चार्ली चैपलिन का जीवन परिचय

Charlie Chaplin Biography in Hindi: आज के इस लेख के माध्यम से हम आपको अंग्रेजी के ऐसे हास्य कलाकार के बारे में बताएंगे जो कि अपने हास्य एवं बहुत ही चुलबुले अंदाज की वजह से संपूर्ण विश्व में बहुत ही प्रसिद्धि हासिल कर चुके हैं। जी हां, आपने बिल्कुल सही समझा हम बात करने वाले हैं चार्ली चैप्लिन की।

Charlie Chaplin Biography in Hindi
Charlie Chaplin Biography in Hindi

चार्ली चैपलिन के समय समय पर बहुत से वीडियोस लोगों के सामने आते रहते हैं और लोग उन्हें काफी पसंद भी करते हैं क्योंकि चार्ली चैपलिन वीडियोस में इतनी अच्छी परफॉर्म करते हैं। चार्ली चैपलिन के इसी परफॉर्म के कारण उन्हें दुनिया में सर्वश्रेष्ठ मौनी युग के हास्य कलाकार के रूप में प्रसिद्ध ख्याति प्राप्त है।

आज के इस लेख के माध्यम से हम आपको बताएंगे कि चार्ली चैप्लिन का जन्म कब हुआ था, साथ ही आपको इस लेख के माध्यम से बताएंगे कि चार्ली चैपलिन ने किन परिस्थितियों का सामना करके इस प्रसिद्धि को हासिल की है इत्यादि। यदि आप चार्ली चैप्लिन के बारे में संपूर्ण जानकारी विस्तार पूर्वक जाना चाहते हैं तो हमारे द्वारा लिखे गए इस महत्वपूर्ण लेख को अंत तक अवश्य पढ़ें।

चार्ली चैपलिन का जीवन परिचय – Charlie Chaplin Biography in Hindi

चार्ली चैप्लिन जीवनी एक नज़र में

नामचार्ली चैंपियन
जन्म16 अप्रैल 1889, लंदन (इंग्लैंड)
मृत्यु की तिथि25 दिसंबर 1977, स्विट्जरलैंड
शैक्षिक योग्यता
वैवाहिक स्थितिविवाहित
पिताचार्ली चैपलिन सर
माताहन्नाह चैपलिन
Biography of Charlie Chaplin in Hindi

चार्ली चैपलिन कौन है?

मै आपको बता देना चाहता हूं कि चार्ली चैपलिन अंग्रेजी हास्य कलाकार और फिल्म निर्माताओं के संगीतकार थे, परंतु बाद में चार्ली चैपलिन ने मौनी युग के प्रसिद्ध कलाकार के रूप में ख्याति प्राप्त कर ली है। मौनी युग उसे कहा जाता है जब फिल्मों में आवाज नहीं हुआ करती थी, परंतु सिर्फ उन्हें देखा जाता था। बाद में मौनी युग फिल्मों को डब करके उसमें कुछ सोंग्स लगाकर के लोग काफी वायरल कर रहे हैं, जिसके कारण चार्ली चैप्लिन केवल मौनी युग मे ही नहीं बल्कि इस समय में भी काफी प्रसिद्ध हो चुके हैं।

चार्ली चैपलिन बीसवीं शताब्दी के बहुत ही बड़े कलाकार हुआ करते थे, चार्ली चैंपियन ट्रम्प-ट्रेडमार्क इत्यादि करके चलने का अभिनय करते थे, जिसके लिए वह विश्व भर में प्रसिद्ध ख्याति प्राप्त कर चुके हैं। चार्ली चैपलिन फिल्म इतिहास के बहुत से महत्वपूर्ण कलाकारों में से एक माने जाते हैं। चार्ली चैपलिन का करियर उनके बचपन से लेकर के उनकी संपूर्ण जीवन के लगभग 75 वर्षों तक चला और यह चापलूसी एवं विवादों के घेरे में रहने वाले कलाकारों में से भी एक थे।

चार्ली चैपलिन ने अपने करियर की शुरुआत बचपन से ही कर दी थी। इन्होंने बहुत सी फिल्मों का निर्माण भी किया, साथ ही चार्ली चैपलिन मौनी युग के हास्य कला में बहुत ही निपुण थे। चार्ली चैपलिन ने अपनी जगह लोगों के दिलों में बहुत ही अच्छी तरीके से बना लिया था। चार्ली चैपलिन एक बहुत ही अच्छे संपादक पटकथा लेखक और निर्माता भी रह चुके हैं। जिन्होंने अपने अभिनय और पटकथा लेखन इत्यादि के कारण इतिहास में अपनी बहुत ही अच्छी जगह बना ली थी।

चार्ली चैपलिन का जन्म

हम में से ज्यादातर लोगों को चार्ली चैप्लिन के जन्म के बारे में ही नहीं पता होगा, तो हम आप सभी की जानकारी के लिए बता दे कि चार्ली चैप्लिन जी का जन्म वर्ष 1889 में अप्रैल माह की 16 तारीख को हुआ था। चार्ली चैपलिन का जन्म इंग्लैंड के लंदन में हुआ था। चार्ली चैप्लिन का जन्म इंग्लैंड के लंदन में होने के कारण वह बहुत ही शांत प्रकार के आदमी थे।

अपनी इसी शांति का फायदा उन्होंने मौनी युग में उठाया था, जिसके कारण आज भी संपूर्ण विश्व में विख्यात हो चुके हैं। चार्ली चैपलिन के पिताजी का नाम चार्ली चैपलिन सर था। चार्ली चैपलिन के पिता चार्ली चैपलिन एक बहुत ही मशहूर गायक और अभिनेता थे। वहीं दूसरी तरफ इनकी माता हन्नाह चैपलिन लिली हार्ले नामक मंच पर एक बहुत ही आकर्षक अभिनेत्री थी।

चार्ली चैपलिन का प्रारंभिक जीवन

चार्ली चैपलिन बड़े पर्दे पर आने से पहले बस अपने बचपन के समय में डांस किया करते थे। इतना ही नहीं चार्ली चैपलिन बहुत ही शांत विचार के आदमी थे, जिसके कारण उन्होंने इसका फायदा मौनी युग में बहुत ही भरपूर मात्रा में उठाया। चार्ली चैपलिन के नाम की प्रसिद्धि का शुरुआत एक कहानी रंग राजा से हुई थी।

चार्ली चैप्लिन की माता कुछ दिमागी रूप से परेशान होने की वजह से उन्होंने अपना यह गायिका का रूप त्याग दिया। चार्ली चैप्लिन की माता ने अपने बेटे चार्ली चैप्लिन को सभी से मिलवाया और बिना किसी स्पष्टीकरण के कारण प्रदर्शन के मध्य चार्ली चैपलिन ने अपनी आवाज खो दी और प्रोडक्शन मैनेजर से अपने 5 वर्ष के बेटे को अपनी जगह लेने के लिए कहा। जैसे-जैसे समय बीतता गया, चार्ली चैप्लिन लोगों के दिलों में एक हास्य कलाकार के रूप में जगह बनाते गए। अब के समय में चार्ली चैपलिन संपूर्ण विश्व के बहुत ही प्रतिष्ठित व्यक्ति बन गए हैं।

चार्ली चैपलिन का विवाह

चार्ली चैपलिन एक बार ऊना ओनिल बैरी के मामले में बहुत ही मुसीबत में पड़ गए थे, इसके बाद वह यूजिंग ओनिल की बेटी ऊना ओनिल से मिले और वर्ष 1943 की 16 जून को उन्होंने ऊना ओनिल से शादी कर ली। जिस समय चार्ली चैप्लिन ने ऊना ओनिल से विवाह किया था, उस समय वह 54 वर्ष के थे और ऊना ओनिल मात्र 18 वर्ष की थी।

चार्ली चैपलिन और ऊना ओनिल के विवाह से कोई भी प्रसन्न नहीं था, बाद में वर्ष 1977 में चार्ली चैपलिन की मौत हो गई, उसके बाद ऊना ओनिल को किसी ने भी अपनाने से मना कर दिया। ऊना ओनिल अपने 8 बच्चों के साथ बहुत ही खुश थीं। उनकी तीन बेटे थे और पांच बेटियां थीं। उनके तीनों बेटे के नाम क्रिस्टोफर, यूजिंग, माइकल चैप्लिन और उनकी पांच बेटियों के नाम गोरालदिन, जोसेफिन, जैन, विक्टोरिया और अन्नेट एमिली चैप्लिन था। ऊना ओनिल ने चार्ली चैपलिन के साथ मात्र 14 वर्ष ही व्यतीत किए थे।

चार्ली चैपलिन का करियर

वर्ष 1897 में चार्ली चैपलिन ने यह सोचा कि वे अपनी माता के कॉन्ट्रैक्ट का उपयोग करके अपनी माता के ही व्यवसाय को और भी बेहतर बनाएंगे। उन्होंने इसके लिए बहुत कोशिश की, परंतु उनसे ज्यादा फायदा ना होने के कारण उन्हें यह बहुत जल्दी ही बंद करना पड़ा।

चार्ली चैप्लिन ने बहुत सी छोटी छोटी नौकरियों को भी किया था। चार्ली चैपलिन शुरुआती समय से ही एक अभिनेता बनना चाहते थे, जिसके लिए उन्होंने इन नौकरियों को करने के साथ-साथ अपने अभिनेता बनने के लक्ष्य को भी नहीं भूला। चार्ली चैप्लिन ने लगभग 10 वर्ष की कम उम्र से ही अपनी पढ़ाई को छोड़ दिया। चार्ली चैपलिन ने अपनी पढ़ाई को निरस्त इसीलिए किया था क्योंकि उसी समय में उनके पिता की मृत्यु हो गई थी और वहीं दूसरी तरफ उनकी माता भी बीमार रहने लगी थी।

उनके पिता की मृत्यु के बाद चार्ली चैप्लिन और उनके भाई के ऊपर उनके परिवार की संपूर्ण जिम्मेदारी आन पड़ी। अब उन्हें ही अपने परिवार की देख-रेख करनी थी, इसीलिए चार्ली चैप्लिन ने अपनी पढ़ाई को बीच में ही रद्द कर दिया।

चार्ली चैपलिन जब मात्र 12 वर्ष की उम्र के थे, तब उन्होंने एक लेजिटीमेट मंच के पर एक कार्यक्रम नाटक को प्रस्तुत किया। इस मंच पर हो रहे नाटक का नाम शेरलॉक होम्स था। इस नाटक में विलियम जिलेट के सहयोग के साथ पेज बॉय बिल्ली के रूप में चार्ली चैपलिन प्रस्तुत हुए थे। अपने अभिनय के बाद वर्ष 1980 में चार्ली चैपलिन ने विलय कंपनी में हास्य कलाकार के रूप में अपना करियर की शुरुआत करना प्रारंभ कर दिया था। इसके बाद चार्ली चैप्लिन जी को वर्ष 1910 ईस्वी में यूनाइटेड स्टेट्स की फ्रेड कार्णो टेपर्टरे कंपनी के द्वारा चार्ली चैपलिन को प्रधान अभिनेता के रूप में ख्याति मिल गई।

चार्ली चैप्लिन का फिल्मी करियर

इन सभी नाटक के माध्यम से एक ख्याति प्राप्त करने के बाद चार्ली चैप्लिन ने वर्ष 1914 में अपने फिल्मी करियर की शुरुआत की थी। सेनेट फिल्मों में दूसरे अभिनेताओं को खुद से अलग करने के बाद चार्ली चैप्लिन ने इस विशेष तरह के चरित्र में काम करने का फैसला भी कर लिया था। चार्ली चैपलिन ने एक अंगने में काम किया, उस अभिनय का नाम था, ट्रंप करके चलने वाला छोटा बच्चा। इस हमले के बाद जनता को उनका यह अंदाज बहुत ही पसंद आया था, अगले वर्ष चार्ली चैप्लिन ने लगभग 35 फिल्मों काम किया।

चार्ली चैपलिन ने अपने इस प्रोजेक्ट को खत्म करने के बाद वर्ष 1915 में इस्सानय कंपनी में एक नौकरी कर ली, जहां पर उन्हें लगभग प्रति सप्ताह के $1250 मिलते थे। इस कंपनी के साथ मिलकर चार्ली चैप्लिन ने लगभग 14 फिल्में बनाएं। चार्ली चैप्लिन एक किरदार को प्रत्याशित नायक के रूप में स्थापित किया था। कुछ इसी प्रकार से चार्ली चैपलिन ने अपने फिल्मी करियर की शुरुआत की थी और उन्होंने अपने फिल्मी करियर की शुरुआत करने के बाद अपने इस करियर को अपनी इतनी ऊंचाई तक पहुंचाया कि आज वे विश्व के बहुत ही प्रसिद्ध कलाकारों में से एक माने जाते हैं।

चार्ली चैपलिन के द्वारा की गई फिल्में

चार्ली चैपलिन में 1930 के दशकों में अनेकों प्रकार की आकर्षक और रोचक फिल्मों में काम किया था। चार्ली चैप्लिन को अपनी इन सभी फिल्मों के माध्यम से बहुत ही काफी मात्रा में सफलता प्राप्त। चार्ली चैपलिन सदैव शांत रहा करते थे।

चार्ली चैप्लिन का फिल्मी दुनिया में यह अंदाज लोगों को इतना पसंद आने लगा कि चार्ली चैपलिन अपनी जिन फिल्मों में काम किया था, वे सभी फिल्में बड़े पर्दे पर आने के बाद सुपर हिट हो जाते थे। चार्ली चैपलिन जी के द्वारा बनाए गए ऐसी फिल्में जो बड़े पर्दे पर आने के बाद हिट हो गई, वह नीचे निम्नलिखित रुप से दर्शाई गई है:

  • सिटी लाइट वर्ष (1931)
  • द ग्रेट डायरेक्टर वर्ष (1940)
  • मॉडर्न टाइम (1936)
  • द किड (1921)
  • द गोल्डन रस (1925)
  • चैप्लिन (1992)
  • द सर्कस (1928)
  • A dog’s life (1918)
  • द इम्मीग्रांट वर्ष (1917)
  • एक किंग इन न्यू यॉर्क (1957)
  • द ट्रंप (1915)

चार्ली चैपलिन को प्राप्त पुरस्कार

चार्ली चैप्लिन अपने समय के इतने मशहूर कलाकार बन गए थे कि उन्हें अनेकों प्रकार के पुरस्कारों से सम्मानित किया गया था। उन्हें प्राप्त पुरस्कारों की सूची निम्न लिखित रूप से दर्शाई गई है:

  • चार्ली चैपलिन को वर्ष 1929 और 1972 में अकादमी मानव पुरस्कार से सम्मानित किया गया था।
  • चार्ली चैप्लिन को सर्वश्रेष्ठ मूल संगीत स्कूल के लिए वर्ष 1973 में अकादमी पुरस्कार प्रदान किया गया था।
  • चार्ली चैपलिन को वर्ष 1972 में लाइफटाइम अचीवमेंट के लिए गोल्डन लायन का पुरस्कार प्राप्त किया गया था।
  • चार्ली चैपलिन को वर्ष 1965 में इरासमुस पुरस्कार से सम्मानित किया गया था।
  • चार्ली चैप्लिन को वर्ष 1953 ईस्वी में सर्वप्रथम विदेशी फिल्म के लिए ब्लू रिबन पुरस्कार से सम्मानित किया गया।
  • वर्ष 1925 ईस्वी में चार्ली चैपलिन को सर्वश्रेष्ठ फिल्म के लिए किनेमा जूनो पुरस्कार से सम्मानित किया गया था।
  • चार्ली चैपलिन को वर्ष 1959 में बोडिल मानद पुरस्कार से सम्मानित किया गया था।

चार्ली चैपलिन की मृत्यु

आपकी जानकारी के लिए आपको बता दे कि चार्ली चैप्लिन की मृत्यु वर्ष 1977 ईस्वी में 25 दिसंबर को क्रिसमस वाले दिन ही उनके शुरुआती समय में स्विट्जरलैंड के उन्हीं के घर में हुआ था।

निष्कर्ष

आज के इस लेख “चार्ली चैपलिन का जीवन परिचय (Charlie Chaplin Biography in Hindi)” के माध्यम से हमने आपको बताया कि चार्ली चैप्लिन ने किन परिस्थितियों का सामना करके फिल्म इंडस्ट्री में अपना एक स्थान बनाया था। चार्ली चैपलिन बहुत ही प्रसिद्ध हास्य कलाकार थे। हमें उम्मीद है कि आपको या लेख पसंद आया होगा, इस लेख को शेयर करें।

Read Also

इनका नाम राहुल सिंह तंवर है, इन्होंने स्नातक (रसायन, भौतिक, गणित) की पढ़ाई की है और आगे की भी जारी है। इनकी रूचि नई चीजों के बारे में लिखना और उन्हें आप तक पहुँचाने में अधिक है। इनको 3 वर्ष से भी अधिक SEO का अनुभव होने के साथ ही 3.5 वर्ष का कंटेंट राइटिंग का अनुभव है। इनके द्वारा लिखा गया कंटेंट आपको कैसा लगा, कमेंट बॉक्स में जरूर बताएं। आप इनसे नीचे दिए सोशल मीडिया हैंडल पर जुड़ सकते हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here