बिल्ली पर निबंध

Essay on Cat in Hindi: बिल्ली बहुत ही प्यारा जानवर होती है। हम यहां पर बिल्ली पर निबंध शेयर कर रहे है। इस निबंध में बिल्ली के संदर्भित सभी माहिति को आपके साथ शेअर किया गया है। यह निबंध सभी कक्षाओं के विद्यार्थियों के लिए मददगार है।

Essay-on-Cat-in-Hindi

Read Also: हिंदी के महत्वपूर्ण निबंध

बिल्ली पर निबंध | Essay on Cat in Hindi

बिल्ली पर निबंध (250 शब्द)

दिल्ली बहुत ही प्यारा जानवर होता है, परंतु वह खतरनाक भी साबित हो सकती है। बिल्ली बहुत ही आलसी भी होती है, लेकिन जरूरत पड़ने पर वह इतनी एक्टिव हो जाती है। बिल्ली पालतू जानवरों में से एक है। बिल्ली कभी किसी को भी परेशान नहीं करती है। अगर आपको बिल्ली के साथ समय बिताना है, तो उन्हें भी बहुत अच्छा लगता है। वह एक समय में एक ही चीज को जायज करती है। चाहे प्यार हो या गुस्सा हो। बिल्ली बहुत ही आकर्षक होती है और सभी को उसकी म्याऊं वाली आवाज बहुत ही पसंद होती है। मानो ऐसे पूछ रही है जैसे कि मैं अंदर आऊं। दूध पीने के लिए आई हो या आपके घर में चूहे खाने के लिए आई हो, वह हमें अपने आने का एहसास जरूर दिलाती है।

बिल्ली को फ़ेलिडाए परिवार का सबसे छोटा सदस्य बताया जाता है। इस परिवार में कुल 30 से भी अधिक जानवर सम्मिलित हैं। जैसे कि तेंदुए, शेर, बाघ, प्यूमा, चिता इत्यादि। बिल्ली इस परिवार की सबसे छोटी सदस्य मानी जाती है और घरेलू जानवर के तौर पर भी बिल्ली को जाना जाता है।

 उनके पास दो आंख, दो कान, एक नाक, और फ़ेलिडाए परिवार जैसे ही दिखने वाले सभी अंग होते हैं। बिल्ली विभिन्न प्रकार के रंगों में पाई जाती है, जैसे सफेद, काली, सुनहरी, ग्रे इत्यादि यह उनके खुद के रंग ही होते हैं। प्राकृतिक रंग काले और भूरे रंग की हमें ज्यादा बिल्लियां दिखाई देती हैं।

बिल्ली की 55 से भी अधिक नस्लें पाई जाती हैं, लेकिन फिर भी बिल्लियां सारी एक जैसी ही दिखाई देती हैं। बिल्ली को सबसे अधिक रात में दिखाई देता है। बिल्ली की आंखें बहुत ही तेज होती हैं। बिल्ली का शरीर इतना लचीला होता है, कि वह कहीं भी आसानी से कूद जाती हैं और उनकी सुनने की क्षमता बहुत ही अधिक होती है।

बिल्ली पर निबंध (1100 शब्द)

प्रस्तावना

बहुत ही प्यारा जानवर बिल्ली जिसे हम घर में पाल भी सकते हैं और यह इंसानों के साथ बहुत ही घुल मिल जाती है। उनके साथ रहना बिल्ली को बहुत ही पसंद आता है। बिल्ली लगभग सभी प्रांतों में पाई जाती है। जिस घर में बिल्लियां पाली जाती हैं, उस घर में चूहे कहीं पर भी दिखाई नहीं देते हैं।

बिल्ली को सबसे अधिक आराम करना अच्छा लगता है क्योंकि बिल्ली बहुत ही सुस्त होती हैं, परंतु जब जरूरत पड़ती है, तो वह इंसान से भी ज्यादा एक्टिव हो जाती हैं। बिल्ली का शरीर बहुत ही लचीला और एक्टिव होता है। सबसे ज्यादा बिल्लियां यूरोप और उत्तरी अमेरिका में पाली जाती हैं।

शारीरिक संरचना

बिल्ली के शरीर पर छोटे-छोटे रेशमी बाल होते हैं और यह देखने में बाघ, चीता के स्वरूप में ही दिखाई देती हैं। बिल्ली की मांसपेशियां बहुत ही नुकीली होती है, जिसकी वजह से वह कहीं भी कूदकर छलांग लगा सकती है। अगर बिल्ली ऊंचाई से गिर जाए तब भी उसे चोट नहीं लगती है।

बिल्ली के चार पैर होते हैं और इन के पंजे और नाखून बहुत ही नुकीले होते हैं। जिसकी वजह से यह किसी भी चीज को बहुत ही कस कर पकड़ लेती हैं और इनकी पकड़ बहुत मजबूत होती है, जिसकी वजह से यह चूहों का शिकार कर पाती हैं।

उनके पैर के नीचे गद्दार होते हैं, जिससे जब भी बिल्ली शिकार करती है। उनके पैरों की आवाज नहीं आती है। बिल्ली कई रंगों में पाई जाती है। जैसे सफेद, भूरे, काले, ग्रे इत्यादि कलर में पाई जाती है।

बिल्ली की दो चमकीली आंखें होती हैं। जिसकी वजह से वह अंधेरी रात में भी बहुत अच्छे से देख पाते हैं। इनकी आंखों का रंग सामान्यता तौर पर हरा, नीला, भूरा, पीला, काला पाया जाता है।

बिल्ली की एक नाक और दो कान भी होते हैं। जिसकी सहायता से उनकी सूंघने और सुनने की शक्ति बहुत ही तेज होती है। बिल्ली की पूंछ बहुत ही लंबी होती है। जब बिल्ली छलांग लगाती है, यह चलती है, या इधर उधर भागती है, तो बिल्ली को पूछते बैलेंस बनाने में आसानी रहती है।

पैदा हुई बिल्ली के 26 दांत होते हैं, जबकि एक वयस्क बिल्ली के 30 दांत होते हैं। एक बिल्ली का वजन कम से कम 5 से 8 किलो तक होता है। बिल्ली कम से कम एक बार में 1 से लेकर 10 बच्चों तक को जन्म दे सकती है।

बिल्ली की जीवन शैली

बिल्ली  भी जीव जंतुओं की तरह सामान्य ही होती हैं लेकिन बिल्ली पालतू जानवर होती है। कई बिल्ली जंगली भी होती है, जो कि खतरनाक साबित हो सकती है। बिल्ली का स्वभाव बहुत ही अच्छा होता है। बिल्ली इंसानों के हावभाव को बहुत ही अच्छे तरीके से समझ सकती है। इसी के विपरीत जंगली बिल्ली का स्वभाव गुस्से वाला होता है।

इंसान के साथ बिल्ली बहुत ही जल्दी घुलमिल जाती है। बिल्ली बाघ की तरह ही दबे पांव के साथ ही शिकार करती है, जिससे किसी को भनक भी नहीं लगती है और बिल्ली शिकार करके वापस चली भी जाती है।

जब बिल्ली खुश होती है, बिल्ली अपनी खुशी को अपनी पूछ हिला कर ही जाहिर करती है। बिल्ली कम से कम 1 दिन में 8 से 10 घंटे तक सोती है।

बिल्ली को खाने में मांस, मछली, चूहे, चिड़िया, कबूतर, दूध और रोटी यह सब बहुत ही पसंद होता है। बिल्ली बहुत ही शरारती होती है। वह दिन भर इधर-उधर उछल कूद करती रहती है, और अपने भोजन की तलाश करती है।

प्रजातियां

पूरी दुनिया में लगभग 36 प्रजातियां पाई जाती हैं। शेर, बाग, जगुआर और तेंदुआ यह सभी भी दिल्ली की ही प्रजाति के होते हैं। बिल्ली की कुछ प्रजातियों के नाम है, प्रोफेलिस औरता, फेलिक्स निगृप्त, कारकल, कैटोपूमा टेमिनिकी, इत्यादि होती हैं।

रोचक तथ्य

  • दुनिया भर में 50 करोड से भी बिल्लियों की जनसंख्या है।
  • 24 बिल्लियों की खाल से एक नया कोट बनाया जा सकता है।
  • बिल्लियों के एक समूह को क्लाइडर कहां जाता है।
  • एक रिसर्च के अनुसार यह पता चला कि अमेरिका में हर साल लगभग 40000 लोगों को बिल्लियां काट लेती हैं।
  • कुत्ते से अगर तुलना की जाए बिल्ली की तो बिल्ली को बेहतर सुनाई देता है।
  • एक बिल्ली 30 से 40 किलोमीटर प्रति घंटे की रफ्तार से आराम से दौड़ सकती है।
  • एक समय में एक बिल्ली 19 बच्चों तक को जन्म दे सकती है जिसमें से एक रिकॉर्ड बना है 15 बच्चे बड़े भी हो पाए।
  • पुराने जमाने में मिस्र के लोग बिल्ली की पूजा किया करते थे।
  • दिल्ली कम से कम 20 मीटर से भी अधिक ऊंचाई से कूद सकती है और उसे चोट भी नहीं लगती है।
  • बिल्ली की छलांग उसकी ऊंचाई से कम से कम 5 गुना तक ज्यादा लंबी होती है।
  •  उनके चेहरे पर जो उसकी मूछें होती हैं उसमें 12 बाल होते हैं।
  • बिल्ली के प्रति वर्ग इंच 130,000 के करीब बाल होते हैं।
  • दिल्ली के नाम पर इंसानों के फिंगरप्रिंट की तरह अलग-अलग निशान पाए जाते हैं।
  • बिल्ली बहुत ही आराम से किसी भी पेड़ या दीवार पर चढ़ जाती है, क्योंकि वह चढ़ाई करने में बहुत ही माहिर होती हैं, वह बहुत ही अच्छी और लंबी दूरी तक भी कूद सकती हैं।
  •  उनके वंश को बिल्ली का बच्चा भी बोला जाता है यह एक बिल्ली का एक छोटा और एक बाहरी संस्करण के रूप में पाया जाता है।
  • बिल्ली इतनी आकर्षित होती हैं कि आप उन्हें देखकर तुरंत उनकी तरफ आकर्षित हो जाते हैं।।
  • जापान में बिल्लियों को बहुत ही शुभ माना जाता है और वहीं पर भारत में बिल्ली के रास्ता काटने पर उसे बहुत ही अशुभ माना जाता है।

निष्कर्ष

बिल्ली का स्वभाव बहुत ही अच्छा होता है। बिल्ली हमें प्यार से रहने और किसी और से झगड़ा नहीं करना, यह सब बिल्ली हमें सीख देती है। अगर हम किसी जानवर से प्यार करेंगे, तो हमें बदले में भी प्यार ही मिलेगा। इसी तरह से अगर हम किसी इंसान को प्यार देंगे, तो वह भी हमें प्यार और सम्मान ही देगा और हमारी सुरक्षा भी करेगा।

अंतिम शब्द

दोस्तों, आज हमने अपने इस लेख में आपको बिल्ली पर निबंध (Essay on Cat in Hindi) बताये है। आशा करते हैं आप को आर्टिकल पसंद आया होगा। अगर आपको इससे संबंधित कोई भी जानकारी चाहिए, तो आप कमेंट बॉक्स में कमेंट कर सकते हैं।

Read Also:

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here