक्ति खुद शिक्षित होगा। देश में जाति और धर्म के नाम पर होने वाला यह भेदभाव मेरे सपनों के भारत में बिल्कुल भी देखने को नहीं मिलेगा। मेरे सपनों का भारत पूरी तरह से शिक्षित होगा तो जाति और धर्म भेदभाव अभी पूरी तरह से खत्म हो जाएगा।

4. भ्रष्टाचार

हमारा देश भारत वर्तमान में भ्रष्टाचार जैसी मुख्य समस्या से जूझ रहा है देश में भ्रष्टाचार दिन प्रतिदिन बढ़ता जा रहा है। भ्रष्टाचार की वजह से देश में कई लोग गुलामी के साथ अपना जीवन यापन कर रहे हैं। देश में काम करने वाले सरकारी कर्मचारी भी भ्रष्टाचार को बढ़ावा देने मैं तुले हुए हैं।

देश के सरकारी कर्मचारी जो अपना काम रिश्वत लेकर करते हैं। लोगों से रिश्वत लेकर हर काम को अंजाम दे रहे हैं। देश में राजद नेता और अन्य लोगों के नाम पर भी भ्रष्टाचार बढ़ता जा रहा है। राजनेता के नाम पर लोग अन्य लोगों पर दबाव भी बना रहे हैं। हमारे सपनों का भारत जहां पर भ्रष्टाचार पूरी तरह से खत्म हो जाएगा। हमारा देश भ्रष्टाचार मुक्त देश कहलाएगा।

5. विज्ञान तकनीकी और औद्योगिक विकास

जब भारत देश का हर नागरिक शिक्षित होगा तो देश में विज्ञान के क्षेत्र में भी बढ़ोतरी देखने को मिलेगी, विज्ञान के क्षेत्र में दिन-प्रतिदिन नए-नए विकास और नई वस्तुओं का निर्माण होगा। जो देश की तकनीकी को बढ़ाने में भी सहायक होगा। देश की तकनीकी बढ़ने पर देश को आसानी से विकसित देशों की सूची में लाया जाएगा।

औद्योगिक विकास भी हमारे सपनों के भारत में बहुत ही जरूरी है। क्योंकि औद्योगिक विकास के माध्यम से व्यक्ति अपने जरूरत की हर वस्तु को अपने ही देश में उत्पादित होना देखना चाहता है। औद्योगिक विकास को बढ़ावा देकर हर प्रकार की वस्तु को देश में ही उत्पादित किया जाएगा।

मेरे सपनों का भारत जहां अन्य देशों से वस्तुओं को आयात करने की बजाय देश से वस्तुओं को अन्य देशों में निर्यात किया जाएगा।

निष्कर्ष

हमारा देश भारत जो प्राचीन समय में संस्कृति और धर्म के नाम पर काफी लोकप्रिय हुआ करता था। वर्तमान में भी जाति धर्म के मामले में भारत अन्य देशों के मुकाबले काफी हद तक पूरी तरह से अलग है। मैं अपने सपनों का भारत इस प्रकार से देखना चाहता हूं, जहां पर हर लोग शिक्षित हो देश का हर देशवासी शिक्षा ग्रहण कर सके और देश को आगे बढ़ाने में अपना योगदान दे सकें।

देश ने जब सभी लोग शिक्षित होंगे तब ही देश आगे बढ़ पाएगा अन्यथा देश का आगे बढ़ना या ऐसे कह सकते हैं कि देश का प्रगति करना काफी मुश्किल है। जब देश का हर नागरिक शिक्षित होगा तो देश की तकनीकी में उन्नति होगी। देश में विकास देखने को मिलेगा और भारत के बेरोजगार लोगों को रोजगार के नए अवसर भी मिलेंगे।

मैं अपने सपनों का भारत ऐसा देखना चाहता हूं, जहां पर हर व्यक्ति अपने स्वास्थ्य को लेकर पूरी तरह से जागरूक हो। हमारा देश समृद्ध और खुशहाल होने के साथ-साथ पूरी तरह से स्वस्थ और स्वच्छ भी हो आज के समय में भी हमारे देश का विज्ञान और तकनीक अन्य देशों के मुकाबले बहुत पीछे हैं।

मैं अपने सपनों के भारत में देश की विज्ञान पद्धति उद्योग क्षेत्र और तकनीकी को बढ़ता हुआ देखना चाहता हूं। साथ ही साथ हर व्यक्ति अपने सपनों का भारत जिसमें यह उम्मीद करता है कि जिस वस्तु की जरूरत हो वह वस्तु अपने देश में ही उत्पादित होनी चाहिए।

अंतिम शब्द

हमने यहां पर “मेरे सपनों का भारत पर निबंध (Mere sapno ka bharat par nibandh)” शेयर किया है। उम्मीद करते हैं कि आपको यह निबंध पसंद आया होगा, इसे आगे शेयर जरूर करें। आपको यह निबन्ध कैसा लगा, हमें कमेंट बॉक्स में जरूर बताएं।

यह भी पढ़े

राष्ट्रीय ध्वज पर निबंध

राष्ट्रवाद पर निबंध

स्वतंत्रता सेनानियों के योगदान पर निबंध

आत्मनिर्भर भारत पर निबंध

अभिव्यक्ति की आजादी पर निबंध

इनका नाम राहुल सिंह तंवर है, इन्होंने स्नातक (रसायन, भौतिक, गणित) की पढ़ाई की है और आगे की भी जारी है। इनकी रूचि नई चीजों के बारे में लिखना और उन्हें आप तक पहुँचाने में अधिक है। इनको 3 वर्ष से भी अधिक SEO का अनुभव होने के साथ ही 3.5 वर्ष का कंटेंट राइटिंग का अनुभव है। इनके द्वारा लिखा गया कंटेंट आपको कैसा लगा, कमेंट बॉक्स में जरूर बताएं। आप इनसे नीचे दिए सोशल मीडिया हैंडल पर जुड़ सकते हैं।

2 COMMENTS

  1. Thank you 😊❤️😍 for this nibandh It is ver important nibhandh for my exam thank you 😊❤️ thank you so much

  2. THANK YOU FOR THIS NIBANDH. THIS NIBANDH IS IMPORTANT FOR MY SCHOOL FILE PROJECT AND FOR A GOOD SPEACH
    THANK YOU SO MUCH

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here