हरियाणा राज्य पर निबंध

Essay on Haryana in Hindi: नमस्कार दोस्तों! आज हम आप सभी लोगों को बताने वाले हैं, भारत के महत्वपूर्ण राज्यों में से एक राज्य हरियाणा के विषय में। जैसा कि हम सभी लोग जानते हैं भारत आज से कई वर्षों पूर्व स्वतंत्र हुआ था और स्वतंत्रता के बाद भारत को दो भागों में बांटा गया हिंदुस्तान एवं पाकिस्तान और इस विभाजन के बाद पंजाब का आधा हिस्सा पाकिस्तान एवं आधा हिस्सा हिंदुस्तान में आ गया था बाद में पंजाब को भी तीन भागों में बांट दिया गया हरियाणा, पंजाब और उत्तराखंड। पंजाब के विभाजन के बाद यह तीनों ही बहुत ही ज्यादा चर्चा का विषय बने हुए हैं और अनेक परीक्षा में आप सभी लोगों को हरियाणा राज्य पर निबंध लिखने को भी मिल जाएगा, अतः यह निबंध शिक्षा की दृष्टि से भी काफी महत्वपूर्ण है, तो आइए चलते हैं अपने इस महत्वपूर्ण निबंध के ओर।

Image: Essay on Haryana in Hindi

Read Also: हिंदी के महत्वपूर्ण निबंध

हरियाणा पर निबंध | Essay on Haryana in Hindi

हरियाणा राज्य पर निबंध (250 शब्द)

भारतवर्ष बहुत ही पुराने समय से ही अंग्रेजो की गुलामी को झेल रहा था, उसके बाद बहुत से महान लोगों ने मिलकर भारतवर्ष को 15 अगस्त सन 1947 ईस्वी में आजाद करवाया। स्वतंत्रता की प्राप्ति के बाद भारत में धर्म को लेकर बहुत सी लड़ाइयां लड़ी जाने लगी। बाद में भारतवर्ष को दो भागों में बांट दिया गया हिंदुस्तान और पाकिस्तान।

पाकिस्तान के विभाजन के बाद भारत का पंजाब वाला हिस्सा आधा पाकिस्तान में चला गया और आधा हिंदुस्तान में आ गया, इसके बाद पंजाब को भी तीन भागों में बांट दिया गया पंजाब हरियाणा और उत्तराखंड। अतः इन सभी के बाद 1 नवंबर 1966 ईस्वी को हरियाणा राज्य का निर्माण हुआ। अतः वर्तमान समय में हरियाणा हिंदुस्तान के मानचित्र पर एक स्वतंत्र राज्य बनकर उभरा है।

हरियाणा प्राचीन समय से ही कृषि प्रधान राज्य के रूप में भारत की शोभा बढ़ाता है। हरियाणा की कृषि एवं पशुपालन परंपरा यहां का बहुत ही प्राचीन व्यवसाय है। हरियाणा राज्य में गेहूं चावल एवं अन्य बहुत से फसलों का उत्पादन होता है। हरियाणा राज्य में उच्च कोटि के फसलों एवं बीजों का उपयोग किया जाता है। जैसा कि हम सभी जानते हैं, हरियाणा राज्य के पशुपालन परंपरा बहुत ही पुरानी है, अतः प्राचीन समय में भी लोग दूध, दही एवं घी का उपयोग करते थे और वर्तमान समय में भी लोग अपने भोजन में दूध, दही एवं घी को अवश्य ही शामिल करते हैं।

वर्तमान समय में हरियाणा राज्य ने औद्योगिक क्षेत्र में बहुत ही ज्यादा उन्नत कर ली है। हरियाणा राज्य का बहुत ही मशहूर शहर फरीदाबाद तो अपनी औद्योगिक उन्नत के कारण ही भारत के साथ-साथ विश्व भर में प्रसिद्ध हो चुका है। हरियाणा राज्य के इस औद्योगिक क्षेत्र में ट्रैक्टर, कार, बाइक इत्यादि के कारखाने दिन रात कार्य करते हैं और संपूर्ण देश भर में कृषि एवं यातायात के साधनों की मांग को पूरा करने के लिए सदैव डटे रहते हैं।

हरियाणा राज्य की राजधानी औद्योगिक क्षेत्र में विकासशील शहर फरीदाबाद को कहा जाता है। फरीदाबाद में कुछ मुख्य नगर जैसे गुड़गांव, यमुनानगर, सोनीपत, अंबाला छावनी इत्यादि विभिन्न नगरों में उद्योग कारखाने मौजूद हैं। फरीदाबाद के यमुनानगर में एक चीनी का मिल है। यहां पर बहुत ही पुराने समय से चीनी बनाया जा रहा है। चीनी की मिलो के लिए प्रयुक्त मशीन और उनके कलपुर्जे भी यमुनानगर में बनाए जाते हैं।

हरियाणा राज्य पर निबंध (800 शब्द)

प्रस्तावना

हरियाणा राज्य भारत का बहुत ही प्रसिद्ध राज्यों में से एक राज्य माना जाता है। हरियाणा राज्य भारत के बड़े ही विशाल राज्य पंजाब का ही एक हिस्सा था, जिसे 1 नवंबर 1966 को विभाजन के फलस्वरूप पंजाब से अलग कर दिया गया। हरियाणा राज्य में वर्तमान समय में कृषि एवं औद्योगिक स्तर पर काफी उन्नति हो रही है। हरियाणा राज्य को कृषि प्रधान राज्य भी कहा जाता है।

हरियाणा राज्य में औद्योगिक स्तर इतना ज्यादा उन्नति कर चुका है, कि हरियाणा राज्य को न केवल भारत बल्कि संपूर्ण विश्व भर में जाना जाने लगा है। हरियाणा राज्य के फरीदाबाद शहर में कृषि एवं यातायात से संबंधित उपकरणों को बनाया जाता है। हरियाणा राज्य के इस औद्योगिक क्षेत्र में ट्रैक्टर कार बाइक इत्यादि बनाए जाते हैं और यहां पर इन सभी यंत्रों के कल पुर्जे भी आसानी से मिल जाते हैं।

फरीदाबाद में कुछ मुख्य नगर जैसे गुड़गांव, यमुनानगर, सोनीपत, अंबाला छावनी इत्यादि विभिन्न नगरों में उद्योग कारखाने मौजूद हैं। फरीदाबाद के यमुनानगर में एक चीनी का मिल है। यहां पर बहुत ही पुराने समय से चीनी बनाया जा रहा है। चीनी की मिलो के लिए प्रयुक्त मशीन और उनके कलपुर्जे भी यमुनानगर में बनाए जाते हैं।

हरियाणा राज्य का गौरवशाली इतिहास

हरियाणा राज्य का इतिहास बहुत ही ज्यादा गौरवशाली है। प्राचीन समय में हरियाणा में बहुत से ऐसे स्थल बनाए गए थे, इन सभी स्थल को वर्तमान समय में प्राचीन स्थल करार दे दिया गया है, अतः वर्तमान समय में हरियाणा में अनेकों प्राचीन स्थल मौजूद है। इन सभी स्थलों के गर्भ में हड़प्पा कालीन सभ्यता के अवशेष एवं प्राक हड़प्पा के अवशेष दबे हुए हैं।

प्राचीन समय में हड़प्पा संस्कृति के ज्यादा से ज्यादा लोग हरियाणा राज्य में अनेकों वर्षों तक निवास किए हैं। हरियाणा राज्य के फतेहपुर के समीप सरस्वती नदी के सूखे तट पर एक टीले का उत्थान है, जिससे प्राचीन संस्कृतियों एवं सभ्यताओं के अनेक प्रमाण मिलते हैं। हरियाणा के राखी गढ़ में हड़प्पा कालीन सभ्यताओं का बहुत ही विशाल टीला मौजूद है। हरियाणा के राखी गढ़ में स्थित इस किले के अंदर हड़प्पा काल के प्राचीन बस्ती बसी हुई थी।

इन सभी के अलावा भगवानपुर अर्थात प्राचीन समय के कुरुक्षेत्र में हड़प्पा पावर संस्कृति का बहुत ही प्राचीन अवशेष प्राप्त हुआ है, प्राचीन ग्रंथों की सुने तो हरियाणा की महान संस्कृति काफी उल्लेखित मानी गई है। हरियाणा राज्य के मीटाथल (हिसार) में गुप्तकालीन समय की बहुत ही प्राचीन लगभग पचासी स्वर्ण मुद्राएं प्राप्त हुई है।

हरियाणा राज्य की औद्योगिक प्रगति

वर्तमान समय में हरियाणा राज्य ने औद्योगिक क्षेत्र में बहुत ही ज्यादा उन्नत कर ली है। हरियाणा राज्य का बहुत ही मशहूर शहर फरीदाबाद तो अपनी औद्योगिक उन्नत के कारण ही भारत के साथ-साथ विश्व भर में प्रसिद्ध हो चुका है। हरियाणा राज्य के इस औद्योगिक क्षेत्र में ट्रैक्टर, कार, बाइक इत्यादि के कारखाने दिन रात कार्य करते हैं और संपूर्ण देश भर में कृषि एवं यातायात के साधनों की मांग को पूरा करते है।

हरियाणा राज्य की राजधानी औद्योगिक क्षेत्र में विकासशील शहर फरीदाबाद को कहा जाता है। फरीदाबाद में कुछ मुख्य नगर जैसे गुड़गांव, यमुनानगर, सोनीपत, अंबाला छावनी इत्यादि विभिन्न नगरों में उद्योग कारखाने मौजूद हैं। फरीदाबाद के यमुनानगर में एक चीनी का मिल है। यहां पर बहुत ही पुराने समय से चीनी बनाया जा रहा है। चीनी की मिलो के लिए प्रयुक्त मशीन और उनके कलपुर्जे भी यमुनानगर में बनाए जाते हैं।

हरियाणा राज्य की शैक्षणिक प्रगति

वर्तमान समय में शिक्षा के क्षेत्र में हरियाणा राज्य ने भी बहुत ही तीव्रता से प्रगति की है। हरियाणा राज्य में सभी छोटे छोटे गांव में भी पाठशाला का प्रबंध किया जा चुका है। प्राचीन समय में हरियाणा राज्य में शैक्षणिक योग्यता की कोई विशेष प्रगति नहीं थी।

वर्तमान समय में हरियाणा राज्य मे चार विश्वविद्यालय, 110 महाविद्यालय, 23 इंजीनियरिंग कॉलेज और इसके साथ साथ दो मेडिकल कॉलेज भी स्थापित किए जा चुके हैं। शिक्षा के साथ-साथ वर्तमान समय में हरियाणा राज्य में खेलकूद में भी काफी प्रगति कर ली है, आप सभी लोग हरियाणा के खेलकूद प्रतिभा को वर्तमान समय के ओलंपिक मैच में देख ही लिए होंगे।

हरियाणा राज्य में स्थित पर्यटन केंद्र

हरियाणा राज्य में उद्योग एवं कृषि और खेलकूद प्रतिभा के साथ-साथ बहुत से पर्यटन स्थल भी हैं। वर्तमान समय में हरियाणा में अनेकों पर्यटन स्थल निर्मित किए जा चुके हैं। हरियाणा राज्य में स्थित प्रमुख पर्यटन स्थल का केंद्र आप सभी लोगों को मार्गो पर ही देखने को मिल जाएगा।

आप सभी लोगों को दिल्ली से चंडीगढ़ जाते समय बीच के रास्ते में जीटी रोड पर अनेकों सैलानी केंद्र जैसे कि समालखा का ब्लूजे, करनाल का चक्रवर्ती झील, घरौंडा का रेड राबिन, पिपली का पैराफिट इत्यादि देखने को मिल जाएगा। इसके साथ-साथ आपको दिल्ली से आगरा जाते समय फरीदाबाद फरीदाबाद मार्ग पर बड़खल झील, सुल्तानपुर का पक्षी विवाह एवं सोहना का बारबर कुटीर देखने को मिल जाएगा, जो कि विशेष आकर्षक केंद्र माना जाता है।

निष्कर्ष

इस लेख को पढ़ने के बाद हम इस निष्कर्ष पर पहुंचते हैं कि हरियाणा राज्य भारत के प्रगतिशील राज्य में से प्रमुख राज्य है। हरियाणा राज्य में कृषि, वाणिज्य, शिक्षा, उद्योग, खेल एवं स्वास्थ्य क्षेत्रों पर विशेष ध्यान दिया जा रहा है। बिहार राज्य का सांस्कृतिक जीवन ही वहां के आकर्षण का केंद्र बना है। हरियाणा राज्य का लोक जीवन सादगी पूर्ण व्यतीत हो रहा है। हरियाणा राज्य के लोग बहुत ही ज्यादा परिश्रमी स्वभाविक होने के लिए दुनिया भर में बहुत ही ज्यादा प्रसिद्ध माने जाते हैं।

अंतिम शब्द

हम आप सभी लोगों से उम्मीद करते हैं, कि आपको हमारे द्वारा लिखा गया यह महत्वपूर्ण लेख “हरियाणा पर निबंध (Essay on Haryana in Hindi)” अवश्य ही पसंद आया होगा, यदि हां! तो कृपया हमारे द्वारा लिखे गए इस महत्वपूर्ण लेख को अवश्य शेयर करें। यदि आपके मन में इस लेख को लेकर किसी भी प्रकार का कोई सवाल है, तो कमेंट बॉक्स में हमें अवश्य बताएं।

Reed also

इनका नाम राहुल सिंह तंवर है, इन्होंने स्नातक (रसायन, भौतिक, गणित) की पढ़ाई की है और आगे की भी जारी है। इनकी रूचि नई चीजों के बारे में लिखना और उन्हें आप तक पहुँचाने में अधिक है। इनको 3 वर्ष से भी अधिक SEO का अनुभव होने के साथ ही 3.5 वर्ष का कंटेंट राइटिंग का अनुभव है। इनके द्वारा लिखा गया कंटेंट आपको कैसा लगा, कमेंट बॉक्स में जरूर बताएं। आप इनसे नीचे दिए सोशल मीडिया हैंडल पर जुड़ सकते हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here