बास्केटबॉल पर निबंध

Essay on Basketball in Hindi: भारत में बहुत से खेल खेले जाते हैं और अब बास्केटबॉल भी बहुत ही लोकप्रिय खेल हो गया है। यह कई लोगों के द्वारा खेला जाता है। हम यहां पर बास्केटबॉल पर निबंध शेयर कर रहे है। इस निबंध में बास्केटबॉल के संदर्भित सभी माहिति को आपके साथ शेअर किया गया है। यह निबंध सभी कक्षाओं के विद्यार्थियों के लिए मददगार है।

Essay on Basketball in Hindi

Read Also: हिंदी के महत्वपूर्ण निबंध

बास्केटबॉल पर निबंध | Essay on Basketball in Hindi

बास्केटबॉल पर निबंध (250 शब्द)

भारत में बहुत प्रकार के खेल खेले जाते हैं, जिनमें से बास्केटबॉल भी एक खेल है। यह बहुत जल्द ही लोकप्रिय हो गया है। एक बॉल को विपरीत दिशा में लगी बास्केट के माध्यम से खेला जाता है। इस खेल में 2 टीम होती है। जिनमें पांच पांच खिलाड़ी होते हैं। बास्केटबॉल का रंग नारंगी रंग का होता है। इसका कार्ट 28/15 मीटर का होता है और यह दो हिस्सों में विभाजित होता है। इन दोनों कार्ट में 10 फीट की ऊंचाई पर बास्केट लगी होती है, जिसमें उस बॉल को डालना होता है। उसका मुंह दोनों तरफ से खुला होता है। इस खेल की शुरुआत 1891 में हुई थी और 1892 में इस में महिलाओं ने भी भाग लिया था।

इस खेल को 10 से 12 मिनट के लिए खेला जाता है। टीम के खिलाड़ी गेंद को ड्रिबलिंग करते हुए दूसरी ओर ले जाते हैं  और एक दूसरे को पास करते हैं। विरोधी टीम से बचाते हुए फिर उन्हें गेंद को बास्केट में डालना होता है। अगर बोल बास्केट में चली जाती है, तो उन्हें पॉइंट मिल जाता है। बास्केट में बॉल डालने पर 2 अंक मिलते हैं और कभी-कभी 3 अंक भी मिल जाते हैं, जब गेंद को थोड़ी सी दूरी से डाला जाता है तब अधिक पॉइंट मिलते हैं।

बास्केटबॉल के खेल में विरोधी टीम के व्यक्ति को गलत तरीके से अगर कोई शारीरिक नुकसान पहुंचाता है या किसी प्रकार की चोट पहुंचाता है, तो उस टीम के लिए फाल्ट  होता है और उसका लाभ दूसरी टीम के खिलाड़ी को मिलता है। इस खेल के लिए खिलाड़ियों के लिए एक वर्दी दी जाती है, जिसमें शॉट और जर्सी सम्मिलित होती है और खिलाड़ियों को हाई जूते भी पहनाए जाते हैं।

बास्केटबॉल पर निबंध (850 शब्द)

प्रस्तावना

बास्केटबॉल बहुत ही लोकप्रिय खेल है। इस खेल में प्रत्येक टीम में 5-5 खिलाड़ी होते हैं। इस खेल को खेलने से शरीर में चुस्ती आती है और यह बहुत ही उत्साह के साथ खेला जाता है। इस खेल के द्वारा व्यायाम बहुत ही शानदार तरीके से होता है। इस लिए मनोरंजन भी होता है, यह खेल युवाओं के द्वारा ही खेला जाता है क्योंकि इसमें बहुत ही एनर्जी की आवश्यकता होती है।

बास्केटबॉल का विवरण

1891 में सबसे पहले बास्केटबॉल का खेल खेला गया था। यह बहुत ही अच्छे तरीके की गोलाकार की बॉल होती है। जिसको एक दूसरे के खिलाफ खेला जाता है, जो टीम पहले बॉल को बास्केट में डाल देती है। वह टीम को पॉइंट मिलते हैं।

प्रत्येक टीम का एक नाम रखा चाहता है, और वह एक ट्रैफिक नामक रणनीति के साथ खेल के मैदान में उतरती है। एक आम आदमी अपनी टीम की इंद्र नीतियों की रक्षा करता है और उसी के साथ इस खेल को खेलता है।

इसमें खिलाड़ी कई तरह के शॉर्ट्स अजमाते हैं। जैसे जंप शॉट, सेट शॉट, ले अप और इसी तरह इस्लाम डंक एक और सटीक शॉट होता है, जो की बहुत ही बेहतरीन तरीके से खेला जाता है। इस शॉट को खेलने का तरीका बिल्कुल ही अलग प्रकार का होता है, जो कि बहुत ही आकर्षित होता है।

यह एक आउटडोर गेम है। इसे एक कोर्ट के अंदर खेला जाता है। ओलंपिक में सबसे ज्यादा बास्केटबॉल बहुत ही ज्यादा प्रसिद्ध है। इस खेल में कोई भी लिंग बाधाएं नहीं है इसे महिलाएं और पुरुष दोनों ही खेल सकते हैं।

कई जेलों में भी बास्केटबॉल खिलाया जाता है, जिसे प्रिजन बास्केटबॉल भी कहा जाता है क्योंकि यह मानव शरीर के लिए बहुत ही अच्छा व्यायाम होता है, इसीलिए इसे हर जगह पर खिलाया जाता है।

बास्केटबॉल खेलने के लाभ

  • बास्केटबॉल अपने खिलाड़ियों के बीच प्रेम भी उत्पन्न करता है और हृदय स्वास्थ्य को भी बढ़ावा देता है, जिसके लिए बहुत ही आवश्यक है। इससे दिल की सेहत का बहुत ही अच्छे तरीके से ख्याल रखा जा सकता है। यह बहुत ही मददगार साबित होता है क्योंकि इस खेल के कारण हृदय गति में वृद्धि होती है और यह ह्रदय के अन्य रोगों के जोखिमों से बचाता है।
  • यह खेल कैलोरी जलाने का बहुत ही अच्छा तरीका है और यह बहुत ही प्रभावी होता है क्योंकि इसमें निरंतर दौड़ना पड़ता है, जिससे आंतरिक शरीर बहुत ही स्वस्थ रहता है। इसकी वजह से कैलोरी बहुत ही कम हो जाती है मतलब मोटापा कम हो जाता है।
  • बास्केटबॉल की वजह से खिलाड़ियों की हड्डियां मजबूत बनती है क्योंकि उन्हें शारीरिक ऊर्जा भी उत्पन्न होती है, जिसकी वजह से हड्डियों में ताकत पैदा होती है। जितनी भी हड्डियों के खिलाफ काम करने वाली मांसपेशियां होती हैं, वह लगातार कार्यवाही के कारण खिलाड़ियों की मांसपेशियों और हड्डियों को बहुत ही अच्छी मजबूती प्रदान करती हैं।
  • इस खेल के खेलने से बहुत ही स्वास्थ्य लाभ होते हैं, इससे तनाव भी कम हो जाता है क्योंकि यह बहुत ही ध्यान पूर्वक खेलना पड़ता है। इसमें इतना ध्यान केंद्रित लगाया जाता है कि कोई भी अपना तनाव भूल जाता है और उससे तनाव का स्तर कम हो जाता है, जिसकी वजह से वह डिप्रेशन से बाहर आ जाता है और प्रतिरक्षा प्रणाली को भी बढ़ावा मिलता है।

बास्केटबॉल के टूर्नामेंट

  • बास्केटबॉल विश्व कप खेल
  • ओलंपिक में बास्केटबॉल खेल
  • एनबीए अर्जेंटीना लीग एलएनबी जैसे अमेरिकी टूर्नामेंट खेल
  • इतावली लीग खेल
  • यूरोपीय लीग खेल
  • स्पेनिश ए सी बी लीग खेल

बास्केटबॉल खेलने की प्रक्रिया

दो मध्य टीम को एक बॉल दी जाती है। गेंद को बीचो-बीच रख दिया जाता है, फिर एक सीटी बजाई जाती है। दोनों जगह बास्केट लगी होती है, जिसमें उस बॉल को डालना होता है इस गेंद को दरकिनार या ड्रिबलिंग के द्वारा उस टोकरी में डाला जाता है।

अगर कोई टीम उस टोकरी में गेंद को डाल देती है, तो 2 अंक मिलते हैं। अगर वह दूसरी टीम में आ जाती है, तो उससे तीन बिंदु वाले आर्ट के बाहर किया जाता है, जो कि 3 बिंदुओं के बराबर होती है। अगर कोई किसी को शारीरिक हानि पहुंचाता है, तो उस टीम के खिलाफ वह फॉल्ट होता है। इस खेल को 10 से 12 मिनट तक खेला जाता है। इसमें हर एक एक सेकंड बहुत ही कीमती होता है। इस गेंद को टीम के खिलाफ जिससे वह गेंद को टोकरी में ना डाले उसको दूसरी टीम रूकती है। पूरी प्रयत्न करती है अगर वह बोल टोकरी में चली जाती है तो उसको अंक प्राप्त हो जाते हैं।

अगर आप इन सभी टूर्नामेंट को और इस गेम को अच्छे से समझना चाहते हैं, तो आपको चाहिए कि आप इस खेल को टीवी पर या कहीं पर भी देखें क्योंकि इसको पढ़ने में और देखने में बहुत ही अंतर होता है, जिससे आपको बहुत ही आसानी से समझ आ जाएगा।

निष्कर्ष

बास्केटबॉल बहुत ही मनोरंजन करने वाला गेम है। यह आउटडोर गेम है। इसको खेलने में बहुत ही मजा आता है। इस खेल में 2 टीम होती है, जो कि अलग-अलग होती हैं। एक दूसरे के खिलाफ खेलती हैं, जिस टीम के अंक ज्यादा होते हैं वह टीम जीत जाती है। इसको अंतरराष्ट्रीय स्तर पर भी खेला जाता है और सबसे ज्यादा इसे ओलंपिक में खेला जाता है।

अंतिम शब्द

दोस्तों आज हमने इस लेख के जरिए आपको बास्केटबॉल पर निबंध ( Essay on Basketball in Hindi) के बारे में बहुत महत्वपूर्ण बातें बताई है। आशा करते हैं, आपको यह लेख पसंद आया होगा। अगर आपको इससे संबंधित कोई भी बात जाननी है, तो आप कमेंट बॉक्स में कमेंट कर सकते हैं।

Read Also:

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here